Connect with us

TRENDING

OIC में इजरायल को घेरने आए थे मुस्लिम देश पर आपस में ही भिड़ गए

Published

on

फिलिस्तीनियों पर इजरायल के हमले के खिलाफ इस्लामिक देशों के सबसे बड़े संगठन की बैठक रविवार को बुलाई गई. इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) में कुल 57 देश हैं. इस आपात बैठक में इजरायल की कड़ी आलोचना की गई और गाजा में तुरंत हमले रोकने की मांग की गई. हालांकि, इजरायल को लेकर इस्लामिक देशों की प्रतिक्रिया अलग-अलग थी और इसे लेकर उनके बीच के मतभेद बैठक में भी खुलकर सामने आए.

OIC meeting

पिछले साल, संयुक्त अरब अमीरात ने इजरायल के साथ रिश्ते सामान्य किए थे और उसके बाद बहरीन, मोरक्को और सूडान ने भी यूएई का अनुसरण किया था. वहीं, मिस्त्र और जॉर्डन ने भी इजरायल के साथ शांति समझौते किए थे. इस्लामिक सहयोग संगठन की बैठक में कई देशों के प्रतिनिधियों ने इजरायल से दोस्ती करने के कदम को गलत ठहराया.

ओआईसी में फिलिस्तीनियों के लिए अलग से राष्ट्र बनाने और पूर्वी यरुशलम को उसकी राजधानी बनाने की मांग एक बार फिर दोहराई गई. इससे पहले, सऊदी अरब ने अल-अक्सा मस्जिद में इजरायली सुरक्षा बलों की हिंसा और पूर्वी यरुशलम से फिलिस्तीनियों को उनके घरों से बेदखल करने की योजना की कड़ी निंदा की थी. सऊदी अरब के विदेश मंत्री प्रिंस फैसल बिन फरहन अल सउद ने ओआईसी बैठक में कहा कि वैश्विक समुदाय को दो राष्ट्र के सिद्धांत के आधार पर शांति समझौता करने और हिंसा रोकने के प्रयास करने चाहिए.

इजरायल के खिलाफ पाकिस्तान और तुर्की सबसे आक्रामक रुख अख्तियार किए हुए हैं. मलेशिया, इंडोनेशिया और ब्रुनेई ने भी रविवार को अलग से बयान जारी किया और संयुक्त राष्ट्र महासभा की आपात बैठक बुलाने की मांग की. हालांकि, इजरायल से रिश्ते बहाल करने वाले यूएई का रुख उतना कड़ा नहीं था. यूएई ने अपने बयान में पिछले साल अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में हुए अब्राहम समझौते का हवाला देते हुए इजरायल से शांति बहाली और संघर्षविराम की अपील की.

OIC meeting

ओआईसी की बैठक में सदस्य देशों के विदेश मंत्री शामिल हुए लेकिन यूएई की तरफ से विदेश मंत्री की जगह एक जूनियर मंत्री को भेजा गया था. यूएई की अंतरराष्ट्रीय सहयोग मंत्री रईम अल-हाशिमी ने कहा, मध्य-पूर्व को अस्थिरता से बचाने के लिए तत्काल तनाव घटाने और संयम बरतने की आवश्यकता है.

इजरायल के खिलाफ बुलाई गई इस बैठक में सदस्य देश एक-दूसरे पर ही उंगली उठाते नजर आए. ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने कहा, आज फिलिस्तीनियों बच्चों का नरसंहार इजरायल के साथ रिश्ते सामान्य करने का ही नतीजा है. इजरायल की आपराधिक चरित्र की और नरसंहार करने वाली हुकूमत ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि उसके प्रति दोस्ताना रुख उसके अत्याचारों को और बढ़ाएगा.

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच साल 2014 के बाद से सबसे भयानक हिंसा देखने को मिली है. पिछले एक हफ्ते से इजरायली सुरक्षा बल और फिलिस्तीनी चरमपंथी गुट हमास के बीच संघर्ष छिड़ा हुआ है. इजरायल के हमले से गाजा में भयंकर तबाही हुई है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, गाजा में अब तक 188 फिलिस्तीनियों की जानें जा चुकी हैं जबकि 1230 लोग घायल हुए हैं. इजरायल में आठ लोग मारे गए हैं. अफगानिस्तान के विदेश मंत्री हनीफ अतमर ने कहा, फिलिस्तीनी लोगों की हालत आज इस्लामिक दुनिया का सबसे बड़ा घाव है.

तुर्की के विदेश मंत्री मेवलुत कावुसगोलु ने भी इजरायल के साथ रिश्ते बहाल करने वाले देशों की आलोचना में ईरान का साथ दिया. हालांकि, इजरायल के तुर्की के साथ राजनयिक संबंध कायम हैं.

palestine

तुर्की के विदेश मंत्री ने कहा, यहां कुछ लोग हैं जिन्होंने अपनी नैतिकता खो दी है और इजरायल के लिए अपना समर्थन दिया है. अगर हमारे अपने ही परिवार में आधे-अधूरे मन से बयान दिए जा रहे हैं तो हम दूसरों की आलोचना कैसे करें. हमारी बातों को फिर कौन गंभीरता से लेगा?

तुर्की के विदेश मंत्री ने फिलिस्तीनी नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था बनाने की मांग की. उन्होंने कहा कि इजरायल को उसके युद्ध अपराधों के लिए दोषी ठहराया जाना चाहिए और इसमें अंतरराष्ट्रीय न्यायालय अहम भूमिका अदा कर सकता है. जरीफ ने भी इजरायल की कड़े शब्दों में आलोचना की. जरीफ ने इजरायल पर नरसंहार और मानवता के खिलाफ अपराध करने का आरोप लगाया.

जरीफ ने कहा, कोई इजरायल को लेकर गलती ना करे. इजरायल सिर्फ प्रतिरोध की भाषा ही समझता है और फिलिस्तीन के लोगों को अपनी सुरक्षा करने का पूरा अधिकार है.

Pakistan

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने बैठक में मुस्लिम देशों से एकजुट होने की अपील की. कुरैशी ने कहा कि इजरायली हमलावरों और पीड़ित फिलिस्तीनियों को एक तराजू पर तोला जाना बिल्कुल गलत है. मुस्लिम देशों को फिलिस्तीनियों के लिए एकजुट होकर कदम उठाने चाहिए. कुरैशी ने कहा कि हर देश के इतिहास में एक निर्णायक फैसला होता है जिसे सदियों तक याद रखा जाता है और ये जरूरी है कि हम इतिहास में सही तरफ खड़े हों. कुरैशी ने कहा कि ये ऐसा ही एक ऐतिहासिक पल है और हमें इस अहम पड़ाव पर फिलिस्तीनियों को निराश नहीं करना चाहिए.

फिलिस्तीन के विदेश मंत्री रियाद अल-मलिकी ने इजरायल के साथ रिश्ते सामान्य करने वाले देशों की आलोचना की. उन्होंने बैठक में कहा, अरब और फिलिस्तीनियों की जमीन से इजरायल का कब्जा हटाए बिना उसके साथ रिश्ते बहाल करना उसके अपराधों में हिस्सेदार बनना है. इजरायल की औपनिवेशिक मानसिकता का खात्मा किया जाना चाहिए. इजरायल के साथ कई देशों के रिश्ते कायम होने से अरब दुनिया की भावनाओं और उसकी सोच पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

अरब देशों में इजरायल को लेकर मिली-जुली प्रतिक्रिया है. कतर के लोगों में हमास के नेता इस्माइल हनियेह के भाषण को सुनने के लिए काफी उत्सुकता थी. कतर के विदेश मंत्री और कुवैत के पार्लियामेंट स्पीकर ने हमास के नेता इस्माइल से बातचीत भी की है. जबकि इजरायल से रिश्ते बहाल करने वाले बहरीन और यूएई, क्षेत्र के बाकी मीडिया संस्थानों की तरह फिलिस्तीनियों और इजरायल के बीच छिड़े संघर्ष को बड़े पैमाने पर कवर नहीं कर रहा है.

हालांकि, इन देशों की जनता में भी असंतोष देखने को मिल रहा है. बहरीन में सिविल सोसायटी के सदस्यों ने किंगडम को पत्र लिखकर इजरायली राजदूत को निष्कासित करने की मांग की है. यूएई में प्रदर्शन करना गैर-कानूनी है लेकिन वहां के फिलिस्तीनी भी खामोशी से अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. उन्हें अपना रेसिडेंसी परमिट खोने का भी डर है.

Source : Aaj Tak

BOLLYWOOD

‘प्लीज वापस आ जाओ सुशांत’, सुशांत सिंह राजपूत की पहली बरसी पर फैंस की आंखें हुई नम

Published

on

4 जून 2020, ये वहीं दिन था जब बॉलीवुड के स्टार सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) दुनिया को अलविदा कह गए थे। कल यानी 14 जून 2021 को सुशांत सिंह राजपूत की पहली पुण्यतिथि (Sushant Singh Rajput First Death Anniversary) है। उनकी पहली पुण्यतिथि पर उनके फैंस काफी भावुक है और सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें याद कर रहे है। वहीं कई स्टार एसएसआर (SSR) के पुराने यादों को शेयर कर रहे है।

सुशांत सिंह राजपूत की पहली पुण्यतिथि (SSR First Death Anniversary) से कुछ दिन पहले टीवी एक्टर अली गोनी ने एक पोस्ट शेयर किया था, जिसमें उन्होंने लिखा था, “इस दुनिया में सुशांत ने बहुत नाम कमाया।” बता दें कि सोशल मीडिया पर एक फैंस ने सुशांत सिंह राजपूत को याद करते हुए लिखा था, ” एसएसआर को गए एक साल हो गया है, लेकिन एक भी दिन ऐसा नहीं बीता जब उनके फॉलोअर्स ने उन्हें ट्विटर पर ट्रेंड नहीं किया हो।” इसी पोस्ट की सराहना करते हुए अली गोनी ने कहा था, “ये कमाया था सुशांत ने।

” एक यूजर ने उनकी लास्ट फिल्म की तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा है, “हम आपको याद करते हैं सुशांत सर।”

युवा दिलों पर राज करने वाले सुशांत आज भी लोगों के जुबान पर छाए हुए हैं। एसएसआर की पहली बरसी (SSR Ki Barasi) पर फैंस उनके फैंस पुराने वीडियो और फोटोज सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे है।

एक साल से चल रहे सीबीआई जांच को लेकर एक यूजर ने नाराजगी जताते हुए कहा है, “SSR की पहली पुण्यतिथि निकट है। इस एक साल में हम सीबीआई से सवाल पूछने में कभी असफल नहीं हुए, लेकिन यह हमेशा जवाब देने में विफल रहा है। अब बहुत हो गया सीबीआई। 302 ASAP जोड़ें और जून 2021 तक हमारे प्रत्येक प्रश्न का उत्तर दें।”

वहीं बिग बॉस 14 के कंटेस्टेंट राहुल वैद्य ने ट्वीट कर के कहा है, “बहुत दिनों से कुछ कहना चाहता था.. सुशांत भाई अमर रहो! हमेशा तुम्हें याद करता हूं।”

एक यूजर ने लिखा है, “SSR की पुण्यतिथि के लिए केवल 2 दिन शेष हैं.. और हम अभी भी सबूत ढूंढ रहे हैं।”

वहीं दूसरे यूजर ने लिखा है, “कुछ बिंदु…

*पिठानी न्यायिक हिरासत में

* ‘दुनिया के बेस्ट सीएम’ उद्धव ने की पीएम मोदी से आमने-सामने मुलाकात

* संजय राउत ने ‘नमो’ को भारत के सबसे बड़े नेता के रूप में प्रमाणित किया

* SSR की पुण्यतिथि आने ही वाली है, प्रशंसक बहुत मुखर हैं, मृत्यु का कारण अभी भी रहस्यमय है, सीबीआई पर अंदेशा।”

सुशांत को याद करते हुए एक यूजर लिखा है, “सुशांत सिंह राजपूत हमेशा हमारे दिलों में रहते हैं।”

“प्लीज वापस आ जाओ, हम सब आपको बहुत याद करते हैं”- यूजर

Source : NewsTrack

Continue Reading

TRENDING

नहीं पहना था मास्क तो महिला पुलिस कांस्टेबल ने उतारी आरती, गाया ‘मास्क पहनो’ भजन

Published

on

पूरा देश कोरोना वायरस की चपेट में है. आलम ये है कि लाख कोशिशों के बावजूद महामारी बढ़ती ही जा रही है. लोगों से फेस मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे नियमों को सख्ती से पालन करने के लिए कहा जा रहा है. लेकिन, इसके बावजूद लोग लापरवाही बरत रहे हैं. इतना ही नहीं इस कोरोना काल में एक से बढ़कर एक मजेदार मामले भी देखने को मिल रहे हैं. सोशल मीडिया पर ऐसे-ऐसे वीडियो वायरल होते रहते हैं, जिसे देखकर कभी हंसी छूट जाती है तो कभी हैरानी भी होती है. एक ऐसा ही मामला इन दिनों लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ.

