टीवी9 भारतवर्ष चैनल से अजीत अंजुम ने दिया इस्तीफा, मुजफ्फरपुर से शुरू की थी पत्रकारिता
Connect with us
leaderboard image

MUZAFFARPUR

टीवी9 भारतवर्ष चैनल से अजीत अंजुम ने दिया इस्तीफा, मुजफ्फरपुर से शुरू की थी पत्रकारिता

Abhay Raj

Published

on

खरी बात कहने के लिए विख्यात वरिष्ठ टीवी पत्रकार अजीत अंजुम ने टीवी9 भारतवर्ष चैनल से इस्तीफा दे दिया है। बताया जा रहा है कि चैनल में जनसरोकारी पत्रकारिता को दरकिनार किए जाने से दुखी स्मिता शर्मा ने भी इस्तीफा दे दिया है। अजित और स्मिता दोनों का पद एक्सिक्यूटिव एडिटर का था।

अपने साथियों विनोद कापड़ी और हेमंत शर्मा के साथ जिस जोश-ओ-खरोश के साथ ‘टीवी 9 भारतवर्ष’ लॉन्च किया था, उसी चैनल से पहले विनोद कापड़ी और अब अजीत अंजुम के अलविदा कहने के बाद मीडिया गलियारों में कई तरह की बातें सामने आ रही हैं।

अजित अंजुम ने टीवी9भारतवर्ष कर्मियों के व्हाटसअप ग्रुप में सभी सहयोगियों को यह आखिरी अलविदा पोस्ट डाला और फिर ग्रुप से लेफ्ट कर गए-

दोस्तों, TV9 भारतवर्ष के साथ मेरा सफर आज खत्म होता है ..एक-डेढ़ महीने से मैं चिंतन – मनन कर रहा था कि अब इस संस्थान से अपने रिश्ते को विराम देना चाहिए . टालता रहा. फिर छुट्टी पर चला गया. अपने भीतर की बेचैनियां समेटे दस दिन से मैं छुट्टी पर था. आज लगा कि अब अपने मन का फैसला सबको बता देना चाहिए ..आप सबको शुभकामनाएं. आप सब बेहतर करें .आगे बढ़े .छोटी सी दुनिया है . मुलाकात होती रहेगी ..किसी को अगर मेरी वजह से दुख पहुंचा हो तो माफी चाहूंगा ..

आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कहा कि एक और बहादुर पत्रकार ने जब पत्रकारिता में चाटुकारिता को अपनाने से इंकार कर दिया तो तो उसे नये सरकारी भोपूँ समूह @TV9Bharatvarsh से इस्तीफ़ा देना पड़ा. भाई @ajitanjum के जज़्बे को सलाम।

बताया जा रहा है कि अजीत अंजुम ने ये बड़ा फैसला इसलिए लिया, क्योंकि हैदराबाद की मैनेजमेंट टीम ने अब चैनल पर पूरी तरह से अधिकार जमा लिया है। ऐसे में अजीत अंजुम का 7 बजे का शो ‘राष्ट्रीय बहस’ भी लगातार निशाने पर था। बताया जा रहा है कि पहले शो के एजेंडे और विषय को लेकर मैनेजमेंट ने शिकायत करना शुरू किया और फिर अचानक शो का समय एक घंटे से घटाकर आधा घंटा करने का फैसला ले लिया था। अचानक पिछले हफ्ते हुए इस फैसले के बाद से अजीत अंजुम छुट्टी पर चले गए थे और फिर कल नए सीईओ के जॉइन करने के बाद आज उन्होंने आखिरकार भारी मन से ये फैसला लिया है।

वैसे चैनल में कार्यरत कुछ पत्रकारों का ये भी कहना है कि चैनल की लॉन्चिंग के समय ही जब प्रधानमंत्री मोदी ने ये कहा कि आप लोगों के तो खून में ही मुझे गाली देना है, उसी समय प्रबंधन ने एंटी मोदी माने जाने वाले विनोद कापड़ी और अजीत अंजुम की विदाई का मन बना लिया था और पांच महीनों में ही उसे अमलीजामा पहना दिया।

बिहार के बेगूसराय में जन्मे अजीत अंजुम को मीडिया के क्षेत्र में काम करने का काफी अनुभव है। उन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में अपने करियर की शुरुआत तभी कर दी थी, जब वह मुजफ्फरपुर के कॉलेज में पढ़ रहे थे। उस समय पाटलिपुत्र टाइम्स (Patliputra Times) में रिपोर्टर के तौर पर काम करते हुए उन्होंने अपना नाम भी अजीत कुमार से बदलकर अजीत अंजुम रख लिया था। पटना में फ्रीलॉन्स जर्नलिस्ट के रूप में काम करने के दौरान उन्होंने ‘धर्मुयग’, ’साप्ताहिक हिन्दुस्तान’, ’दिनमान’ और ’रविवार’ के लिए लिखना शुरू कर दिया। बाद में अपने पत्रकारिता करियर को धार देने के लिए वह 1989 में दिल्ली आ गए और ‘अमर उजाला’ के साथ काम शुरू कर दिया।

