Connect with us

INDIA

भदोही में प्रशासन ने न लगने दी फूलन देवी की मूर्ति, कब्जे में लिया; बोले सहनी- योगी सरकार PM के अनुकूल नहीं कर रही काम

Published

on

उत्तर प्रदेश में भदोही जिले के अमिलहरा में प्रशासन ने विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) को रविवार को पूर्व सांसद फूलन देवी की पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा स्थापित नहीं करने दी।

प्रशासन ने प्रतिमा को अपने कब्‍जे में ले लिया और इसका अनावरण करने आ रहे वीआईपी अध्‍यक्ष और बिहार सरकार के मंत्री मुकेश साहनी को वाराणसी हवाई अड्डे से ही वापस लौटा दिया। वीआईपी चीफ पत्रकारों से वह बोले, “हमारा कार्यक्रम तय था, पर यूपी में योगी सरकार ने कार्यक्रम रद्द कर दिया। फिर भी निषाद भाइयों ने शांतिपूर्ण ढंग से प्रोग्राम किए। मुझे भी बनारस जाना था, लेकिन एयरपोर्ट से बाहर निकलने नहीं दिया गया। कलकत्ता होते हुए मैं पटना पहुंचा। कहीं न कहीं यूपी सरकार पीएम के अनुकूल नहीं चल रही है। पीएम मोदी का कहना है कि ‘सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास’, पर यूपी में पिछड़ी जाति के लोगों को सुना नहीं जा रहा। उनके हक और अधिकारों को रौंदा जा रहा है। फूलन देवी की प्रतिमा पर फूल नहीं चढ़ाने दिया गया। यह खेदजनक है।”

बकौल सहनी, “पीएम मोदी और सीएम योगी को इस मसले पर सोचना चाहिए। रही उनकी राजनीति, तो वह उन्हें ही मुबारक हो। हमने तो निर्णय ले लिया है कि 165 सीट पर यूपी में विस चुनाव लड़ेंगे। आने वाले समय में घर घर तक फूलन देवी और उनके विचारों को पहुंचाना हमारा मकसद है। हम पिछड़े समाज से हैं और संघर्ष करते हुए आगे बढ़ेंगे। आने वाले समय में यूपी में सरकार बनाएंगे और मूर्तियां स्थापित करेंगे।”

उधर, भदोही के पुलिस अधीक्षक राम बदन सिंह ने रविवार को बताया कि विकासशील इंसान पार्टी के तत्‍वावधान में अमिलहरा गांव में फूलन देवी की प्रतिमा स्थापित की जानी थी लेकिन प्रशासन ने उसे अपने कब्जे में ले लिया। भदोही के उप जिला अधिकारी आशीष कुमार ने बताया कि प्रतिमा स्थापित करने के लिए न तो कोई अनुमति दी गई थी और न ही कोई आवेदन किया गया था। कुमार के अनुसार अमिलहरा गांव में जिस जगह प्रतिमा स्थापित की जा रही थी वह ग्राम समाज की भूमि है।

दूसरी तरफ वीआईपी के जिला अध्यक्ष रमाकांत केवट ने कहा कि 25 जुलाई को फूलन देवी की पुण्यतिथि पर पार्टी एक प्रतिमा स्थापित करना चाहती थी जिसका नवारण पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश साहनी को करना था लेकिन जिले की पुलिस ने प्रतिमा अपने कब्ज़े में ले ली है।

पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य गिरजा शंकर केवट ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार जातिवादी मानसिकता में लिप्त हो गई है। दोनों पदाधिकारियों ने चेतावनी दी है कि इस मामले को लेकर पार्टी चुप नहीं बैठेगी और सड़क से लेकर संसद तक आंदोलन किया जायेगा।

पूर्व दस्यु सुंदरी फूलन देवी भदोही से समाजवादी पार्टी (सपा) की सांसद चुनी गई थीं और 25 जुलाई 2001 को दिल्‍ली में उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। बिहार सरकार के मंत्री मुकेश साहनी ने यहां सुरयावा इलाके में फूलन देवी की एक बड़ी प्रतिमा लगाने की घोषणा की थी।

भदोही के पुलिस अधीक्षक सिंह ने बताया कि रविवार को यहां आ रहे साहनी को वाराणसी हवाई अड्डे से ही बाहर नहीं निकलने दिया गया और उन्‍ह‍ें वापस बिहार भेज दिया गया है। सिंह ने बताया कि फूलन देवी की आदमकद प्रतिमा को भी अगले दो-तीन दिन में बिहार भेज दिया जाएगा क्‍योंकि यह प्रतिमा बिहार से ही बनकर आई थी।

