Connect with us

INDIA

हर दिन 90 बला’त्कार और कितने निर्भया, प्रियंका रेड्डी सहेगा देश

Published

on

सुबह आंख खुलते ही सोशल मीडिया पर एक लड़की की अ’धजली ला’श देखना हर उस मां बाप के लिए दुखद है जिनकी बेटियां हर रोज पढ़ने या नौकरी के लिए घरों से निकलती हैं। हैदराबाद में पशु डॉक्टर की रे’प के बाद ज’लाकर ह’त्या कर दी गई और इस घ’टना से पूरे देश में न केवल रोष और त’कलीफ बढ़ी है बल्कि एक ड’र और शंका फिर से ताजी हुई है। ऐसी घटना’एं न सिर्फ संवेदनाओं को झ’कझरोती है बल्कि आगे बढ़ रही उन तमाम लड़कियों के मनोबल को भी कम करती हैं जिन्होंने ठान लिया था कि वो पुरुषों से किसी मायने में कम नहीं है। लेकिन वो वाकई इन जैसों की बराबरी तो कभी कर ही नहीं सकतीं।

प्रियंका पेशे से पशु डॉक्टर थीं, वो अपने प्यार और देखभाल से बेजुबानों को भी प्रेम करना सिखा देती थीं लेकिन वो नाकाम रहीं उन पाश्विक प्रवृत्ति के हैवानों का इलाज करने में जो जानवरों से कहीं ज्यादा बदतर हैं। प्रियंका अपने घर से 30 किलोमीटर दूर के वेटनरी हॉस्पिटल में काम करती थीं वो हर दिन शम्शाबाद टोल प्लाजा तक अपनी स्कूटी से जाती थीं और वहां से कैब करती थीं। बुधवार को जब वो घर से निकली थीं तो उन्हें नहीं पता था कि अब दूसरी सुबह उनके नसीब में नहीं होगी। रात को घर लौटते समय उनकी स्कूटी का टायर पंचर हो गया और उन्होंने फोन करके अपनी बहन को बताया कि एक आदमी उनकी मदद के लिए आया है। दोबारा कॉल करके प्रियंका ने कहा कि उस आदमी का कहना है कि सारी दुकानें बंद हो चुकी हैं और गाड़ी को कहीं और ले जाना होगा। ये रात के 9 बजकर 22 मिनट की बात थी। प्रियंका ने ये भी बताया कि आस-पास कई अजनबी लोग इकट्ठा हो रहे हैं और वो उसे अजीब तरह से घूर रहे हैं, उसे अब डर लग रहा है। इसके बाद प्रियंका का फोन ऑफ हो गया।

 

परिवार के लोगों ने दूसरे गुमशुदा की रिपोर्ट भी दर्ज कराई। दूसरे दिन सुबह एक किसान ने जली हुई लड़की की लाया देखी और पुलिस को बताया। अधजले स्कार्फ और गोल्ड पैंडेट से शव की पहचान हो चुकी थी। इस देश में एक सूनसान सड़क पर स्कूटी का खराब होना इतना घातक हो सकता है ये किसी ने सोचा भी नहीं होगा।

बीते मंगलवार को केरल में असम के प्रवासी मजदूर ने 42 वर्षीय महिला की कथित तौर पर बलात्कार के बाद पीट-पीटकर हत्या कर दी। आरोपी ने महिला से बलात्कार किया और इसके बाद फावड़े से लगातार उसके चेहरे और सिर पर वार कर उसकी हत्या कर दी। बुधवार को ही उत्तरप्रदेश के चित्रकूट के एक गाँव से नाबालिग लड़की के साथ बलात्कार की घटना सामने आई है। राजस्थान में एक मुस्लिम महिला को पति ने पहले तीन तलाक दिया और उसके बाद ससुर समेत सभी रिश्तेदारों ने उसका रेप किया ये कहकर कि अब वो बहू नहीं है। निर्भया, दामिनी, फलक, गु‍ड़िया, कठुआ, इंदौर, दिल्ली, पठानकोट, अजमेर, न जाने कितने नाम, कितने शहर, कितनी विभत्स कहानियां हैं और इनके बाद हमारा खून दो, तीन दिनों के लिए खौलता भी है लेकिन उसके बाद हम भूल जाते हैं।

हाल ही में आई राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड 2017 की रिपोर्ट के अनुसार पूरे देश में 32,559 रेप केस दर्ज हुए। इसमें मध्य प्रदेश पहले और उत्तर प्रदेश दूसरे नंबर पर था। बीते कुछ समय से रेप के बाद हत्या के मामले भी बढ़े हैं क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने ये फैसला दिया था कि रेप के दोषी की पहचान हो जाने पर उसे तुरंत सजा का प्रावधान दिया है।

हमारे देश हर मुद्दे को लेकर नए-नए कानून बनते हैं, उनमें लगातार संशोधन भी होते हैं लेकिन बलात्कार जैसे गंभीर मुद्दे पर सरकारों की नीदें नहीं टूटती, उनके लिए न कानूनों में संशोधन होते हैं और न कड़े कानून बनते हैं। निर्भया केस के बाद बने फास्ट ट्रैक कोर्ट और जेएस वर्मा कमिटियां सुस्त पड़ी है। रेप के आरोपियों की सजाएं कितनी हल्की हैं इसका साक्षात उदाहरण कठुआ केस था। बीते वर्षों में जिस तरह से रेप की घटनाओं में बढ़ोत्तरी हुई है उसके बाद तो कम से कम महिला सुरक्षा व्यवस्थाओं पर सरकारों को सजग होना ही चाहिए। या फिर हम लौट चले दोबारा उसी जमाने में जहां बहू बेटियों को दहलीज लांघने की इजाजत नहीं थी कम से कम इससे सुरक्षित तो रहेगीं।

हमारे यहां रेप के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाते हैं क्योंकि आरोपियों में रत्ती भर भी डर नहीं है, दिन दहाड़े बलात्कार के बाद लड़की के हाथ काट दिए जाते हैं, सर कुचल दिया जाता है, उसे अंगों को क्षत-विक्षत कर दिया जाता है। आरोपियों का पता चलने पर हम इनपर धर्म का अमली जामा पहचानने लगते हैं, मुस्लिम लड़की के रेप पर मुस्लिम समाज का ही खून खौलेगा और हिंदू पर हिंदू का। ये सीमाएं भी हमीं ने बनाई हैं, हमारे यहां अब बलात्कार पीड़िताएं नहीं होती बल्कि उनका धर्म होता है, रेप अपराधियों का भी धर्म होता है इसलिए ये घटनाएं धर्म की राजनीति के भेंट चढ़ जाती है और ये खबरें अब इतनी आम हो चुकी हैं कि मीडिया को भी इनमें कोई दिलचस्पी नहीं दिखती क्औयोंकि ये टीआरपी बटोरने में नाकाम हैं। इनपर चैनल कोई बहस भी नहीं कराते क्योंकि ये मुद्दा उनके लिए चटकारे लेने वाला नहीं है। रही बात सोशल मीडिया पर तेजी से आए तूफान की तो वो भी दो-चार दिन में थम जाता है और हम मशगूल हो जाते हैं पाकिस्तान में टमाटर की कमी और अभिनेत्रियों की शादियों के एक्सक्लूजिव तस्वीरों को देखने में। और अगले दिन फिर किसी प्रियंका की लाश मिलती हैं कभी जली हुई तो कभी कुचली हुई।

Input : india web

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=Tp-ptGIk8qw]

INDIA

अब व्हाट्सएप से बुक करें गैस सिलेंडर, इस नंबर पर करना होगा मैसेज

Published

on

डिजीटल युग के इस दौर में अब गैस कंपनियां भी अपने ग्राहकों को हाईटेक करने में लगी है. अब आप घर बैठे अपने घरवालों और दोस्तों से चैटिंग करते हुए अपना गैस सिलेंडर भी व्हाट्सएप से बुक करा सकते हैं.

इसके लिए देश की दूसरी बड़ी तेल मार्केटिंग कंपनी भारत पेट्रोलियम ने अपनो ग्राहकों के लिए यह नई सुविधा शुरू की है. जिसके बाद आप वाट्सएप के द्वारा भी अपने गैस सिलेंडर बुक करवा सकते हैं. यह सुविधा कंपनी ने अपने देशभर के ग्राहकों को दी है. कंपनी के इस सुविधा का लाभ देश भर के भारत पेट्रोलियम के 71 मिलियन से अधिक गैस उपभोक्ता ले सकते हैं.