‘दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी’ कोरोना से बचने का इसे मूलमंत्र माना जा रहा है. लेकिन, कई लोग अब भी इसे नजरअंदाज कर रहे हैं. ऐसे में जब दो शख्स बिना मास्क लगाए घूम रहे थे तो एक महिला पुलिसकर्मी ने जो किया उसे देखकर एक पल के लिए आप हैरान जरूर होंगे. लेकिन, बड़ी सीख भी मिलेगी. जैसा कि आप वीडियो में देख सकते है मास्क नहीं पहनने पर किस तरह महिला पुलिसकर्मी शख्स की आरती उतार रही है और फिर गाना गाती है, ‘मास्क लगा लोग प्रभु मास्क लगा लो’.

तो सबसे पहले आप इस मजेदार वीडियो को देखें…

‘सोशल मीडिया पर छाया वीडियो’

सोशल मीडिया पर अब यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. आपको भी इस वीडियो को देखकर मजा आया होगा. ट्विटर पर इस वीडियो को इंडियन पुलिस सर्विस के अधिकारी ‘Bhisham Singh’ ने शेयर किया है. वीडियो शेयर करते हुए उन्होंने लिखा, ‘ मास्क लगा लो प्रभु मास्क लगा लो’. खबर लिखे जाने तक इस वीडियो को 60 हजार लोग देख चुके हैं. वहीं, इस वीडियो पर यूजर्स मजेदार रिएक्शन भी दे रहे हैं.

Source : TV9

Continue Reading

TRENDING

नासिक के बुजुर्ग का दावा, कोरोना वैक्‍सीन लगवाने के बाद शरीर बन गया चुंबक

Published

on

नासिक. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nashik) के एक बुजुर्ग ने दावा किया है कि कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) की दूसरी डोज (Second Dose) लेने के बाद उनके शरीर में चुंबकीय शक्ति (Magnetic Power) पैदा हो गई है. उन्‍होंने दावा किया है कि जब से उन्‍होंने वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है तब से उनके शरीर में स्‍टील के बर्तन चिपक रहे हैं. सोशल मीडिया पर बुजुर्ग का जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें देखा जा सकता है कि लोहे की तरह ही उनके शरीर में स्‍टील के बर्तन भी चिपक जाते हैं. इस अजीबोगरीब मामले के सामने आने के बाद डॉक्‍टर भी इसकी जांच में जुट गए हैं.

नासिक के अरविंद जगन्नाथ सोनार के शरीर में चिपक रहे स्‍टील के बर्तन.

नासिक के अरविंद जगन्नाथ सोनार (71) ने कुछ दिन पहले ही कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है. बुजुर्ग अरविंद ने दावा किया है कि जब से उन्‍होंने कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज ली है तब से उनके शरीर में चुंबकीय शक्ति आ गई है. नासिक के शिवाजी चौक में रहने वाले अरविंद जगन्‍नाथ ने अपनी बात को साबित करने के लिए एक वीडियो भी बनाया है जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. इस वीडियो में अरविंद के शरीर में चम्मच, छोटी प्लेट और घर में इस्तेमाल की जाने वाले वाले बर्तन चिपके हुए दिखाई पड़ते हैं.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bol Bhidu (@bolbhidu)

अरविंद जगन्‍नाथ ने बताया कि जब पहली बार ऐसा हुआ तो लगा शायद पसीने की वजह से बर्तन शरीर से चिपक रहे हैं. इसके बाद मैं नहा लिया. लेकिन जब उन्‍होंने फिर बर्तन को शरीर पर रखा तो वह चिपक गया.

