Connect with us

HEALTH

WHO की चेतावनी- वैक्सीन कोई जादुई गोली नहीं होगी, जो पलक झपकते ही खत्म कर देगी वायरस

Ravi Pratap

Published

on

कोरोना संकट से जूझ पूरी दुनिया को वैक्सीन का इंतजार है. अगले कुछ महीनों में कोरोना वैक्सीन आने की उम्मीद की जा रही है. लेकिन इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वैक्सीन को लेकर चेतावनी जारी की है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन कोई जादुई गोली नहीं होगी, जो पलक झपकते ही कोरोना वायरस को खत्म कर देगी. डब्लूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस ने कहा कि अभी हमें लंबा रास्ता तय करना है इसलिए सबको साथ मिलकर प्रयास करने होंगे.

वैक्सीन पर राष्ट्रवाद अच्छा नहीं

एक दिन पहले डब्ल्यूएचओ ने वैक्सीन पर राष्ट्रवाद के खिलाफ चेतावनी दी थी. डब्ल्यूएचओ ने अमीर देशों को आगाह करते हुए कहा था कि यदि वे खुद के लोगों के उपचार में लगे रहते हैं और अगर गरीब देश बीमारी की जद में हैं तो वे सुरक्षित रहने की उम्मीद नहीं कर सकते हैं.

डब्लूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस ने कहा था कि वैक्सीन पर राष्ट्रवाद अच्छा नहीं है, यह दुनिया की मदद नहीं करेगा. दुनिया के लिए तेजी से ठीक होने के लिए, इसे एक साथ ठीक होना होगा, क्योंकि यह एक वैश्वीकृत दुनिया है. अर्थव्यवस्थाएं आपस में जुड़ी हुई हैं. दुनिया के सिर्फ कुछ हिस्से या सिर्फ कुछ देश सुरक्षित या ठीक नहीं हो सकते.

12 अगस्त को रूस देगा पहली वैक्सीन को मंजूरी

रूस कोविड-19 वैक्सीन को मंजूरी देने वाला पहला देश बनने जा रहा है. रूस के उप स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडनेव ने कहा है कि 12 अगस्त को कोरोनो वायरस के खिलाफ बनायी गई पहली वैक्सीन को मंजूरी देगा. ये वैक्सीन मॉस्को स्थित गमलेया इंस्टीट्यूट और रूसी रक्षा मंत्रालय ने संयुक्त रूप से मिलकर बनाई है.

रूस सरकार का दावा है कि Gam-Covid-Vac Lyo नाम की ये वैक्सीन 12 अगस्त को रजिस्टर हो जाएगी, सितंबर में इसका मास-प्रोडक्शन शुरू हो जाएगा और अक्टूबर से देशभर में टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा.

लेकिन दुनिया के वैज्ञानिकों को चिंता है कि कहीं अव्वल आने की यह दौड़ उलटी न साबित हो जाए. रूस के दावे को समर्थन देने के लिए अब तक कोई साइंटिफिक डेटा जारी नहीं हुआ है. इससे अब तक यह भी स्पष्ट नहीं हो सका है कि उसे इस प्रयास में सबसे आगे क्यों माना जाएगा.

Input : ABP News

HEALTH

नशे से मुक्ति इतनी भी नहीं है मुश्किल, छोटे-छोटे ये उपाय छुड़ा देंगे लत

Muzaffarpur Now

Published

on

कभी दोस्तों की जिद तो कभी गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड को इंप्रेस करने के चक्कर में आज के युवा नशे (Drug Addiction) के चंगुल में फंस जाते हैं. कभी टेंशन के नाम पर तो कभी खुशी इजहार करने के रूप में भी नशा युवाओं को अपनी गिरफ्त में ले लेता है. बीड़ी-सिगरेट से शुरू होने वाली नशे की यह लत युवाओं को गांजे, शराब और ड्रग्स की दलदल में धकेल देती है. हाल ही में बॉलीवुड में चल रहे सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले (Sushant Singh Rajput Suicide Case) में ड्रग्स (Drugs) की बात सामने आई है. एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती (Showik Chakraborty) के बीच ड्रग्स को लेकर हुई व्हॉट्सऐप चैट भी वायरल हो रही है. फिलहाल सीबीआई मामले की बारीकी से जांच कर रही है. इन ड्रग्स के सेवन के चलते कई बार मेधावी और बाहर से सही दिखने वाले युवा भी गलत चीजों का शिकार हो जाते हैं. एक बार जब कोई नशे के अंधेरे कुएं में कूद जाता है तो फिर उसका बाहर निकलना बेहद मुश्किल हो जाता है. फिर यह बात भी मायने नहीं रखती कि आपको नशे के गंभीर परिणामों के बारे में जानकारी है या नहीं.

नशा करने की आदत कैसे पड़ी इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता, फर्क इस बात से पड़ता है कि कहीं आप उसके आदी तो नहीं हो गए क्योंकि अगर किसी पदार्थ की खुराक हद से ज्यादा ले रहे हैं तो इसके बाद इसे छोड़ना नामुमकिन सा लगने लगता है. हालांकि, अगर आप चाहें तो नशे की लत छूट भी सकती है, इसके लिए देशभर में नशामुक्ति केंद्र हैं. इन केंद्रों में आपको नशे के अंधेरे कुएं से बाहर निकालने के लिए आपकी हर संभव मदद की जाती है. इसके बावजूद अगर आप नशामुक्ति केंद्र नहीं जाना चाहते तो घर पर ही इस बुरी आदत से छुटकारा पा सकते हैं.

आयुर्वेद के अनुसार कई ऐसे घरेलू उपचार उपलब्ध हैं, जिनकी मदद से आपको नशे की लत से मुक्ति मिल सकती है. इन उपायों की अच्छी बात तो यह होती है कि आपको नशे के जाल को काटने के लिए नशीली दवाओं की हेल्प लेने की जरूरत नहीं पड़ती और इनका कोई हानिकारक प्रभाव भी आपके शरीर पर नहीं पड़ता. चलिए जानते हैं ऐसे ही कुछ घरेलू उपायों के बारे में…

नशे से छुटकारा दिलाएगा एप्पल साइडर विनेगर

सेब के सिरके को तंबाकू और अन्य ड्रग्स की लत को कम करने के लिए जाना जाता है. इसके सेवन से सिगरेट की तलब से छुटकारा मिल जाता है. सेब के सिरके में मौजूद एसिटिक एसिड और मौलिक एसिड के कारण ऐसा होता है. हालांकि, इस बारे में अभी और अध्ययन किए जाने की जरूरत है.

कैसे इस्तेमाल करें

एक गिलास पानी में 1-2 चम्मच सेब का सिरका मिलाएं

टेस्ट बढ़ाने के लिए 2 चम्मच शहद मिला सकते हैं

अब एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर दिन में कम से कम 1-2 बार सेवन करें

अदरक दिलाएगी नशे से छुटकारा

जिस व्यक्ति को नशे की लत होती है उसके शरीर को बार-बार सल्फर की जरूरत होती है. इस लालसा को मिटाने के लिए वह नशा करता है. अदरक में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में सल्फर की क्रेविंग को पूरा कर देते हैं. इससे उसकी सल्फर की जरूरत पूरी हो जाती है.

कैसे इस्तेमाल करें

5-10 ग्राम अदरक को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें

अब इसमें सेंधा नमक मिला लें

नींबू का एक चम्मच रस मिलाकर अदरक को सूखने के लिए धूप में रख दें

सूख जाने के बाद यह अदरक नशा छुड़ाने का उत्तम घरेलू उपाय है

अदरक के टुकड़ों को हमेशा अपने पास रखें, जब भी नशे का मन हो एक टुकड़ा मुंह में लेकर उसे चूसें

चाहें तो अदरक को चुइंगम की तरह चबा भी सकते हैं

नशे की लत से छुटकारा पाने के लिए 1 हफ्ते तक इसका सेवन करें. गंभीर मामलों में 2 हफ्ते तक इस उपाय को अपना सकते हैं.

कैफीन दिलाती है नशे से छुटकारा

कैफीन में नशे की लत को दूर करने वाले गुण होते हैं. ऊर्जावान महसूस करने के लिए शराब, एक्टेसी या कोकेन की जगह कैफीन का इस्तेमाल किया जा सकता है. यही वजह है कि कुछ लोग इसे एक ड्रग भी मानते हैं. इसके सेवन से एड्रेनालाइन और संज्ञानात्मक ऊर्जा उत्तेजित होती है, इनकी वजह से शरीर को नशीले पदार्थ की जगह धीरे-धीरे इसकी आदत पड़ जाती है.

कैसे इस्तेमाल करें

एक कप गर्म पानी में एक चम्मच कॉफी पाउडर मिलाएं

आपकी ब्लैक कॉफी तैयार है, इसे गुनगुना करके पिएं

कैफीन का सेवन सीमित मात्रा में करें, अन्यथा इसकी भी लत लग सकती है. सुबह और दोपहर को एक-एक कप कैफीन ले सकते हैं. शाम और रात को कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए, अन्यथा आपको नींद न आने की समस्या हो सकती है.

