Connect with us
leaderboard image

BIHAR

नीतीश कुमार के 6 मास्टरस्ट्रोक… और धराशायी हो गए सब! पढ़ें, कैसे बदला सियासत का गणित

Md Sameer Hussain

Published

on

पटना. जिस CAA, NRC और NPR को लेकर विपक्ष पिछले कुछ दिनों से हो-हल्ला कर रहा था और सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को लगातार टारगेट कर रहा था, नीतीश ने उन सभी हमलों की धार को मंगलवार को विधानसभा सत्र के दूसरे दिन अपने मास्टरस्ट्रोक (Masterstroke) से एक दिन में ही कुंद कर दिया.

CAA पर विपक्ष की बोलती बंद

जिस CAA को लेकर आरजेडी के नेता लगातार हमला कर रहे थे. नीतीश ने उस हमले की धार को ये कहकर कुंद कर दिया कि 2003 में CAA को लेकर बनी स्टैंडिंग कमिटी में लालू प्रसाद भी थे. नीतीश ने कहा कि सीएए का प्रस्ताव 2003 में आया था. तब कांग्रेस के लोगों ने इसका समर्थन किया था. सीएए बनाने वाली कमिटी में लालू प्रसाद भी सदस्य थे. इस कमिटी में NRC पर भी चर्चा हुई थी. जाहिर है नीतीश के इस मास्टरस्ट्रोक के बाद आरजेडी के पास कोई जवाब नहीं बचा.

NRC पर पीएम के बहाने ‘ना’

नीतीश ने NRC पर पीएम नरेंद्र मोदी के ही बयान को पढ़ते हुए बिहार में NRC नहीं लागू करने की बात दोहराई. सीएम नीतीश ने पीएम मोदी के 22 दिसंबर 2019 के दिल्ली में दिए भाषण का हवाला देते हुए कहा कि जब से मेरी सरकार आई है, NRC पर कोई चर्चा नहीं हुई है. उन्होंने ये भी दावा किया कि बिहार में NRC लागू नहीं होगी और इसका प्रस्ताव विधानसभा से पारित भी करवा लिया. नीतीश ने इस मास्टरस्ट्रोक से न सिर्फ विपक्ष, बल्कि बीजेपी को भी साध लिया.

NPR के मुद्दे की निकाली हवा

विपक्ष की ओर से उछाले जा रहे NPR के मुद्दे की भी नीतीश कुमार ने न सिर्फ हवा निकाल दी, बल्कि डिप्टी सीएम सुशील मोदी और बीजेपी नेताओं के सामने मोदी सरकार की ओर से लाए जा रहे NPR के नए फॉर्मेट में तमाम खामियां गिना दी. नीतीश ने NPR को 2010 के प्रारूप में ही लागू करने की बात कही.मोदी सरकार के खिलाफ भी, बीजेपी का साथ भी
नीतीश ने मोदी सरकार के फैसले के खिलाफ जाते हुए भी बीजेपी को साथ रखने की चाल चली. नीतीश ने NPR को लेकर केंद्र सरकार को लिखी गई चिट्ठी का जिक्र करते हुए ये भी बता दिया कि जिस राजस्व विभाग से चिट्ठी भेजी गई, उसके मंत्री बीजेपी के ही विधायक हैं.

प्रस्ताव से किया सबको पस्त

नीतीश ने सदन से NPR और NRC पर सदन से सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित कराकर एक तीर से दो निशाना साधा. न सिर्फ विपक्ष को चित कर दिया, बल्कि बीजेपी नेताओं को भी साथ ले लिया. मजबूरी ही सही, प्रस्ताव का साथ देने के बाद बीजेपी नेताओं को अब NRC और NPR पर अलग लाइन लेने का मौका नहीं मिलेगा.

जातीय जनगणना की मांग दोहराई

नीतीश ने न सिर्फ CAA, NRC, NPR जैसे मुद्दों की हवा निकाल दी, बल्कि जातीय जनगणना की मांग कर सियासी बाजी मार ली.

समझिए नीतीश के मास्टरस्ट्रोक के मायने

1. CAA को CM नीतीश का ‘खुल्लमखुल्ला’ समर्थन देकर बीजेपी के साथ दोस्ती की मजबूती पर मुहर लगा दी.

2. NPR और NRC पर नीतीश ने अपनी शर्तों पर चलने का फैसला किया, जिसका साथ बीजेपी ने दिया.

3. केंद्र के फैसले से उलट बिहार में NPR, 2010 के फार्मेट में लागू होगा, फिर भी बीजेपी, नीतीश के साथ.

4. गठबंधन बचाने के लिए जरूरत पड़ने पर नीतीश और बीजेपी दोनों एक कदम पीछे लेने को तैयार हैं.

