75 पार के नेताओं के लिए बीजेपी का ऐलान- अब उनके लिए नहीं है कोई काम… घर पर करें आराम

0
253

भारतीय जनता पार्टी के जो नेता 75 साल की उम्र पार कर गए हैं, अब उनके लिए पार्टी के पास कोई काम नहीं बचा है। या फिर सीधे शब्दों में कहें तो आज की भाजपा को उन बुजुर्गों की कोई जरूरत नहीं रह गई है, जिन्होंने अपनी जवानी से सींचकर भाजपा को इस मुकाम तक पहुंचाया है।

हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनाव से ठीक पहले बड़ा ऐलान किया है। शाह ने कहा है कि पार्टी में जिन नेताओं की उम्र 75 साल से ज्यादा है, उन्हें कोई जिम्मेदारी नहीं दी जाएगी। दिल्ली में ‘भारत के मन की बात’ अभियान का आगाज करते हुए अमित शाह ने मोदी सरकार के कार्यकाल में किए गए विकास कार्यों का बखान करते हुए यह बात कही।

इस अभियान का आरंभ करते हुए अमित शाह ने भारतीय जनता पार्टी के आंतरिक लोकतंत्र की तारीफ की, और आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर उम्रदराज नेताओं पर भी बयान दिया। उन्होंने कहा कि जो नेता 75 साल की उम्र को पार कर चुके हैं, उन्हें किसी प्रकार का काम करने की जिम्मेदारी नहीं दी जाएगी।

हालांकि, जब उनसे सवाल किया गया कि क्या ऐसे नेता आगामी चुनाव लड़ पाएंगे या नहीं, तो इस पर उन्होंने कुछ स्पष्ट जवाब नहीं दिया और चर्चा किए जाने की बात कही। बता दें कि उम्र सीमा को लेकर पहले भी अमित शाह के हवाले से चुनाव लड़ने पर पाबंदी की खबरें आती रही हैं।

वैसे भाजपा में इस वक्त लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, शांता कुमार, करिया मुंडा, लीलाधर वाघेला और प्रभात सिंह चौहान समेत कई ऐसे सांसद हैं, जो फिलहाल लोकसभा सदस्य हैं और उनकी उम्र 75 को पार कर चुकी है।

Input : Live Bihar