Connect with us

BIHAR

पूजा पंडालों में मां के दर्शन को दिखाना होगा कोरोना टीकाकरण का प्रमाण पत्र

Published

on

शिवहर में इस बार नवरात्र में भक्तों के लिए मां के दर्शन की राह आसान नहीं होगी। श्रद्धालुओं को मां के दर्शन को पंडालों में प्रवेश के पहले ही कोरोना टीकाकरण का प्रमाण देना होगा। पंडाल के गेट पर तैनात वालंटियर या प्रशासनिक टीम को बताना होगा कि, उन्होंने कोरोना का टीकाकरण कराया है। प्रमाण के रूप में टीकाकरण प्रमाण पत्र की हार्ड कापी दिखानी होगी या फिर मोबाइल में अपलोड प्रमाण पत्र दिखाने के बाद ही उन्हें प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में यह प्रशासनिक व्यवस्था की गई है। एसडीओ ने सभी पूजा समितियों के साथ बैठक कर यह आदेश जारी किया है। इसके अलावा पूजा के लिए प्रशासनिक स्वीकृति लेने के लिए भी अध्यक्ष-सचिव समेत सदस्यों को आवेदन के साथ टीकाकरण का प्रमाण पत्र सौंपना पड़ेगा। साथ ही इस बार सार्वजनिक स्थानों पर भी आयोजन नहीं होगा।

Advertisement

मंदिरों में ही प्रतिमा की स्थापना कर पूजा अर्चना की जाएगी। पंडालों का स्वरूप भी छोटा होगा। भीड़ के दौरान शारीरिक दूरी का पालन और मास्क की अनिवार्यता रहेगी। डीजे का उपयोग पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा। डीजे बजाने पर न केवल संबंधित पूजा समिति के अध्यक्ष के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी बल्कि डीजे संचालक भी लपेटे में होंगे। उनके खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज कर गिरफ्तारी की जाएगी। प्रशासनिक टीम की नजर पूरे आयोजन पर रहेगी।

इसके लिए दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी और पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। एसडीओ मो. इश्तियाक अली अंसारी ने बताया कि, जिले से अभी कोरोना संक्रमण का खतरा गया नहीं है। तीसरी लहर की आशंका व्यक्त की जा रही है। नवरात्र के दौरान पूजा पंडालों में भारी भीड़ उमड़ती है। ऐसे में भीड़ किसी संक्रमित के पहुंचने से संक्रमण का प्रसार हो सकता है। लिहाजा, टीकाकरण का प्रमाण देने की व्यवस्था की गई है। जबकि, पंचायत चुनाव के चलते जिले में धारा 144 लागू है। ऐसे में इसका अनुपालन कराया जाएगा।

Advertisement

Source: Live Hindustan

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

Advertisement

biology-by-tarun-sir

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

BIHAR

बिहार में चुनाव से पहले फिर होगा बड़ा उलटफेर : प्रशांत किशोर

Published

on

बिहार में जन सुराज अभियान के तहत समस्तीपुर पहुंचे प्रशांत किशोर ने नई नवेली महागठबंधन सरकार पर जमकर निशाना साधा है। पीके ने नीतीश कुमार पर हमला करते हुए कहा कि बिहार में चुनाव से पहले फिर बड़ा उलटफेर हो सकता है। उन्होंने कहां की मौजूदा सरकार अगर अगले 2 साल में 10 लाख नौकरियां दे देती है तो मै समर्थन में अपना अभियान वापस ले लूंगा। उन्होंने कहा कि जो नियोजित शिक्षक स्कूलों में पढ़ा रहे हैं, उन्हें तो समय पर तनख्वाह दे नहीं पा रही ये सरकार और नई नौकरियां कहां से दे पाएगी।

नीतीश कुमार कुर्सी से नही उठने वाले

Advertisement

प्रशांत किशोर ने कहा, ‘अभी हमको आए हुए 3 महीने ही हुए और बिहार की राजनीति 180 डिग्री घूम गई। अगला विधानसभा चुनाव आते-आते अभी कई बार बिहार की राजनीति घूमेगी। नीतीश कुमार फेवीकॉल लगाकर अपनी कुर्सी पर बैठ गए हैं और बाकी की पार्टियां कभी इधर तो कभी उधर होती रहती है।’

nps-builders

‘ये सरकार जुगाड़ पर चल रही है’

Advertisement

जनता ने इस सरकार को वोट नहीं दिया था। ये सरकार जुगाड़ पर चल रही है, इसे जनता का विश्वास प्राप्त नहीं है।” उन्होंने 2005 से 2010 के बीच एनडीए सरकार के काम की प्रशंसा भी की। इससे पहले हाल ही में बिहार में नीतीश कुमार के पालाबदल पर प्रशांत किशोर ने अहम टिप्पणी की थी, प्रशांत किशोर ने कहा था कि नीतीश कुमार ने 10 सालों में यह छठा प्रयोग किया है। उन्होंने कहा कि इससे उनकी राजनीतिक स्थिति पर भी असर होगा,उन्होंने कहा कि यह संभावनाओं की भी बात है ऐसा नहीं है कि उनका नुकसान नहीं हुआ है, 115 विधायकों वाली पार्टी अब 43 पर आ गई है।

