क्या पीएम के हेलिकॉप्टर की जांच कर सकते हैं चुनाव अधिकारी?
Connect with us
leaderboard image

Uncategorized

क्या पीएम के हेलिकॉप्टर की जांच कर सकते हैं चुनाव अधिकारी?

Avatar

Published

on

भारत के निर्वाचन आयोग ने ओडिशा में सामान्य पर्यवेक्षक के रूप में तैनात कर्नाटक काडर के आईएएस अधिकारी मोहम्मद मोहसिन को अगले आदेश तक निलंबित कर दिया है.

अपने आदेश में चुनाव आयोग ने कहा है कि मोहसिन ने ‘एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों’ से जुड़े प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया और अपने ‘कर्तव्य की अवहेलना’ की.

मोहसिन पर ये कार्रवाई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलिकॉप्टर की जांच करने के बाद की गई है. हालांकि चुनाव आयोग ने अपने पत्र में 16 अप्रैल को हुई इस घटना का कोई ज़िक्र नहीं किया है.

बीबीसी ने जब चुनाव आयोग की प्रवक्ता शैफाली शरण से पूछा कि चुनाव आयोग के अधिकारी एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्तियों के वाहनों की जांच कर सकते हैं या नहीं तो इस पर उन्होंने कोई स्पष्ट जबाव नहीं दिया.

शैफ़ाली शरण ने बीबीसी से कहा, “इस बारे में दिशा निर्देश चुनाव आयोग की वेबसाइट पर हैं. फ़िलहाल इससे अधिक कुछ नहीं कहना है.”

उन्होंने कहा, “ओडिशा गए डिप्टी चुनाव आयुक्त कि इस विषय में विस्तृत रिपोर्ट अभी नहीं मिली है. उनकी रिपोर्ट पेश करने के बाद ही कुछ कहा जा सकेगा.”

चुनाव आयोग का पत्र

मोहसिन को निलंबित करने के अपने आदेश में चुनाव आयोग ने कहा है कि मोहसिन ने 2019 के दिशानिर्देश संख्या 76 और 2014 के चुनाव निर्देशों के दिशानिर्देश संख्या 464 की अवहेलना की.

ये दिशानिर्देश चुनाव अभियान के दौरान उम्मीदवारों के वाहनों के इस्तेमाल से संबंधित हैं. इन्हीं के तहत किसी भी प्रत्याशी के अपने चुनाव अभियान में सरकारी वाहनों के प्रयोग पर रोक है.

हालांकि प्रधानमंत्री और एसपीजी सुरक्षा प्राप्त अन्य व्यक्तियों को इसमें छूट प्राप्त है और वो चुनाव प्रचार के दौरान भी सरकारी वाहनों का इस्तेमाल कर सकते हैं. ये छूट सिर्फ़ एसपीजी सुरक्षा प्राप्त नेताओं को मिलती है.

लेकिन क्या कोई चुनाव अधिकारी प्रधानमंत्री या एसपीजी सुरक्षा प्राप्त किसी अन्य व्यक्ति के वाहन की जांच कर सकता है. इस बारे में कोई स्पष्ट निर्देश नहीं है. चुनाव आयोग ने भी इस सवाल का सीधा जबाव नहीं दिया है.

जिन दिशानिर्देशों का उल्लेख चुनाव आयोग ने अपने आदेश में किया है उनमें भी इस बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं है.

चुनाव आयोग के आदेश की कॉपी

दस अप्रैल 2010 को जारी दिशानिर्देश संख्या 464/INST/2014/EPS में कहा गया है कि कोई भी व्यक्ति किसी भी सरकारी वाहन का इस्तेमाल अपने चुनावी अभियान में नहीं कर सकता है.

इनमें कहा गया है, “इन प्रतिबंधों से छूट सिर्फ़ प्रधानमंत्री और उन अन्य राजनीतिक लोगों को मिलेगी जिन्हें चरमपंथी या आतंकवादी गतिविधियों या जान को ख़तरे की वजह से उच्च स्तरीय सुरक्षा की ज़रूरत हो और जिनकी सुरक्षा ज़रूरतें संवैधानिक प्रावदानों या संसद या विधानसभाओं के क़ानूनों से निर्धारित होती हैं.”