After Taking Second Dose Of Corona Vaccine A Man Get Magnetic Power - कोरोना  वैक्सीन की दूसरी डोज लेते ही बुजुर्ग का शरीर बना मैग्नेट, चिपकने लगा मेटल |  Patrika News

डॉक्टरों के लिए इस तरह का ये पहला मामला है

अरविंद जगन्‍नाथ ने दावा किया है कि कोरोना वैक्‍सीन की दूसरी डोज लेने के बाद ही उनके अंदर बदलाव आया है. ऐसे में डॉक्‍टरों के लिए ये एक पहली बन गया है. डॉक्‍टर अशोक थोरात ने कहा कि ये एक शोध का विषय है. अरविंद जगन्‍नाथ के शरीर में स्‍टील क्‍यों चिपक रही है इसके बारे में अभी हम कुछ नहीं कह सकते. हम पूरी जांच के बाद में ही किसी निष्कर्ष पर पहुंच सकेंगे. फिलहाल इस पूरे मामले की रिपोर्ट महाराष्‍ट्र सरकार को सौंपी जाएगी. सरकार के आदेशानुसार ही किसी निष्‍कर्ष पर पहुंचा जा सकेगा.

Source : News18

Continue Reading
MUZAFFARPUR8 hours ago

गायघाट में राजद विधायक ने किया नदी के कटाव स्थल का निरीक्षण, ग्रामीणों ने कहां इस बार नदी में समाएगा ‘पूरा गांव

VIRAL8 hours ago

देखते ही देखते जमीन में समां गई कार, मानसून से पहले ही भयानक है मुंबई की तस्वीर

WORLD9 hours ago

चीन फिर लाया चमगादड़ थ्योरी, वैज्ञानिकों ने 24 तरह के नए नोवेल कोरोना वायरस मिलने का किया दावा

MUZAFFARPUR12 hours ago

मुजफ्फरपुर : 5 अपराधकर्मी गिरफ्तार ; हथियार, स्मैक व चोरी की ट्रक हुआ बरामद

BIHAR12 hours ago

कोरोना की रिपोर्ट आई निगेटिव, हॉस्पिटल ने बताया पॉजिटिव, शरीर में कई जगह चीड़ फाड़ से भड़के परिजन, अंग निकालने का आरोप

OMG13 hours ago

दुनिया का सबसे महंगा आम, जो दुकान पर नहीं मिलता, लगती है बोली

BIHAR16 hours ago

वीडियो: पवन सिंह का गाना बजते ही बेकाबू हुए मुखिया पति, बार बालाओं संग लगाए ठुमके

BIHAR16 hours ago

साथ काम करने वाली एक भी औरत को नहीं छोड़ा, यह अधिकारी इंसान है या…सीतामढ़ी बाल संरक्षण इकाई का मामला

BIHAR16 hours ago

शादी करना चाह रहे लोगों के लिए अच्छी खबर, जून-जुलाई में 23 लग्न; फिर करना होगा चार महीने इंतजार

BIHAR16 hours ago

बिहार में जुलाई से अनलॉक हो सकते हैं शिक्षण संस्‍थान, पटरी पर आएगी शिक्षा व्‍यवस्‍था!

BIHAR2 weeks ago

23 बैंकों के विलय की तैयारी, रिजर्व बैंक ने दी सहमति तो बिहार में पूरी तरह बदल जाएगी व्‍यवस्‍था

INDIA6 days ago

‘बाबा का ढाबा’ के मालिक वापस उसी जगह पर आए जहां से मिलीं थीं सुर्खियां, बंद हुआ नया रेस्टोरेंट

BIHAR6 days ago

बचपन में नीतीश के कार्यक्रम में दिया था भाषण, अब BPSC परीक्षा में मारी बाजी

INDIA4 days ago

आज साल का पहला सूर्य ग्रहण, जानिए किन शहरों में दिखेगा ये नज़ारा

BIHAR4 weeks ago

बिहार में आज से लागू हुई लॉकडाउन की नई गाइडलाइन, देखें पाबंदियों और सहूलियतों की सूची

BIHAR5 days ago

पांच बेटियों के पिता के पास ब्याह के लिए नहीं थे पैसे, बेटे ने किडनी बेचने की कर ली तैयारी

BIHAR1 week ago

बिहार : इन 5 जिलों में भारी वज्रपात के आसार, घरों से नहीं निकलने की चेतावनी जारी

INDIA3 weeks ago

IAS बनने के लिए HR की नौकरी छोड़ी, दो बार असफल होने के बाद डिप्रेशन में बन गई ‘कूड़ा बीनने वाली’

BIHAR2 weeks ago

बिहार में लॉकडाउन-4, यहां देखें लिस्ट 2 जून से क्या खुलेंगे और क्या रहेगा बंद

INDIA2 weeks ago

11वीं के छात्र संग फरार हुई महिला टीचर, घर पर रोज 4 घंटे पढ़ाती थी ट्यूशन

Trending