प्रशांत किशोर भी राजनीति में उतरने की कर रहे तैयारी

Advertisement

बिहार में जेडीयू और भाजपा की राहें अलग होने के बाद पार्टी प्रमुख नीतीश कुमार ने महागठबंधन की सरकार में आठवीं बार बिहार के सीएम के तौर पर शपथ ली। वहीं, दूसरी ओर चुनावी रणनीतिकार और नीतीश कुमार के साथ काम कर चुके प्रशांत किशोर  भी सक्रिय राजनीति में उतरने की तैयारी कर रहे हैं। पीके इन दिनों अपनी पार्टी खड़ी करने की तैयारी में जुटे हुए हैं। मई 2022 में शुरू किए गए ‘जन सुराज’ यात्रा के जरिए पीके ने अपनी पार्टी को आकार देना शुरू कर दिया है। उनका दावा है कि वह बिहार को एक ऐसा राजनीतिक विकल्प देने का प्रयास कर रहे हैं जो जाति की राजनीति से ऊपर बिहार के पिछड़ेपन के पीछे के मूल मुद्दों तक पहुंच सके।

Source : Asianet News

Advertisement

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

बिहार में चल रहा था फर्जी थाना, चौकीदार से लेकर दारोगा तक सब नकली

Published

on

बांका. बिहार में फर्जी पुलिसवाले तो पकड़ाते रहे हैं, इस बार पूरा का पूरा एक थाना ही फर्जी पाया गया. यह फर्जी थाना पिछले 8 महीने से इलाके में एक्टिव था और लोगों से पैसे ऐंठ रहा था. आश्चर्य की बात है कि जिला मुख्यालय में चल रहे इस फर्जी थाने की किसी को कानों कान खबर नहीं थी. बता दें कि यह फर्जी थाना बांका शहर के एक निजी गेस्ट हाउस की में चल रहा था.

nps-builders

इस बारे में बांका थानाध्यक्ष ने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर किसी अपराधी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस गई थी. जब वह छापेमारी कर थाना लौट रही थी तो उसी समय बांका गेस्ट हाउस के सामने सड़क पर एक अनजान महिला और युवक पुलिस ड्रेस में दिखे. शक के आधार पर जब उनसे पूछताछ की गई तो फर्जी थाने का मामला सामने आया. थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार महिला अनिता खुद को दारोगा बता रही थी और वह बिहार पुलिस के फुल ड्रेसअप में थी. उसके पास से एक अवैध पिस्टल भी बरामद हुआ है. जबकि पकड़े गए दूसरे आरोपी का नाम आकाश कुमार है. वह खुद को थाने का चौकीदार बता रहा था. गिरफ्तार अनिता बांका जिले के फुल्लीडुमर के दुधघटिया की रहने वाली है. उसने बताया कि फुल्लीडुमर के भोला यादव ने दारोगा में भर्ती कर बांका के इस कार्यालय में तैनात किया था.

Advertisement

अपने काम के बारे में अनिता ने बताया कि जहां कहीं भी सरकारी आवास वगैरह बनते थे, वहां जांच करने के लिए वह जाती थी. वहीं, गिरफ्तार आकाश के मुताबिक, भोला यादव को 70 हजार रुपए देकर वह फर्जी थाने में चौकीदार की नौकरी कर रहा था. थानाध्यक्ष के मुताबिक, इस कार्यालय में बहाल सभी कर्मियों को पुलिस वर्दी और अवैध पिस्टल उपलब्ध कराने में फुल्लीडुमर के भोला यादव का नाम मुख्य सरगना के रूप में सामने आ रहा है.

इस मामले की पुष्टि करते हुए एसपी डॉ. सत्य प्रकाश ने बताया कि जालसाजों का यह गिरोह पटना स्कॉर्ट टीम के नाम से बांका में एक कार्यालय संचालित करता था. यहां से पुलिस वर्दी में कुछ संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारी हुई है. फर्जी कार्यालय से कुछ कागजात के साथ ही बिहार पुलिस की वर्दी, बैच सहित अन्य सामान जब्त किए गए हैं. एसपी की मानें तो इस गिरोह से जुड़े लोग ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को पुलिस की नौकरी का झांसा देकर पैसे ठगते थे. इस मामले की गहराई से जांच की जा रही है. फिलहाल बांका पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई शुरू करते हुए प्राथमिकी दर्ज करने की तैयारी में है.

Advertisement

Source : News18

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

कार्तिकेय सिंह के आरोप पर लालू यादव का बयान, बोले.. ऐसा कोई मामला नहीं, झूठे हैं सुशील मोदी

Published

on

बिहार में महागठबंधन की नई सरकार बनने के कुछ समय बाद ही कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर विवाद हो गया। बीजेपी नेता और पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने आरजेडी और नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला है। बिहार में जंगलराज की वापसी के आरोप लगाए हैं। इस पर आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने सुशील मोदी को झूठा करार दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसा कोई मामला नहीं हैं। लालू यादव बुधवार शाम को दिल्ली से पटना पहुंच रहे हैं।

nps-builders

दिल्ली स्थित बेटी मीसा भारती के घर से एयरपोर्ट जाते वक्त लालू यादव को मीडियाकर्मियों ने घेर लिया। मीडिया ने उनसे बिहार के मौजूदा राजनितिक घटनाक्रमों पर सवाल पूछे। साथ ही कहा कि सुशील मोदी लगातार उनकी पार्टी पर हमला बोल रहे हैं। इस पर लालू यादव ने कहा, ‘सुशील मोदी झूठा आदमी है। ऐसा कोई मामला नहीं है।’ साथ ही लालू यादव से जब लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि हमें तानाशाही सरकार को हटना है, मोदी को हटाना है।

Advertisement

सरकार बनने के बाद पहली बार पटना आ रहे लालू

बता दें कि लालू यादव बुधवार शाम को विमान के जरिए पटना पहुंच रहे हैं। महागठबंधन सरकार बनने के बाद वे पहली बार बिहार आ रहे हैं। उनके मंगलवार को मंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह में आने का कार्यक्रम था, लेकिन तबीयत ठीक नहीं होने के चलते वे पटना नहीं पहुंच पाए।

Advertisement

दूसरी ओर, नए कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह उर्फ कार्तिक कुमार को लेकर बिहार की राजनीति गर्माई हुई है। कार्तिकेय सिंह आरजेडी एमएलसी हैं और पूर्व विधायक एवं बाहुबली नेता अनंत सिंह के करीबी माने जाते हैं। उनके आरजेडी चीफ लालू यादव से भी अच्छे संबंध हैं। कार्तिकेय के खिलाफ पटना के बिहटा में राजू बिल्डर के अपहरण का केस दर्ज है।

Source : Hindustan

Advertisement

Genius-Classes

Continue Reading
BIHAR9 hours ago

बिहार में चुनाव से पहले फिर होगा बड़ा उलटफेर : प्रशांत किशोर

WORLD9 hours ago

ट्वीट करने की वजह से युवती को दी गई 34 साल कैद की सजा

BIHAR9 hours ago

बिहार में चल रहा था फर्जी थाना, चौकीदार से लेकर दारोगा तक सब नकली

WORLD13 hours ago

रूस से भारत के तेल खरीदने पर यूक्रेन के विदेश मंत्री की तीखी टिप्पणी, कहा- तेल की हर बूंद में हमारा खून मिला है

BIHAR16 hours ago

कार्तिकेय सिंह के आरोप पर लालू यादव का बयान, बोले.. ऐसा कोई मामला नहीं, झूठे हैं सुशील मोदी

BIHAR17 hours ago

अपहरण के आरोप में घिरे बिहार के कानून मंत्री पर आया बड़ा अपडेट, विपक्ष ने घेरा

BIHAR18 hours ago

कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को तुरंत बर्खास्त करें सीएम नीतीश : सुशील मोदी

BIHAR19 hours ago

कानून मंत्री के खिलाफ किडनैपिंग केस में अरेस्ट वारंट पर सीएम नीतीश का बड़ा बयान

BIHAR21 hours ago

बिहार के लिए बीजेपी ने कर ली तैयारी, सितंबर तक नया प्रदेश अध्यक्ष; नीतीश कुमार के वोट बैंक पर भी नजर

INDIA21 hours ago

पत्नी की दूसरी महिलाओं से तुलना करना क्रूरता है : हाई कोर्ट

job-alert
BIHAR3 weeks ago

बिहार: मैट्रिक व इंटर पास महिलाएं हो जाएं तैयार, जल्द होगी 30 हजार कोऑर्डिनेटर की बहाली

BIHAR4 weeks ago

बिहार में तेल कंपनियों ने जारी की पेट्रोल-डीजल की नई दरें

BIHAR2 weeks ago

बीपीएससी 66वीं रिजल्ट : वैशाली के सुधीर बने टॉपर ; टॉप 10 में मुजफ्फरपुर के आयुष भी शामिल

BIHAR2 weeks ago

एक साल में चार नौकरी, फिर शादी के 30वें दिन ही BPSC क्लियर कर गई बहू

BUSINESS2 weeks ago

पैसों की जरूरत हो तो लोन की जगह लें ये सुविधा; होगा बड़ा फायदा

BIHAR2 weeks ago

ग्राहक बन रेड लाइट एरिया में पहुंची पुलिस, मिली कॉलेज की लड़किया

BIHAR4 weeks ago

बिहार : अब शिकायत करें, 3 से 30 दिनों के भीतर सड़क की मरम्मत हाेगी

INDIA2 weeks ago

बुढ़ापे का सहारा है यह योजना, हर दिन लगाएं बस 50 रुपये और जुटाएं ₹35 लाख फंड

BIHAR2 weeks ago

बीपीएससी 66 वीं के रिजल्ट में परफेक्शन आईएएस के 131 अभ्यर्थी सफल..

BIHAR24 hours ago

मुजफ्फरपुर : कविता का पार्थिव शरीर पहुंचा, फूट-फूट कर राेईं महिला सिपाही

Trending