Connect with us

MUZAFFARPUR

अधिक तापमान के चलते AES ने मुजफ्फरपुर में बरपाया कहर, खाद्य पदार्थ नहीं जिम्मेदार

Published

on

मुजफ्फरपुर व इसके आसपास बच्चों पर कहर बरपाने वाली एईएस (एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम) का नाता किसी फल या खाद्य पदार्थ से नहीं, बल्कि तेज गर्मी से है। जब तापमान लगातार 40 डिग्री या उससे ज्यादा रहता है तो बच्चों के बीमार होने की संख्या बढ़ जाती है। केंद्रीय टीम की जांच और शोध में यह बात सामने आई है। टीम के प्रमुख वरीय शिशु रोग विशेषज्ञ व राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के राष्ट्रीय सलाहकार डॉ. अरुण कुमार सिंह ने केंद्र सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंपते हुए बीमारी से बचाव के कई सुझाव भी दिए हैं।

इससे पहले भी एसकेएमसीएच के शिशु रोग विभागाध्यक्ष डॉ. गोपाल शंकर सहनी ने अपने शोध में पाया था कि इस बीमारी का रिश्ता गर्मी से है। इसका प्रकाशन 2012 व 2013 में मेडिकल जर्नल में हुआ था। ज्ञात हो कि एईएस से उत्तर बिहार में इस वर्ष छह सौ से अधिक बच्चे पीडि़त हुए। इनमें से 160 ने दम तोड़ दिया।

अरब-राजस्थान भी रहा शोध का केंद्र बिंदु

डॉ. अरुण ने सर्वाधिक गर्मी प्रभावित इलाके को केंद्र्र बिंदु मानकर शोध किया। वह बताते हैं कि राजस्थान या सऊदी अरब में काफी गर्मी पड़ती है। लेकिन, अंतर यह है कि वहां हर साल गर्मी में एक तरह का तापमान रहता है। जबकि, मुजफ्फरपुर में हर साल गर्मी में तापमान एक समान नहीं रहता है। यहां जिस साल 40 डिग्री या उससे ज्यादा तापमान होता है, उस समय बच्चे बीमार होते हैं। शोध में पता चला कि वर्ष 2012 व 2014 में तापमान ज्यादा रहा। तब भी बच्चे प्रभावित हुए थे। इस साल भी 40 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा तापमान रहा, इसलिए ज्यादा बच्चे बीमार हुए। उनका मानना है कि किसी इंफेक्शन या वायरस से यह बीमारी नहीं हो रही।

कार्निटाइन की कमी पाई गई

जब वर्ष 2014 में एईएस का प्रकोप ज्यादा था, तब अमेरिका में बच्चों के खून व पेशाब की जांच कराई गई थी। इस साल नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटल हेल्थ एंड न्यूरो साइंसेज, बेंगलुरु में जांच कराई गई। 2014 की तरह इस बार की भी रिपोर्ट सामान्य है। लेकिन, इस बार एक नई बात सामने आई कि बच्चों में कार्निटाइन की कमी मिली। यह शरीर में एनर्जी प्रोडक्शन में मदद करता है। इलाज के क्रम में कार्निटाइन की मात्रा दी गई तो बच्चे जल्द स्वस्थ हुए।

तेज धूप में निकलने और खेलने से हुए पीडि़त

बीमार बच्चों की पैथोलॉजी व मांसपेशियों की जांच हुई तो पाया गया कि उनका सिर्फ मस्तिष्क ही नहीं, बल्कि हार्ट व लीवर सहित दूसरे अंग भी प्रभावित हो रहे हैं। सबसे ज्यादा तीन से चार साल के बच्चे बीमार पाए गए। वे ऐसे बच्चे थे, जो पहली बार तेज धूप में निकले और दो-तीन दिन खेलते रहे। उसके बाद माइट्रोकांड्रिया ने एनर्जी बनाना कम कर दिया। बीमार हुए तो उनको बचाना मुश्किल हो गया।

टीम ने सरकार को ये दिए सुझाव

-सर्वाधिक गर्मी यानी मई-जून में गांव में बच्चों के खेलने की जगह बने, जहां अस्थायी या स्थायी टेंट या शेड बनाया जाए। वहां सुबह 11 से दो बजे के बीच छोटे बच्चे खेलें।

-मई-जून में आंगनबाड़ी सेंटर की ओर से बच्चों को पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाए।