चुनाव आयोग ने मौका गंवाया

भारत के पूर्व चुनाव आयुक्त एसवाई क़ुरैशी का कहना है कि प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर की जांच के मामले में चुनाव आयोग ने अपनी छवि सुधारने का मौक़ा गंवा दिया है.

ट्विटर पर क़ुरैशी ने कहा है, “प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर की जाचं करने पर ओडिशा में तैनात आईएएस अधिकारी को निलंबित करना न सिर्फ़ दुर्भाग्यपूर्ण है बल्कि न सिर्फ़ चुनाव आयोग बल्कि स्वयं प्रधानमंत्री की छवि सुधारने के एक अच्छे मौक़े को गंवाना भी है. इन दोनों ही संस्थानों पर जन निगरानी बढ़ रही है- प्रधानमंत्री पर बार-बार आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन और चुनाव आयोग पर इसे नज़रअंदाज़ करने के आरोप हैं. प्रधानमंत्री के हेलिकॉप्टर पर रेड से ये दिखाया जाना चाहिए था कि क़ानून की नज़र में सब बराबर हैं. एक ही झटके में दोनों की आलोचनाओं का जबाव दिया जा सकता था.”

विपक्ष ने की आलोचना

कांग्रेस ने चुनाव आयोग के इस क़दम की आलोचना करते हुए कहा है, “वाहन जांच करने का अपना काम कर रहे एक अधिकारी को चुनाव आयोग ने निलंबित कर दिया है. जिस नियम का उल्लेख किया गया है वो प्रधानमंत्री को कोई छूट नहीं देता है.”

कांग्रेस ने सवाल किया है, “मोदी हेलिकॉप्टर में ऐसा क्या ले जा रहे थे जो वो नहीं चाहते कि भारत जानें.”

वहीं कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा, “स्वघोषित चौकीदार के हेलिकॉप्टर की जांच करने वाले कर्नाटक काडर के आईएएस अधिकारी के निलंबन की मैं आलोचना करता हूं. मिस्टर चुनावी चौकीदार, जब छुपाने के लिए कुछ नहीं है तो इतना डर क्यों हैं?”

सोशल मीडिया पर भी सवाल

चुनाव आयोग के क़दम पर सवाल उठाते हुए सुप्रीम कोर्ट में अधिवक्ता ऋषिकेश यादव ने ट्विटर पर सवाल किया, “चुनाव आयोग को ये भी स्पष्टीकरण देना चाहिए कि किसकी शिकायत पर मोहम्मद मोहसिन पर कार्रवाई की. 16 अप्रैल की शाम क्या हुआ जिसकी वजह से मोहसिन को निलंबित किया गया.”

 Input : BBC Hindi

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Uncategorized

मुजफ्फरपुर: कलयुगी बेटे ने माँ और चाची की गला काट कर किया हत्या

Abhay Raj

Published

on

कटरा थाना क्षेत्र के यजुआर पश्चिमी गांव में एक युवक ने अपनी माँ और चाची पर धा’रदार हथि’यार से हम’ला कर ह’त्या कर दिया.ह’त्या के बाद गांव में को’हराम मच गया.इसे देखने के लिए आसपास के लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी.मां और चाची की ग’ला रेत’कर ह’त्या करने के बाद स्थानीय लोगों ने युवक को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया.

मृ’तक की पहचान गांव के ही सावित्री देवी (55) एवं भुतनी देवी (60) वर्षीय के रूप में हुई है.आ’रोपी युवक अपने मां एव चाची की हत्या किया हैं. इस घट’ना ने मां बेटा की रिश्ता को शर्मसार कर दिया हैं.स्थानीय लोगों ने पुलिस को बताया कि युवक घर पर ही मवेशी के लिए चारा काट रहा था.चारा के दौरान मां एवं चाची घर में सोयी हुई थी.सोयी हुई अवस्था में गरासी से का’टकर ह’त्या कर दिया.

घटना की जानकारी मिलने पर घटनास्थल पर पहुंची कटरा के सर्किल इंस्पेक्टर जितेन्द्र पाल एवं थानाध्यक्ष सिकन्दर कुमार ने मामले की तहकीकात की शुरू कर दी है.थानाध्यक्ष ने बताया कि आरोपी छोटन सहनी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर आगें की कारवाई की जा रहीं हैं. मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेज दिया गया है.