6. मुस्लिमों को नीतीश ने संदेश दे दिया कि बीजेपी के साथ रहकर भी उनकी बातों का पूरा ख्याल रखेंगे.

7. CAA पर मनमोहन सरकार के दौरान की कमिटी का जिक्र कर विपक्ष के हमले की धार को कुंद कर दिया.

8. NRC लागू नहीं करने और NPR पर प्रस्ताव पारित कर चुनावी साल में विपक्ष को मुद्दाविहीन कर दिया.

चुनावी साल में बिहार की सियासत के माहिर खिलाड़ी माने जाने वाले नीतीश को हरा पाना विपक्ष के लिए आसान नहीं होने वाला है. वहीं बीजेपी भी बखूबी जानती है कि सत्ता में रहने के लिए नीतीश के साथ देने के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं. जाहिर है नीतीश कुमार को बिहार की सियासत का चाणक्य यूं ही नहीं कहा जाता है.

Input : News18

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की RMRI में 29 मार्च से होगी जांच

Santosh Chaudhary

Published

on

कोरोना के कारण लॉक डाउन का एलान किया गया है. कोरोना से बचाव के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार ने कई कदम उठा रहा है. बिहार सरकार ने विदेशी यात्रियों को लेकर बड़ा फैसला लिया है. विदेशों से बिहार लौटे सभी यात्रियों की सरकार ने पहचान कर अब मेडिकल जांच कराने की तैयारी कर रही है.

बिहार सरकार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने कहा है कि हाल के दिनों में जो भी विदेशों से बिहार लौटे हैं, उन सबकी मेडिकल जांच कराई जाएगी. यही नहीं मुख्य सचिव ने यह भी कहा कि सरकार के पास इस बात की पूरी जानकारी है कि पिछले कुछ दिनों में कितने लोग विदेशों से बिहार आए हैं और उन सभी की पहचान भी हो गई है. दीपक कुमार ने कहा कि पटना के राजेंद्र मेडिकल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट में 29 मार्च से इन सभी की मेडिकल जांच होगी और इन लोगों को तत्काल कोरोंटाइन में रखा गया है.

हालांकि मुख्य सचिव ने इस बात की जानकारी नहीं दी कि हाल के दिनों में विदेशों से अब तक कितने लोग बिहार लौटे हैं. गौरतलब है कि कतर से बिहार लौटे सैफ अली भी इन विदेशी यात्रियों में से एक था जिसकी 20 मार्च को कोरोना से मौत हो गई थी. सैफ अली के संपर्क में आने की वजह से अब तक चार लोगों में कोरोना का पॉजीटिव लक्षण पाया गया है.

Input : Live Cities

 

Continue Reading

BIHAR

मुजफ्फरपुर में निराश्रय और दूसरे राज्यों के फंसे लोगों के लिए आपदा प्रबंधन ने की विशेष व्यवस्था

Arvind Akela

Published

on

कोरोना वायरस से संक्रमण की रोकथाम हेतु हर स्तर पर तैयारी की जा रही है। प्रशासन अलर्ट है।जिले में लॉक डाउन की स्थिति को देखते हुए जिला आपदा प्रबंधन भी अलर्ट मोड में है। आपदा प्रबंधन मुजफ्फरपुर द्वारा निराश्रय औऱ दूसरे प्रदेशों के फंसे हुए व्यक्तियों के लिए चंदवारा स्थित आश्रय स्थल में मुफ्त आवासन और भोजन की व्यवस्था की गई है। इसके अतिरिक्त कांटी और साहेबगंज में भी उनके लिए मुफ्त आवासन एवं भोजन की व्यवस्था की जा रही है, ताकि लॉक डाउन की स्थिति में ऐसे लोगो को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। इस संबंध में आज जिलाधिकारी,नगर आयुक्त एवं अपर समाहर्ता आपदा ने चंदवारा स्थित आश्रय स्थल का निरीक्षण किया एवं वहां की व्यवस्था का जायजा भी लिया। जिलाधिकारी ने कहा है कि लॉक डाउन की स्थिति में किसी भी लाचार, बेबस निराश्रित एवं बाहर से फंसे हुए व्यक्तियों को दिक्कत नहीं होने दी जाएगी। इस बाबत जिला प्रशासन माकूल तैयारियों को अंजाम देने में लगा हुआ है। साथ ही उन्होंने अपील किया कि कोरोना वायरस से संक्रमण की रोकथाम हेतु सरकार द्वारा लॉक डाउन किया गया है। इस लॉक डाउन को हम सभी मिलकर सौ प्रतिशत सफल बनाएं |

 

Continue Reading

MUZAFFARPUR

वीडियो : कोरोना से जंग में, संदिग्ध मरीजों की जाँच के लिये, एक मुखिया का प्रशासन से गुहार

Abhishek Ranjan Garg

Published

on

– बिहार में ताजा आंकड़ा के अनुसार कोरोना पॉजिटिव मरीज की संख्या 10 हो चुकी है, कोरोना वायरस के प्रति लोगो मे डर का माहौल बढ़ता जा रहा है, ऐसे में मुजफ्फरपुर जिला के सरैया प्रखंड स्थित दातापुर पचभिरवा के मुखिया चिदानंद द्विवेदी का लाचारी भरा वीडियो सामने आया है, जिसमें वर्तमान मुखिया बताते है कि उनके पंचायत में 57 लोग अन्य राज्य से आये है, जिनको उन्होंने चिन्हित कर जानकारी प्रखंड स्तरीय अधिकारियों को दी, लेक़िन वहां से उन्हें उदासीनता हाथ लगी और जांच नहीं हो सका, इसी बीच ग्रामीणों द्वारा सुमित नाम के युवक की जानकारी मिली जो गुजरात से आया है और वो बहुत बीमार है, ग्रामीण डरे हुए है और बीमारी को लेकर घबराहट में है.

देखे वीडियो :

मुजफ्फरपुर नाउ से बातचीत में दातापुर पंचभिरवा के मुखिया चिदानन्द बताते है कि उन्हें प्रशासन से कोई ठोस मदद ना मिलने के बाद अपना वीडियो जारी किया ताकी संबंधित महकमों तक उनकी बात पहुँच सके, इस दौरान मुखिया जी ने 104 नंबर पर कॉल कर भी इस बात की जानकारी दी इसके बाद 2 युवक मरीज़ का नाम नोट कर के ले गये, लेकिन उनके द्वारा किसी भी प्रकार का कोइ भी जाँच सैम्पल नही लिया गया.

संदिग्ध मरीज़ो की जांच ना होने से ग्रामीण में भय का मौहाल है, मुखिया चिदानंद द्विवेदी का कहना है कि जल्द से जल्द बाहर से उनके गांव में आये लोगों की जांच हो, जबतक जांच नहीं हो जाता तबतक ग्रामीण डर के मौहाल में जी रहे है.

ग्रामीणों का डर वाजिब भी है क्योंकि इस संक्रमण से लड़ाई में सतर्कता बहुत जरूरी है, प्रशासन को ऐसे मामलो में तुरंत जांच करवाना चाहिए, ऐसे में हर आदमी की जिम्मेदारी है कि बाहर से आये लोगो का यथाशीघ्र जांच करवाये, एक भी मरीज बहुतों को नुकसान पहुचाने के लिए काफी है, ऐसे में दातापुर पंचभिरवा के मुखिया द्वारा जारी इस वीडियो की हर जगह प्रशंसा हो रही है, ध्यान रहे महामारी की इस विकट परिस्थिति में सतर्कता ही बचाओ है।

 

Continue Reading
INDIA3 hours ago

BCCI ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दिए 51 करोड़ रुपये

INDIA3 hours ago

10 सरकारी बैंकों के विलय को RBI की मंजूरी, ये बैंक होगा देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक

BIHAR4 hours ago

विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की RMRI में 29 मार्च से होगी जांच

BIHAR4 hours ago

मुजफ्फरपुर में निराश्रय और दूसरे राज्यों के फंसे लोगों के लिए आपदा प्रबंधन ने की विशेष व्यवस्था

MUZAFFARPUR5 hours ago

वीडियो : कोरोना से जंग में, संदिग्ध मरीजों की जाँच के लिये, एक मुखिया का प्रशासन से गुहार

BIHAR5 hours ago

सभी प्रखंडस्तरीय पदाधिकारी अपना आवासन प्रखण्ड मुख्यालय में ही रहे :डीएम

INDIA5 hours ago

कोरोना के खिलाफ जंग में अक्षय कुमार ने बढ़ाया मदद का हाथ, दान किए 25 करोड़ रुपए

INDIA6 hours ago

टाटा ट्रस्ट्स के 500 करोड़ रुपये के अलावा टाटा संस ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए दिए अतिरिक्त 1000 करोड़ रुपये

INDIA6 hours ago

ऋषि कपूर की अपील- सरकार शाम को खोले शराब की दुकान, लॉकडाउन में दूर होगा स्ट्रेस

INDIA6 hours ago

कोरोना वायसस से लड़ने के लिए रतन टाटा ने 500 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की

BIHAR1 day ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA6 days ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA2 days ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR2 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

BIHAR3 days ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA3 weeks ago

आज होगी देश की सबसे महंगी शादी, 500 पंडित पढ़ेंगे मंत्र

BIHAR4 days ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending