Connect with us

Uncategorized

SBI में बिना परीक्षा दिए पाएं नौकरी, 25 लाख रुपये से शुरू होगा सैलरी पैकेज

Santosh Chaudhary

Published

on

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने स्पेशलिस्ट कैडर ऑफिसर के पदों के लिए आवेदन मंगाया है. ये पद कॉन्ट्रैक्ट आधार पर भरे जाएंगे. जो कैंडिडेट्स भर्ती प्रक्रिया में सफल होंगे उन्हें 25 लाख से 40 लाख रुपये तक सैलरी मिलेगी. इन पदों के लिए आवेदन 4 मार्च 2019 से शुरू हो चुके हैं और कैंडिडेट्स 24 मार्च तक इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

यहां भर्ती के लिए कोई लिखित परीक्षा नहीं ली जाएगी बल्कि इंटरव्यू के आधार पर नौकरी मिलेगी. इच्छुक और योग्य उम्मीदवार SBI की ऑफिशियल वेबसाइट https://bank.sbi/careers या https://www.sbi.co.in/careers पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं.

योग्यता-
अलग-अलग पदों के लिए अलग-अलग योग्यता निर्धारित की गई है.

आयु सीमा और सैलरी-
SBI की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, इन पदों के लिए न्यूनतम आयु 28 वर्ष और अधिकतम आयु 55 वर्ष रखी गई है. इन पदों पर चयनित अभ्यर्थियों को 25 लाख से 40 लाख रुपए तक सालाना वेतन मिलेगा. मेरिट और साक्षात्कार के जरिए इन पदों पर चयन किया जाएगा.

आवेदन शुल्क-
सामान्य वर्ग- 600 रुपए
एससी/एसटी/दिव्यांग- 100 रुपए

ऐसे करें अप्लाई-
इन पदों पर आवेदकों को ऑनलाइन ही आवेदन करना होगा. सबसे पहले कैंडिडेट्स एसबीआई की ऑफिशियल वेबसाइट https://bank.sbi/careers या https://www.sbi.co.in/careers पर जाकर खुद को रजिस्टर कर लें. इसके बाद इंटरनेट बैंकिंग/डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड से आवेदन शुल्क जमा करके आवेदन प्रक्रिया पूरी करें.

अप्लाई करने का डायरेक्ट लिंक- https://recruitment.bank.sbi/crpd-sco-stu-2018-19-17/apply

ऑफिशियल नोटिफिकेशन- https://www.sbi.co.in/webfiles/uploads/files/careers/0203191531-Detailed%20Advertisement%20SCO-2018-19-07.pdf

Input : News18

Uncategorized

कानपुर एनकाउंटर: चौबेपुर के विकरू गांव में ढहाया गया विकास दुबे का मकान

Muzaffarpur Now

Published

on

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) में एनकाउंटर (Encounter) के बाद बड़ी खबर आ रही है. यहां चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में जहां एनकाउंटर हुआ, उस मकान को ढहाने की कार्रवाई शुरू हो गई है. बताया जा रहा है कि विकास दुबे ने गांव की जमीनों पर कब्जा करके ये मकान बनाया था. पूरी तरीके से अवैध इस मकान को लेकर ग्रामीणों में हमेशा से आक्रोश था. मकान गिराने की कार्रवाई की चलते विकास दुबे की नौकरानी और बच्चों को पुलिस ने अपनी कस्टडी में ले लिया है.

Image

घर को भारी पुलिस बल के साथ गिराने का काम किया जा रहा है. मौके पर जेसीबी मशीन ने अपना काम शुरू कर दिया है. वहीं इस दौरान मीडिया के कैमरे को 300 मीटर दूर ही रोक लिया गया है. मौके पर जिले के एसपी पश्चिम अपर्णा गुप्ता खुद मौके पर आ गए हैं.