Continue Reading

Uncategorized

मान्‍यता है कि देवी के रजस्वला वाले कपड़े पास रखने से सभी मनोकामना पूरी होती है

Avatar

Published

on

51 शक्तिपीठों में सबसे प्रसिद्ध मां कामाख्या पावन धाम पर प्रत्येक वर्ष लगने वाला अंबुबासी मेला इस वर्ष भी 22 जून से प्रारंभ हुआ। मेला 26 जून तक चलेगा। पूवरेत्तर के इस कुंभ को दिव्य और भव्य बनाने की तैयारी शासन और प्रशासन की ओर से की गयी है।

इसमें शामिल होने के लिए अभी से श्रद्धालु, साधु संत और तांत्रिकों की टोली गुवाहाटी के लिए रवाना हो गयी है। मंदिर के पुजारी मिहिर शर्मा ने बताया कि 22 जून को मेले का उद्घाटन असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने किया। उन्होंने कहा कि इस मौके पर आने वाले लाखों श्रत्रलुओं, नगा साधु सन्यासी, तांत्रिक और आम भक्तों को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी। यहां देश ही नहीं बल्कि हजारों की संख्या में विदेश भी भक्त मां के दर्शन को आते है। मेला 26 जून तक चलेगा। 27 जून को दर्शन के लिए मंदिर के पट खोले जाएंगे। इस वर्ष दर्शन के लिए 501 रूपये की विशेष टिकट भी जारी हुआ है।

Source : Adib Zamali

क्या है अंबुबासी महापर्व :

अंबुबाचि शब्द अंबु और बासी दो शब्दों को मिलाकर बना है। जिसमें अंबु का अर्थ है पानी और बाचि का अर्थ है उत्फूलन। यह शब्द स्त्रियों की शक्ति और उनके जन्म क्षमता को दर्शाता है। प्रतिवर्ष जून के माह में यह मेला लगता है। यह मेला उस समय लगता है जब मां कामाख्या ऋतुमति रहती है। अंबुबाचि योग पर्व के दौरान मां भगवती के गर्भगृह के कपाट स्वत: ही बंद हो जाते है। उनके दर्शन निषेध हो जाते है। तीन दिनों के बाद मां भगवती की रजस्वला समाप्ति पर उनकी विशेष पूजा एंव साधना की जाती है। चौथे दिन ब्रह्म मुहूर्त में देवी को स्नान करवाकर श्रृंगार के उपरांत ही मंदिर श्रद्धालुओं के लिए खोला जाता है।

Source : Adib Zamali

देवी का योनिमुद्रापीठ दस सीढ़ी नीचे एक गुफा में स्थित है। यहां हमेशा अखंड दीपक जलता रहता है। यहां आने जाने का मार्ग भी अलग बना है। इस मेला के दौरान भक्तों को प्रसाद के रूप में एक गीला कपड़ा दिया जाता है। इसे अंबुबाचि वस्त्र कहते है।

कहते है कि देवी रजस्वला होने से पूर्व गर्भगृह स्थित महामुद्रा के आसपास सफेद वस्त्र बिछा दिए जाते है। तब यह वस्त्र माता के रज से रक्तवर्ण हो जाता है। उसी को भक्त प्रसाद के रूप में ग्रहण करते है। इस वस्त्र को धारण करके उपासना करने से भक्तों की सभी मनोकामना पूरी होती है। आश्चर्य की बात है कि इन तीन दिनों में ब्रह्मपुत्र का जल भी लाल हो जाता है। इस मेले में सैकड़ों तांत्रिक अपने एकांतवास से बाहर आते है और अपनी शक्तियों का प्रदर्शन करते है। इसी दिन से यहां के कृषक भी अपने खेतों में काम प्रारंभ करते है।

सुरक्षा के व्यापक प्रबंध

कामाख्या देवालय समिति की ओर से मेले को लेकर 400 स्वयंसेवक, 400 स्काउट एंड गाइड, 140 अर्धसुरक्षा बल, 120 स्थायी सुरक्षाकर्मी तैनात किए गये हैं। सभी आने जाने वाले श्रद्धालुओं पर नजर रखने के लिए 300 सीसीटीवी लगाए गये है। सभी व्यवस्था की निगरानी स्वयं मुख्यमंत्री कर रहे हैं।

 

Continue Reading

Uncategorized

महामुकाबले से पहले PAK को करारा जवाब, इस ऐड से लिया अभिनंदन का बदला, देखें VIDEO

Avatar

Published

on

पाकिस्तान की ओर से जैज़ टीवी ने भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का मजाक उड़ाते हुए भारत को इसका जवाब दिया. अब यू-ट्यूब पर वी सेवन पिक्चर्स नाम से एक ताजा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके माध्यम से पाकिस्तान को करारा जवाब दिया गया है.

भारत और पाकिस्तान के बीच मैनचेस्टर के ओल्ड टैफर्ड स्टेडियम में रविवार को होने वाले बहुप्रतीक्षित आईसीसी वर्ल्ड कप मैच से एक दिन पहले सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दोनों टीमों के ‘प्रतिनिधि’ एक-दूसरे का मजाक उड़ाते दिख रहे हैं, लेकिन अंत में जीत भारतीय फैन की होती है.

इससे पहले भी इस महामुकाबले को लेकर कई वीडियो वायरल हो चुके हैं. भारत में वर्ल्ड कप के प्रसारक स्टार स्पोर्ट्स ने ‘अब्बू’ वाला वीडियो क्या बनाया कि पाकिस्तान की ओर से जैज टीवी ने भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का मजाक उड़ाते हुए भारत को इसका ‘जवाब’ दिया.

अब यू-ट्यूब पर ‘वी सेवन पिक्चर्स’ नाम से एक ताजा वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके माध्यम से पाकिस्तान को करारा जवाब दिया गया है. 20 घंटे पहले यू-ट्यूब पर जारी इस वीडियो को अब तक 10 लाख 32 हजार 419 बार देखा जा चुका है.

इस काउंटर रिस्पांस वीडियो में एक भारतीय प्रशंसक सैलून में बैठकर युवराज सिंह की उस पारी का लुत्फ ले रहा है, जिसमें उन्होंने टी-20 विश्व कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ एक ओवर में छह छक्के लगाए थे.

भारतीय प्रशंसक कहता है कि इस पारी को हम हमेशा याद रखेंगे, लेकिन कुछ लोगों को हम भूल जाना चाहते हैं. इसी बीच एक पाकिस्तानी प्रशंसक सैलून में प्रवेश करता है और भारतीय प्रशंसक को एक तोहफा सौंपता है. पाकिस्तान प्रशंसक कहता है कि यह फादर्स दे (16 जून) पर उसकी ओर से तोहफा है. वह भारतीय प्रशंसक को ‘अब्बू’ (पिता) कहकर भी संबोधित करता है.

भारतीय प्रशंसक जब उस तोहफे को खोलता है तो उसमें से एक रूमाल निकलता है. भारतीय प्रशंसक जब पाकिस्तानी फैन से पूछता है कि यह क्या है तो उसे जवाब मिलता है कि ये रूमाल है. 16 को हारने के बाद यह रूमाल मुंह छुपाने के काम आएगा.

इसके बाद वह सैलून मालिक से बोलता है कि उसका शेव कर दे. साथ ही वह कहता है कि वैसे ये खेल बड़ा जालिम है क्योंकि इसमें एक दिन में ही बेटा बाप हो जाता है.

इस पर सैलून वाले और भारतीय फैन को झटका लगता है. सैलून चलाने वाले ने भारतीय फैन की ओर इशारों में देखा और दोनों के बीच चुपचाप कुछ संवाद होता है. इसके बाद बिना कुछ बोले उसकी दाढ़ी में से अभिनंदन स्टाइल की मूंछ निकाल दी. इस पर पाकिस्तानी फैन कहता है-ये क्या है यार. इस पर भारतीय फैन कहता है कि ये अभिनंदन कट है, हमारे हीरो का स्टाइल. इस पर पाकिस्तानी फैन कहता है कि वह हमारा हीरो नहीं.

पाकिस्तानी फैन कहता है कि बाहर मेरे दोस्त खड़े हैं, मैं मुंह कैसे दिखाऊंगा तो भारतीय फैन उसे रूमाल सौंपते हुए कहता है कि ये ले ये मुंह छुपाने के काम आएगा. साथ ही वह कहता है कि बड़ा जालिम खेल है ये, सिर्फ एक दिन लगता है बाप को बेटे को समझाने में कि तेरी किस्मत में वर्ल्ड कप नहीं, अभिनंदन का जूठा कप ही रहेगा.

