Connect with us

BIHAR

व्यवस्था की खुली पोल: जमीन पर बैठ कर काम करते दिखे मतदानकर्मी, नहीं की गई थी टेबल-कुर्सी की व्यवस्था

Published

on

अररिया: बिहार के अररिया जिले के भरगामा प्रखंड के 20 पंचायतों में बुधवार की सुबह से मतदान का कार्य जारी है. बड़ी संख्या में मतदाता मतदान केंद्रों पर पहुंच कर अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं. हालांकि, इस दौरान भारी कुव्यवस्था की तस्वीर सामने आई है. चुनाव की तैयारियों को लेकर प्रशासनिक स्तर से चाहे कितने भी दावे किए गए हों, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है. निर्वाचन आयोग और जिला प्रशासन किसी तरह चुनाव सम्पन्न करा देने की कवायद में दिख रही है.

Bihar Panchayat Election: polling personnel were seen working sitting on the ground, the arrangement of the table-chair was not done ann

जमीन पर बैठकर काम करते दिखे कर्मी

जिले के बीरनगर पूरब पंचायत में जहां चार पंचायत समिति सदस्यों सहित कई पंचायत के विभिन्न पदों के उम्मीदवारों को आवंटित चुनाव चिन्ह को ईवीएम मशीन में आज अंतिम क्षण बदल गया. वहीं, रघुनाथपुर दक्षिण पंचायत के मतदान केन्द्र संख्या-87 में मतदान कर्मी जमीन पर बैठकर किसी तरह मतदान कार्य संपन्न कराने की कवायद में घंटों लगे रहे.

इधर, रघुनाथपुर दक्षिण वार्ड संख्या-एक, मतदान केन्द्र संख्या-87, भवन पोठिया में मतदान कार्य में लगे कर्मचारियों के लिए टेबल-कुर्सी तो दूर, दरी तक की व्यवस्था नहीं की गयी थी, जिसके बाद किसी तरह मतदान कर्मचारी जमीन पर ही बैठकर मतदान कराने की कोशिश करते रहे. चुनाव से पहले जिला प्रशासन ने पंचायत चुनाव को लेकर मुकम्मल तैयारी किए जाने का दावा किया था. लेकिन दावों और वादों के बीच किसी तरह चुनाव सम्पन्न कराए जाने की इस तस्वीर के सामने आने के बाद पूरी व्यवस्था पर सवालिया निशान लग गया है.

Polling workers forced to sit on the ground in Araria's Raghunathpur South,  changed the election symbol of 4 candidates in Birnagar | अररिया के  रघुनाथपुर दक्षिण में जमीन पर बैठकर मतदान कराने

काफी परेशान दिखे कर्मी

जमीन पर बैठकर मतदान कार्य कराए जाने के कारण मतदानकर्मियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. मतदान केन्द्र संख्या-87 के पीठासीन पदाधिकारी सुरेश कुमार पासवान ने व्यंग्यात्मक लहजे में बताया कि कुर्सी की लड़ाई वाले कुर्सी के लिए लड़ रहे हैं और उसका मजा और है. वहीं, जमीन पर बैठकर काम करने का कुछ और ही. वे लोग बस अपना फर्ज निभा रहे हैं. किसी तरह चुनाव सम्पन्न करा देने के लिए संकल्पित हैं. उन्होंने इसकी शिकायत ब्लॉक से लेकर जिला नियंत्रण कक्ष तक किये जाने की बात कही.

डीएम ने कही ये बात

बता दें कि उक्त बूथ पर पीठासीन पदाधिकारी सुरेश कुमार पासवान के अलावे अन्य मतदान कर्मी इमरान आलम, मोहम्मद नौशाद, मोहम्मद तबरेज आलम, शम्भू विश्वास, नीरज भारती भी जमीन पर बैठ कार्य करते नजर आए. चुनाव चिह्न आवंटन के मामले पर डीएम प्रशांत कुमार चौधरी ने कहा कि ब्लॉक के बाहर चुनाव चिन्ह आवंटन का वीडियोग्राफी कराई जा रही है और मामले को देखा जा रहा है. तत्काल चुनाव शांतिपूर्ण कराया जा रहा है. परेशानियों को बाद में देखेंगे.

Polling workers forced to sit on the ground in Araria's Raghunathpur South,  changed the election symbol of 4 candidates in Birnagar | अररिया के  रघुनाथपुर दक्षिण में जमीन पर बैठकर मतदान कराने

वहीं, रघुनाथपुर दक्षिण मतदान केन्द्र संख्या-87 मामले में डीएम ने अधिकारियों को टेबल-कुर्सी एवं अन्य सुविधा मतदान कर्मियों को उपलब्ध कराए जाने का निर्देश दिए जाने की बात कही.

Source : ABP News

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

छठ आते ही गूंजने लगते हैं शारदा सिन्हा के गीत, ‘बिहार कोकिला’ के गानों के बिना यह पर्व अधूरा

Published

on

छठ पूजा का महत्व काफी ज्यादा है. यह व्रत सूर्य भगवान, उषा, प्रकृति, जल, वायु आदि को समर्पित है. खासकर इसे बिहार में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है. एक तरफ जितनी श्रद्धा से लोग इस त्योहार को मनाते हैं उतने ही प्यार से इसके गीत को भी सुनते हैं. हर साल नए गीत आते हैं लेकिन लोग आज भी लोग छठ गीत के लिए शारदा सिन्हा को ही जानते हैं. शारदा सिन्हा का नाम आते ही मन में सीधे छठ के गीतों की धुन बजने लगती है. या ऐसे समझ लें कि इनके गीतों के बिना यह पर्व अधूरा सा होता है.

बिहार कोकिला, पद्म श्री और पद्म भूषण से सम्मानित

सबसे पहले जान लें कि आखिर कौन है शारदा सिन्हा. ये बिहार की लोकप्रिय गायिका हैं. एक अक्टूबर 1952 को जन्मीं शारदा सिन्हा को बिहार-कोकिला, पद्म श्री और पद्म भूषण सम्मान से विभूषित किया जा चुका है. शारदा सिन्हा ने मैथिली, बज्जिका, भोजपुरी के अलावे हिंदी गीत गाए हैं. उनके पति ब्रजकिशोर सिन्हा शिक्षा विभाग के सेवानिवृत्त अधिकारी हैं. इतना ही नहीं बल्कि शारदा सिन्हा ने हिंदी फिल्मों में भी गाने गाए हैं. मैंने प्यार किया और हम आपके हैं कौन में इनके गाने को लोगों ने खूब पसंद किया था.

शारदा सिन्हा के हर साल बजने वाले छठ गीत

  • केलवा के पात पर
  • हो दीनानाथ
  • ऊगिहें सूरज गोसाइयां है
  • हे छठी मैया
  • हे गंगा मैया
  • छठी मैया आई ना दुआरी

कब से कब तक है छठ पूजा

छठ पूजा की शुरुआत नहाए खाए से होती है. इस बार यह दिन 8 नवंबर 2021 को है. छठ पूजा का दूसरा दिन यानी खरना 9 नवंबर को है. इस दिन छठ व्रति निर्जला रहकर व्रत करते हैं और रात में प्रसाद के तौर पर खीर खाते हैं. वहीं छठ पूजा का तीसरा दिन संध्या अर्घ्य है. इस बार संध्या अर्घ्य 10 नवंबर को है. 11 नवंबर की सुबह 8.25 बजे यह त्योहार समाप्त हो जाएगा.

Source : ABP News

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

krishna-motors-muzaffarpur

Continue Reading

MUZAFFARPUR

गायघाट से चला वृद्ध रास्ते से गायब

Published

on

मुजफ्फरपुर। गायघाट के मैठी टोल प्लाजा के समीप से ऑटो पर सवार होकर मुजफ्फरपुर के जीरो माइल के लिए निकले राजापाकड़ निवासी कृष्ण कुमार शर्मा (68) बुधवार को रास्ते से गायब हो गए। देर रात ना ही गांव लौटे ना ही जीरो माइल। इस संबंध में परिजनों ने पुलिस से शिकायत की है। पुलिस छानबीन में जुटी है।

इनके बारे में कोई जानकारी मिले तो इस नंबर पर संपर्क करें 93543 51292

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

Continue Reading

BIHAR

तेजस्वी ने पोठिया मछली दिखाने पर JDU प्रवक्ता का तंज, सोशल मीडिया पर दिखाया अजगर

Published

on

बिहार विधानसभा के दो सीटों के लिए उपचुनाव हो रहा है. तारापुर विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार के दौरान पिछले दिनों नेता विपक्ष तेजस्वी यादव सड़क किनारे पोखर में मछली पकड़ते दिखाई दिए थे. उनके द्वारा फेंकी गयी बंसी में फंसी पोठिया मछली की तस्वीर क्या वायरल हुई, विरोधियों को उन पर हमला बोलने का मौका मिल गया है. इसकी शुरुआत जनता दल युनाइटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने किया तो तेजस्वी यादव ने उन्हें उसका जवाब दिया. मगर अब जेडीयू के प्रवक्ता निखिल मंडल ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर गले में अजगर लपेट रखने की तस्वीर पोस्ट की है. उन्होंने इसे दिखाते हुए तेजस्वी यादव पर चुटकी लेते हुए कहा कि कुछ लोग पोठिया मछली पकड़ कर हीरो बन रहे हैं, यहां तो…

अपने फेसबुक पेज पर गले में अजगर को लपेटे हुए जेडीयू के प्रवक्ता निखिल मंडल (फाइल फोटो)

जेडीयू प्रवक्ता के अपने गले में अजगर लेकर तेजस्वी यादव पर किए हमले के बाद उन्ही की पार्टी के एक अन्य प्रवक्ता अजय आलोक ने भी शायराना अंदाज में ट्वीट कर तेजस्वी यादव पर निशाना साधा और कहा कि, दिक्कत वाले पानी में मछली मारना पसंद नहीं करते. बिलकुल सही कहा आपने तभी तो बाढ़ में गायब, राघोपुर में गायब, चमकी बुखार में गायब, विधानसभा के सत्र में गायब आपका इतिहास तो यही कहता है कि पानी में पैर ना पड़े पहला मांगुर मोर, जल्द ही पारिवारिक राजनीति से भी गायब हो जाएंगे.

जेडीयू प्रवक्ताओं के अनोखे अंदाज में तेजस्वी यादव पर किए गए हमले से आरजेडी तिलमिला उठी. आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने पलटवार करते हुए कहा कि जेडीयू प्रवक्ता के गले में अजगर यह बताने को काफी है की जेडीयू कितनी जहरीली पार्टी है, और उनके प्रवक्ता ने यह तस्वीर डाल कर स्पष्ट कर दिया है कि जेडीयू की फिदरत क्या है. हमारे नेता आम लोगों के नेता हैं और गांव-जवार में कई लोग मछली मार कर अपना जीवन यापन करते हैं. उन्ही के बीच के नेता है हमारे तेजस्वी यादव जो गरीबों के आवाज को उठाते रहे हैं. उनकी यही सादगी विरोधियों को नहीं पच पा रही है.

Source : News18

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

krishna-motors-muzaffarpur

Continue Reading
BIHAR28 seconds ago

छठ आते ही गूंजने लगते हैं शारदा सिन्हा के गीत, ‘बिहार कोकिला’ के गानों के बिना यह पर्व अधूरा

MUZAFFARPUR16 mins ago

गायघाट से चला वृद्ध रास्ते से गायब

BIHAR2 hours ago

तेजस्वी ने पोठिया मछली दिखाने पर JDU प्रवक्ता का तंज, सोशल मीडिया पर दिखाया अजगर

MUZAFFARPUR3 hours ago

बदलेगी शहर की सूरत : सिकंदरपुर मन के सौंदर्यीकरण को करार

WORLD14 hours ago

सूअर की किडनी को मानव शरीर से जोड़ा, करने लगी काम, वैज्ञानिकों का सबसे बड़ा चमत्कार

INDIA15 hours ago

मुस्लिम में निकाह एक कॉन्ट्रैक्ट है, हिंदू विवाह के तरह संस्कार नहीं- कर्नाटक हाईकोर्ट

BIHAR15 hours ago

मुकेश सहनी ने तेजस्वी को दी चुनौती, कहा- मछली पकड़ना है तो ब्रांडेड जूते उतार कर तालाब में उतरिये, फिर…

BIHAR18 hours ago

इतिहास : पीएम मोदी से लेकर आमिर खान तक, चिट्टी चोखा की फैन हैं बड़ी हस्तियां

BIHAR18 hours ago

दरभंगा एयरपोर्ट पर अगले दो-तीन महीने में मौसम खड़ी कर सकती मुश्किलें

BIHAR18 hours ago

नेपाल में लगातार बारिश से कोसी आक्रामक, 43 फाटक खोलने के बाद अलर्ट पर प्रशासन

BIHAR4 weeks ago

बिहार: पिता की थी छोटी सी खैनी की दुकान, ट्यूशन पढ़ा करते थे पढ़ाई, अब UPSC में पाई दूसरी बार सफलता

BIHAR3 weeks ago

घर तक आती थी ट्रेन और निजी प्लेन, दरभंगा महराज के राज- ठाठ की कहानी –

BIHAR3 weeks ago

खुशखबरी: पटना चिड़‍ियाघर में आज से नहीं लगेगा प्रवेश शुल्‍क

BIHAR3 weeks ago

नई सौगात भागलपुर, बक्‍सर, दरभंगा, हाजीपुर और सिवान को होगा फायदा – पांच नए हाइवे का होगा ऐलान

BIHAR3 weeks ago

जल्द बंद होगा बरौनी और कांटी थर्मल पावर स्टेशन, दोनो थर्मल पावर से बिहार को मिल रही है 330 मेगावाट बिजली

BIHAR4 weeks ago

बिहार में अब बिल्कुल अलग अंदाज में मिलेगा बिजली के बकाया बिल का रिमाइंडर

BIHAR4 weeks ago

बिहार के सभी घरों में नजर आएंगे स्मार्ट प्रीपेड मीटर

INDIA4 weeks ago

यू ही नहीं बिहार को कहा जाता आई.ए.एस फैक्ट्री कटिहार का शुभम बना UPSC टॉपर

BIHAR3 weeks ago

पारले जी बिस्कुट नहीं खाने से होगी अनहोनी, अफ़वाह के बाद बिस्कुट आउट ऑफ स्टॉक

BIHAR3 weeks ago

बिहार के 8 जिलों में कल से शुरू होगा बालू खनन, उचित कीमत पर मिलेगा बालू

Trending