Image

ग्रामीणों में विकास दुबे से बदला लेने की भावना: आईजी

आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा कि गांववालों में विकास दुबे से बदला लेने की भावना महसूस हुई. दरअसल विकास दुबे ने अपनी गुंडई के बल पर इस मकान को तमाम जमीनों पर अवैध तरीके से कब्जा कर बनाया था और इस मकान को अड्डे की तरह इस्तेमाल करता था. ग्रामीण अरसे से उसके आतंक से परेशान थे.

Image

आईजी ने बताया कि फिलहाल कई टीमें विकास दुबे को गिरफ्तार करने का प्रयास कर रही हैं. एक टीम भारत के बाहर भी भेजी गई है. इसके अलावा यूपी के कई जिलों में भी छापेमारी जारी है. वहीं पुलिस के अंदर से ही मुखबिरी होने की बात पर आईजी ने कहा कि जांच जारी है, जो भी दोषी पाया जाएगा, उसकी नौकरी तो जाएगी ही, गिरफ्तार कर जेल भी भेजा जाएगा.

Image

Image

Image

इनपुट: अमित गंजू/सौरभ मिश्र

Continue Reading

Uncategorized

मुजफ्फरपुर में 4694 मतदान केंद्रों पर डाले जाएंगे वोट, जानिए पूरा विवरण

Muzaffarpur Now

Published

on

कोरोना संकट को देखते हुए भारतीय निर्वाचन आयोग का सबसे अधिक जोर मतदान केंद्रों पर शारीरिक दूरी के अनुपालन पर है। इसलिए आयोग ने एक हजार से अधिक मतदाता वाले केंद्रों पर सहायक मतदान केंद्र बनाने के निर्देश दिए गए हैं। इसके मद्देनजर जिले में कवायद पूरी कर ली गई है। उक्त बातें विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर जिले के विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक में जिला निर्वाचन पदाधिकारी डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने कहीं।

Chhattisgarh Assembly Election: Voting Begins For Second Phase ...

DEMO PIC

एक हजार से अधिक मतदाता वाले बूथों की पहचान

उन्होंने बताया कि जिले में पूर्व से 3225 मतदान केंद्र हैं। लेकिन, कोरोना संकट को देखते हुए आयोग के निर्देशानुसार एक हजार से अधिक मतदाता वाले बूथों की पहचान की गई। इसके तहत 1469 सहयोगी मतदान केंद्र बढ़ाए गए हैं। एक हजार से अधिक मतदाता वाले गायघाट विधानसभा क्षेत्र में 136, औराई विधानसभा में 125, मीनापुर में 120, बोचहां में130, सकरा में 115, कुढऩी में 149, मुजफ्फरपुर नगर में 161, कांटी में147, बरूराज में 110, पारू में 134 और साहेबगंज में 142 मतदान केंद्र हैं। इनमें 1369 सहायक मतदान केंद्र उसी भवन व परिसर में बनाए गए हैं।

राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को दी गई सूची

वहीं, सौ मतदान केंद्र उनके निकट के भवन में टैग किए गए हैं। इसके अलावा औराई विधानसभा में दो, साहेबगंज में चार, गायघाट में दो और बोचहां विधानसभा में एक मतदान केंद्र जर्जर होने से इनका बदलाव किया गया है। वहीं तीन चलंत मतदान केंद्र थे। उन्हें नए भवन में स्थानांतरित किया गया है। इन सभी की सूची सभी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को उपलब्ध कराई गई है।

मौके पर उपविकास आयुक्त उज्ज्वल कुमार सिंह, सहायक समाहर्ता खुशबू गुप्ता, अपर समाहर्ता आपदा अतुल कुमार वर्मा, जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार मिश्र, अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी कुंदन कुमार व विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि और अन्य जिला स्तरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

Input : Dainik Jagran

 

Continue Reading

Uncategorized

बिहार में जन्मे इस शख्स की याद में मनाया जाता है ” डॉक्टर्स डे “, जानिए आज उन्हें याद कर क्या कहते हैं चिकित्सक…

Muzaffarpur Now

Published

on

महान भारतीय चिकित्सक डॉ. बिधान चंद्र राय के जन्म दिवस पर एक जुलाई को डॉक्टर्स डे मनाया जाता है. उनका जन्म 1882 में बिहार के पटना जिले में हुआ था. कोलकाता में चिकित्सा शिक्षा पूर्ण करने के बाद डॉ. राय ने एमआरसीपी और एफआरसीएस की उपाधि लंदन से प्राप्त की. 1911 में उन्होंने भारत में चिकित्सकीय जीवन की शुरुआत की.

India's Forgotten 'National Doctor' Who Won Respect Across the World

महात्मा गांधी के साथ असहयोग आंदोलन में शामिल

इसके बाद वे कोलकाता मेडिकल कॉलेज में व्याख्याता बने,वहां से कैंपबेल मेडिकल स्कूल और फिर कारमेल मेडिकल कॉलेज गये.उनकी ख्याति एक शिक्षक एवं चिकित्सक के रूप में कम, स्वतंत्रता सेनानी के रूप में महात्मा गांधी के साथ असहयोग आंदोलन में शामिल होने के कारण अधिक बढ़ी.

National Doctors Day 2020; Four Interesting Facts About Dr Bidhan ...

डॉ.राय को भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया

भारतीय जनमानस के लिए प्रेम और सामाजिक उत्थान की भावना डॉ. राय को राजनीति में ले आयी.वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य बने और बाद में पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री का पद संभाला. डॉ.राय को भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया था.

National Doctors Day 2020; Four Interesting Facts About Dr Bidhan ...

सेवा भाव का डॉक्टर लें संकल्प

मौजूदा समय में व्यावसायिकता की अंधी दौड़ में शामिल हो चुके चिकित्सकों को भी अब अपने पेशे को लेकर चिंता सताने लगी है. लेकिन कुछ ऐसे डॉक्टर भी है जिनका डॉक्टर पेशे के रूप में सेवाभाव जिंदा है.उन्हें फिर पुराने समय के लौटने की उम्मीद है.शहर के वरिष्ठ चिकित्सकों का मानना है कि पुराने दिनों में हर फील्ड के लोग रुपये कमाने की अंधी दौड़ में शामिल होते थे.लेकिन डॉक्टरी पेशा इससे अछ‍ूता था. वर्तमान में हालत कुछ और ही है. इसके अलावा शासकीय सेवा से जुड़े डॉक्टर अभी भी सीमित संसाधनों के बाद भी अपने कर्तव्यों को ईमानदारी के साथ पूरा कर रहे हैं.

An Ode to India’s Forgotten ‘National Doctor’ Who Won Respect Across the World

डॉक्टर होना सिर्फ एक काम नहीं है, बल्कि चुनौतीपूर्ण वचनबद्धता है

उनके मुताबिक डॉक्टर होना सिर्फ एक काम नहीं है, बल्कि चुनौतीपूर्ण वचनबद्धता है.युवा डॉक्टरों को डॉ. बिधान चंद्र राय की तरह जवाबदारी पूरी कर डॉक्टरी पेशे को बदनाम होने से बचाने के लिए पहल करनी होगी.

वर्तमान में डॉक्टर पुराने सम्मान को प्राप्त करने के लिए संघर्ष करता हुआ नजर आ रहा है

एक वरिष्ठ चिकित्सक ने बताया कि यह दिन यह विचार करने के लिए है कि डॉक्टर हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं. वर्तमान में डॉक्टर पुराने सम्मान को प्राप्त करने के लिए संघर्ष करता हुआ नजर आ रहा है.इसके पीछे कई कारण हैं. डॉक्टरों को अपनी जवाबदारियों का पालन ईमानदारी से करना सीखना होगा. डॉक्टरों की एक छोटी-सी भूल भी रोगी की जान ले सकती है. वर्तमान में डॉक्टरी ही एक ऐसा पेशा है, जिस पर लोग विश्वास करते हैं.इसे बनाये रखने की जिम्मेदारी सभी डॉक्टरों पर है.डॉक्टर्स डे स्वयं डॉक्टरों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है, क्योंकि यह उन्हें अपने चिकित्सकीय प्रैक्टिस को पुनर्जीवित करने का अवसर देता है.

Input : Prabhat Khabar

Continue Reading
BIHAR22 seconds ago

शादी के दौरान जैसे ही दूल्हे ने दुल्हन को पहनाया जयमाला तो जीजा ने मार दी गोली, दूल्हे की हुई मौत

BIHAR5 mins ago

बिहार की पहली ट्रेन जिसमें वेलकम करेंगी होस्‍टेस, फ्लाइट की तरह होगा किराया; जानिए खास बातें

MUZAFFARPUR14 mins ago

क्या आपने घर से निकलते वक्त मास्क पहनने की आदत डाल ली, यदि नहीं, तो हो सकती यह सजा

INDIA24 mins ago

राजनाथ सिंह की चीन को चेतावनी- अस्पताल हो या बॉर्डर, तैयारी में हम पीछे नहीं रहते

BIHAR1 hour ago

RJD का पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों के खिलाफ प्रदर्शन; बैलगाड़ी से खींची कार, टमटम पर सवार हो निकले नेता

INDIA3 hours ago

महिला सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, रेप के आरोपी को बचाने के लिए 35 लाख रुपए लिया रिश्वत

TECH5 hours ago

Reliance Jio का विडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप JioMeet लॉन्च, गूगल मीट और जूम को देगा टक्कर

RELIGION5 hours ago

भगवान भोलेनाथ का प्रिय माह सावन की पहली सोमवारी कल

TECH5 hours ago

फेसबुक पासवर्ड डिटेल चुराने वाले इन 25 ऐप्स को गूगल ने किया बैन, अपने मोबाइल से तुंरत कर दें डिलीट

WORLD6 hours ago

VIDEO: शाहिद अफरीदी का दावा, हार का सामना करने के बाद टीम इंडिया मांगती थी पाकिस्तान से माफी

INDIA4 weeks ago

धोनी ने खरीदा स्‍वराज ट्रैक्‍टर तो आनंद महिंद्रा ने दिया बड़ा बयान, वायरल हुआ ट्वीट

BIHAR3 weeks ago

सुशांत के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सदमा नहीं झेल पाईं भाभी, तोड़ा दम

ENTERTAINMENT5 days ago

सामने आया चंद्रचूड़ सिंह के फिल्म इंडस्ट्री छोड़ने का असली रीजन

BIHAR3 weeks ago

प्रिय सुशांत – एक ख़त तुम्हारे नाम, पढ़ना और सहेज कर रखना

INDIA3 weeks ago

सुशांत स‍िंह राजपूत की सुसाइड पर बोले मुकेश भट्ट, ‘मुझे पता था ऐसा होने वाला है…’

BIHAR3 weeks ago

लालू के बेटे तेजस्वी यादव की कप्तानी में खेलते हुए बदली विराट कोहली की किस्मत!

BIHAR1 week ago

बिहार में नहीं चलेंगी सलमान खान, आलिया भट्ट, करण जौहर की फिल्में

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकता कपूर ने तोड़ी चुप्पी, कहा- मेरे खिलाफ मुकदमा करने के लिए शुक्रिया

INDIA2 weeks ago

सुशांत के व्हॉट्सऐप चैट आये सामने, उनको फिल्म करने में हो रही थी परेशानी

BOLLYWOOD2 days ago

निधन से पहले सरोज खान ने सुशांत सिंह राजपूत को लेकर शेयर की थी आखिरी पोस्ट

Trending