Connect with us

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर में गया बाबू के आवास को संग्रहालय बनाने का काम इस वर्ष होगा शुरू

Published

on

चंपारण यात्रा के दौरान महात्मा गांधी रमना स्थिति गया प्रसाद सिंह के जिस आवास में ठहरे थे उसे संग्रहालय बनाने का कार्य इस वर्ष शुरू कर दिया जाएगा। इस संंबंध में डीएम प्रणव कुमार ने संबंधित सभी विभागों के पदाधिकारियों को निर्देश दिए हंै। मालूम हो कि चंपारण जाने से पहले बापू चार दिनों तक अधिवक्ता गया प्रसाद सिंह के आवास पर ठहरे थे। यहीं चंपारण आंदोलन की रूपरेखा भी तैयार की गई थी। चंपारण आंदोलन के शताब्दी वर्ष पर बापू से जुड़े स्थलों के जीर्णोद्धार करने के अलावा उसे संग्रहालय या स्मारक बनाने का निर्णय लिया गया था। इसी कड़ी में गया बाबू के वंशजों ने सरकार को जमीन देने का प्रस्ताव दिया, ताकि यहां संग्रहालय का निर्माण हो सके। इसके बाद सरकार ने मुआवजा देकर उक्त जमीन का अधिग्रहण कर लिया। अब यहां संग्रहालय निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जा रही है।

डीएम ने सोमवार को गया बाबू के आवास को संग्रहालय का रूप देने एवं भवन के जीर्णाेद्धार को लेकर समीक्षा बैठक की। भवन के जीणोद्धार के साथ-साथ उसके बगल में कार्यालय निर्माण को लेकर भी विमर्श किया गया। भवन निर्माण निगम लिमिटेड के अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। डीएम ने सामान्य प्रशाखा के प्रभारी पदाधिकारी को निर्देश दिया कि भवन निर्माण से संबंधित नक्शा शीघ्र उपलब्ध कराएं। इसके लिए भवन निर्माण विभाग को पत्र लिखा जाए। नगर निगम, भवन निर्माण निगम लिमिटेड और कला संस्कृति एवं युवा विभाग समन्वय के साथ कार्य करें। इस वर्ष हर हाल में कार्य शुरू किया जाए।

Advertisement

Names of relatives missing from museum being built in the name of Gaya Babu - गया बाबू के नाम से बन रहे संग्रहालय से परिजनों के नाम गायब

इसके अलावा बैठक में चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष पर मुख्यमंत्री की घोषणा के आलोक में जिले में दो हजार की क्षमता वाले गांधी स्मृति नगर भवन निर्माण के लिए भूमि उपलब्धता के लिए अपर समाहर्ता एवं कार्यपालक अभियंता, भवन प्रमंडल से रिपोर्ट मांगी है। बैठक में अपर समाहर्ता राजेश कुमार, वरीय उपसमाहर्ता प्रीति ङ्क्षसह, गया बाबू के प्रपौत्र प्रो. डा. विदु शेखर ङ्क्षसह व अन्य कर्मचारी मौजूद थे।

Gaya was in the house of Babu s house Banega museum - गया बाबू के घर में रुके थे गांधी, बनेगा म्यूजियम

Source : Dainik Jagran

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

JAWA-MUZAFFARPUR BIHAR

krishna-motors-muzaffarpur

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MUZAFFARPUR

उत्तर बिहार में रंगीन सब्जियों की खेती से सुधरेगी लोगों की सेहत, क‍िसान भी होंगे मालामाल

Published

on

मुजफ्फरपुर,{अजय पांडेय}। पिछले पांच वर्षों में उत्तर बिहार में खेती में नए-नए प्रयोग हुए हैं। यहां रंग-बिरंगे खाद्यान्नों और सब्जियों की खेती शुरू की गई है। कहीं काला गेहूं और धान की खेती हो रही तो कहीं जामुनी आलू की पैदावार। कई जिलों में लाल भिंडी, लाल-पीला शिमला मिर्च भी लगाई जा रही है। बैंगनी फूलगोभी और लाल व पीला पत्तागोभी किसानों को आकर्षित कर रही है। इनकी बाजार में मांग है। विभिन्न पोषक तत्वों के लिए भी चिकित्सक खानपान में रंगीन सब्जियों को शामिल करने की सलाह देते हैं।

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

दोगुना हुआ काले गेहूं का रकबा

Advertisement

काले गेहूं की खेती कमोबेश सभी जिलों में हो रही। उत्तर बिहार में करीब छह साल पहले इसकी शुरुआत चंपारण से हुई थी। इसके बाद मधुबनी, दरभंगा, शिवहर, सीतामढ़ी में खेती की गई। पिछले साल करीब 150 एकड़ में काला गेहूं की खेती हुई थी। इतने ही रकबे में काला धान की भी। इस बार काला गेहूं की बोआई का लक्ष्य 300 एकड़ है। करीब 200 किसान इसकी खेती कर रहे हैं।

hondwing in Muzaffarpur

लाल भिंडी की ओर आकर्षित हो रहे किसान

Advertisement

लाल भिंडी की खेती पिछले साल 10 एकड़ में की गई थी। इसमें मधुबनी और चंपारण के किसान आगे हैं। सीतामढ़ी और दरभंगा के किसान भी वृहद खेती की तैयारी में हैं। मधुबनी के बाबूबरही के छौरही निवासी किसान अविनाश कुमार व खजौली के विलट सिंह कुशवाहा बताते हैं कि लाल भिंडी की खेती लाभकारी है। इसका थोक भाव 100 रुपये प्रतिकिलो से कम नहीं है। खुदरा में 120 से 150 रुपये तक है। इसकी उपज भी सामान्य भिंडी की तरह प्रति क_ा 50 से 60 किलो है।

मुजफ्फरपुर में शिमला मिर्च की खेती

Advertisement

मुजफ्फरपुर के मीनापुर, बोचहां, मुशहरी, मुरौल व सकरा के किसान हरा के अलावा लाल व पीला शिमला मिर्च की खेती कर रहे हैं। मधुबनी में भी करीब दो एकड़ में खेती हुई है। इससे करीब 50 किसान जुड़े हैं। मधुबनी में इस बार पांच एकड़ में बैंगनी फूलगोभी और पीला पत्तागोभी की खेती की गई है। पश्चिम चंपारण के रामनगर के किसान विजय गिरि समेत आधा दर्जन किसान लाल केला, लाल भिंडी व जामुनी रंग के आलू की खेती कर रहे हैं।

जाले कृषि विज्ञान केंद्र के वरीय विज्ञानी डा. दिव्यांशु का कहना है कि सब्जी, फल या खाद्यान्न में विशिष्ट रंग खास पोषक तत्वों के वाहक होते हैं। ये तत्व शरीर के लिए गुणकारी होते हैं।

Advertisement

– रंगीन फल और सब्जियों में बीटा-कैरोटीन, विटामिन-बी व सी समेत और कई पोषक तत्व रहते हैं। हरा रंग कैंसर जैसी बीमारियों से बचाता है। यह हीमोग्लोबिन का स्तर ठीक रखता है। सफेद रंग की सब्जियां कोलेस्ट्राल कंट्रोल करती है। लाल सब्जियां एनर्जी लेवल मेंटेन करती हैं। काले और बैंगनी रंग की सब्जियां याददाश्त दुरुस्त करती हैं। इनमें आयरन भरपूर रहता है। -डा. शालीन झा, फिजिशियन, समस्तीपुर

Source : Dainik Jagran

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Continue Reading

MUZAFFARPUR

स्नातक पार्ट टू में प्रमोटेड छात्रों की दिसंबर में होगी विशेष परीक्षा

Published

on

बीआरए बिहार विश्वविद्यालय स्नातक पार्ट टू के प्रमोटेड छात्रों की विशेष परीक्षा लेगा। यह परीक्षा पार्ट थ्री की परीक्षा के साथ ही होगी। इसका फैसला शनिवार को हुई परीक्षा बोर्ड की बैठक में लिया गया। इसकी अध्यक्षता कुलपति प्रो. हनुमान प्रसाद पांडेय ने की।

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

बैठक के बाद परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार ने बताया कि प्रमोटेड छात्र 30 नवंबर तक अंडरटेकिंग देकर पार्ट थ्री का परीक्षा फॉर्म भर सकेंगे। दिसंबर के अंतिम सप्ताह में पार्ट टू की विशेष परीक्षा और पार्ट थ्री की परीक्षा होगी। पार्ट टू में करीब 15 हजार छात्र प्रमोटेड हैं, जिनकी परीक्षा होनी है। प्रमोटेड छात्र पार्ट थ्री का परीक्षा फॉर्म भरने के लिए पिछले तीन दिन से विवि में हंगामा कर रहे हैं। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि विशेष परीक्षा की तारीख जल्द जारी कर दी जाएगी।

Advertisement

hondwing in Muzaffarpur

परीक्षा विभाग में छात्रों ने किया हंगामा : पार्ट टू में प्रमोटेड छात्र शनिवार को एक बार फिर विवि में हंगामा किया। दोपहर को छात्र परीक्षा विभाग पहुंचे और फॉर्म भरवाने के लिए हंगामा करने लगे। काफी देर तक छात्रों ने परीक्षा विभाग में हंगामा किया। उन्होंने परीक्षा नियंत्रक से कहा कि विवि की गलती के कारण उनका रिजल्ट पेंडिंग है या वह प्रमोटेड हैं। छात्रों का कहना था कि विवि की गलती के कारण उनके अंक मार्क्सशीट पर नहीं जोड़े गये हैं। काफी देर तक हंगामा के बाद जब परीक्षा नियंत्रक ने समस्या के समाधान का आश्वासन दिया तब छात्र माने।

पीजी थर्ड सेमेस्टर सत्र 2018-20 का रिजल्ट हुआ जारी

Advertisement

पीजी थर्ड सेमेस्टर सत्र 2018-20 का रिजल्ट विवि ने शनिवार को जारी कर दिया। इसकी जानकारी परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि छात्र अपना रिजल्ट ऑनलाइन देख सकते हैं। सेमेस्टर थ्री का रिजल्ट के लिए गुरुवार को छात्रों ने प्रोवीसी के चैंबर में काफी हंगामा किया था। छात्रों का कहना था कि नौ महीने से सेमेस्टर थ्री का रिजल्ट जारी नहीं किया गया है। जानकारी के अनुसार, सेमेस्टर थ्री के रिजल्ट में कई छात्रों के अंकों में गड़बड़ी थी। लगातार शिकायत के बाद इसमें सुधार कर रिजल्ट जारी किया गया। पीजी थर्ड सेमेस्टर के रिजल्ट में कुछ छात्रों ने गड़बड़ी की भी शिकायत की है। एक छात्र ने बताया कि पीजी केमेस्ट्री के एक छात्र को सी 10 पेपर में 299 अंक लिखे हुए हैं।

चार तक भरा जाएगा बीएचएमएस का परीक्षा फॉर्म

Advertisement

बीआरए बिहार विवि में एमडी होम्योपैथिक रेगुलर पार्ट वन सत्र 2019-22 और पार्ट टू सत्र 2018-21 के परीक्षा फॉर्म चार दिसंबर तक भरे जाएंगे। इसकी जानकारी परीक्षा नियंत्रक डॉ. संजय कुमार ने दी। उन्होंने बताया कि 27 नवंबर से फॉर्म भरने की तारीख जारी की गयी है। इसके अलावा बीएचएमएस पहले से लेकर चौथे वर्ष तक की पुराने कोर्स की परीक्षा, बीएचएमएस के दूसरे और और तीसरे वर्ष नए कोर्स और बीएचएमएस पहले वर्ष की सप्लीमेंट्री की परीक्षा का फॉर्म भी चार दिसंबर तक भरे जाएंगे। परीक्षा नियंत्रक ने बताया कि यह फॉर्म 500 रुपये लेट फाइन के साथ नौ दिसंबर तक भरे जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि परीक्षा फॉर्म भरने से पहले कॉलेजों को आयुष मंत्रालय से मिले अनुमति पत्र को भी दिखाना होगा। कॉलेजों से शिक्षकों की सूची भी मांगी गयी है।

Source : Hindustan

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

हिसाब-किताब : मुजफ्फरपुर नगर निगम के खजाने में बचे 40 करोड़

Published

on

नगर निगम में निकाय चुनाव के बचे पांच महीनों में विकास कार्यों को गति देना नये मेयर के लिए बड़ी चुनौती होगी। शनिवार को एक तरफ मेयर चुनाव हो रहा था, दूसरी तरफ निगम के खाते का हिसाब-किताब लगाया जा रहा था। पता चला, नये मेयर को शेष पांच महीनों में विकास पर 40 करोड़ रुपये खर्च करने को मिलेंगे। इतनी ही राशि निगम के खाते में बची है। इसमें निगम के अपने संसाधन की राशि के अलावा राज्य वित्त व 14 वें वित्त की राशि भी शामिल है।

Haldiram Bhujiawala, Muzaffarpur - Restaurant

नगर निगम के खजाने में कुल 130 करोड़ रुपये हैं। इनमें से 80 करोड़ की नल जल आदि की योजना पहले से स्वीकृत हैं। लेकिन ठोस अपशिष्ट, ड्रेनेज आदि मद में अभी भी खर्च करने के लिए करीब 40 करोड़ उपलब्ध हैं।

Advertisement

hondwing in Muzaffarpur

नये मेयर राकेश कुमार पिंटू अब अपने पार्षदों के साथ इस राशि से विकास का खाका खींचेंगे। उसी के सहारे चुनाव की अगली नैया पार्षदों को भी पार लगानी है।

Source : Hindustan

Advertisement

(मुजफ्फरपुर नाउ के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Advertisement
Continue Reading
BIHAR1 hour ago

भागलपुर में होगी सेब की खेती, बिहार सरकार देगी किसानों को अनुदान

BIHAR1 hour ago

बिहार में मैट्रिक पास 115 सिपाही तीन दिनों के लिए बनाए गए दारोगा, भागलपुर की लेडी सिंघम ने विशेष शक्ति से की तदर्थ प्रोन्नति

BIHAR5 hours ago

बिहार के हर मंदिर को देना होगा चार प्रतिशत टैक्‍स, सार्वजनिक देवस्‍थलों के निबंधन के लिए चलेगा अभियान

BIHAR5 hours ago

लिट्टी-चोखा का वर्ल्‍ड रिकार्ड! बिहार का ये पूरा शहर आज खाएगा केवल एक ही चीज

BIHAR5 hours ago

पीएमसीएच से भागा अपराधी, पटना से मुजफ्फरपुर तक पुलिस का छूटा पसीना; संगीन मामलों में है आरोपित

WORLD8 hours ago

अमेरिका: पिता की मौत पर वीजा लेने गई महिला, भड़क गया भारतीय अफसर

BIHAR9 hours ago

नीतीश पर RJD विधायक का निजी हमला, कहा- ‘नशा करते हैं बिहार के मुख्यमंत्री’

MUZAFFARPUR10 hours ago

उत्तर बिहार में रंगीन सब्जियों की खेती से सुधरेगी लोगों की सेहत, क‍िसान भी होंगे मालामाल

BIHAR10 hours ago

ब‍िहार में धोखाधड़ी का अनोखा मामला, दूल्‍हा पहुंचा जेल तो दुल्‍हन को म‍िला चैन

BIHAR12 hours ago

खुलासा : पूर्व मंत्री वीणा शाही के वर्क मैनेजर व चालक ने रची थी 41 लाख लूट की साजिश

BIHAR2 weeks ago

बिहार : जो काम पुलिस नहीं कर पायी अब वह बच्चे करेंगे, शराबबंदी को सफल बनाएंगे स्कूली बच्चे

BIHAR3 days ago

बिहार के 38 जिलों में 28 से गुजरेंगे 4 एक्सप्रेसवे, देखें नाम और रूट प्लान

BIHAR6 days ago

हिंदुस्‍तानी छोरे पर आ गया फ्रांसीसी मैम का दिल, सात समंदर पार से आकर बिहार में रचाई शादी

BIHAR1 week ago

बिहार में दिल दहलाने वाली वारदात, ट्रेन रोक युवती को खींचकर उतारा, सामूहिक दुष्‍कर्म के बाद की हत्‍या

MUZAFFARPUR1 week ago

साइकिल से जा रही मुजफ्फरपुर की छात्रा ने बजाई शादीशुदा मर्द के दिल की घंटी

BIHAR6 days ago

बिहार में दूसरे राज्यों का नंबर लेकर गाड़ी चलाने पर जुर्माना

Uncategorized5 days ago

बीवी को तोहफे में दिया ताजमहल जैसा घर, VIDEO देख आप भी कह उठेंगे- वाह ताज वाह

BIHAR5 days ago

बिहार में मठों और मंदिरों की जमीन के मालिक अब होंगे भगवान, पहले बिकी संपत्ति होगी वापस

VIRAL3 days ago

इस शादी में BJP, JJP व RSS से जुड़े लोगों का आना मना है, वायरल हुआ कार्ड

BIHAR2 weeks ago

बिहार: नवनिर्वाचित मुखिया की गोली मारकर हत्‍या, दूसरी बार जीते थे चुनाव

Trending