Connect with us

BIHAR

पोस्टर वा’र ‘बिहार में बहार’ नहीं ‘ठीके तो है नीतीश कुमार’, RJD ने दिया ये जवाब, जानिए

Published

on

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) में तो अभी वक्त है, लेकिन इसकी तैयारी शुरू हो चुकी है और इस बार जनता दल यूनाइटेड (JDU) और राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के बीच सीधी लड़ाई अभी से दिखने लगी है। दोनों दलों के बीच पोस्‍टर व स्‍लोगन की ल’ड़ाई शुरू हो चुकी है।

जेडीयू ने चुनावी तैयारी करते हुए अपना पहला पोस्टर जारी किया है जिसमें उसने पहले के चुनावी स्‍लोगन ‘बिहार में बहार…’ से अलग ‘क्यूं करे विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार’ का नया स्लोगन जारी किया है। जेडीयू इसके जरिए यह संदेश देना चाहता है कि नीतीश कुमार का कोई विकल्प नहीं है। ऐसे में किसी दूसरे के लिए विचार क्यों किया जाए।

जेडीयू के इस स्‍लोगन के जवाब में आरजेडी ने भी अपना पोस्टर निकालकर स्लोगन दिया है। इसमें आरजेडी ने मौजूदा सरकार और सीएम नीतीश पर सीधा हमला बोला है। स्लोगन है- ‘क्यों ना करें विचार, बिहार है बीमार…’

एक तरफ जेडीयू का मानना है कि बिहार में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) का कोई विकल्प नही हैं। ऐसे में गांव के चौपालों पर जो आम बोलचाल की भाषा में चर्चा होती है, उसमें स्‍लोगन दिया गया है। इसमें यही उभर के सामने आता है- ‘क्यूं करे विचार, ठीके तो है नीतीश कुमार।’ स्‍लोगन जेडीयू के राष्ट्रीय सचिव उपेन्द्र कुमार सिंह ने दिया है, जिसे पार्टी कार्यालय के बाहर लगाया गया है।

दूसरी ओर आरजेडी ने बिहार सरकार और सीएम नीतीश कुमार की नाकामियों को उजागर किया है और अपने पोस्टर पर बिहार के नक्शे में चमकी बुखार, बाढ़, हत्या, सुखाड़, डकैती, अपहरण, लूट को दर्शाते हुए राज्‍य में कुव्यवस्था को दिखाया है।

बता दें कि बिहार के 2015 विधानसभा चुनाव में जेडीयू व आरजेडी साथ थे। तब ‘बिहार में बहार हो, नीतीशे कुमार हो ‘ का स्‍लोगन दिया गया था। यह स्‍लोगन बिहार में खूब चला था। इसे राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) ने गढ़ा था। उस वक्त नीतीश कुमार महागठबंधन (Grand Alliance) का चेहरा थे। आज दोनों दल एक-दूसरे के विरोध में हैं।

 

जेडीयू के पोस्टर पर आरजेडी ने कसा तंज

नीतीश कुमार अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) के साथ मिलकर राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की सरकार चला रहे हैं। आरजेडी ने नीतीश कुमार पर तंज कसता हुआ स्‍लाेगन जारी किया है। आरजेडी नीतीश कुमार के विकल्प की बात तो नहीं करता, लेकिन यह जरूर कहता है कि बिहार में एके-47 की बहार है, जेल में जन्मदिन पार्टी गुलजार है फिर भी क्यूं न करें विचार। ठीके हैं, यानी बहुत ठीक नही हैं नीतीश कुमार।
आरजेडी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि नीतीश की पार्टी के कुछ लोगों ने सत्ता की चाहत में पोस्‍टर लवाए हैं। आरजेडी विधायक और प्रवक्ता भाई वीरेंद्र का कहना है कि जेडीयू ने नीतीश कुमार को इस स्लोगन के जरिए एक कदम पीछे ही कर दिया है। यह जल्दीबाजी में दिया गया स्लोगन है, जिसमें बड़े ही ठंडे अंदाज में बताया गया है कि ठीक ही हैं नीतीश कुमार। उन्होंने कहा है कि बिहार में जो हालत हैं, जिस तरीके से कानून व्यवस्था का सवाल पैदा हो रहा है, उसमें ठीक ही है कैसे कहा जा सकता है। जिस राज्य में एके 47 की बहार हो, जहां जेल में कैदी बर्थ-डे पार्टी मना रहें हों। सीतामढ़ी में एक महिला पार्षद को फोन पर सत्ताधारी दल के नेता द्वारा धमकी दी जा रही हो, वहां सबकुछ कैसे ठीक हो सकता है।

Input : Dainik Jagran

 

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : रेड जोन वाले शहरों से आने वाले व्यक्तियों को ही क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखा जाएगा

Published

on

बड़ी संख्या में आ रहे प्रवासी मजदूरों को आवासित करने हेतु बनाए गए प्रखंड स्तरीय एवं पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों के बारे में एक महत्वपूर्ण बैठक जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर डॉ० चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में शुक्रवार को समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में की गई। बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े प्रखंड स्तरीय पदाधिकारी एवं प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि अब सिर्फ रेड जोन वाले शहरों से आने वाले व्यक्तियों को ही प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखा जाएगा एवं पूर्व के भांति प्रशासन के ही स्तर से सारी सुविधाएं उन केंद्रों में उपलब्ध कराई जाएंगी।

शेष अन्य शहरों से आनेवाले प्रवासियों को होम क्वॉरेंटाइन में भेजा जाएगा। बैठक में बताया गया कि गुजरात के दो शहर सूरत एवं अमदाबाद, महाराष्ट्र के दो शहर मुंबई और पुणे। इसके अतिरिक्त दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा और गुड़गांव तथा कोलकाता एवं बेंगलुरु इन 10 शहरों से आने वाले प्रवासी श्रमिकों को प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों में या वैसे पंचायत स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखा जाएगा जिसमें सारी सुविधाएं उपलब्ध हो।

जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि वैसे प्रवासी श्रमिकों को जो कि उपरोक्त शहरों से आ रहे हैं उन्हें प्रखंड स्तरीय क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ रखें। अधिक से अधिक 10 लोगों पर एक शौचालय का होना अनिवार्य है। इसके साथ ही बताया गया कि पूर्व से प्रखंड क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रहने वाले प्रवासी जो रेड जोन वाले के साथ नहीं रह रहे हैं उनका प्रॉपर मेडिकल स्क्रीनिंग कराते हुए उन्हें होम क्वॉरेंटाइन के लिए उनके घर भेज दिया जाए।

साथ ही वर्तमान में जो उपरोक्त वर्णित 10 शहरों में से आने वाले प्रवासी श्रमिकों को प्रखंड क्वॉरेंटाइन में ही रखें औरअन्य दूसरे शहरों से जो प्रवासी आ रहे हैं उनका निबंधन प्रखंड स्थित निबंधन केंद्रों पर कराते हुए एवं मेडिकल स्क्रीनिंग कराते हुए उन्हें होम क्वॉरेंटाइन लिए भेज दिया जाए। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि रेड जोन से आने वाले प्रवासी जिन्हें प्रखंड क्वारेंटाइन केंद्रों में रखा जाना है, या रखा जा रहा है उन्हें सहायता किट अचूक रूप से उपलब्ध हो जानी चाहिए।

साथ ही सरकार द्वारा प्रदत सभी सुविधाओं की उपलब्धता भी सुनिश्चित हो जानी चाहिए ।इसमें किसी भी तरह की लापरवाही पर कार्रवाई की जाएगी। बैठक में उप विकास आयुक्त उज्जवल कुमार सिंह, नगर आयुक्त मनेश कुमार मीणा , सहायक समाहर्ता खुशबू गुप्ता, अपर समाहर्ता आपदा अतुल कुमार वर्मा, अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी एवं पश्चिमी एवं सभी जिला स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

Continue Reading

BIHAR

बिहारी को बीमारी बताया जा रहा है, सोनिया की मीटिंग में भड़के तेजस्वी ने सरकार पर लगाया आरोप

Published

on

कोरोना संकट को लेकर रणनीति बनाने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की तरफ से विपक्षी दलों की बुलाई गई. बैठक में तेजस्वी यादव आज गुस्से में नजर आए. दरअसल तेजस्वी यादव का गुस्सा सरकार के खिलाफ था. केंद्र और राज्य सरकार के रवैए से नाराज नेता प्रतिपक्ष ने सोनिया सहित 21 अन्य दलों के नेताओं के सामने यह कह डाला कि बिहारियों को बीमारी कहा जा रहा है. क्वॉरेंटाइन सेंटर में उनके साथ ज्यादती हो रही है और बिहार में वापस आने पर उन्हें बीमारी लाने वाले के तौर पर गाली सुनना पड़ रहा है.

तेजस्वी यादव ने सोनिया गांधी के सामने दो टूक कह दिया कि विपक्ष केंद्र सरकार की नाकामियों को उजागर करने में विफल रहा है. तेजस्वी ने कहा कि हमें एकजुटता दिखाते हुए सरकार की नाकामियों को प्रचारित करना होगा. केंद्र सरकार से लोगों की नाराजगी बढ़ी हुई है. लेकिन हम उस की नाकामियों को सामने नहीं ला पा रहे हैं. तेजस्वी ने कहा कि यूपीए सरकार की उपलब्धियां भी हमें गिनानी होगी. जिनमें मनरेगा जैसी योजना प्रमुख है. आगे कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर आना बेहद मुश्किल है. क्योंकि देश के अलग-अलग राज्यों में काम करने वाले बिहारी मजदूर अब वापस जाने को तैयार नहीं है.

तेजस्वी ने सोनिया गांधी सहित अन्य विपक्षी नेताओं के सामने यह भी दावा किया कि उनकी पार्टी लगातार प्रवासियों के संपर्क में है. क्वॉरेंटाइन सेंटर से लेकर वहां से बाहर निकलकर घर पहुंचे प्रवासियों तक कार्यकर्ता संपर्क बनाकर रखे हुए हैं. इन प्रवासी मजदूरों का साफ तौर पर कहना है कि वह बिहार छोड़कर अब वापस नहीं जाने वाले है. ऐसे में इन प्रवासी के बिहार में रहने से देश के अन्य राज्यों में कल कारखाने कैसे चलेंगे. इस पर भी बड़ा संकट है ताकि हमें श्रम कानूनों में किए जा रहे बदलाव का खुलकर विरोध करना होगा.

Input : First Bihar

Continue Reading

BIHAR

मैट्रिक का रिजल्ट आने में 4-5 दिन और लगेंगे, बिहार बोर्ड ने कहा- आज जारी नहीं होगा परीक्षाफल

Published

on

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की 10वीं यानि मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट आने में अभी 4-5 दिन का समय लगेगा. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति यानि BSEB ने इसकी जानकारी दे दी है कि आज परीक्षा का रिजल्ट निकलने नहीं जा रहा है.

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा है कि पोस्ट इवैल्यूएशन प्रक्रिया का थोड़ा काम लंबित है. इसलिए रिजल्ट आने में अभी कुछ और वक्त लगेगा. 10वीं परीक्षा का रिजल्ट अगले 4-5 दिनों में कभी भी आ सकता है.

mask-up-bihar-muzaffarpur-now

दरअसल पहले से ये उम्मीद लगायी जा रही थी कि बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट आज घोषित किया जा सकता है. अंदाजा ये लगाया जा रहा था कि शाम के 6 बजे रिजल्ट घोषित किया जायेगा. लेकिन शाम 6 बजने से पहले ही बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने बता दिया है कि आज रिजल्ट जारी नहीं किया जा रहा है. मैट्रिक रिजल्ट  के लिए बेताब छात्र-छात्राओं को 4-5 दिन और इंतजार करना होगा.

कोरोना के खतरे के कारण  रिजल्ट में हुई देरी

बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा का रिजल्ट काफी पहले ही आ गये होते लेकिन कोरोना वायरस और लॉकडाउन ने बिहार  विद्यालय परीक्षा समिति के पूरे शेड्यूल को बिगाड़ दिया. मैट्रिक परीक्षा की कॉपियों को जांचने में डेढ़ से दो महीने की देर हुई. पिछले साल बिहार बोर्ड ने फरवरी में मैट्रिक परीक्षा ली थी और मार्च के आखिर में रिजल्ट घोषित कर दिया गया था. हालांकि कोरोना और लॉकडाउन के कारण कॉपियों को जांचने में देरी होने के बावजूद बिहार विद्यालय परीक्षा समिति देश के दूसरे राज्यों से आगे है. अगर 4-5 दिनों में रिजल्ट घोषित होता है तो भी बिहार देश में सबसे पहले 10वीं का रिजल्ट घोषित करने वाले राज्यों में शामिल हो जायेगा.

Input : First Bihar

Continue Reading
WORLD6 hours ago

प्लेन क्रैश का आखिरी खौफनाक पल, जब पायलट ने कहा- दोनों इंजन काम नहीं कर रहे

INDIA7 hours ago

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने WHO के एक्जीक्यूटिव बोर्ड के अध्यक्ष का कार्यभार संभाला

MUZAFFARPUR7 hours ago

मुजफ्फरपुर : रेड जोन वाले शहरों से आने वाले व्यक्तियों को ही क्वॉरेंटाइन केंद्रों में रखा जाएगा

BIHAR8 hours ago

बिहारी को बीमारी बताया जा रहा है, सोनिया की मीटिंग में भड़के तेजस्वी ने सरकार पर लगाया आरोप

INDIA9 hours ago

प्रेमिका से मिलने के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर से भागा प्रेमी, लॉकडाउन में 1000 KM दूर फंसी प्रेमिका को लेकर आया वापस

BIHAR9 hours ago

मैट्रिक का रिजल्ट आने में 4-5 दिन और लगेंगे, बिहार बोर्ड ने कहा- आज जारी नहीं होगा परीक्षाफल

BIHAR9 hours ago

Flashback: बिहार बोर्ड के रिजल्‍ट के साथ याद आती वो लड़की, फिल्‍मी गाने लिख बन गई थी टॉपर

ENTERTAINMENT10 hours ago

पहली बार साथ दिखे अमिताभ बच्चन और आयुष्मान खुराना, दो दिग्गजों का सबसे बड़ा धमाका!

INDIA10 hours ago

7 दिन पहले कोरोना को हराकर घर लौटी थी युवती, दोबारा हुई पॉजिटिव

MUZAFFARPUR10 hours ago

एक बार फिर से मुज़फ़्फ़रपुर में तीन कोरोना संक्रमितों ने दी कोरोना को मात

BIHAR1 week ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA4 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD2 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR4 weeks ago

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, 9 दिनों के अंदर बनेगा नया राशन कार्ड, ये होगी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

Trending