विश्व कप में सातवीं बार भिड़ने जा रही भारत और पाकिस्तान की टीमों के बीच जब भी विश्व कप मुकाबले हुए हैं, वीडियो वायरल हुए हैं, इससे पहले, ‘मौका-मौका’ वीडियो खूब वायरल हुए था. इस साल 30 मई को शुरू हुए विश्व कप के पहले से ही कई वीडियो वायरल हो रहे हैं, जिनमें स्टार स्पोर्ट्स ने अलग-अलग टीमों पर भारतीय वर्चस्व को दिखाने की कोशिश की है.

स्टार स्पोर्ट्स क्रिकेट इवेंट्स के प्रोमोशन के लिए लगातार ऐसे वीडियो बनाता रहा है. भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच भारत में खेली गई सीरीज से पहले बेबीसीटर वाला वीडियो भी काफी सराहा गया था.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
MUZAFFARPUR8 hours ago

आधुनिक तकनीक से टंकी की सफाई अब अपने शहर में भी

BIHAR10 hours ago

अब मुनिया नहीं बनेगी परिवार पर बोझ, जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च उठाएगी सरकार

MUZAFFARPUR10 hours ago

दिनदहाड़े बाइक सवार अप’राधियों ने सेंट्रल बैंक के सीएसपी से दो लाख लू’टे

INDIA13 hours ago

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

BIHAR15 hours ago

मीरा देवी बनी पटना नगर निगम की उपमहापौर, लॉटरी से हुआ चुनाव

BIHAR15 hours ago

बदले गए बिहार के राज्यपाल, लालजी टंडन की जगह लेंगे फागू चौहान

MUZAFFARPUR16 hours ago

पहली साेमवारी काे पुष्प, दूसरी काे चावल से, तीसरी काे फल व चाैथी काे पान के पत्ते से होगा बाबा गरीबनाथ का महाशृंगार

MUZAFFARPUR18 hours ago

अस्पतालों, स्कूल-काॅलेजों के पास दिन में भी ध्वनि प्रदूषण फैलाने पर लगेगी राेक, सख्ती की तैयारी में जिला प्रशासन

BIHAR19 hours ago

जयनगर इंटरसिटी और गरीब रथ में हो सकती थी टक्कर, ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकी ट्रेन

BIHAR21 hours ago

दरभंगा एयरपोर्ट के लिए 121 करोड़

INDIA4 weeks ago

पूरे देश में एक जैसा होगा लाइसेंस, राज्य नहीं कर पाएंगे कोई बदलाव

BIHAR7 days ago

सुबह में ढोयी बालू की बोरियां, शाम में लग गए एनडीआरएफ के साथ… ऐसे हैं डीएम साहब

BIHAR5 days ago

बिहार में पहली बार पुलिसकर्मियों पर हुई बड़ी कार्रवाई, 3 DSP, 50 इंस्पेक्टर सहित 66 पर FIR

BIHAR4 days ago

पटना पहुंचे रितिक रोशन, आनंद कुमार के पैर छुए, कहा- लगता है पिछले जन्म में मैं बिहारी ही था

MUZAFFARPUR3 weeks ago

मुजफ्फरपुर में सरकारी राशि की मची है लूट, मनरेगा योजना में मजदूरों के बदले चल रहे JCB और टैक्टर

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : लड़की ने किया सु’साइड, कूद गई पानी की टंकी से

MUZAFFARPUR4 weeks ago

DM ने बढ़ाई स्कूल खुलनें की तारीख, सभी सरकारी-गैर सरकारी मे जारी रहेगा धारा 144

BIHAR3 weeks ago

बिहार में मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, इन जिलों में भीषण बारिश और आंधी

INDIA3 weeks ago

चलते वाहन की चाबी नहीं निकाल सकती पुलिस, सिर्फ इनका है चालान करने का अधिकार

MUZAFFARPUR2 weeks ago

पब्लिक ट्रांसपोर्ट : Hello My Taxi ने मुजफ्फरपुर कैब के साथ शुरू की कैब सर्विस

Trending

0Shares