Connect with us

Uncategorized

टाइम मैगज़ीन ने PM नरेंद्र मोदी को बताया ‘India’s Divider In Chief’

Santosh Chaudhary

Published

on

अमरीका की जानी-मानी पत्रिका TIME ने अपने नवीनतम मई अंक के लिए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कवर स्टोरी की है. मैगज़ीन के कवर पर नरेंद्र मोदी की इलस्ट्रेटेड तस्वीर है और साथ में लिखा है… ‘India’s Divider In Chief’

TIME मैगज़ीन ने कवर पेज को ट्वीट करते हुए टीज़र दिया गया है… “टाइम्स का नया इंटरनेशनल कवर : क्या दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र मोदी सरकार को आने वाले और पांच साल बर्दाश्त कर सकता है?”

हालांकि मैगज़ीन अभी बाज़ार में उपलब्ध नहीं है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कवर वाली ये मैगज़ीन 20 मई 2019 को जारी की जाएगी.

19 मई को लोकसभा चुनाव 2019 के आख़िरी चरण का मतदान होना है और 23 मई को चुनाव के नतीजे आने हैं.

क्या लिखा गया है मैगज़ीन की इस कवर स्टोरी में?

TIME की वेबसाइट पर जो स्टोरी प्रकाशित की गई है उसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री से देश के प्रधानमंत्री बनने का जिक्र है. 2014 में उनकी जीत को 30 सालों में सबसे बड़ी जीत बताया गया है और उसके बाद उनके पांच साल के कार्यकाल का ज़िक्र है.

लेकिन इसी ज़िक्र को लेकर और जिस तरह से कवर पेज पर मोदी को ‘India’s Divider In Chief’ बताया गया है, उस पर विवाद पैदा हो गया है. और यह कवर पेज भारत में ट्रेंड कर रहा है.

हालांकि साल मई 2015 में भी टाइम मैगज़ीन ने मोदी पर कवर स्टोरी की थी और उसे नाम दिया था… “Why Modi Matters”

सोशल मीडिया पर इस कवर पेज को लेकर काफी बातें हो रही हैं.

एक ओर जहां कुछ लोगों का कहना है कि मैगज़ीन ने बिल्कुल सही लिखा है वहीं कुछ लोग इस मोदी की लोकप्रियता से भी जोड़कर देख रहे हैं.

ठाकुर अमीशा सिंह लिखती हैं, “एक मोदी के पीछे सारी दुनिया हाथ धोकर पड़ गई है. मतबल साफ़ है बंदे में सिर्फ़ दम ही नहीं, सारी दुनिया को अपने पीछे नचाने की ताकत भी है.”

फ़ेसबुक पोस्ट

वहीं वसंत लिखते हैं कि मोदी की वजह से तो सारा विपक्ष एकजुट हो गया है, आप उन्हें विभाजित करने वाला क्यों कह रहे हैं?

फ़ेसबुक पोस्ट

सत्येंद्र देव परमार लिखते हैं कि नफ़रत का बीज समाज में बहुत गहरे बोया जा चुका है जिसकी फसल आज सड़कों पर फैली हुई है.

राहुल सरकार ने ट्वीट किया है कि सच्चाई छिप नहीं सकती लेकिन छप तो ज़रूर सकती है.

कुछ ट्वीट ऐसे भी हैं…

मोदी

हालांकि कुछ लोगों का ये भी कहना है कि टाइम मैगज़ीन एक विदेशी मैगज़ीन है उसे कोई हक़ नहीं बनता कि वो हमारे प्रधानमंत्री के बारे में कुछ कहे.

ट्विटर पोस्ट @SkdDub: Our greatest p.m. Narendra Modi is a No. 1 person of the world. No need to certify by the TIME Magzine or any other.

वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने टाइम मैगज़ीन की इस रिपोर्ट का पूरा समर्थन किया है.

मोदी

जिस स्टोरी को लेकर ये विवाद उपजा है उसे लिखने वाले हैं आतिश तासीर. 39 साल के आतिश ब्रिटेन में जन्मे लेखक-पत्रकार हैं. वे भारतीय पत्रकार तवलीन सिंह के बेटे हैं.

आपको बता दें कि यह वही टाइम मैगज़ीन है जिसने साल 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रीडर्स पोल के तहत पर्सन ऑफ़ द ईयर 2016 चुना था.

18 पर्सेंट के साथ मोदी पहले स्थान पर रहे थे. उनके बाद उस समय के अमरीकी राष्ट्रपति बराक का नाम था.

Input : BBC Hindi

Uncategorized

शिव भक्त थे सुशांत, 29 जून से तैयार थे प्लान, बहन श्वेता ने खोला बड़ा राज

Muzaffarpur Now

Published

on

सुशांत सिंह राजपूत मामले (Sushant Singh Rajput Case) में परिवार के एफआईआर और बिहार पुलिस (Bihar Police) की जांच के बाद जो सच्चाई सामने आ रही है, वो चौंका देने वाली हैं. परिवार के आरोपों के बाद बिहार पुलिस मामले की जांच कर रही हैं. वहीं इस केस में आए नए मोड़ के बाद सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) पहली बार सामने आई हैं और सुशांत सिंह राजपूत मामले में बयान दिया है. अपने बयान में रिया चक्रवर्ती ने भगवान और न्याय पर विश्वास जताया है. वहीं, सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) लगातार सोशल मीडिया (Social Media) पर अपने भाई को इंसाफ दिलाने के लिए गुहार लगा रही हैं. हाल ही में उन्होंने कुछ ऐसे पोस्ट किए, जो फिर ये सोचने पर मजबूर कर रहा है कि इतनी प्लानिंग के बाद वह सुसाइड कैसे कर सकते हैं?

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की बहन श्वेता सिंह कीर्ति (Shweta Singh Kirti) सोशल मीडिया पर लगातार सुशांत को इंसाफ दिलाने के लिए कुछ न कुछ शेयर कर रही हैं. सोशल मीडिया के जरिए #justiceforsushantsinghrajput कैंपेन चला रही हैं. इसी कड़ी में श्वेता सिंह कीर्ति ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट शेयर किया है, जिसमें उन्होंने सुशांत की 29 जून की प्लानिंग (Sushant did planning from 29 June) को दिखाया है. श्वेता सिंह कीर्ति ने एक तस्वीर शेयर की है ये तस्वीर है सुशांत के व्हाइट बोर्ड की. इस पर सुशांत ने अपनी आने वाले दिनों को लेकर प्लान बना रहे थे.

इससे साफ जाहिर हो रहा है सुशांत भविष्य के लिए प्लानिंग कर रहे थी. इसे शेयर करते हुए श्वेता सिंह कीर्ति ने कैप्शन में लिखा, ‘भाई का व्हाइट बोर्ड जहां 29 जून से वो वर्कआउट और मेडिटेशन की प्लानिंग कर रहा था. तो साफ है कि वो आगे की प्लानिंग कर रहा था’.

View this post on Instagram

Bhai’s White Board where he was planning to start his workout and transcendental meditation from 29th June daily. So he was planning ahead. #justiceforsushantsinghrajput

A post shared by Shweta Singh kirti (@shwetasinghkirti) on

– जल्दी उठना है और अपना बिस्तर ठीक करना है.- कंटेंट वाली फिल्में और सीरीज देखना.- गिटार सीखना.- वर्कआउट- 29 जून से रोज- मेडिटेशन- 29 जून से रोज- अपने आसपास के एरिया को साफ सुधरा रखना.- सीखना, प्रैक्टिस करना और इसे रीपीट करना.- तुम वो सब चीजें भी कर सकते हो जिसके बारे में तुमने कभी सोचा ही नहीं. जो तुम सोचते हो वो तुम करते हो और जो तुम करते हो वो तुम हो.

वहीं, श्वेता ने एक अन्य पोस्ट शेयर कर इशारा किया कि सुशांत शिव भक्त था. हालांकि सुशांत के कई वीडियोज वायरल हुए उसमें एक वीडियो ऐसे भी था, जिसमें वो दोस्त संग जय जय शिव शंबू गा रहे थे. उसी वीडियो का ग्रैब लेकर बहन ने सत्य के जीतने की कामना की है. कैप्शन ने श्वेता ने लिखा- मैं चाहती हूं कि हर कोई भगवान शिव से प्रार्थना करे. हमें सच्चाई की तरफ लेकर जाया जाए और लड़ने की शक्ति दी जाए.

आपको बता दें कि श्वेता अपने भाई के लिए लगातार अपनी पोस्ट के जरिए न्याय की उम्मीद कर रही हैं. सुशांत के फैन्स भी उनकी बहन का इस मुहिम में पूरा साथ दे रहे हैं. वो भी सोशल मीडिाय के जरिए सुशांत केस में सीबीआई जांच के लिए प्रेशर बना रहे हैं.

Input : News18

Continue Reading

Uncategorized

पेइंग वार्ड में नहीं अब बंगला में रहेंगे लालू , कोरोना से बचाने के लिए रिम्स निदेशक के बंगले पर किया जा रहा शिफ्ट

Muzaffarpur Now

Published

on

RANCHI: लालू प्रसाद को कोरोना से बचाने के लिए हेमंत सरकार जी जान से जुटी हुई है. रिम्स के पेइंग वार्ड से अब लालू प्रसाद को हटाकर रिम्स के निदेशक के बंगले पर शिफ्ट किया जा रहा है. रिम्स में लालू प्रसाद को संक्रमण का खतरा है.

सिटी एसपी ने बंगले का किया निरीक्षण

लालू प्रसाद को निदेशक के बंगले पर शिफ्ट करने से पहले रांची के सिटी एसपी ने बंगले का निरीक्षण कर सुरक्षा का जायजा लिया. सुरक्षा के एक एक बिंदु पर सरकार की नजर हैं.

 बंगले की हुई सफाई

लालू के शिफ्ट करने को लेकर जिला प्रशासन और रिम्स प्रशासन जुटा हुआ हैं. बंगले की साफ सफाई तेजी से की जा रही है. यहां पर ध्यान दिया जा रहा है कि लालू प्रसाद को कोई परेशानी नहीं हो. बताया जा रहा है कि एक दो दिन में प्रशासनिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद उनको शिफ्ट कर दिया जाएगा.

Input : First Bihar

Continue Reading

Uncategorized

देश में नई शिक्षा नीति : 10+2 की स्कूली पढ़ाई खत्म, अब ऐसा होगा सिस्टम

Muzaffarpur Now

Published

on

देश की शिक्षा प्रणाली में बदलाव के लिए मोदी सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया। देश में नई शिक्षा नीति को मंजूरी दे दी। मानव संसाधन विकास मंत्रालय का नाम बदलकर शिक्षा मंत्रालय कर दिया और इसके साथ ही स्कूलिंग का पूरा फॉर्मेट भी बदलने वाला है। 10 प्लस 2 के फॉर्मेट को पूरी तरह खत्म कर दिया गया है।

केंद्र सरकार ने जिस नई शिक्षा नीति को मंजूरी दी है उसके साथ क्या कुछ बदल जाएगा। आइए आप को समझाते हैं 10 प्लस 2 को बांटकर अब 5+3+3+4 के फॉर्मेट में ढाला गया है। अब इसमें स्कूल के पहले 5 साल में प्री प्राइमरी स्कूल के 3 साल और कक्षा 1 और कक्षा 2 सहित फाउंडेशन स्टेज शामिल होंगे। फिर अगले 3 साल को कक्षा 3 से लेकर 5 तैयारी के चरण में विभाजित किया जाएगा। इसके बाद 3 साल यानी 6 से लेकर 8वीं क्लास तक और फिर माध्यमिक अवस्था में 4 साल यानी 9 से लेकर 12 तक स्कूलिंग में कला वाणिज्य और विज्ञान स्ट्रीम का कठोर पालन नहीं होगा। छात्र अब जो पाठ्यक्रम चाहे वह ले सकते हैं।

नई शिक्षा नीति लागू करने के साथ सरकार में जिन बिंदुओं पर आगे टारगेट तय किया है वह इस प्रकार हैं

साल 2040 तक के सभी उच्च शिक्षा संस्थानों को मल्टी सब्जेक्ट इंस्टिट्यूशन बनना होगा जिसमें 3000 से अधिक छात्र होंगे

2030 तक के सभी जिलों में या उसके पास कम से कम एक बड़ा मल्टी सब्जेक्ट हाई इंस्ट्यूशन स्थापित करना है

संस्थानों के पास ओपन डिस्टेंस लर्निंग और ऑनलाइन कार्यक्रम चलाने का विकल्प होना चाहिए

सिलेबस ऐसा होगा कि सार्वजनिक संस्थानों के विकास पर उसमें जोर दिया जा सके

Input : First Bihar

Continue Reading
INDIA32 mins ago

रिया चक्रवर्ती ने CBI जांच का विरोध किया, सुप्रीम कोर्ट में दिया हलफनामा

BIHAR2 hours ago

बिहारी परिवारों को उल्टा- सीधा और नीच सोच का कहने वाली ज्योति यादव जैसी पत्रकार को हम कब जवाब देंगे

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर : दो साल से सैंकड़ो ग़रीब बच्चों को मुफ़्त में पढ़ा रहे- अभिषेक रंजन और उज्जवल कुमार

BIHAR3 hours ago

सुशांत के भाई संजय राउत पर करेंगे मानहानि का केस, पिता पर दूसरी शादी करने का लगाया था आरोप

INDIA3 hours ago

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी कोरोना पॉजीटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

INDIA4 hours ago

Chinese Troops ने पाकिस्तानी सैनिकों को जमकर पीटा, जानें आपस में क्यों भिड़े ‘जिगरी यार’

INDIA5 hours ago

रिया चक्रवर्ती फिर से पहुंची ईडी दफ्तर, नए सवालों का जवाब देने में छूटेगा पसीना

INDIA5 hours ago

‘जय श्रीराम’ और मोदी जिंदाबाद ना बोलने पर बुजुर्ग ऑटो रिक्शा ड्राइवर के साथ मारपीट

BIHAR6 hours ago

IPS विनय तिवारी को CBI में भेजने वाले अटकलों को उन्होंने खुद बताया गलत, निराश हुए लोग-

HEALTH6 hours ago

WHO की चेतावनी- वैक्सीन कोई जादुई गोली नहीं होगी, जो पलक झपकते ही खत्म कर देगी वायरस

BIHAR3 days ago

भोजपुरी एक्ट्रेस अनुपमा पाठक ने की खुदकुशी, मरने से पहले किया फेसबुक लाइव

INDIA4 weeks ago

सलमान खान ने शेयर की किसानी करने की ऐसी तस्वीर, लोगों ने जमकर सुनाई खरीखोटी

INDIA4 weeks ago

एक दूल्हे के संग दो दुल्हनों ने लिए फेरे : एक गर्लफ्रेंड, दूसरी मम्मी-पापा की पसंद, Video देखें

INDIA3 weeks ago

वाहनों में अतिरिक्त टायर या स्टेपनी रखने की जरूरत नहीं: सरकार

BIHAR6 days ago

UPSC में छाए बिहार के लाल, जानिए कितने बच्चों का हुआ चयन

BIHAR4 weeks ago

बिहार लॉकडाउन: इमरजेंसी हो तभी निकलें घर से बाहर, नहीं तो जब्त हो जाएगी गाड़ी

MUZAFFARPUR5 days ago

उत्तर बिहार में भीषण बिजली संकट, कांटी थर्मल पावर ठप्प

BIHAR1 week ago

पप्पू यादव का खतरनाक स्टंट: नियमों की धज्जियां उड़ा रेल पुल पर ट्रैक के बीच चलाई बुलेट, देखें VIDEO

MUZAFFARPUR2 days ago

बिहार के प्रमुख शक्तिपीठों में प्रशिद्ध राज-राजेश्वरी देवी मंदिर की स्थापना 1941 में हुई थी

BIHAR21 hours ago

IPS विनय तिवारी शामिल हो सकते है, सुशांत केस की CBI जांच टीम में…

Trending