Connect with us

MUZAFFARPUR

उत्तर बिहार में रंगीन सब्जियों की खेती से सुधरेगी लोगों की सेहत, क‍िसान भी होंगे मालामाल

Published

on

मुजफ्फरपुर,{अजय पांडेय}। पिछले पांच वर्षों में उत्तर बिहार में खेती में नए-नए प्रयोग हुए हैं। यहां रंग-बिरंगे खाद्यान्नों और सब्जियों की खेती शुरू की गई है। कहीं काला गेहूं और धान की खेती हो रही तो कहीं जामुनी आलू की पैदावार। कई जिलों में लाल भिंडी, लाल-पीला शिमला मिर्च भी लगाई जा रही है। बैंगनी फूलगोभी और लाल व पीला पत्तागोभी किसानों को आकर्षित कर रही है। इनकी बाजार में मांग है। विभिन्न पोषक तत्वों के लिए भी चिकित्सक खानपान में रंगीन सब्जियों को शामिल करने की सलाह देते हैं।

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

दोगुना हुआ काले गेहूं का रकबा

Advertisement

काले गेहूं की खेती कमोबेश सभी जिलों में हो रही। उत्तर बिहार में करीब छह साल पहले इसकी शुरुआत चंपारण से हुई थी। इसके बाद मधुबनी, दरभंगा, शिवहर, सीतामढ़ी में खेती की गई। पिछले साल करीब 150 एकड़ में काला गेहूं की खेती हुई थी। इतने ही रकबे में काला धान की भी। इस बार काला गेहूं की बोआई का लक्ष्य 300 एकड़ है। करीब 200 किसान इसकी खेती कर रहे हैं।

hondwing in Muzaffarpur

लाल भिंडी की ओर आकर्षित हो रहे किसान

Advertisement

लाल भिंडी की खेती पिछले साल 10 एकड़ में की गई थी। इसमें मधुबनी और चंपारण के किसान आगे हैं। सीतामढ़ी और दरभंगा के किसान भी वृहद खेती की तैयारी में हैं। मधुबनी के बाबूबरही के छौरही निवासी किसान अविनाश कुमार व खजौली के विलट सिंह कुशवाहा बताते हैं कि लाल भिंडी की खेती लाभकारी है। इसका थोक भाव 100 रुपये प्रतिकिलो से कम नहीं है। खुदरा में 120 से 150 रुपये तक है। इसकी उपज भी सामान्य भिंडी की तरह प्रति क_ा 50 से 60 किलो है।

मुजफ्फरपुर में शिमला मिर्च की खेती

Advertisement

मुजफ्फरपुर के मीनापुर, बोचहां, मुशहरी, मुरौल व सकरा के किसान हरा के अलावा लाल व पीला शिमला मिर्च की खेती कर रहे हैं। मधुबनी में भी करीब दो एकड़ में खेती हुई है। इससे करीब 50 किसान जुड़े हैं। मधुबनी में इस बार पांच एकड़ में बैंगनी फूलगोभी और पीला पत्तागोभी की खेती की गई है। पश्चिम चंपारण के रामनगर के किसान विजय गिरि समेत आधा दर्जन किसान लाल केला, लाल भिंडी व जामुनी रंग के आलू की खेती कर रहे हैं।

जाले कृषि विज्ञान केंद्र के वरीय विज्ञानी डा. दिव्यांशु का कहना है कि सब्जी, फल या खाद्यान्न में विशिष्ट रंग खास पोषक तत्वों के वाहक होते हैं। ये तत्व शरीर के लिए गुणकारी होते हैं।

Advertisement

– रंगीन फल और सब्जियों में बीटा-कैरोटीन, विटामिन-बी व सी समेत और कई पोषक तत्व रहते हैं। हरा रंग कैंसर जैसी बीमारियों से बचाता है। यह हीमोग्लोबिन का स्तर ठीक रखता है। सफेद रंग की सब्जियां कोलेस्ट्राल कंट्रोल करती है। लाल सब्जियां एनर्जी लेवल मेंटेन करती हैं। काले और बैंगनी रंग की सब्जियां याददाश्त दुरुस्त करती हैं। इनमें आयरन भरपूर रहता है। -डा. शालीन झा, फिजिशियन, समस्तीपुर

Source : Dainik Jagran

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

मुजफ्फरपुर : बच्ची से दुष्कर्म के आरोपित ने थाने में किया सरेंडर

Published

on

crime-news-muzaffarpur-now-india-bihar

मुजफ्फरपुर : देवरिया थाना के एक गाव में अबोध बच्ची के साथ दुष्कर्म मामले के आरोपित ने बुधवार को पुलिस दबिश को देख थाने पर आत्मसमर्पण कर दिया। पुलिस मंगलवार को आरोपित के माता-पिता को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी। वहीं आरोपित को हाजिर कराने का दबाव बना रही थी।

