Connect with us

Uncategorized

अपने CM को धन्यवाद कहना, कि मैं बठिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट आया- सुरक्षा में चूक पर बोले PM मोदी

Published

on

बठिंडा. पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरान हुई सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया है. घटना के बाद बठिंडा हवाई अड्डे के अधिकारियों का भी बयान सामने आया है. बठिंडा हवाई अड्डे के अधिकारियों ने एएनआई को बताया कि बठिंडा हवाई अड्डे पर लौटने पर पीएम मोदी ने वहां के अधिकारियों से कहा, “अपने सीएम को धन्यवाद कहना, कि मैं बठिंडा हवाई अड्डे तक जिंदा लौट आया.” पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को सड़क मार्ग से जाते समय एक फ्लाईओवर पर 15 से 20 मिनट के लिए उस वक्त फंस गए जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने रास्ते को रोक दिया. गृह मंत्रालय ने इस घटना को प्रधानमंत्री की सुरक्षा में गंभीर चूक करार दिया है.

Image

गृह मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पंजाब यात्रा के दौरान गंभीर सुरक्षा खामी के बाद उनके काफिले ने लौटने का फैसला किया. बयान में यह भी कहा गया कि मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस चूक के लिए जवाबदेही तय करने और कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा है. जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त प्रधानमंत्री बठिंडा से हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक की ओर जा रहे थे.

Advertisement

Image

पीएम मोदी दो साल के अंतराल के बाद आज पंजाब पहुंचे थे. विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त किए जाने के बाद यह राज्य में उनका पहला दौरा था. इन कानूनों को लेकर किसानों ने लगभग एक साल तक दिल्ली की सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन किए थे. प्रधानमंत्री फिरोजपुर में चंडीगढ़ स्थित स्नातकोत्तर चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (पीजीआईएमईआर) के उपग्रह केंद्र और दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे सहित 42,750 करोड़ रुपये से अधिक की लागत की विकास परियोजनाओं का शिलान्यास करने वाले थे.

Image

इनमें अमृतसर-ऊना खंड को चार लेन में परिवर्तित करना, मुकेरियां-तलवाड़ा रेल लाइन का आमान परिवर्तन और कपूरथला एवं होशियारपुर में दो नये चिकित्सा महाविद्यालयों की स्थापना संबंधी परियोजनाएं भी शामिल थी.

Advertisement

कार्यक्रम के बाद प्रधानमंत्री एक रैली को भी संबोधित करने वाले थे.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

clat

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uncategorized

डान पप्पू देव की मौत: पत्नी के आंसू, समर्थकों का प्रदर्शन, सहरसा से आईं तस्वीरें बता रहीं कैसा था वर्चस्व

Published

on

पप्पू देव की मौत की खबर फैलते ही सदर अस्पताल में सुबह पांच बजे से ही समर्थकों की भीड़ जुटने लगी। कुछ ही देर में पूरा अस्पताल परिसर समर्थकों से भर गया। हालांकि, पप्पू देव की मौत की घटना के बाद एहतियात के तौर पर पुलिस भी बडी संख्या में अस्पताल परिसर में मौजूद थी। महिला पुलिस बलों का भी दस्ता अस्पताल में तैनात कर दिया गया।

जिलाधिकारी के निर्देश पर शव के पोस्टमार्टम के लिए मजिस्ट्रेट सहित मेडिकल बोर्ड की तैनाती की गयी। इधर पप्पू समर्थक शव की एक झलक पाने के लिए हो हल्ला करते रहे। समर्थक चिल्लाते रहे कि उन्हें अपने पप्पू देव को देखना है। अस्पताल में मौजूद एसडीपीओ संतोष कुमार एवं सदर अनुमंडल पदाधिकारी प्रदीप कुमार झा ने आक्रोशित लोगों को यह कहकर समझाते रहे कि दंडाधिकारी की मौजूदगी में ही शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाया जाएगा। करीब पौने दस बजे मजिस्ट्रेट नीरज सिंहा अस्पताल पहुंचे तो मजिस्ट्रेट के देख रेख में शव की जांच शुरू हुई।

Advertisement
jagran

(छावनी में तब्दील नजर आया सदर अस्पताल

मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में ही जांच प्रक्रिया की वीडियोग्राफी करायी गयी। इसके बाद करीब साढे ग्यारह बजे शव को एंबुलेंस से पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया। समर्थकों ने फिर से हो हंगामा करना शुरू कर दिया। जिसके बाद थोड़ी देर के लिए अस्पताल मोड़ सड़क को जाम भी किया गया। पप्पू देव समर्थक छापेमारी करने गयी पुलिस पदाधिकारियों पर उनके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया। समर्थकों व स्वजनों ने पिटाई से ही उनकी मौत होने का आरोप प्रशासन पर लगा रहे थे।

