'फिर मिलेंगे सर, जय हिंद', आईजी एस रविन्द्रण को कहे थे ये शब्द
Connect with us
leaderboard image

BIHAR

‘फिर मिलेंगे सर, जय हिंद’, आईजी एस रविन्द्रण को कहे थे ये शब्द

Avatar

Published

on

‘फिर मिलेंगे सर, जय हिंद।’ इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह ने पिछले दिनों कोलकाता में सीआरपीएफ के आईजी एस रवींद्रन को अलविदा कहते हुए यही बात कही थी। 5 बाद दिन बाद, रवींद्रन को खबर मिली कि पिंटू जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में तीन दिन तक चले एनकाउंटर में शहीद हो गए हैं।

S. Raveendran, IPS

इसे सुनकर आईजी हक्का-बक्का रह गए। ‘खबर मंथन’ से बातचीत में वह कहते हैं, ‘उनके आखिरी शब्द अभी भी कानों में गूंज रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि हम सीआरपीएफ के बहादुर जाबाज इंस्पेक्टर पिंटू सिंह को सच्चे दिल से सलाम करते हैें।

पिंटू (35) सीआरपीएफ की 92वीं बटैलियन का हिस्सा थे और बिहार के बेगूसराय के रहने वाले थे। वह कुपवाड़ा में तैनात थे। बिहार कैडर के आईपीएस शंकरण पिछले 18 फरवरी कोलकाता में पिंटू से मिले तब मिले थेे जब पिंटू सीआरपीएफ की तरफ से आयोजित भारत दर्शन प्रोग्राम के तहत आए 15 कश्मीरी किशोरों की टीम को एस्कॉर्ट कर रहे थे।

एस शंकरण की बैचमेट उनकी आईपीएस पत्नी आर मलार विजी भी केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति पर कोलकाता में ही पोस्टेड हैं। मलाार विजी पटना की एसएसपी भी रह चुकी हैं। उनके अधिकारी ने बताया कि पिंटू हमेशा विनम्र और अच्छी तरह से व्यवहार करते थे। इसके चलते वह तनावग्रस्त इलाके के लोगों से भी आसानी से जुड़ जाते थे।

रवींद्रन बताते हैं, ‘पिंटू कश्मीर के माहौल में घुल-मिल गए थे इसलिए उन्हें युवाओं की टीम का नेतृत्व करने के लिए चुना गया था। उनका स्थानीय लोगों के साथ जुड़ाव आश्चर्यजनक था।’ पिछले ऑपरेशन के दौरान अच्छे प्रदर्शन की वजह से ही उनके अधिकारियों को महत्वपूर्ण शांति मिशन के लिए उन्हें चुनने में आसानी रही जिसमें सीआरपीएफ हर हाल में कामयाब चाहता था। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ पिछले तीन दिन से चल रही मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर हो गए थे वहीं इसमें 5 सुरक्षाकर्मी भी शहीद हो गए थे। एनकाउंटर के दौरान शहीदों में तीन सीआरपीएफ जवान और दो जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान शामिल हैं।

सूत्रों के मुताबिक 1 मार्च को एनकाउंटर के दौरान पिंटू सिंह उस घर में घुसे थे जहां से आतंकी फायरिंग कर रहे थे। एक अधिकारी ने बताया, ‘फायरिंग बंद हो चुकी थी तो हमने सोचा कि सभी आतंकी मर चुके हैं। इंस्पेक्टर पिंटू सिंह जो कि इंस्पेक्टर अपने किसी साथी को भी जाकर चेक करने के लिए कह सकते थे लेकिन उन्होंने खुद ही अंदर जाने का फैसला किया। इतने में ही एक आतंकी जिसे हम मरा हुआ समझ रहे थे उसने उनको गोली मार दी।’

 

BIHAR

लालू के लाल तेज प्रताप ने फिर धरा शिव का रूप, सोशल मीडिया पर VIDEO VIRAL

Avatar

Published

on

लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) अलग-अलग रूप धरते हैं जो लोगों के बीच चर्चा का विषय बन जाता है। उनका रूप सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल भी हो जाता है। अभी सावन का महीना चल रहा है। सावन की पहली सोमवारी पर तेज प्रताप भगवान शिव की भक्ति में ऐसे लीन हुए कि भोले शंकर का रूप धर लिया।

बता दें कि पिछली बार भी सावन महीने में जब हर कोई भगवान शंकर की भक्ति में डूबा था तो तेज प्रताप ने भोले नाथ का रूप धरा था। उनका वह रूप काफी दिनों तक चर्चा का विषय बना रहा था।

वैसे भी तेज प्रताप यादव अपने निराले अंदाज के लिए जाने जाते हैं। कभी वे कृष्ण का रूप धर लेते हैं तो कभी भगवान शंकर के रूप में देखे जाते हैं। कभी सड़क निर्माण कार्य करने लगते हैं तो कभी जलेबी बनाते हैं। कभी गायें चराने लगते हैं तो कभी घुड़सवारी भी करते हैं।

भस्म रमाया और पहनी बाघ की छाल

इस बार 22 जुलाई को सावन की पहली सोमवारी थी और लोग बाबा भगवान शंकर की भक्ति में रमे हुए थे। ऐसे में तेज प्रताप ने भी अपने आवास में स्थित मंदिर में भगावन भोलेनाथ की पूजा-अर्चना की। इस दौरान उन्होंने पूरे शरीर पर सफेद धोती लपेटी हुई थी। साथ ही, पूरे शरीर में भस्म लगाया था।  मृगछाला धारण कर वे बिल्कुल भगवान शंकर का अवतार लग रहे थे।

पिछले साल गए थे बाबाधाम और धरा था शिव का रूप

तेज प्रताप यादव ने पिछले साल सावन के महीने में देवघर स्थित बाबा बैद्यनाथ धाम गए थे और वहां उन्होंने शिव के दर्शन किए थे। जाने से  पहले उन्होंने पटना के शिवालय में पूजा-अर्चना की थी और उसी समय से उन्होंने भगवान शंकर की तरह का वेश बना रखा था और साथ में डमरू भी बजाया था। उनकी तस्वीर और वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल हुए थे।

जब धरा था कन्हैया का रूप, पीएम मोदी ने भी की थी चर्चा

तेज प्रताप एक बार ‘कृष्ण’ रूप में नजर आए थे, जिसमें गौशाला में जाकर गायों के बीच बांसुरी बजा रहे थे। उनके इस  रूप को देखकर लोगों ने उन्हें लालू का कन्हैया कहना शुरू कर दिया था। यही नहीं, पीएम मोदी ने भी उनके इस रूप की चर्चा की थी। इसके बाद तेज प्रताप जब-जब मथुरा जाते हैं तो उनकी कृष्ण भक्ति की तस्वीरें खूब चर्चा बटोरती हैं।

कभी धरते हैं भगवान का रूप तो कभी करते घुड़सवारी

लालू प्रसाद के बड़े बटे तेज प्रताप यादव हर कला में माहिर हैं। वे घुड़सवारी भी करते हैं तो क्रिकेट खेलते हैं। शंख बजाते हैं तो बांसुरी भी बहुत अच्छी तरह बजा लेते हैं। उनका मन ज्यादातर अध्यात्म में रमता है, लेकिन राजनीति की भी समझ रखते हैं। तेज प्रताप जितनी अपनी राजनीतिक गतिविधियों को लेकर तो चर्चा में रहते ही हैं, अपने विभिन्न रूपों को लेकर भी सुर्खियां बटोरते हैं।

Input : Dainik Jagran

 

Continue Reading

BIHAR

सहारा समूह ने जमाकर्ताओं के पैसे वापस नहीं किए तो सरकार करेगी कार्रवाई

Avatar

Published

on

बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि सहारा इंडिया समूह यदि जमाकर्ताओं के पैसे वापस नहीं करती है तो राज्य सरकार उसके खिलाफ बिहार जमाकर्ताओं के हित का संरक्षण कानून के तहत कार्रवाई करेगी। मोदी ने आज विधानसभा में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के कुमार सर्वजीत के अल्पसूचित प्रश्न के उत्तर में कहा कि सहारा समूह की तीन सोसायटी जमाकर्ताओं से निवेश के लिए राशि प्राप्त करती है। इन तीनों सोसायटी का निबंधन भारत सरकार से है। निवेशकों से जमा प्राप्त करना एवं परिपक्व राशि का भुगतान करना मूलत: इन सोसायटियों का ही उत्तरदायित्व है। इसमें तीसरे पक्ष की भूमिका नहीं होती है। इसके बावजूद बिहार सरकार अपने स्तर से सभी निवेशकों की जमा पूंजी वापस कराने के लिए प्रयास कर रही है।

अब तक 3556 शिकायत मिली है

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सहारा के विरुद्ध परिपक्वता राशि के भुगतान के संबंध में करीब छह हजार रिपिट शिकायतें पूरे राज्य से प्राप्त हुई, जिसमें से 2503 का ही निष्पादन हुआ है। पटना जिला में सर्वाधिक 3556 शिकायत मिली, जिनमें से 1982 मामलों में 18 करोड़ 36 लाख 51 हजार 566 रुपए का भुगतान किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि सहारा इंडिया के प्रतिनिधियों के साथ लगातार समीक्षा बैठक की जा रही है। विभागीय स्तर पर भी अनुश्रवण किया जा रहा है। मोदी ने कहा कि जमाकर्ताओं का भुगतान कराने का प्रयास किया जा रहा है। भुगतान नहीं होने की स्थिति में सहारा इंडिया कंपनी के खिलाफ बिहार जमाकर्ताओं के हितों का संरक्षण (वित्तीय स्थापना में) अधिनियम 2002 (संशोधित) अधिनियम 2013 एवं 2017 के तहत कार्रवाई करने के लिए सभी जिला पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है।

Continue Reading

MUZAFFARPUR

बाबा पर 40 हजार भक्तों ने किया जलाभिषेक

Avatar

Published

on

सावन की पहली सोमवारी पर बाबा गरीबनाथ मंदिर में करीब 40 हजार शिवभक्तों ने बाबा का जलाभिषेक किया। कांवरियों का आना रविवार की सुबह से जो शुरू हुआ, सोमवार देर शाम तक जारी रहा। मंदिर प्रबंधन की मानें तो इस बार डाक कांवर सहित करीब 15 हजार कांवरियों ने बाबा गरीबनाथ का जलाभिषेक किया। सुबह करीब तीन बजे से स्थानीय लोगों का आना भी शुरू हो गया। ‘बोल बम’ और ‘हर हर महादेव’ के स्वर वातावरण में गूंज रहे थे।

 

लोगों ने कतारबद्ध होकर अरघा के माध्यम से बाबा को जल चढ़ाया। हालांकि, भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अन्य बार की तरह ही पुलिस प्रशासन व मंदिर प्रबंधन की ओर से पर्याप्त इंतजाम किए गए थे। मंदिर व मेला परिसर में काफी संख्या में पुरुष व महिला स्वयंसेवक तैनात थे। काफी पुलिस भी तैनात थी। प्रशासन की ओर से विभिन्न अधिकारियों के अलावा मंदिर न्यास समिति सचिव एनके सिन्हा, प्रशासक पं. विनय पाठक, न्यास समिति सदस्य डॉ. गोपाल फलक आदि व्यवस्था पर नजर रखे हुए थे। लोगों की भीड़ कम होने पर दोपहर करीब चार बजे प्रशासनिक स्वीकृति के बाद मंदिर प्रबंधन ने अरघा हटा दिया। उसके बाद देर शाम तक जल चढ़ाया गया।

रंग-बिरंगे पुष्पों से किया बाबा का महाश्रृंगार

पहली सोमवारी पर रात्रि में बाबा गरीबनाथ का रंगबिरंगे फूलों से महाश्रृंगार किया गया। इसके पूर्व पुजारी पं. बैद्यनाथ पाठक ने बाबा का जलाभिषेक किया। फिर दूध, दही, घी, शहद, शक्कर, चावल आदि से षोडशोपचार विधि से पूजन हुआ। उन्हें चंदन का लेप, भस्म व अष्टगंध लगाया गया। फिर शुरू हुआ महाश्रृंगार। गेंदा, गुलाब, कमल, बेला, जूही आदि रंगबिरंगे पुष्पों से सजे बाबा का मनमोहक स्वरूप देखते बनता था। लोग उस दृश्य को अपने कैमरे में उतारने को आतुर थे। इसके बाद महाआरती हुई। इसमें मंदिर के प्रधान पुजारी पं. विनय पाठक, वार्ड पार्षद केपी पप्पू, पंडित आशुतोष पाठक, संत अमरनाथ, पंडित अभिषेक पाठक, आचार्य सन्नी पाठक, भाजपा नेता प्रभात कुमार, रिंकू पाठक आदि शामिल हुए। बताते चलें कि पिछले साल की भांति इस साल भी बाबा के दर्शन के लिए बाहर बरामदे पर प्रोजेक्टर लगाया गया था। कई लोगों ने इसके माध्यम से उस आलौकिक दृश्य के दर्शन किए। मनाही के बावजूद प्रतिबंधित क्षेत्र में लगी रहीं दुकानें: शहर में प्रवेश करने पर निर्धारित कांवरिया मार्ग में मनाही के बावजूद कुछ फुटपाथी दुकानदारों ने दुकान सजाने से गुरेज नहीं किया। लाख कहने पर भी वे नहीं माने। पहली सोमवारी में भक्तों की संख्या अधिक नहीं रहने के कारण ज्यादा परेशानी तो नहीं हुई, मगर यदि दूसरी सोमवारी में भी यह स्थिति रही तो समस्या आ सकती है।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
BIHAR59 mins ago

लालू के लाल तेज प्रताप ने फिर धरा शिव का रूप, सोशल मीडिया पर VIDEO VIRAL

BIHAR2 hours ago

सहारा समूह ने जमाकर्ताओं के पैसे वापस नहीं किए तो सरकार करेगी कार्रवाई

WORLD5 hours ago

कश्मीर मामले में भारत ने कभी नहीं मांगी मदद, ट्रंप का दावा झूठा; व्हाइट हाउस को देनी पड़ी सफाई

INDIA11 hours ago

सावन के पहले सोमवार पर मुस्लिमों ने पेश की अनोखी मिसाल, हो रही वाह-वाह, जानें पूरा मामला

MUZAFFARPUR12 hours ago

बाबा पर 40 हजार भक्तों ने किया जलाभिषेक

MUZAFFARPUR12 hours ago

पीजी में एडमिशन सिस्टम फेल, 27 तक बढ़ाई गई तारीख

MUZAFFARPUR24 hours ago

मुजफ्फरपुर : नलजल योजना में मुखिया ने कराया बेटा को भुगतान, परिवाद दायर

INDIA1 day ago

ISRO के चंद्रयान-2 के लॉन्च पर Akshay Kumar समेत इन बॉलीवुड सितारों ने दी बधाई

MUZAFFARPUR1 day ago

आस्था के नाम पर खुद के औऱ अपनो के जान के साथ मत करें खिलवाड़, पड़ सकता है महंगा

BIHAR1 day ago

BJP नेताओं की बयानबाजी से JDU नाराज, दी चेतावनी-साथ या अलग, अभी तय कर लें

INDIA4 weeks ago

पूरे देश में एक जैसा होगा लाइसेंस, राज्य नहीं कर पाएंगे कोई बदलाव

BIHAR1 week ago

सुबह में ढोयी बालू की बोरियां, शाम में लग गए एनडीआरएफ के साथ… ऐसे हैं डीएम साहब

BIHAR1 week ago

बिहार में पहली बार पुलिसकर्मियों पर हुई बड़ी कार्रवाई, 3 DSP, 50 इंस्पेक्टर सहित 66 पर FIR

BIHAR7 days ago

पटना पहुंचे रितिक रोशन, आनंद कुमार के पैर छुए, कहा- लगता है पिछले जन्म में मैं बिहारी ही था

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर में सरकारी राशि की मची है लूट, मनरेगा योजना में मजदूरों के बदले चल रहे JCB और टैक्टर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : लड़की ने किया सु’साइड, कूद गई पानी की टंकी से

MUZAFFARPUR4 weeks ago

DM ने बढ़ाई स्कूल खुलनें की तारीख, सभी सरकारी-गैर सरकारी मे जारी रहेगा धारा 144

BIHAR3 weeks ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में भीषण बारिश और आंधी

MUZAFFARPUR2 weeks ago

पब्लिक ट्रांसपोर्ट : Hello My Taxi ने मुजफ्फरपुर कैब के साथ शुरू की कैब सर्विस

INDIA3 weeks ago

चलते वाहन की चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इनका है चालान करने का अधिकार

Trending

0Shares