व्हाट्सएप से ऐसे करें अपना सिलेंडर बुक

जानकारी के अनुसार ग्राहकों इसका लाभ इस व्हाट्सऐप नंबर 1800224344 पर मैसेज कर ले सकते हैं. बता दें कि इस नंबर पर मैसेज करके अपना गैस सिलेंडर बुक कराया जा सकता है. लेकिन इसके लिए यह ध्यान रखना होगा कि इस व्हाट्सऐप नंबर पर केवल उसी फोन नंबर से गैस बुक कराई जा सकती है जो नंबर गैस एजेंसी में रजिस्टर्ड है. इस नंबर पर मैसेज करने के बाद ग्राहक के फोन नंबर पर बुकिंग का एक मैसेज आएगा, जिसमें बुकिंग संख्या दर्ज होगी. वहीं इसके साथ एक लिंक भी भेजा जाएगा जिसमें ऑनलाइन पेमेंट करने का ऑपशन होगा. इस लिंक पर जाकर ग्राहक डेबिट, क्रेडिट, यूपीआई या फिर अन्य ऑनलाइन पेमेंट प्लेटफॉर्म से ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं.

Continue Reading

INDIA

ज्यादा मजदूरों की मदद के लिए सोनू सूद ने जारी किया टोल फ्री नंबर, जाने वालों से कहा- वापस जरूर आना

Published

on

सोनू सूद मुंबई से लगातार प्रवासियों को उनके घर भेज रहे हैं। सोनू अपने इस काम को और बेहतर ढंग से अंजाम दे सकें इसके लिए उनकी टीम ने मिलकर टोल फ्री नंबर जारी किया है। इस बात की जानकारी उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर भी शेयर की। बुधवार को बिहार के लिए रवाना की गई बसों के यात्रियों से सोनू ने वापसी की अपील भी की है।

View this post on Instagram

घर चलें❣️

A post shared by Sonu Sood (@sonu_sood) on

टोल फ्री नंबर के बारे में सोनू ने एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा- मेरे पास रोज हजारों कॉल्स आ रहे थे। मेरे परिवार और दोस्त सारा डाटा इकट्‌ठा कर रहे थे तब हमने देखा कि ऐसे कई लोग हैं जो हम तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। इसलिए हमने कॉल सेंटर खोलने का सोचा, यह टोल फ्री नंबर है। हमारे पास एक टीम है जो ज्यादा लोगों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। हमें नहीं पता हम कितनों की मदद कर पाएंगे, लेकिन हम कोशिश करेंगे।

View this post on Instagram

Asks them to come back soon #sonusood

A post shared by It's TV Time (@shiningbollywood) on

इस वीडियो में सोनू बस में बैठे यात्रियों से पूछ रहे हैं कि वे कहां जा रहे हैं। जवाब मिलने पर उन्होंने यह भी कहा कि वापस जरूर आना। वहीं बसों को अपने ही सामने सैनिटाईज करवाने के बाद उन्होंने लोगों को मास्क पहने रहने की हिदायत भी दी है। अब तक सोनू मुंबई से करीब 12000 लोगों को बिहार, झारखंड, कर्नाटक और यूपी जैसे राज्यों में वापस भेज चुके हैं।

अजय देवगन ने की तारीफ

सोनू सूद के काम की तारीफ करते हुए अजय देवगन ने भी एक ट्वीट किया। अजय लिखते हैं- प्रवासियों को सुरक्षित उनके घर वापस भेजने का जो संवेदनशील काम आप कर रहे हैं, वह अनुकरणीय है। आपके लिए और ज्यादा दुआएं सोनू। रिप्लाई देते हुए सोनू ने लिखा- धन्यवाद भाई, आपके शब्दों से मुझे और साहस मिला है। अब इन लोगों को उनके परिवार से मिलाने और ज्यादा मेहनत से काम करूंगा।

Input : Dainik Bhaskar

Continue Reading

INDIA

व्यापारिक मोर्चे पर भी चीन के साथ आर-पार की लड़ाई के मूड में भारत, जानें पूरा ब्योरा

Published

on

भारत, चीन के साथ व्यापारिक मोर्चे पर भी आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं। सरकार ने इस बात को साफ कर दिया है चीन के साथ व्यापारिक रिश्तों में भारत बराबरी का दर्जा चाहता है और अब भारत गैर-बराबरी वाली किसी भी बात को बर्दाश्त नहीं करेगा। वाणिज्य व उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने सरकार की इस मंशा को साफ करते हुए बताया कि भारत के उन्हीं क्षेत्रों में चीनी कंपनियों को काम करने का मौका दिया जाएगा जिन क्षेत्रों में चीन अपने यहां भारतीय कंपनियों को मौका देगा। जिन क्षेत्रों में चीन अपने यहां भारतीय कंपनियों को मौका नहीं देगा, भारत के भी उन क्षेत्रों को चीनी कंपनियों के लिए बैन कर दिया जाएगा।