उधर, बलिया से मिली खबर के अनुसार मुकेश साहनी द्वारा भेजी गई फूलन देवी की प्रतिमा को बलिया जिला प्रशासन ने शनिवार को अपने कब्जे में ले लिया। बांसडीह के पुलिस उपाधीक्षक भूषण वर्मा ने बताया कि साहनी द्वारा जिले के बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के हालपुर गांव में फूलन देवी की प्रतिमा को स्थापित करने के लिए भेजा गया था।

उन्होंने बताया कि प्रशासन ने प्रतिमा को लोगों से बातचीत कर और उन्हें समझाकर अपने कब्जे में ले लिया है। हालांकि विकासशील इंसान पार्टी, बलिया के जिलाध्यक्ष हरे राम साहनी ने प्रशासन की कार्रवाई पर आक्रोश व्यक्त किया। उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘फूलन देवी की पुण्‍यतिथि के मौके पर प्रतिमा स्‍थापित होनी थी और हम लोग अपनी निजी भूमि पर इसे स्थापित करना चाहते थे, लेकिन प्रशासन ने इसकी अनुमति नहीं दी।’’

Source : Jansatta

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

INDIA

टीएमसी के ‘बाबुल’ प्यारे हुए : संन्यास की घोषणा करने वाले भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस में हुए शामिल

Published

on

हाल में मोदी मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद राजनीति से संन्यास लेने की घोषणा करने वाले बंगाल के आसनसोल से भाजपा सांसद व पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो आखिरकार शनिवार को नाटकीय ढंग से तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल हो गए। तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे सांसद अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में कोलकाता में उन्होंने तृणमूल का दामन थामा। अभिषेक ने बाबुल का पार्टी में स्वागत किया। तृणमूल कांग्रेस की ओर से ट्वीट करके भी इसकी जानकारी दी गई है। इसमें कहा गया है कि सांसद बाबुल सुप्रियो के तृणमूल परिवार में शामिल होने पर हम उनका बहुत गर्मजोशी से स्वागत करते हैं।

मोदी मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद से थे नाराज

पिछले दिनों हुए कैबिनेट विस्तार में मोदी मंत्रिमंडल से हटाए जाने के बाद से ही बाबुल नाराज चल रहे थे। इसके बाद हाल में उन्होंने राजनीति से ही संन्यास लेने की घोषणा की थी। उन्होंने यह भी दावा किया था कि वह और किसी पार्टी में शामिल नहीं होंगे। हालांकि इसके बाद काफी मन मनौव्वल के बाद बाबुल ने कहा था कि वह सांसद पद से इस्तीफा नहीं देंगे। लेकिन शनिवार को वे नाटकीय तरीके से तृणमूल में शामिल हो गए। गायक से राजनीति में आए बाबुल 2014 के लोकसभा चुनाव से ठीक पहले भाजपा में शामिल हुए थे। इसके बाद 2014 में उन्होंने आसनसोल सीट से तृणमूल कांग्रेस की नेता डोला सेन को हराकर पहली बार सांसद चुने गए थे। पहली बार सांसद चुने जाने के बाद उन्हें नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बनने वाली पहली सरकार ने भी शामिल किया गया था। इसके बाद 2019 में भी उन्होंने आसनसोल से लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की। इसके बाद उन्हें मोदी सरकार दो में भी मंत्री बनाया गया था, लेकिन कुछ दिनों पहले हुए कैबिनेट विस्तार में उन्हें मंत्री पद से हटा दिया गया था। इसके बाद से ही बाबुल नाराज चल रहे थे। बाबुल सुप्रियो ने टीएमसी में शामिल होकर सबको चौंका दिया है।

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Continue Reading

INDIA

सोनू सूद की बढ़ीं मुश्किलें, IT विभाग ने किया 20 करोड़ की टैक्स चोरी और फर्जी लेनदेन का दावा

Published

on

बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. आयकर विभाग  की टीम लगातार चौथे दिन सोनू सूद के जुड़े 28 ठिकानों पर एक साथ छापे मार रही है. सूत्रों ने दावा क‍िया है कि व‍िभाग को छापेमारी के दौरान टैक्‍स की बड़ी हेराफेरी  के पुख्‍ता सबूत म‍िले हैं. खबर है कि आयकर विभाग की टीम ने मुंबई, लखनऊ, कानपुर, जयपुर, दिल्ली और गुरग्राम में एक साथ रेड डाली है. आयकर विभाग के मुताबिक, टीम को जांच के दौरान करीब 20 करोड़ की टैक्स चोरी का पता चला है. बता दें कि सर्च के दौरान आयकर विभाग की टीम को 1 करोड़ 8 लाख रुपये कैश बरामद हुए हैं जबक‍ि 11 लॉकर्स के बारे में भी पता चला है.

सूत्रों ने दावा क‍िया है कि आयकर व‍िभाग को इस छापेमारी में टैक्‍स की बड़ी हेराफेरी के पुख्‍ता सबूत म‍िले हैं. टैक्‍स की हेरफेरी सोनू सूद के पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी हुई है. अभी तक की जानकारी के मुताबिक फिल्‍मों से म‍िली फीस में भी टैक्‍स की बड़ी गड़बड़ी देखी गई है. इन अन‍ियम‍ित्ताओं के बाद अब इनकम टैक्‍स व‍िभाग सोनू सूद की चैर‍िटी फाउंडेशन के अकाउंट्स की भी जांच कर रही है. आयकर विभाग के मुताबिक एक्टर ने अपनी बेहिसाब आय को फर्जी कंपनियों के ज़रिए रूट किया है. अब तक की जांच में टीम को 20 फर्जी एंट्री का पता चला है.

21 जुलाई 2020 से अब तक एक्टर द्वारा बनाए गए चैरिटी फॉउंडेशन ने करीब 18.94 करोड़ रुपये दान के रूप में एकत्र किए, जिसमें से करीब 1.9 करोड़ रुपये कई राहत कार्यों में खर्च किए गए जबकि 17 करोड़ रुपए अब भी पड़े हुए हैं. जांच के दौरान ये भी पता चला है कि FCRA का उलंघन करते हुए सोनू सूद की इस चैरिटी फाउंडेशन में 2.1 करोड़ रुपए जमा किए गए.

इनकम टैक्स विभाग के मुताबिक, जांच की इसी कड़ी में लखनऊ में सोनू सूद के करीबी कारोबारी की इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप के कई ठिकानों पर भी रेड की गई है. सोनू सूद ने भी इस ग्रुप के कई रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में इन्वेस्टमेंट किया है, जिससे हुई कमाई को छिपाने के आरोप भी उन पर लगे हैं. तफ़्तीश में पता चला है कि ये ग्रुप भी बोगस बिलिंग के जरिए करोड़ों रुपये की हेराफेरी कर चुका है. आयकर विभाग की टीम ने ऐसे करीब 65 करोड़ रुपये की हेराफेरी से जुड़े कागजात बरामद किए हैं. इसके साथ ही ये भी पता चला है कि करोड़ो रुपये का कैश और डिजिटल ट्रांसजेक्शन भी इस इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप ने किया है, जिसको एकाउंट बुक में दर्शाया नहीं गया है. 175 करोड़ रुपये इस कंपनी ने जयपुर की एक फर्जी इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रुप में भी इन्वेस्टमेंट दिखाकर कर चोरी की कोशिश की है.

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Continue Reading

INDIA

असम: शॉर्ट्स पहनकर कॉलेज पहुंची छात्रा को नहीं मिल रही थी एंट्री, पैर में पर्दा लपेटकर देनी पड़ी परीक्षा

Published

on

असम से एक हैरान कर देना वाला मामला सामने आया है. एक परीक्षा में शॉर्ट्स पहनने वाली 19 वर्षीय छात्रा को परीक्षा में बैठने से पहले अपने पैरों के चारों ओर पर्दा लपेटने के लिए मजबूर किया गया. छात्रा के साथ इस व्यवहार के बाद बढ़ते आक्रोश को देखते हुए असम कृषि विश्वविद्यालय ने मामले की जांच शुरू कर दी है. छात्रा के परिवार की ओर से कोई औपचारिक शिकायत नहीं की गई है.

छात्रा बुधवार को अपने गृहनगर बिश्वनाथ चरियाली से गिरिजानंदा चौधरी इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मास्युटिकल साइंसेज (GIPS) की प्रवेश परीक्षा देने के लिए तेजपुर गई थी. परीक्षा हॉल में निरीक्षक ने उसके शॉर्ट्स पर आपत्ति जताई.

छात्रा ने विश्वविद्यालय के अधिकारियों बात करने के बाद निरीक्षक को बताया कि प्रवेश पत्र में कोई ड्रेस कोड नहीं है. उसने उन्हें यह भी बताया कि हाल ही में राष्ट्रीय मेडिकल प्रवेश परीक्षा (NEET) में भी वह शॉर्ट्स पहनकर गई थी.

छात्रा के परिवार का आरोप है कि निरीक्षक ने उसकी एक नहीं सुनी.

छात्रा भागकर परीक्षा केंद्र के बाहर खड़े अपने पिता के पास पहुंची और उनसे ट्राउज़र लाने को कहा. छात्रा के पिता बाबुल तमुली ने कहा कि जब तक वह बाजार से ट्राउज़र लेकर लौट पाते तब तक कॉलेज के अधिकारियों ने उनकी बेटी को पैरों को ढकने के लिए एक पर्दा दिया था.

तमुली ने पीटीआई को बताया, “मेरी बेटी को आघात पहुंचा और उसने कुछ स्थानीय पत्रकारों से अपमानजनक घटना के बारे में बात की और यह मुद्दा सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. कई लोगों ने इस घटना की निंदा की है, लेकिन कई ने मेरी बेटी पर एक शैक्षणिक संस्थान में ड्रेस कोड का पालन नहीं करने के लिए हमला किया है, जिसने उसे और अधिक मानसिक रूप से परेशान कर दिया है.”

उन्होंने कहा, “हमने आगे नहीं बढ़ने का फैसला किया है और मेरी बेटी की मानसिक भलाई के हित में मामले को यहीं रहने दिया है. हम चाहते हैं कि वह अपने शैक्षणिक भविष्य पर ध्यान केंद्रित करे.”

कांग्रेस प्रवक्ता बोबीता शर्मा ने कहा कि एक युवा लड़की को शॉर्ट्स पहनने के लिए परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं देना एक खतरनाक और प्रतिगामी मानसिकता को दर्शाता है.

उन्होंने कहा, “यह एक पहाड़ बना रहा है और परीक्षा से ठीक पहले छात्र के मानसिक उत्पीड़न के समान है. मुझे खेद है कि एक लड़की जो पहनती है उसके बारे में समाज इतना प्रतिगामी हो गया है. ऐसी मानसिकता लड़कियों की सुरक्षा के लिए खतरनाक है.”

केके हांडिक स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी में जनसंचार के प्रोफेसर जयंत सरमा ने कहा, “लोगों को तालिबान जैसा रवैया छोड़ देना चाहिए.”

Source : NDTV

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Continue Reading
BIHAR1 hour ago

बिहारवासियों के लिए खुशखबरी! पहला लिफ्ट वाला ओवरब्रिज बनकर तैयार

DHARM2 hours ago

पितृ पक्ष कल से, श्रद्ध कर्म से पूरे होते मनोरथ

MUZAFFARPUR2 hours ago

मुजफ्फरपुर के पताही से विमान सेवा शुरू करने की कोशिश तेज

BIHAR3 hours ago

हाेटल पनाश में एंकर से सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज, आरोपी फरार

BIHAR13 hours ago

राजद सरकार में मंत्री रहे ददन पहलवान की 68 लाख की संपत्ति जब्त

BIHAR15 hours ago

विवादों में बिहार का वैक्सीनेशन रिकॉर्ड, मृतक के नाम सर्टिफिकेट जारी करने का दावा

BIHAR16 hours ago

बिहार में फिर से चलाने जा रही 12 जोड़ी पैसेंजर ट्रेन, देखिए यहां लिस्ट

BIHAR16 hours ago

PM मोदी भगवान का दूसरा रूप, वे ही भारत के ‘भाग्य विधाता’ : केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस

BIHAR17 hours ago

पटना में बेखौफ बदमाश, जिम ट्रेनर को मारी गोली, हथियार लहराते अपराधी फरार

INDIA20 hours ago

टीएमसी के ‘बाबुल’ प्यारे हुए : संन्यास की घोषणा करने वाले भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो तृणमूल कांग्रेस में हुए शामिल

INDIA2 weeks ago

सिद्धार्थ शुक्ला पंचतत्व में विलीन, कांपते हाथों से मां ने दी जिगर के टुकड़े को मुखाग्नि

TRENDING4 weeks ago

सूप बनाने के लिए काटा था कोबरा, 20 मिनट बाद कटे फन ने डसा, शेफ की मौत

BIHAR4 weeks ago

बिहार : 12 साल की बुआ को 13 साल के भतीजे से हुआ प्यार, छह साल इंतजार के बाद मंदिर में रचाई शादी

VIRAL3 weeks ago

जिधर देखो उधर 500-2000 रुपये… रेलवे ट्रैक पर मिले नोटों के बंडल

BIHAR4 weeks ago

बिहार; बेटी से इश्क करने पर प्रेमी को काट कर बोरे में भरा, परिजनों ने अपनी लड़की को भी नहीं छोड़ा

BIHAR1 day ago

बिहार : भांजी पर आया मामा का दिल, पत्नी और बेटे को छोड़कर हुआ फरार, दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग

TRENDING4 weeks ago

सेक्स के दौरान युवक ने प्राइवेट पार्ट पर लगाया फेविक्विक, हुई मौत

BIHAR3 weeks ago

SMA बीमारी से जूझ रहे अयांश के मामले में नया मोड़, पिता आलोक सिंह पहुंचे सलाखों के पीछे

INDIA4 days ago

अगर इन 3 बैंकों में है आपका भी अकाउंट तो 1 अक्टूबर से नहीं चलेगी पुरानी चेकबुक

INDIA4 days ago

रिवॉल्वर लेकर वीडियो बनाने वाली लेडी कांस्टेबल को विभाग को देने होंगे 1.82 लाख रुपए

Trending