मिल्क थिसल का सेवन दूर करेगा नशे की आदक

मिल्क थिसल लिवर को मजबूत बनाती है और यह एक बेहद कारगर औषधि है. ड्रग एडिक्शन से जूझ रहे व्यक्ति के लिए यह काफी मददगार हो सकती है. खून के जरिए कई पदार्थ हमारे लिवर तक पहुंच जाते हैं और मिल्क थिसल लिवर को साफ करती है. इसमें हेप्टो-प्रोटेक्टिव (लिवर को बचाने वाले) गुण होते हैं. यह लिवर की सूजन और सिरोसिस को भी ठीक करने में मदद करती है. इसके सेवन से ना सिर्फ लिवर मजबूत होता है, बल्कि उसकी विषाक्त पदार्थों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ती है.

कैसे इस्तेमाल करें

आधा कप पानी और आधा कप दूध का मिश्रण तैयार करें

इस मिश्रण में मिल्क थिसल के बीज, पत्तियां और टी-बैग डालें

अब इस मिश्रण को 3-5 मिनट तक उबालें

अब इसे छानकर, स्वाद के लिए शहद मिलाकर सेवन करें

नियमित रूप से दिन में दो बार इसके सेवन से नशे की लत छूट जाएगी.

अगर यह घरेलू उपाय कारगर साबित ना हों तो नशे की लत से छुटकारा पाने के लिए जल्द से जल्द डॉक्टर या किसी नशा मुक्ति केंद्र से संपर्क करके उनसे सलाह लें. नशे की लत बेहद खतरनाक स्थिति होती है और समय के साथ यह और भी गंभीर हो जाती है. अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, नशे की लत के प्रकार, लक्षण, कारण, बचाव, उपचार और दवा पढ़ें. न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं. सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है. myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं.

अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए ना तो myUpchar और ना ही News18 जिम्मेदार होगा।

Continue Reading

HEALTH

दिल्ली : AIIMS ने बंद की ओपीडी सर्विस, लगातार बढ़ रही है आपातकालीन मरीजों की संख्या

Ravi Pratap

Published

on

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने बुधवार को कहा कि आउट पेशेंट डिपार्टमेंट (OPD) को अस्थायी रूप से बंद कर दिया जाएगा. अस्पताल ने गंभीर रूप से बीमार या सेमी इमरजेंसी रोगियों के लिए उपलब्ध इन-पेशेंट बेड का उपयोग करने का निर्णय लिया है. बुधवार से ओपीडी अगले दो सप्ताह तक बंद रहेगी. अस्पताल ने बयान में कहा “गंभीर रूप से बीमार / अर्ध-आपातकालीन रोगियों के अस्पताल में भर्ती के लिए उपलब्ध इन-पेशेंट बेड के उपयोग को अनुकूलित करने की आवश्यकता को देखते हुए नियमित रूप से ओपीडी प्रवेश को अस्थायी रूप से रोकने का निर्णय लिया गया है.”

यानी अब अगले दो सप्ताह तक ओपीडी के माध्यम से जनरल वार्ड में मरीजों की भर्ती पर रोक लगा दी है. अभी सिर्फ इमरजेंसी के माध्यम से आने वाले मरीजों को ही भर्ती होने की अनुमति होगी. पिछले कई महीने से ओपीडी बंद होने की वजह से एम्स में लगातार नए और पुराने मरीजों की संख्या बढ़ रही है. अधिकतर मरीज इमरजेंसी में आ रहे हैं. परिणामस्वरूप इमरजेंसी वार्ड में मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. कोरोना वायरस महामारी ने स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र पर दबाव डाला है. उद्योग संगठन फिक्की ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि इस अभूतपूर्व वैश्विक महामारी चुनौती के उपकेंद्र में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र है.

भारत में पिछले 24 घंटों में  COVID19 के 78,357 नए मामले सामने आए और 1045 मौतें हुई हैं. देश में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 37,69,524 हो गई है, जिसमें 8,01,282 सक्रिय मामले, 29,019,09 रिकवर और 66,333 मौतें शामिल हैं. आज यूपी अपर मुख्य सचिव गृह ने बताया कि मुख्यमंत्री ने प्रदेश में कोविड के लिए प्रतिदिन 1,50,000 टेस्ट सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. प्रदेश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या 56,459 है जिसमें से 28,609 लोग होम आइसोलेशन में हैं. अब तक 1,08,056 लोगों ने होम आइसोलेशन का विकल्प लिया है.