विदेश व्यापार विशेषज्ञों के मुताबिक सरकार चीन पर उन सभी क्षेत्रों के दरवाजे खोलने के लिए दबाव डाल सकती है जिन क्षेत्रों में अब तक भारतीय कंपनियों को चीन कोई मौका नहीं देता है। इनमें सबसे प्रमुख आइटी क्षेत्र है, जहां भारतीय कंपनियों को सप्लाई या सर्विस देने का कोई मौका नहीं दिया जाता है।

चीन के सरकारी विभागों में भी भारतीय कंपनियों को कारोबार का मौका नहीं मिलता है। फार्मा निर्यात के लिए भी चीन के दरवाजे अब तक भारत के लिए नहीं खुले हैं। व्यापारिक बराबरी के लिए सरकार चीन पर व्यापारिक घाटे को भी कम करने के लिए दबाव डाल सकती है।

भारत का चीन के साथ व्यापारिक घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2017 में जनवरी-दिसंबर के बीच चीन से भारत ने 68.1 अरब डॉलर का आयात किया जबकि भारत ने इस अवधि में 16.34 अरब डॉलर का निर्यात किया। वर्ष 2018 में यह आयात बढ़कर 76.87 अरब डॉलर का हो गया। भारत ने इस दौरान 18.83 अरब डॉलर का निर्यात किया। वर्ष 2019 में जनवरी से नवंबर के दौरान चीन से भारत ने 68 अरब डॉलर का आयात किया जबकि भारत ने चीन को इस दौरान 16.32 अरब डॉलर का निर्यात किया।

मंत्रालय सूत्रों के मुताबिक भारत चीन को कॉटन, जेम्स, डायमंड जैसे कई कच्चे माल का निर्यात करता है और चीन उनके फिनिश्ड गुड्स का आयात करता है। भारत, चीन से मशीनरी का काफी अधिक आयात करता है।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading
INDIA2 hours ago

अब व्हाट्सएप से बुक करें गैस सिलेंडर, इस नंबर पर करना होगा मैसेज

Jharkhand2 hours ago

पहली बार फ्लाइट से प्रवासी मजदूरों की वापसी, मुंबई से झारखंड लौटेंगे 180 लोग

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर : अनाप-शनाप औसत बिल भेज रहा विभाग, उपभोक्ता हलकान

MUZAFFARPUR5 hours ago

मुजफ्फरपुर : क्वारंटाइन केंद्र पर उकसाकर हंगामा कराने में प्राथमिकी

INDIA6 hours ago

ज्यादा मजदूरों की मदद के लिए सोनू सूद ने जारी किया टोल फ्री नंबर, जाने वालों से कहा- वापस जरूर आना

INDIA11 hours ago

व्यापारिक मोर्चे पर भी चीन के साथ आर-पार की लड़ाई के मूड में भारत, जानें पूरा ब्योरा

RELIGION12 hours ago

अब ऑन लाइन कर सकेंगे बद्रीनाथ और केदारनाथ के दर्शन, बोर्ड के लिए राज्य सरकार ने स्वीकृत किए 10 करोड़ रुपए

BIHAR12 hours ago

जिले के 50 से अधिक छोटे स्कूल बंद होने की कगार पर

BIHAR12 hours ago

बिहार बोर्ड मैट्रिक स्क्रूटिनी के लिए आवेदन 29 से, ऑनलाइन ही मांगे गए आवेदन

INDIA16 hours ago

Crime Patrol की टीवी एक्ट्रेस प्रेक्षा मेहता ने की आत्म हत्या, लॉकडाउन से हुईं डिप्रेशन का शिकार

BIHAR2 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA4 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR4 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD3 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

INDIA4 weeks ago

Lockdown Part 3- 17 मई तक जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

BIHAR3 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बाहर फंसे बिहारियों की वापसी का बिहार सरकार नहीं करेगी इंतजाम, सुशील मोदी बोले- हमारे पास नहीं है संसाधन

INDIA4 weeks ago

लॉकडाउन के बीच 21 हजार रुपए से कम सैलरी पाने वालों के लिए सरकार ने की 5 बड़ी घोषणाएं

Uncategorized4 weeks ago

50 फीसद यात्रियों के साथ बसों का संचालन, बढ़ सकता किराया

Trending