Connect with us

MUZAFFARPUR

शहर की गलियों से निकल फैशन इंडस्ट्री की शान बनी रानू

Published

on

समाज की सोच आज भी कमोबेश वैसी ही है, वह भी खासकर लड़कियों के प्रति। वहीं, लड़की अगर फैशन इंडस्ट्री में कैरियर बनाना चाहे तो फिर बात ही क्या। मैं फैशन इंडस्ट्री का हिस्सा बन रही हूं, यह जानकार मम्मी-पापा ने कहा कि हमने इंजीनियरिंग पढ़ने के लिए बाहर भेजा था, यह क्या है। यह साढ़े तीन साल पहले की बात है। अब मम्मी-पापा मुझे अपना गर्व कहते हैं और यही मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि है। मुजफ्फरपुर की गलियों से निकल फैशन इंडस्ट्री के रेड कारपेट की शान बनी रानू मिश्रा आज शहर की अलग पहचान बना रही हैं।

Image may contain: 2 people, people standing

रानू पेशे से इंजीनियर हैं, लेकिन उनका पैशन मॉडलिंग है। जॉब के साथ अपने जुनून के लिए रास्ता बनाने वाली रानू ने यह साबित किया है कि छोटा या बड़ा शहर कोई मायने नहीं रखता। मायने रखता है आपका टैलेंट और मंजिल तक पहुंचने का रास्ता। महज साढ़े तीन साल के अपने मॉडलिंग के कैरियर में रानू तमाम बड़े ब्रांड की पसंदीदा मॉडल बन चुकी हैं। यही नहीं, दिल्ली फैशन वीक समेत कई फैशन शो में अपना जलवा दिखा चुकी हैं। छोटे शहर की यह लड़की दिल्ली के रिविस्टा समेत कई बड़े ब्रांड और मैग्जीन की कवर गर्ल भी हैं।

Image may contain: 2 people, people standing

2015 में मिस्टर एंड मिस दिल्ली बना टर्निंग प्वाइंट

अखाड़ाघाट निवासी शिक्षक अमरेश कुमार मिश्रा और गृहिणी रेखा मिश्रा की इस बिटिया को शुरू से ही डांस आदि का शौक था। 10वीं और 12वीं की पढ़ाई शहर से पूरा करने वाली रानू स्कूल के कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती थीं। रानू बताती हैं कि इसके बाद उसने बीटेक किया। स्कूल का शौक वर्ष 2015 में मिस्टर एंड मिस दिल्ली में भाग लेने के बाद टर्निंग प्वाइंट में बदल गया। उसने शौकिया इसमें हिस्सा लिया और टॉप 10 में शामिल हुई। रानू कहती हैं कि शुरुआत में कई जगह ऑडिशन दिए। प्रोफाइल रिजेक्ट हुआ, लेकिन फिर संघर्ष ने राह पकड़ ली। अपनी प्रतिभा और जिद के सहारे फैशन इंडस्ट्री में अलग मुकाम बनाने वाली रानू कहती हैं कि लोगों की सोच फैशन इंडस्ट्री को लेकर पहले की तरह ही है, लेकिन मेरा मानना है कि कोई भी क्षेत्र गलत-सही नहीं होता। इससे चुनना और वहां तक पहुंचने की राह और आपकी सोच सही होनी चाहिए। वर्तमान में रानू जॉब करने के साथ ही अपने मॉडलिंग के सपने को भी पूरा कर रही हैं।

 

Image may contain: 1 person, close-up and outdoor

 

Input : Hindustan

MUZAFFARPUR

इनसे सीखें : सिंचाई की नई तकनीक ने बदली मुजफ्फरपुर के किसान की किस्मत

Published

on

सिंचाई की नई तकनीक अपनाकर मुजफ्फरपुर के किसान लालबाबू सहनी ने न सिर्फ अपनी दुनिया बदली, बल्कि दूसरे के लिए भी नजीर बन गए हैं। नयी तकनीक अपनाकर उन्होंने खेती पर खर्च कम किया और मुनाफा बढ़ाया। अपनी इस उपलब्धि से पिलखी गांव के लालबाबू सहनी राष्ट्रीय स्तर पर मिलने वाले 25 लाख रुपये के पुरस्कार की दौड़ में शामिल हो गए हैं। पहला राउंड पार कर वे दूसरे राउंड की तैयारी में जुट गए हैं। लालबाबू सहनी केंद्रीय कृषि विवि पूसा की बोट सिंचाई प्रणाली को अपनाकर ढाब इलाके में बेकार पड़ी जमीन को पट्टे पर लेकर सब्जी की खेती शुरू की। उनके इस प्रयास में डॉ. राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विवि के कुलपति डॉ. आरसी श्रीवास्तव तथा स्टार्टअप फैसिलिटी के परियोजना निदेशक डॉ. मृत्युंजय कुमार ने मार्गदर्शन किया। वीसी डॉ.आरसी श्रीवास्तव ने बताया कि इनोवेटिव आइडिया पुरस्कार के लिए लालबाबू सहनी का चयन राष्ट्रीय संस्थान मैनेज ने प्रथम राउंड में किया है। आगे के राउंड में भी चयन होने पर उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा।

सिंचाई में डीजल के 40 हजार रुपये बचाए

कृषि विवि के परियोजना निदेशक डॉ. मृत्युंजय कुमार ने बताया कि पिछले साल कुलपति समेत कृषि अभियंत्रण के वैज्ञानिक डॉ.एसके जैन, डॉ.रवीश चंद्रा व उनकी टीम ने सोलर बोट सिस्टम से सिंचाई प्रणाली विकसित की थी। इसे नदी से जोड़कर प्रति सेकंड करीब साढ़े पांच लीटर पानी निकाल सिंचाई होती है। यह तकनीक सपोर्ट फाउंडेशन के माध्यम से किसान लालबाबू सहनी को इसी साल जनवरी 2020 दी गई। उसने विवि के तकनीक का उपयोग करते हुए दूसरे किसान से सस्ते में ढाब की बेकार पड़ी चार एकड़ जमीन लेकर भिंडी, नेनुआ, कद्दू, खीरा, बैगन आदि की खेती की। जमीन बूढ़ी गंडक नदी के किनारे ऊपरी हिस्से में है। बोट सिस्टम से बूढ़ी गंडक के पानी से उसने खेत में सिंचाई की। बीते चार महीनों में सब्जियों से उन्होंने अच्छा मुनाफा कमाया। किसान लालबाबू ने बताया की सोलर बोट प्रणाली से सिंचाई कर डीजल के करीब 40 हजार बच गए। इसके अलावा नए तथा पुराने खेत मिलाकर करीब दो लाख रुपये इस वर्ष सब्जी बेचकर कमाई हुई है।

क्या कहते हैं वैज्ञानिक

परियोजना से जुड़े वैज्ञानिक डॉ. सुधानन्द लाल ने बताया कि लालबाबू के काम को राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान हैदराबाद (मैनेज) की रफ्तार योजना में प्रस्तावित किया गया है। मैनेज ने किसान की ऑनलाइन काउंसलिंग की तथा उनकी फसल का अवलोकन किया गया। संतुष्ट होकर किसान को पहले राउंड में चुना गया है। एक और राउंड बचा है। लालबाबू का आवेदन बिहार का इकलौता आवेदन है। संस्थान किसान को दो महीने की ट्रेनिंग भी देगा। डॉ. सुधानंद लाल ने बताया कि संस्थान जल्द ही चयनित किसानों की सूची जारी करेगा। यह राशि किसान को इस परियोजना के विस्तार के लिए मिलेगा। यह बिहार के गौरव की बात है।

Input : Hindustan

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर : समलैंगिक शादी के प्रयास मामले में किशोरी पहुंची जेल, साथी किशोरी का किया था अपहरण

Published

on

मुजफ्फरपुर : समलैंगिक शादी के लिए अपनी साथी किशोरी का अपहरण करने के आरोपित दूसरी किशोरी को महिला थाना पुलिस ने कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। दूसरी किशोरी का सीआरपीसी की धारा-164 के तहत कोर्ट में बयान दर्ज कराया गया। यह बयान सीलबंद है। दोनों किशोरियां तीन दिनों से पुलिस हिरासत में थी। शादी के लिए वधु होने का दावा कर रही किशोरी की मां के बयान पर पुलिस ने कार्रवाई की है। महिला थानाध्यक्ष कुमारी नीरू ने बताया कि आरोपित किशोरी को जेल भेज दिया गया है।

यह है मामला

तीन दिन पूर्व कुढ़नी थाना क्षेत्र के एक गांव में समलैंगिक शादी की तैयारी कर रही दो किशोरियों को पुलिस पकड़ कर लाई थी। पुलिस कार्यालय में उससे पूछताछ की गई। लड़के के वेश में पकड़ी गई किशोरी के स्वजन वहां नहीं पहुंचे। प्रेम प्रसंग में शादी करने पहुंचे युवक की कचहरी परिसर में पिटाई प्रेम प्रसंग में कोर्ट मैरिज करने पहुंचे युवक को लड़की पक्ष वालों ने कचहरी परिसर में पकड़ लिया। उसकी जमकर पिटाई की गई। इससे कचहरी परिसर में कुछ देर के लिए अफरातफरी मच गई।

हो हल्ला सुनकर कई न्यायिक पदाधिकारी भी कोर्ट के बरामदे पर निकल आए। कचहरी में मौजूद लोगों ने बीच-बचाव करना शुरू किया। इस बीच मौका पाकर युवक वहां से भाग निकला। सूचना पर कोर्ट परिसर में तैनात पुलिसकर्मी पहुंचे। तबतक मामला शात हो चुका था। इस संबंध में पुलिस के पास किसी पक्ष ने शिकायत नहीं की है।

यह हुई घटना

एक युवक-युवती आपसी सहमति से शादी करने कोर्ट पहुंचे थे। स्वजनों को भनक नहीं लगे इसके लिए दोनों अलग-अलग घर से चले थे। युवती के स्वजनों को इसकी जानकारी मिल गई। वे सभी कचहरी परिसर में पहुंच कर दोनों का इंतजार करने लगे। जैसे ही दोनों को कचहरी परिसर में पहुंचे कि युवती के स्वजनों ने उन्हें पकड़ लिया और युवक की पिटाई करने लगे। बचने के लिए युवक ने शोर मचाना शुरू किया।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर नगर निगम के वार्ड 20 के पार्षद संजय केजरीवाल जदयू छोड़कर बने युवा राजद के प्रदेश महासचिव

Published

on

मुज़फ़्फ़रपुर नगर निगम वार्ड नं 20 के पार्षद संजय उर्फ संजू केजरीवाल जदयू पार्टी को छोड़कर राजद पार्टी ज्वाइन किया। इस कड़ी में संजू केजरीवाल ने पत्रकारों से वार्तालाप करते हुए कहा कि हमारे नश में ही राजद का खून हैं।

हमारे पिता जी राजद के स्थापना से लेकर अपने जीवन काल में राष्ट्रीय जनता दल को मजबूत करने के लिए बहुत कार्य कर चुके थे, बिहार में एक ही ऐसे व्यक्ति है जो वैश्य समाज को देखने का काम किया है। वह लालू प्रसाद यादव जिन्होंने वैश्य समाज की अधिकार के लिए लड़ने और सम्मान देने का कार्य किये है।

हलाकि मै पहले जदयू पार्टी ज्वाइन कर लिए थे लेकिन पार्टी के द्वारा नही कोई विकास का कार्य किया गया और नहीं किसी कार्यकर्ताओं को सम्मान दिया जाता है। इस बात को ही लेकर मैंने करीब 7 से 8 महीने पहले ही जदयू पार्टी से इस्तीफा दे दिए हैं।

