बिहार की बेटी संगीता का नाम लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज

0
58
Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

पटोरी की बेटी संगीता मिश्रा ने अपने जाबांज कारनामों से लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में जगह पा लिया है। देश की सबसे जाबांज महिला बाइक राइडर के रूप में उसका नाम इस रिकॉर्ड में दर्ज किया गया है। लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड के एडिटर विजया घोष ने इसका प्रमाण पत्र निर्गत किया है।

संगीता को इसी माह 10 नवम्बर को गृहमंत्री राजनाथ सिंह की धर्मपत्नी और सीआरपीएफ के डीजीपी की पत्नी ने एक भव्य समारोह में लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड का प्रमाण पत्र प्रदान किया। संगीता की इस उपलब्धि से पटोरी में हर्ष की लहर है। संगीता वर्तमान में सीआरपीएफ कैम्प नई दिल्ली के द्वारिका सेक्टर-8 मेें हवलदार कमांडो के पद पर है। उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर यूएन ने यूनाइटेड नेशंस मेडल से भी सम्मानित किया है।

42 वर्षीय संगीता ने लगभग डेढ़ वर्ष तक अपनी सेवा इंटरनेशनल पुलिस सर्विस के तहत लाइबेरिया में भी दी है। इसे अबतक राष्ट्रीय स्तर तक अपने विभाग से कई पुरस्कार मिल चुके हैं। लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड द्वारा जारी प्रमाण पत्र में लिखा गया है कि संगीता ने 350 सीसी इनफिल्ड बुलेट बाइक के छह फीट ऊपर सीढ़ी पर बैठकर 30 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बाइक चलाने का रिकॉर्ड बनाया है। संगीता ने सीआरपीएफ के डायमंड जुबली समारोह के लिए नई दिल्ली इंडिया गेट के सामने राजपथ पर 02 नवम्बर 2014 को बाइक चलाते हुए जाबंाजी का परिचय दिया था।

ADVERTISMENT, MUZAFFARPUR, BIHAR, DIGITAL, MEDIA

बहादुरपुर पटोरी निवासी स्व़ नागेश्वर मिश्रा एवं बेबी देवी की पुत्री संगीता ने वर्ष 1995 में सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर योगदान दिया था। उसने घरेलू जीवन के साथ-साथ अपने कार्य में भी अव्वल रही। इनके पति करनौती वैशाली निवासी राजेश कुमार भी जम्मू कश्मीर के अखनूर में बीएसएफ में कार्यरत है।

Source : Live Hindustan

See First, Facebook Page

 

पद्मावती की ललकार: दीपिका पादुकोण ने कहा अब कोई नहीं रोक सकता ये फिल्म

यह भी पढ़ें :ट्रेन के लास्ट डिब्बे पर क्यों होता है ये निशान, कभी सोचा है आपने ?

यह भी पढ़ें : भारत की मानुषी छिल्लर ने जीता मिस वर्ल्ड का ताज


Share Now
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •