लोकसभा चुनाव 2019 को ध्यान में रखते हुए WhatsApp एक ऐसे फीचर की टेस्टिंग कर रहा है, जिससे यूजर्स को यह पता चल जाएगा कि चैट बॉक्स में आए हुए फोटो की प्रमाणिकता क्या है, सीधे शब्दों में कहें तो WhatsApp के नए फीचर्स से यूजर्स यह पता लगा सकेंगे कि फोटो असली है या फर्जी. इस बात की जानकारी WaBetaInfo ने दी है.

बता दें कि WaBetaInfo एक ऐसा प्लेटफ्रॉम है जहां WhatsApp से जुडी सारी जानकारी मिलती है. रिपोर्ट के अनुसार इस फीचर के आने के बाद यूजर्स को चैट विंडो में ‘सर्च इमेज’ के नाम से एक अलग टैब दिखेगा, जिसे क्लिक करते ही वॉट्सऐप यूजर्स को गूगल ब्राउजर पर ले जाएगा, जहां फोटो अपलोड की जाएगी. जिससे यूजर्स को फोटो का सोर्स पता लग जाएगा.

फिलहाल अभी यह फीचर टेस्टिंग मोड में है और इसे कब पेश किया जाएगा इस बारे में कंपनी के तरफ से अभी तक कोई जानकारी नही मिली है. वहीं ऐसा मन जा रहा है कि WhatsApp अपने इस फीचर से फर्जी खबरों पर लगाम लगाएगा.

बता दें कि अभी हाल ही में चुनाव आयोग ने लोकसभा इलेक्शन 2019 के तारीखों का ऐलान किया है. इस दौरान आयोग ने सभी राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों की सोशल मीडिया गतिविधियों को लेकर कड़े दिशा-निर्देश जारी किए हैं. हालांकि, आयोग ने वॉट्सऐप को लेकर कोई गाइडलाइन्स जारी नहीं कि है, लेकिन आयोग ने गूगल, यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर के लिए दिशा-निर्देशों जारी किए हैं.

आयोग ने कहा है कि सभी उम्मीदवारों को नॉमिनेशन फाइलिंग के वक्त अपने फेसबुक, ट्विटर के बारे में पूरी जानकारी देनी होगी. इसके अलावा उम्मीदवार को फेसबुक या ट्विटर पर राजनीतिक विज्ञापन को पोस्ट करने से पहले प्रमाणित कराना होगा. इतना ही नहीं उम्मीदवार फेसबुक, ट्विटर या यूट्यूब कोई भी असत्यापित राजनीतिक विज्ञापन पोस्ट नहीं कर पाएंगे.

Input : News18

 

Total 0 Votes
0

Tell us how can we improve this post?

+ = Verify Human or Spambot ?