1994 में अजीत अंजुम ने ‘बीएजी फिल्म्स’ को जॉइन कर लिया और बतौर डायरेक्टर ‘Rubaru’ नाम से टॉक शो की कमान संभाल ली। इस शो के एंकर राजीव शुक्ला थे। ‘बीएजी फिल्म्स’ में अपनी पारी के दौरान अजीत अंजुम ने कई लोकप्रिय शो प्रड्यूस किए। फिर उन्होंने ‘आजतक’ में सीनियर प्रड्यूसर की जिम्मेदारी भी संभाली। हालांकि, बाद में उन्होंने फिर ‘बीएजी’ फिल्म्स में वापसी की और वर्ष 2007 में ‘न्यूज24’ चैनल लॉन्च कराया।

लंबे समय तक यहां काम करने के बाद उन्होंने वर्ष 2014 में ‘न्यूज24’ को अलविदा कह दिया और ‘इंडिया टीवी’ में बतौर मैनेजिंग एडिटर नई पारी शुरू की। बाद में यहां से अपनी पारी को विराम देकर  कुछ समय  तक उन्होंने जमकर फ्रीलांस पत्रकारिता की। 2019 में मार्च में उन्होंनेे ‘टीवी9’ भारतवर्ष को जॉइन किया था और कंसल्टिंग एडिटर के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभाल रहे थे। अजीत अंजुम को वर्ष 2010 में प्रतिष्ठित रामनाथ गोयनका अवॉर्ड भी मिल चुका है। इसके अलावा वर्ष 2017 में उन्हें दुष्यंत स्मृति सम्मान से भी नवाजा जा चुका है।

Input : Before Print

 

MUZAFFARPUR

पूरे भारत में रविवार को सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा मुजफ्फरपुर, पटना तीसरे नंबर पर

Ravi Pratap

Published

on

रविवार को समूचे देश में मुजफ्फरपुर की हवा सबसे ज्यादा प्रदूषित दर्ज की गयी. प्रदूषित हवा के मामले में पटना भी तीसरे स्थान पर रहा. प्रदेश की हवा की गुणवत्ता का स्तर बहुत खराब (वैरी पूअर) दर्ज की गयी. गया की हवा की गुणवत्ता मोडरेट श्रेणी की रही. इस तरह बिहार के दो मुख्य शहरों की हवा बहुत खराब रही. यह स्थिति कमोबेश पिछले करीब बीस दिन से बनी हुई है. जहां तक अच्छी हवा का सवाल है पूरे देश में केवल दो शहरों इलूर और तिरुवंतपुरम की हवा सांस लेने योग्य (अच्छी) दर्ज की गयी.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की आधिकारिक जानकारी के मुताबिक देश में हवा की बहुत खराब श्रेणी कुल 5 शहरों में दर्ज की गयी. इसमें मुजफ्फरपुर का एयर क्वालिटी इंडेक्स सबसे अधिक 315, वाराणसी का 312, पटना का 309, कानपुर का 307, कटनी का 304 रहा. गया का एयर क्वालिटी इंडेक्स 188 दर्ज किया गया है. उल्लेखनीय है कि समूचे देश में 102 शहरों केवल 23 शहरों की हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी की दर्ज की गयी है. इनमें दिल्ली भी शामिल है. 44 शहरों की हवा मोडरेड श्रेणी ( कम खराब) दर्ज की गयी है. कुल 103 शहरों में 31 शहरों की हवा संतोषजनक रही.

देश में केवल दो शहर इलूर और तिरुवनंतपुरम की हवा ही सांस लेने योग्य रही, एक्यूआइ रहा क्रमश. 27 व 40

प्रदूषण से बचने के लिए चलाएं साइकिल
शहर को वायु प्रदूषण से बचाने के लिए साइकिल चलाना होगा. अधिकारी हो या सामान्य लोग, वे साइकिल का इस्तेमाल करेंगे तो दूसरों को भी प्रेरणा मिलेगी. शहर इतना बड़ा नहीं है कि हम बाइक व कार छोड़ साइकिल से नहीं चल सकते. जरूरत हो तो गाड़ी का भी इस्तेमाल करें.

