जमीन विवाद को लेकर एक बार फिर सूर्यगढ़ा विधायक प्रहलाद यादव सुर्खियों में आ गए हैं। मामला लखीसराय थाना क्षेत्र के नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत वार्ड नंबर 10 में एक जमीन विवाद से जुड़ा हुआ है। इसको लेकर वार्ड नंबर 14 निवासी आशीष कुमार शर्मा उर्फ मनीष शर्मा ने सूर्यगढ़ा विधायक पर जमीन घेराबंदी करने के बदले पांच लाख रुपये रंगदारी मांगने एवं मारपीट करने का आरोप लगाया है।

इस संबंध में आशीष के बयान पर लखीसराय थाने में सूर्यगढ़ा विधायक प्रहलाद यादव सहित तीन नामजद और दस-बीस अज्ञात लोगों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज की गई है। दर्ज प्राथमिकी के अनुसार आशीष वार्ड नंबर 10 स्थित अपनी जमीन पर चहारदीवारी का निर्माण करा रहे थे। इसी दौरान विधायक के साथ गोपाल यादव एवं दस-बीस अज्ञात व्यक्ति हथियारों से लैस होकर वहां पहुंचकर पांच लाख रुपये रंगदारी की मांग की। विधायक ने कहा कि जबतक रंगदारी नहीं दोगे, काम बंद कर दो। इसके बाद वे लोग गाली-गलौज करते हुए मारपीट कर सभी मजदूरों को वहां से भगा दिया। विधायक ने उसके भाई राकेश शर्मा पर पिस्तौल तान कर जान मारने की धमकी दी।

लखीसराय एसडीपीओ मनीष कुमार ने कहा कि जमीन विवाद का मामला है। तत्काल आवेदन के आलोक में विधायक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। जमीन की प्रकृति की भी जांच अधिकारी कर रहे हैं।

इस संबंध में सूर्यगढ़ा विधायक प्रह्लाद यादव ने कहा कि आशीष शर्मा उनके घर के सामने दीवार देकर रास्ता बंद कर रहे थे। उक्त जमीन के मालिक को उन्होंने जमीन की कीमत दे दी है। जबकि शर्मा ने किसी फर्जी व्यक्ति से उस जमीन की रजिस्ट्री करा ली है। शुक्रवार को वे जमीन पर जाकर चहारदीवारी देने से मना किया है।