-परिजन बच्चों को दोपहर में नहीं जाने दें। ज्यादा से ज्यादा पानी दें।

-बच्चों को ज्यादा देर तक भूखे पेट नहीं रहने दिया जाए।

-गर्मी के दिन में शिविर लगाकर कार्निटाइन की जांच हो तथा उसकी आपूर्ति की जाए।

-यदि बच्चा बीमार हो तो तुरंत सरकारी अस्पताल पहुंचाया जाए।

-सरकारी अस्पताल में आइसीयू व्यवस्था को मजबूत किया जाए।

Input : Dainik Jagran

 

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर पुलिस को मिली सफलता, भारी मात्रा में शराब के साथ 4 गिरफ्तार

Published

on

बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है. इसके बावजूद तस्कर शराब की तस्करी में जुटे हैं. वे पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम को चुनौती देते हुए तस्करी की घटना को अंजाम दे रहे हैं.

ऐसा ही मामला मुजफ्फरपुर में सामने आया है. जहाँ पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. गुरुवार को सदर थाना इलाके के माधवपुर में पुलिस ने 44 कार्टून विदेशी शराब बरामद किया है.

इसके साथ ही शराब के चार तस्करों को भी गिरफ्तार किया है. इस घटना में प्रयुक्त ऑटो और एक बाइक को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

इस मामले की जानकारी टाउन डीएसपी की ओर से दी गयी.

Input : News4Nation

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुज़फ़्फ़रपुर के क्वारेन्टीन सेंटर पर दुरुस्त व्यवस्था व मीडिया बैन को हटाने हेतु PM को लिखा पत्र

Published

on

मुज़फ़्फ़रपुर जिले में प्रशासन द्वारा बनाए गए अधिकांश क्वारेन्टीन सेंटर में प्रवासी मजदूरो को मानक के अनुरूप(राज्य/केंद्र सरकार द्वारा जारी ) व्यवस्था व खान-पान का उचित प्रबंध भौतिक स्तर पर उपलब्ध नहीं होने व क्वारेन्टीन सेंटर की व्यवस्था/कुव्यवस्था को मीडिया/सोशल मीडिया द्वारा दिखाए जाने पर लगाई गई रोक को गलत निर्णय बताते हुए रोक को हटाने के लिए लोक चेतना दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता शकिन्द्र कुमार यादव ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है जिसकी जांच के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जिलाधिकारी मुज़फ़्फ़रपुर को भेजा गया है।

शकिन्द्र कुमार यादव ने बताया कि ऐसा संभव है कि प्रवासी मजदूर/व्यक्ति की पहचान को गुप्त रखने के उद्देश्य से पाबंदी लगाई गई जो कि सही है लेकिन व्यवस्था/कुव्यवस्था/ असुविधा को मीडिया/ सोशल मीडिया पर दिखाना कहीं से भी गलत भी नहीं है। कुव्यवस्था/असुविधा को दिखाने का मुख्य उद्देश्य प्रभावशाली ढंग से व्यवस्था, सुविधाओं को लागू कराना होता है ताकि सरकार अपने कथनी/घोषणा के अनुरूप भौतिक स्तर पर अविलब व्यवस्था को व्यवस्थित कर सके।

इसके बावजूद समाचार पत्र, मीडिया, सोशल मीडिया के माध्यम कई ऐसे सेंटर हैं जहाँ कुव्यवस्था व्याप्त है परंतु उत्तरदायी अधिकारी अपने कर्तव्यों का निर्वहन नहीं कर रहे हैं। जो कि बेहद ही दुःखद है।

शकिन्द्र कुमार यादव ने क्वारेन्टीन सेंटर में प्रवासी मजदूरी को मानक के अनुरूप(राज्य/केंद्र सरकार द्वारा जारी ) व्यवस्था व खान-पान का उचित प्रबंध भौतिक स्थलीय स्तर पर कराने व लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को चिन्हित करते हुए उचित कार्रवाई किया जाए तथा क्वारेन्टीन सेंटर की व्यवस्था/कुव्यवस्था को मीडिया/सोशल मीडिया द्वारा दिखाए जाने पर लगे रोक को समाप्त करने की मांग की है।

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर में इंजीनियरिंग के स्टूडेंट की हत्या के बाद बवाल, पुलिस पर भी हमला, दारोगा समेत कई पुलिसवाले घायल

Published

on

MUZAFFARPUR : मुजफ्फरपुर में दो पक्षों में विवाद के बाद बहन के घर आए इंजीनियरिंग के छात्र की पीट-पीटकर हत्या कर दी. वहीं भाई को बचाने आई बहन समेत चार अन्य ग्रामीण भी घायल हो गए. वहीं सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलस पर भी लोगों ने पक्षपात का आरोप लगाते हुए हमला कर दिया, जिसमें दारोगा समेत कई पुलिसवाले घायल हो गए.

मुजफ्फरपुर में इंजीनियरिंग के स्टूडेंट की हत्या के बाद बवाल, पुलिस पर भी हमला, दारोगा समेत कई पुलिसवाले घायल

मामला जिले के सकरा थाना इलाके के रघुनाथपुर दोनमां गांव की है. जहां बुधवार की शाम बाइक से ठोकर लगने से उत्पन्न विवाद में दो पक्ष भिड़ गए. मामला इतना बढ़ गया कि एक पक्ष ने दूसरे की पिटाई शुरू कर दी. जिसमें इंजीनियरिंग के छात्र की पीट पीटकर हत्या कर दी गई. मृतक की पहचान समस्तीपुर जिले के दूधपूरा गांव के ओमप्रकाश गुप्ता के पुत्र धर्मेन्द्र कुमार के रूप में की गई है. धर्मेंद्र कुछ दिन पहले ही रघुनाथपुर दोनमां गांव अपनी बहन के घर आया था.

भाई को बचाने के दौरान छात्र की बहन आंगनबाड़ी सेविका समेत चार ग्रामीण भी घायल हो गए. ग्रामीणों की पिटाई से सकरा थाना के दारोगा ललन कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए. हमले में कई पुलिस कर्मी जख्मी हैं. इस दौरान तीन से चार राउंड फायरिंग भी की गई. हालांकि इस फायरिंग में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. पुलिस ने पांच लोगों को मौके से हिरासत में लिया है जिससे पूछताछ की जा रही है. वहीं ग्रामीण पुलिस पर फायरिंग करने का आरोप लगा रहे हैं, लेकिन थानाध्यक्ष ने पुलिस की ओर से फायरिंग से इंकार करते हुए कहा कि ग्रामीणों के बीच गोलीबारी हुई है. मामले की जांच की जा रही है. आरोपी को जल्द गिरफ्तार करने की बात पुलिस कह रही है.

Input : First Bihar

Continue Reading
BIHAR10 hours ago

नाबालिग प्रेमी संग दिल्ली से आई युवती, तीन दिन क्वारंटाइन सेंटर में रही, फिर रचाई शादी

Uncategorized10 hours ago

श्री महाकालेश्वर मंदिर: उज्जैन में स्थित इस ज्योतिर्लिंग के बारे में जान लें ये खास बातें

RELIGION10 hours ago

हनुमान जी के 5 ऐसे चमत्कारी मंदिर, जहां भक्त की हर मनोकामना होती है पूरी

INDIA10 hours ago

भारत के 5 प्रसिद्ध महालक्ष्मी मंदिर, दर्शन के लिए उमड़ती है भक्तों की असंख्य भीड़

BIHAR10 hours ago

कल जारी होंगे दसवीं के नतीजे, खत्म होगा 15 लाख स्टूडेंट्स का इंतजार

INDIA10 hours ago

घरेलू उड़ान के यात्रियों को क्वारंटाइन में रखने की जरूरत नहीं लगती- उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी

BIHAR11 hours ago

बिहार के माध्यमिक शिक्षकों का निलंबन रद्द, सरकार ने लिया FIR वापस लेने का बड़ा फैसला

BIHAR11 hours ago

कल बिहार आएंगी 83 ट्रेनें, एक लाख मजदूर पहुंचेंगे घर, यहां देखिये गाड़ियों की लिस्ट

INDIA11 hours ago

चार्टर प्लेन से झारखंड के लोगों को वापस लायेंगे हेमंत सोरेन, केंद्र सरकार से मांगी है अनुमति

INDIA13 hours ago

वेब सीरीज ‘पाताल लोक’ को लेकर मुश्किल में फंसी अनुष्का शर्मा, मिला लीगल नोटिस

BIHAR1 week ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA3 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD2 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR4 weeks ago

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, 9 दिनों के अंदर बनेगा नया राशन कार्ड, ये होगी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

Trending