चार सदस्यीय मेडिकल बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम

पप्पू देव का पोस्टमार्टम चार सदस्यीय चिकित्सकों का दल ने किया। सदर अस्पताल उपाधीक्षक डा. एसपी विश्वास के नेतृत्व में गठित टीम में डा. किशोर कुमार मधूप, डा. एसके आजाद एवं डा. अखिलेश कुमार शामिल थे। पोस्टमार्टम के बाद उनके समर्थक पप्पू देव की पत्नी पूनम देव के इंतजार में ही रूक गये। बाद में मोबाइल पर ही बातचीत होने के बाद समर्थक उनके शव को एंबुलेंस से ही बिहरा करीब चार बजे निकले। एंबुलेंस के पीछे- पीछे समर्थकों की भीड़ भी थी। सदर एसडीपीओ सहित सदर एसडीओ के अलावा अन्य पुलिस पदाधिकारी उनके पैतृक गांव बिहरा तक साथ गए।

Advertisement

jagran

घटना की हो न्यायिक जांच

भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष व पप्पू देव के रिश्तेदार शालिग्राम देव ने कहा कि पप्पू देव पहले अपराध से जुड़ा था। लेकिन जब सभी अपराध से मुक्त होकर घर पहुंचा तो शांतिपूर्वक जीवन व्यतीत करने लगा तो एक साजिश के तहत उमेश ठाकुर के यहां पुलिस ने उसकी निर्ममता ढंग से उनकी हत्या कर दी। जिसकी मैं ङ्क्षनदा करता हूं। इस घटना की न्यायिक जांच हो, सीबीआई जांच हो। उन्होंने नीतीश कुमार से न्याय देने की मांग की। कहा कि अगर न्याय नहीं मिला तो आंदोलन शुरू किया जाएगा।

Advertisement

jagran

दिल में ही दफ्न हो गया बेटी की विवाह का ख्वाब

संजय कुमार देव उर्फ पप्पू देव की मौत होने से स्वजनों व ग्रामीणों में मातम छाई हुई थी। स्वजनों का कहना था कि पप्पू कहा करता था कि वे अपने इकलौते पुत्र व पुत्री की शादी की धूमधाम से करेगा। लेकिन उनकी ये तमन्ना दिल में ही दफन रह गयी। बूढ़ी मां इंग्लिश देवी को नहीं पता था कि उनके इकलौते बेटे पप्पू देव की मौत हो गई है। मगर दरवाजे पर लोगों की भीड़ देख उन्हें पता चल गया। खबर सुनते ही वो बेहोश हो गई। पत्नी पूनम देव जोर-जोर से रो रही थी। पुत्र बाबू ( 20 वर्ष ) एवं पुत्री शालू ( 21 वर्ष ) नहीं पहुंच पायी थी। स्थानीय लोगों के अनुसार दोनों देहरादून में पढ़ाई कर रहे हैं।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Continue Reading

Uncategorized

मुजफ्फरपुर : ठेला चालक से शराब धंधेबाज बने मिथुन ने अर्जित की अकूत संपत्ति

Published

on

पश्चिम बंगाल के सियालदह से विशेष पुलिस टीम के हत्थे चढ़ा शराब धंधेबाज मीनापुर खेमाईपटटी का मिथुन पहले ठेला चलाता था। बंगाल में ठेला चलाने के दौरान उसका संपर्क शराब सिंडिकेट के एक धंधेबाज से हुआ और इसके बाद वह इस धंधे में शामिल हो गया। धीरे-धीरे उसने शराब के धंधे से अकूत संपत्ति अर्जित की। पुलिस पूछताछ में मिथुन ने शराब के धंधे से जुड़े कई बड़े धंधेबाजों के नाम व ठिकाने की जानकारी दी है। शराब के पूरे सिंडिकेट के बारे में कई अहम जानकारी उसने दी है। जिस पर विशेष टीम की कार्रवाई चल रही है। साथ ही उसकी संपत्ति के बारे में भी पुलिस पता लगा रही है। उसके विभिन्न बैंकों में खाते हैं। उसकी जांच कर डिटेल्स निकाला जा रहा है, ताकि खाते को फ्रीज करने के साथ संपत्ति जब्त करने की भी कवायद की जा सके।

बताया गया कि 2017 से शराब के धंधे में मिथुन सक्रिय हो गया था। पूर्वी क्षेत्र के मीनापुर से लेकर पश्चिम बंगाल तक के बैंक खातों की डिटेल्स निकाली जा रही है। इसको लेकर पुलिस ने उससे पूछताछ कर करीब एक दर्जन से अधिक बैंक खाते की जानकारी हासिल की है। दूसरी ओर मिथुन के पास से जो मोबाइल मिला है। उसका भी काल डिटेल्स निकालकर उस पर कार्रवाई की जा रही है। प्रारंभिक जांच में उसके मोबाइल से करीब एक दर्जन से अधिक ऐसे नंबर मिले है, जो शराब के अंतरराज्यीय सिंडिकेट से जुड़े धंधेबाज हैं। इसमें कई सफेदपोश के नंबर भी हैं। हालांकि जांच प्रभावित होने की वजह से पुलिस ने इसका पर्दाफाश अभी नहीं किया है। विशेष टीम के पदाधिकारियों व वरीय अधिकारियों ने पूछताछ के बाद मिथुन को फिलहाल गायघाट थाने के हवाले कर दिया है। कहा जा रहा कि उसे गायघाट थाने में दर्ज मामले में फिलहाल न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा। इसके बाद अन्य केसों में उसे रिमांड किया जाएगा।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

hondwing in Muzaffarpur

Continue Reading

Uncategorized

ट्रेनों में मिलेगा डिस्पोजल कंबल-तकिया, लेकिन चुकाने होंगे अलग से पैसे

Published

on

कोरोना महामारी के चलते ट्रेनों में कंबल और बेडशीट की सुविधा बंद है. लेकिन ठंड के मौसम में दिल्ली सहित कई रेल मंडलों ने स्टेशनों में डिस्पोजेबल बेड शीट, कंबल मुहैया कराने का फैसला किया है. डिस्पोजेबल बेडरोल के लिए यात्रियों को अलग से भुगतान करना होगा. कोरोना से पहले तक एसी कोच तथा राजधानी आदि ट्रेनों में मुसाफिरों को निशुल्क कंबल, चादर और तकिया मुहैया कराया जाता था. लेकिन देश में कोरोना संक्रमण फैलने के बाद इस सुविधा को बंद कर दिया गया था.

सर्दियों के मौसम में ट्रेनों में बेडरोल किट की मांग बढ़ने लगी है. हालांकि अब स्थिति सामान्य हो चली है और भारतीय रेल भी अपनी पुरानी गति पर लौट रही है लेकिन, अभी तक भारतीय रेलवे ने पहले की तरह ट्रेनों में फ्री बेडरोल की सुविधा शुरू नहीं की है.

Advertisement

Delhi News: दिल्ली में भी नहीं बिक रहा रेलवे का बेडरोल किट, रोज 50000 मुसाफिर मगर 50 की भी बिक्री नहीं | Railway Passengers do not like IRCTC Bedroll kit, no demand

पहले मिलते थे फ्री कंबल और चादर

फ्री बेडरोल की सुविधा कब तक शुरू होगी इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है. लेकिन तब तक रेलवे ने यात्रियों को डिस्पोजेबल कंबल, चादर आदि उपलब्ध कराने का फैसला किया है. डिस्पोजेबल ट्रेवल बेडरोल किट के लिए यात्रियों को अलग से पैसे चुकाने होंगे. बताया जा रहा है कि एक डिस्पोजेबल बेडरोल किट की कीमत 300 रुपये है.

Advertisement

एसी कोच में सफर करने वाले यात्रियों के लिए स्टेशन पर डिस्पोजेबल ट्रेवल बेडरोल की सुविधा दी गई है. दिल्ली मंडल ने भी अपने यहां से चलने वाली पांच दर्जन ट्रेनों में डिस्पोजेबल बेडरोल उपलब्ध करवाने की सुविधा शुरू की है और इस सुविधा के लिए यात्रियों को 300 रुपये चुकाने पड़ेंगे.

तीन तरह की डिस्पोजेबल बेडरोल किट 

Advertisement

रेलवे के अलग-अलग जोन में डिस्पोजेबल बेडरोल किट की कीमत और उसमें मिलने वाला सामान अलग-अलग है. कहीं किट में टूथपेस्ट और सेनिटाइजर दिया जा रहा है तो कहीं केवल कंबल, तकिया और चादर दी जा रही है.

ट्रेन में तीन तरह की डिस्पोजल बेडरोल किट उपलब्ध होगी. एक किट में नॉन वोवन कंबल, नॉन वोवन बेडशीट, नॉन वोवन तकिया और उसका कवर, डिस्पोजल बैग, टूथपेस्ट, टूथब्रश, हेयर ऑयल, कंघी, सैनिटाइजर पाउच, पेपरसोप और टिश्यू पेपर मिलेंगे. इस कीट की कीमत 300 रुपये रखी गई है.

Advertisement

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

एक किट में केवल कंबल मिलेगा. इसकी कीमत 150 रुपये है और तीसरी किट की कीमत केवल 30 रुपये हैं. इस किट में टूथपेस्ट, टूथब्रश, हेयर ऑयल, कंघी, सैनिटाइजर पाउच, पेपर सोप और टिश्यू पेपर मिलेंगे.

पश्चिम रेलवे ने ट्रेनों में बेडरोल किट बेचने के लिए एक निजी ठेकेदार को नियुक्त किया है. वेस्टर्न रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि निजी ठेकेदार द्वारा तैनात कम से कम दो व्यक्ति ट्रेनों में सवार होंगे और ये डिस्पोजेबल बेडरोल की बिक्री करेंगे. ये कर्मचारी 150 रुपये प्रति पैकेट की कीमत पर यात्रियों को बेचेंगे.

Advertisement

ट्रेन में तीन तरह की डिस्पोजल बेडरोल किट उपलब्ध होगी. एक किट में नॉन वोवन कंबल, नॉन वोवन बेडशीट, नॉन वोवन तकिया और उसका कवर, डिस्पोजल बैग, टूथपेस्ट, टूथब्रश, हेयर ऑयल, कंघी, सैनिटाइजर पाउच, पेपरसोप और टिश्यू पेपर मिलेंगे. इस कीट की कीमत 300 रुपये रखी गई है.

Source : News18

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

hondwing in Muzaffarpur

Advertisement
Continue Reading
BIHAR5 hours ago

जहरीली शराब से हुई मौतों पर CM नीतीश पर बरसे चिराग, कहा- शराबबंदी सरकार की विफलता

ASTROLOGY10 hours ago

खरमास खत्म, अब शादियां ही शादियां, जाने कब-कब है शुभ मुहूर्त

BIHAR12 hours ago

ट्रक चालक के प्यार में घर छोड़कर युवती छत्तीसगढ़ से पहुंच गई बिहार, पश्चिम में अनोखा मामला

JOBS2 days ago

गेटमैन के पदों पर भर्ती कर रहा इंडियन रेलवे, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन

BIHAR3 days ago

दरभंगा-रोसड़ा एनएच के निर्माण को केंद्र की मंजूरी

BIHAR3 days ago

12 तो नहीं पर बिहार के बुजुर्ग ने कोरोना वैक्सीन की 8 डोज लगवाई, CoWIN की खामियां आईं सामने

BIHAR3 days ago

निर्वाचित महिला प्रतिनिधि सरकारी बैठकों में किसी और को नहीं भेज सकेंगी, पंचायती राज विभाग ने कसी नकेल

BIHAR3 days ago

विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा हुए कोरोना संक्रमित, पीए व अन्य भी पॉजिटिव

BIHAR3 days ago

रेल हादसाः बिहार के कई स्टेशनों से चढ़े थे यात्री, रेलवे ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

ganga-asnan
DHARM3 days ago

मकर संक्रांति से आरंभ होता है देवताओं का दिन व उत्तरायण

BIHAR3 days ago

रेल हादसाः बिहार के कई स्टेशनों से चढ़े थे यात्री, रेलवे ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

BIHAR2 weeks ago

राजेंद्र नगर-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का बदल जाएगा रूट!

INDIA4 weeks ago

खेसारी यादव और पवन सिंह के दंगल में कूदी अक्षरा सिंह, बोलीं- पैर की धूल बनने लायक भी नहीं हो

BIHAR3 weeks ago

27 दिसंबर से ही बदलने लगेगा सूबे का मौसम, बारिश के आसार

BIHAR5 days ago

आज से 17 तारीख तक आधा दर्जन ट्रेनें रद्द, कई गाड़ियों के रूट भी बदले गए

INDIA4 weeks ago

एलआईसी हर साल देगी 40,000 रुपये, रोज दें 41 रुपये की प्रीमियम

JOBS2 days ago

गेटमैन के पदों पर भर्ती कर रहा इंडियन रेलवे, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन

OMG4 weeks ago

खाते में 32 लाख रुपए जमा कर भूल गई महिला, 5 साल बाद बैंक वालों ने फोन कर दिलाया याद

BIHAR2 weeks ago

बिहार में बनेंगे जलमार्ग, सड़कमार्ग और रेलमार्ग के जंक्शन

BIHAR4 weeks ago

अजब प्रेम की गजब कहानी: भाई को ही दिल दे बैठी तलाकशुदा महिला, गर्भवती होने पर युवक का शादी से इंकार

Trending