वहीं केंद्र एवं राज्य सरकार पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि इस कोरोना वायरस महामारी के बीच सरकार ने लोगों को बचाने के कार्य छोड़ कर NDA के दोनो (BJP एवं JDU) घटक दलों ने एक दूसरे पर ठीकरा फोरने का काम किया है। जिससे केंद्र और राज्य सरकार का पोल खुल गया है। युवा राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश अध्यक्ष कारी सोहैब ने संजू केजरीवाल को प्रदेश महासचिव पद पर मनोनीत किया है।

Continue Reading
BIHAR2 mins ago

बिहार के चंपारण शताब्दी समारोह ने बनाया वर्ल्ड रेकार्ड, डेढ़ करोड़ लोगों तक पहुंचा था गांधी का संदेश

BIHAR5 mins ago

विश्व पर्यावरण दिवस: बिहार में इन तीन दुर्लभ पेड़ों को क्षति पहुंचाई तो रोज देना होगा एक लाख रुपये जुर्माना

BIHAR9 mins ago

पूरे बिहार में स्मार्ट बिजली मीटर जल्द लगेंगे, इन जिलों से शुरू होगा प्री-पेड मीटर लगाने का ट्रायल

MUZAFFARPUR11 mins ago

इनसे सीखें : सिंचाई की नई तकनीक ने बदली मुजफ्फरपुर के किसान की किस्मत

MUZAFFARPUR20 mins ago

मुजफ्फरपुर : समलैंगिक शादी के प्रयास मामले में किशोरी पहुंची जेल, साथी किशोरी का किया था अपहरण

BIHAR1 hour ago

दरभंगा में बम विस्फोट से मचा हड़कंप, पांच लोग गंभीर रूप से जख्मी

BIHAR2 hours ago

प्रवासी मजदूरों को अपराधी बताकर फंसी नीतीश सरकार का नया पत्र, कहा- गलती से जारी हो गयी थी पहली चिट्ठी

BIHAR2 hours ago

बिहार में रोजगार के लिए 10 लाख रुपये देगी नीतीश सरकार, जानें नियम व शर्त

WORLD2 hours ago

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम निकला कोरोना पॉजिटिव, कराची के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर नगर निगम के वार्ड 20 के पार्षद संजय केजरीवाल जदयू छोड़कर बने युवा राजद के प्रदेश महासचिव

BIHAR3 weeks ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

BIHAR4 weeks ago

बिहार के लिए हरियाणा से खुलेंगी 11 ट्रेनें, यहां देखिये गाड़ियों की पूरी लिस्ट

BIHAR3 weeks ago

बिहार के 4 जिलों के लिए मौसम विभाग का अलर्ट,वर्षा-वज्रपात और ओलावृष्टि की चेतावनी

TECH4 weeks ago

ज़बरदस्त ऑफर! सिर्फ 22,999 रुपये का हुआ सैमसंग का 63 हज़ार वाला धांसू स्मार्टफोन

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर आ रहें हैं सोनू सूद, कहा साइकिल से घूमेंगे पुरा मुजफ्फरपुर

BIHAR3 weeks ago

बिहार में 33916 शिक्षकों की होगी बहाली, मैथ और साइंस के होंगे 11 हजार टीचर, यहां देखिये सभी विषयों की लिस्ट

INDIA3 weeks ago

घरेलू उड़ानों के लिए बुकिंग शुरू, पर शर्तें लागू; जानें आपको फायदा मिलेगा या नहीं

TECH1 week ago

आ रहा नोकिया का 43 इंच का TV, जानें कितनी होगी कीमत

INDIA3 weeks ago

भारत के 700 स्टेशनों के लिए चलेगी ट्रेन, रेल मंत्रालय ने कहा- रोज चलेंगी 300 ट्रेनें

INDIA4 weeks ago

महाराष्ट्र: औरंगाबाद में मालगाड़ी ने 19 मजदूरों को कुचला, 16 की मौत, सभी पटरी पर सो रहे थे

Trending