लेकिन दैनिक कार्यकलापों में साइकिल चलाएं. इससे शहर में प्रदूषण बहुत हद तक कम हो जायेगा. जिनका घर कार्यालय से नजदीक हो वे पैदल भी आ सकते हैं. इससे उनकी सेहत भी ठीक रहेगी. हमलोगों को इसे अपने जीवन में उतारना चाहिए. हम अब भी नहीं संभले तो आने वाले समय में वायु प्रदूषण को नियंत्रित करना असंभव हो जायेगा.

छुट्टियों के दिन पौधे लगाना अपनी दिनचर्या में शामिल करें. बच्चों को भी बतायें कि पौधे लगाना क्यों जरूरी है. शहर में ज्यादा धुआं छोड़ने वाले गाड़ियों के प्रवेश पर रोक लगायी जाए. सरकारी व गैर सरकारी स्तर पर लोगों को बताया जाए कि वायु प्रदूषण से क्या हानियां हैं. फिलहाल जो शहर की स्थिति है, उससे क्या प्रभाव पड़ रहा है. जब हम खुद को बदलेंगे तो हमारा शहर भी बदलेगा.

Input : Prabhat Khabar

Continue Reading

MUZAFFARPUR

सरैयागंज में रात को तीन घंटे तक ठप रहेगी बिजली

Muzaffarpur Now

Published

on

सरैयागंज सेक्शन के टीवी सेंटर फीडर में सोमवार की रात नौ से 12 बजे तक बिजली बंद रहेगी। वहां पर पोल और ट्रांसफॉर्मर लगाया जाएगा। इधर नयाटोला एरिया में सुबह 11 से शाम पांच बजे तक चंद्रलोक चौक, गुलजार चौधरी लेन, मिश्र टोला, आइटीआइ, व्यापार मंडल एरिया की बिजली बंद रहेगी। भगवानपुर पावर सब स्टेशन एरिया में पताही फीडर की बिजली सुबह नौ से शाम पांच बजे तक बंद रहेगी। जेई ऋषभ नारायण ने बताया कि पावर स्टेशन में केबल वर्क किया जाएगा। खबड़ा शाखा से डुमरी-कांटी फीडर की बिजली एबी केबल लगाने के लिए सुबह 10 से शाम चार बजे तक बंद रहेगी। टाउन वन फीडर की बिजली सुबह 11 से अपराह्न् तीन बजे तक बंद रहेगी। हसनचक बंगरा, माधोपुर सुस्ता, दीघरा आदि इलाका प्रभावित रहेगा।

जनकपुरी मोहल्ले में कई घंटे गुल रही बिजली: बेला के श्यामनंदन सहाय रोड में जनकपुरी सहित कई मोहल्लों में 12 बजे से बिजली गुल हो गई। किसी अधिकारी या पावर सब स्टेशन के स्विचबोर्ड कर्मी ने लाइन बंद होने की जानकारी नहीं दी। इसके कारण काफी समय तक उपभोक्ता बिजली के लिए परेशान रहे।

Input : Dainik Jagran

Continue Reading

MUZAFFARPUR

M.Ed की परीक्षा के लिए बिहार विश्वविद्यालय में रात को बुलाए गए कैंडिडेट्स, एडमिट कार्ड वायरल

Ravi Pratap

Published

on

मुजफ्फरपुर स्थित बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग की बड़ी करतूत उजागर हुई है. विश्वविद्यालय के परीक्षा विभाग से जारी एक परीक्षा के एडमिट कार्ड (Admit Card) पर लिखे तथ्यों को सत्य माना जाए तो विश्वविद्यालय ने रात्रि 10:30 बजे छात्र-छात्राओं को परीक्षा के लिए बुलाया है.

मामला एमएड की प्रवेश परीक्षा से जुड़ा है. दरअसल रविवार को विश्वविद्यालय में एमएड पाठ्यक्रम में प्रवेश के लिए जांच परीक्षा होनी है. विश्वविद्यालय ने इस परीक्षा के लिए जो प्रवेश पत्र जारी किया है उसमें परीक्षा का समय सुबह 11:00 बजे बताया गया है लेकिन प्रवेश पत्र पर दिए गए जनरल इंस्ट्रक्शंस में पहला इंस्ट्रक्शन यह है कि परीक्षार्थी रात्रि 10:30 बजे तक अपने-अपने परीक्षा केंद्रों पर रिपोर्ट कर देंगे.

जाहिर है कि रविवार की परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदकों को शनिवार की रात्रि 10:30 बजे तक अपने अपने केंद्रों पर रिपोर्ट कर देना था. एडमिट कार्ड के मुताबिक वे अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हो पाएंगे .परीक्षा विभाग की इस बड़ी त्रुटि की चर्चा मुजफ्फरपुर में जोरों पर है. इस मामले में प्रवेश पत्र जारी करने वाले परीक्षा नियंत्रक डॉ मनोज कुमार ने सार्वजनिक रूप से स्वीकार किया है कि यह परीक्षा विभाग की भूल है.

परीक्षा नियंत्रक डॉ मनोज कुमार ने इस त्रुटि के प्रति ध्यान दिलाने के लिए आभार व्यक्त किया है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा है कि इस भूल को सुधार लेने के लिए पर्याप्त समय है. इससे परीक्षा पर कोई असर नहीं पड़ेगा. इस मामले में विश्वविद्यालय के शिक्षकों का कहना है कि विश्वविद्यालय से किसी भी पत्र के जारी होने से पहले डिक्टेशन होता है प्रूफ रीडिंग होती है. अधिकारी उसे ओके करते हैं उसके बाद वह पत्र निर्गत होता है.

वीसी बोले

पब्लिक डोमेन में कोई पत्र डालने से पहले भी एक बार उसकी चेकिंग होती है लेकिन कई स्तर की जांच के बाद भी कोई गड़बड़ी गंभीर है. इस मामले में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर के मंडल ने जांच की बात कही है.

Input : News18

Continue Reading
Advertisement
BIHAR6 mins ago

सुविधा : उत्तर बिहार के 22 रूटों पर चलेंगी 166 सरकारी बसें

MUZAFFARPUR15 mins ago

पूरे भारत में रविवार को सबसे ज्यादा प्रदूषित रहा मुजफ्फरपुर, पटना तीसरे नंबर पर

BIHAR27 mins ago

जिसकी मौ’त में 23 लोग जेल में, वह जिंदा लौटा

RELIGION1 hour ago

पर्व : मंगलवार को भैरव अष्टमी पर सिंदूर और तेल से करें भगवान का श्रृंगार और बोलें भैरव मंत्र

BIHAR1 hour ago

वशिष्ठ बाबू के नाम पर होगा कोईलवर का नया पुल: मंत्री

BIHAR1 hour ago

हाईटेक डुप्लेक्स में रहेंगे अब बिहार के MLA और MLC, सीएम आज देंगे सौगात

MUZAFFARPUR1 hour ago

सरैयागंज में रात को तीन घंटे तक ठप रहेगी बिजली

BIHAR2 hours ago

राहत की खबर: 22 नवंबर से पटना के चौक- चौराहों पर 35 रुपये किलो मिलेगा प्याज

EDUCATION3 hours ago

1613 छात्र-छात्राओं ने दी जीनियस क्लास प्रतिभा खोज परीक्षा

OMG4 hours ago

पत्नी की बक-बक से तंग पति 62 साल तक गूंगा-बहरा होने का नाटक करता रहा

MUZAFFARPUR2 days ago

मुजफ्फरपुर का थानेदार नामी गुं’डा के साथ मनाता है जन्मदिन! केक काटते हुए सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल…खाक होगा क्रा’इम कंट्रोल?

INDIA2 days ago

आ गया ‘मिर्ज़ापुर 2’ का टीजर, पंकज त्रिपाठी ने इंस्टाग्राम पर किया शेयर

BIHAR3 weeks ago

27 अक्टूबर से पटना से पहली बार 57 फ्लाइट, दिल्ली के लिए 25, ट्रेनों की संख्या से भी दाेगुनी

tharki-proffesor
MUZAFFARPUR3 days ago

खुलासा: कोचिंग आने वाली हर छात्रा को आजमाता था मुजफ्फरपुर का ‘पा’पी प्रोफेसर’, भेजा गया जे’ल

BIHAR3 weeks ago

पंकज त्रिपाठी ने माता पिता के साथ मनाई प्री दिवाली, एक ही दिन में वापस शूटिंग पर लौटे

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के लाल शाहबाज नदीम का क्रिकेट देखेगा पूरा विश्‍व, भारतीय टीम में शामिल होने पर पिता ने कही बड़ी बात

MUZAFFARPUR1 day ago

कुंवारी मां बनी कटरा की पी’ड़िता से दु’ष्क’र्म का आ’रोपी माैलवी गि’रफ्तार

BIHAR3 weeks ago

मदीना पर आस्‍था तो छठी मइया पर भी यकीन, 20 साल से व्रत कर रही ये मुस्लिम महिला

JOBS18 hours ago

भर्ती : 12वीं पास के लिए CISF में नौकरी, 300 जीडी हेड कांस्टेबल पदों के लिए करें आवेदन

victory-of-gamcha-campaign-by-nilotpal
BIHAR23 hours ago

होटल ने वेटरों के ड्रेस में गमछा किया शामिल

Trending

0Shares