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

बता दें कि पाच जनवरी को थाना क्षेत्र के एक गाव में मामा के यहा रह रही चार वर्षीय बच्ची को बहला-फूसला कर एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। फिर डरा-धमका कर घर में रहने और मामले को रफा-दफा करने का दबाव बनाने लगा। बच्ची की तबीयत बिगड़ने पर सारा मामला प्रकाश में आ गया। बच्ची को एसकेएमसीएच में भर्ती कराकर एसडीपीओ सरैया को सूूूूूूूूूूचना दी गई। एसडीपीओ सरैया ने थाने में इसकी जानकारी देते हुए देवरिया पुलिस को एसकेएमसीएच भेजा, जहा पुलिस ने पीड़िता की मा का फर्दबयान लिया। पुलिस ने सोमवार को आरोपित के घर छापेमारी कर दुष्कर्मी के माता-पिता और चाची को अपनी हिरासत में ले लिया। इधर मा-बाप को पुलिस द्वारा हिरासत में लेने के बाद आरोपित सहम गया और बुधवार को थाने पहुंच कर आत्मसमर्पण कर दिया।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

clat

Advertisement
Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर के कांटी में बनेगा 660 मेगावाट क्षमता का नया बिजलीघर

Published

on

मुजफ्फरपुर के कांटी में नया बिजलीघर बनेगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में केन्द्र को प्रस्ताव दिया है। कांटी में पुरानी यूनिटों को बंद करके इनके स्थान पर 660 मेगावाट क्षमता का बिजलीघर लगाने की योजना है। ऐसे संभावना 800 मेगावाट क्षमता के नए बिजलीघर के निर्माण को लेकर भी है। दरअसल, कांटी में यूनिट 1 और 2 अपनी उम्र पूरी कर चुका है। ऐसे में इसे बंद करने का फैसला किया गया है। जर्जर होने के कारण यहां की बिजली काफी महंगी हो गयी थी, जबकि इससे आधी कीमत पर बाजार में बिजली उपलब्ध थी। लिहाजा, बिहार ने इससे बिजली लेने से इंकार कर दिया। खरीददार नहीं होने के कारण एनटीपीसी ने इसे बंद करने का फैसला किया है।

clat

ऐसे राज्य सरकार चाहती है कि कांटी में नये बिजलीघर में दो यूनिट की संभावना तलाशी जाए। कांटी बिजलीघर के निकट कृषि विभाग की 15 एकड़ जमीन है, राज्य सरकार उसे बिजलीघर को देकर नई यूनिट स्थापित करने की योजना बना रही है। इस जमीन के मिलने के बाद बिजलीघर की कालोनियों को वहां शिफ्ट कर दिया जाएगा। इसके बाद शेष बची जमीन के साथ बिजलीघर की जमीन को मिलाकर वहां नई यूनिट के लिए पर्याप्त जगह उपलब्ध हो सकेगा।

Advertisement

फिलहाल कांटी में दो नई यूनिटों (3 व4) से बिजली का उत्पादन हो रहा

फिलहाल यहां दो नयी यूनिटों (3 व4) से बिजली का उत्पादन हो रहा है। कांटी में 250-250 मेगावाट क्षमता की दो नयी यूनिट के निर्माण का निर्णय वर्ष 2006 में लिया गया था। लेकिन चिमनी की उंचाई को लेकर एयरपोर्ट अथारिटी की आपत्ति के बाद बिजलीघर की क्षमता घटाकर 195-195 मेगावाट की गयी। वर्ष 2009-10 में 390 मेगावाट की दो यूनिट को मंजूरी मिली।

Advertisement

नई तकनीक के प्लांट से सस्ती होगी बिजली

कांटी बिजलीघर की दोनों पुरानी यूनिट बंद होने के बाद हमने वहां 660 मेगावाट के नए बिजलीघर के निर्माण को कहा है। नए बिजलीघर के निर्माण के लिए वहां पूरा संसाधन मौजूद है। ज़मीन और पानी की उपलब्धता के साथ आवश्यक इंफ़्रास्ट्रक्चर होने के कारण नयी यूनिट में परेशानी नहीं होगी। नयी तकनीक पर बिजलीघर बनेगा तो वहां की बिजली भी सस्ती होगी। -विजेंद्र प्रसाद यादव, ऊर्जा मंत्री

Advertisement

Source : Dainik Bhaskar

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

मुजफ्फरपुर का मामला : पैतृक संपत्ति को लेकर बेटा-बेटी में फर्क करना गलत : हाईकोर्ट

Published

on

पैतृक संपत्ति का उत्तराधिकारी तय करने में कोई प्राधिकार बेटा और बेटी में फर्क नहीं कर सकता, यह पूर्णत: असंवैधानिक है। मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय करोल तथा न्यायमूर्ति एस कुमार की खंडपीठ ने कंचन प्रिया की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान यह बातें कहीं।

clat

कोर्ट का कहना था कि जब से हिन्दू उत्तराधिकार कानून की धारा 6 में संशोधन किया गया है तब से बेटा-बेटी में फर्क नहीं किया जा सकता। दोनों को पुश्तैनी संपत्ति में बराबर अधिकार है। कोर्ट का कहना था कि सुप्रीम कोर्ट ने विनीता शर्मा बनाम राकेश शर्मा केस में हिन्दू बेटियों को बेटों के बराबर हमवारिस (कोपर्सनर) माना है।

Advertisement

गौरतलब है कि मुजफ्फरपुर में पेट्रोल पंप के लिए दिए गए आवेदन को इंडियन ऑयल ने इसलिए खारिज कर दिया था क्योंकि पंप के लिए निर्धारित ज़मीन पैतृक संपत्ति की थी और आवेदन बेटी की ओर से दिया गया था।

हाईकोर्ट ने कहा कि कानून में किए गए संशोधन तथा सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी कोई प्राधिकार पैतृक संपत्ति के उत्तराधिकार में बेटे व बेटियों के बीच कोई फर्क नहीं कर सकता। इंडियन ऑयल आवेदिका की निर्धारित ज़मीन में हिस्सेदारी के अभाव में आवेदन रद्द किये जाने के मामले पर बुधवार को सुनवाई करेगा।

Advertisement

Source : Hindustan

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Continue Reading
BIHAR6 hours ago

जहरीली शराब से हुई मौतों पर CM नीतीश पर बरसे चिराग, कहा- शराबबंदी सरकार की विफलता

ASTROLOGY11 hours ago

खरमास खत्म, अब शादियां ही शादियां, जाने कब-कब है शुभ मुहूर्त

BIHAR13 hours ago

ट्रक चालक के प्यार में घर छोड़कर युवती छत्तीसगढ़ से पहुंच गई बिहार, पश्चिम में अनोखा मामला

JOBS2 days ago

गेटमैन के पदों पर भर्ती कर रहा इंडियन रेलवे, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन

BIHAR3 days ago

दरभंगा-रोसड़ा एनएच के निर्माण को केंद्र की मंजूरी

BIHAR3 days ago

12 तो नहीं पर बिहार के बुजुर्ग ने कोरोना वैक्सीन की 8 डोज लगवाई, CoWIN की खामियां आईं सामने

BIHAR3 days ago

निर्वाचित महिला प्रतिनिधि सरकारी बैठकों में किसी और को नहीं भेज सकेंगी, पंचायती राज विभाग ने कसी नकेल

BIHAR3 days ago

विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा हुए कोरोना संक्रमित, पीए व अन्य भी पॉजिटिव

BIHAR3 days ago

रेल हादसाः बिहार के कई स्टेशनों से चढ़े थे यात्री, रेलवे ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

ganga-asnan
DHARM3 days ago

मकर संक्रांति से आरंभ होता है देवताओं का दिन व उत्तरायण

BIHAR3 days ago

रेल हादसाः बिहार के कई स्टेशनों से चढ़े थे यात्री, रेलवे ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

BIHAR2 weeks ago

राजेंद्र नगर-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस का बदल जाएगा रूट!

INDIA4 weeks ago

खेसारी यादव और पवन सिंह के दंगल में कूदी अक्षरा सिंह, बोलीं- पैर की धूल बनने लायक भी नहीं हो

BIHAR3 weeks ago

27 दिसंबर से ही बदलने लगेगा सूबे का मौसम, बारिश के आसार

BIHAR6 days ago

आज से 17 तारीख तक आधा दर्जन ट्रेनें रद्द, कई गाड़ियों के रूट भी बदले गए

JOBS2 days ago

गेटमैन के पदों पर भर्ती कर रहा इंडियन रेलवे, 10वीं पास भी कर सकते हैं आवेदन

INDIA4 weeks ago

एलआईसी हर साल देगी 40,000 रुपये, रोज दें 41 रुपये की प्रीमियम

OMG4 weeks ago

खाते में 32 लाख रुपए जमा कर भूल गई महिला, 5 साल बाद बैंक वालों ने फोन कर दिलाया याद

BIHAR2 weeks ago

बिहार में बनेंगे जलमार्ग, सड़कमार्ग और रेलमार्ग के जंक्शन

BIHAR4 weeks ago

अजब प्रेम की गजब कहानी: भाई को ही दिल दे बैठी तलाकशुदा महिला, गर्भवती होने पर युवक का शादी से इंकार

Trending