Continue Reading

HEALTH

दिल की सेहत को लेकर हैं परेशान तो डाइट में शामिल करें हिल्सा मछली

Muzaffarpur Now

Published

on

दिल की सेहत को लेकर परेशान हैं तो हिल्सा मछली खाना शुरू कर दें। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड धमनियों में जमे कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालता है। इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक से मौत के खतरे में कमी आती है। यूरोपियन सोसाइटी ऑफ कार्डियोलॉजी के हालिया सम्मेलन में पेश एक ब्रिटिश अध्ययन में यह दावा किया गया है।

Overfishing Drives West Bengal's Hilsa Fishers Up the Creek

शोधकर्ताओं ने हिल्सा में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड से एक कैप्सूल भी तैयार किया है। दिन में दो बार कैप्सूल खिलाने पर मरीज की धमनियों में जमा कोलेस्ट्रॉल छंट गया। इससे नसों में खून का बहाव को सुचारु हुआ ही, साथ में रक्त के थक्के जमने का खतरा भी घट गया।

Covid kills demand for Hilsa fish - The Economic Times

दवा बनाने वाली कंपनी अमरीन कॉरपोरेशन के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. क्रेग ग्रैनविट्ज ने बताया कि चिली और अर्जेंटीना के समुद्री तटों पर हिल्सा मछली की विभिन्न नस्लों से निकाले गए ओमेगा-3 फैटी एसिड से इस दवा का निर्माण किया गया है। ओमेगा-3 फूड सप्लीमेंट लेने से दिल की सेहत पर इस तरह के प्रभावी परिणाम प्राप्त नहीं किए जा सके, जितने इस कैप्सूल से हासिल हुए।

Input : Hindustan

Continue Reading
BIHAR1 hour ago

बिहार को मिलेगा देश का पहला मेगा स्क्रीन, सीएम नीतीश आज करेंगे उद्घाटन

BIHAR1 hour ago

21 सितंबर से स्कूल खोलने की तैयारी, जानें बिहार समेत तमाम राज्यों की स्थिति

BIHAR1 hour ago

अब 28 लाख तक खर्च कर सकेंगे प्रत्याशी, चुनाव आयोग ने जारी किया गाइडलाइन

BIHAR1 hour ago

बिहार को मिला पहला अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल

BIHAR2 hours ago

बिहार चुनाव से पहले अजीब फरमान : पुलिस मुख्यालय का आदेश- थानों में पोस्टिंग के दौरान समाज के सभी वर्गों का ध्यान रखें

MUZAFFARPUR3 hours ago

सड़क पर बालू-गिट्टी रखना पड़ा मंहगा, निगम ने लगाया जुर्माना

BIHAR4 hours ago

बिहार में 22 अक्टूबर को होगा डीएलएड का एंट्रेंस एग्जाम, संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए बनाये गए 380 सेंटर

BIHAR4 hours ago

अब नेपाल जाना हुआ आसान, जयनगर-जनकपुर नेपाल रेल मार्ग पर ट्रेनों का परिचालन शुरू

MUZAFFARPUR4 hours ago

पीएम मोदी के जन्मदिन पर सुलभ ने चलाया मुजफ्फरपुर में विशेष अभियान, मास्क वितरण कर लोगों को जागरूक किया

INDIA5 hours ago

Google ने गूगल प्ले स्टोर से Paytm को हटाया, App हटाने के पीछे बताई ये वजह

BIHAR6 days ago

KBC जीत करोड़पति बने थे सुशील कुमार, सेलेब्रिटी बनने के बाद देखा सबसे बुरा समय

BIHAR5 days ago

जाते जाते भी लोगो के लिए मांग रखकर, रुला गए ब्रह्म बाबा..

BOLLYWOOD2 days ago

कंगना रनौत का जया बच्चन को जवाब- हीरो के साथ सोने के बाद मिलता था 2 मिनट का रोल

JOBS2 weeks ago

Amazon दे रहा पैसा कमाने का मौका! सिर्फ 4 घंटे में कमा सकते हैं 60000-70000 रु

BIHAR1 week ago

बारिश में भीगकर ट्रैफिक कंट्रोल कर रहा था कांस्टेबल, रास्ते से गुजर रहे DIG ने गाड़ी रोक किया सम्मानित

MUZAFFARPUR1 week ago

पिता जदयू में और मां लोजपा में, बेटी कोमल सिंह लड़ेगी मुजफ्फरपुर के गायघाट से चुनाव!

BIHAR4 weeks ago

क्या बिहार के डीजीपी ने दे दिया इस्तीफा? जानिए खुद गुप्तेश्वर पांडेय ने ट्वीट कर क्या कहा?

BIHAR4 weeks ago

सुशांत सिंह की संपत्ति पर पिता ने जताया दावा, बोले- इस पर केवल मेरा हक

BIHAR3 weeks ago

बिहार में बड़ी संख्या में निकलने वाली है कंप्यूटर ऑपरेटर्स की भर्ती, कर लें तैयारी

INDIA3 weeks ago

एलपीजी सिलिंडर बुकिंग पर मिल रहा है 500 रुपये तक का कैशबैक, करें बस यह छोटा सा काम

Trending