Connect with us
leaderboard image

INDIA

शांत माहौल में, बिना किसी कड़वाहट के संपन्न कराएं राम मंदिर का निर्माण- पीएम मोदी

Md Sameer Hussain

Published

on

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने नवगठित श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट (Shriram Mandri Teerth Kshetra) के सदस्यों से कहा कि मंदिर का निर्माण शांति एवं सौहार्द के माहौल में हो और किसी तरह की कड़वाहट पैदा न हो. ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. ‘राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ के अध्यक्ष प्रबंध महंत नृत्य गोपाल दास समेत ट्रस्ट के चार सदस्यों ने गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यहां उनके आवास पर मुलाकात की थी और उन्हें भूमि पूजन के लिये अयोध्या आने का निमंत्रण दिया.प्रधानमंत्री ने उनको बताया कि वह इस पर विचार करेंगे. भूमि पूजन की तिथि अभी तय नहीं हुई है.

 

बैठक के एक दिन बार राय ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सुझाव दिया कि मंदिर के निर्माण का कार्य शांतिपूर्ण माहौल में और सौहार्द बनाये रखते हुए हो और किसी तरह की कटुता पैदा न हो.’ चंपत राय ने इसे शिष्टाचार भेंट बताया और कहा कि प्रधानमंत्री ने उनसे कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं हो, जिससे देश का माहौल खराब हो.

25 मार्च से 8 अप्रैल तक ‘रामोत्सव

इससे पहले, विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि रामनवमी के मौके पर 25 मार्च से 8 अप्रैल तक ‘रामोत्सव’ मनाया जाएगा. इस उत्सव के दौरान विहिप कार्यकर्ता देशभर के 2.75 लाख गांवों में पहुंचेंगे जिन्होंने राम जन्मभूमि आंदोलन में योगदान दिया था.

न्यास की दिल्ली में बुधवार को हुई बैठक में महंत नृत्य गोपालदास को राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास का ‘अध्यक्ष प्रबंध’, विहिप के चंपत राय को महासचिव एवं पूर्व वरिष्ठ नौकरशाह नृपेन्द्र मिश्रा को भवन निर्माण समिति का चेयरमैन बनाया गया है. स्वामी गोविंददेव गिरि जी को कोषाध्यक्ष बनाया गया है. अयोध्या में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में न्यास का बैंक खाता खोलने का निर्णय किया गया है.

राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद मामले में सुप्रीम कोर्ट के पिछले साल 9 नवंबर को दिए गए ऐतिहासिक फैसले के बाद नरेन्द्र मोदी सरकार ने इस 15 सदस्यीय ट्रस्ट का गठन किया था. फैसले में विवादास्पद स्थल पर मंदिर के निर्माण की अनुमति दी गई थी.बहुत से हिंदुओं का मानना है कि इसी स्थल पर भगवान राम का जन्म हुआ था.

Input : News18

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

INDIA

BCCI ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दिए 51 करोड़ रुपये

Santosh Chaudhary

Published

on

कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ रही मोदी सरकार की मदद के लिए अब बीसीसीआई भी आगे आई है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने 51 करोड़ रुपये दान में देने का ऐलान किया है. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और सचिव जय शाह ने इसका ऐलान किया. सौरव गांगुली ने ट्वीट कर लिखा, ‘बीसीसीआई और उससे जुड़े राज्य संघों ने आपात स्थितियों में प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष में 51 करोड़ रुपये दिए हैं.’

बीसीसीआई सचिव जय शाह ने भी ट्वीट कर लिखा, ‘मुश्किल हालातों में देश पीएम मोदी के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है. बीसीसीआई और उससे जुड़े राज्यसंघों ने 51 करोड़ रुपये मदद के तौर पर दिए हैं.’ बीसीसीआई के इस दान के बाद फैंस सोशल मीडिया पर उसे सलाम कर रहे हैं. फैंस का मानना है कि चूंकि सौरव गांगुली बीसीसीआई अध्यक्ष हैं, इसलिए ये मुमकिन हो पाया है.

बीसीसीआई पर भी कोरोना वायरस की मार

बता दें बीसीसीआई पर भी कोरोना वायरस की मार पड़ी है. दरअसल 29 मार्च से बीसीसीआई का सबसे बड़ा टूर्नामेंट और दुनिया की सबसे बड़ी लीग इंडियन प्रीमियर लीग का आगाज होना था लेकिन कोरोना वायरस की वजह से वो टल गई. बीसीसीआई को उम्मीद थी कि कोरोना वायरस का प्रभाव कम हो जाएगा और वो छोटा टूर्नामेंट आयोजित कर लेगी, हालांकि इसके आसार कम ही दिख रहे हैं. देश 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है और कोरोना वायरस के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं, ऐसे में लग रहा है कि इस साल आईपीएल रद्द करना पड़ेगा. आईपीएल रद्द होने से बीसीसीआई को कम से कम 800 करोड़ रुपये का नुकसान हो सकता है. जो दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के लिए बहुत बड़ा झटका है.

सचिन-रैना ने भी दान दिया

बता दें बीसीसीआई से पहले सचिन तेंदुलकर और सुरेश रैना ने भी कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही जंग में अपना आर्थिक योगदान दिया है. सचिन ने 51 लाख और सुरेश रैना ने 52 लाख रुपये दान में दिए हैं. रैना ने 31 लाख पीएम राहत कोष और 21 लाख यूपी सीएम राहत कोष में दान किये हैं.

Continue Reading

INDIA

10 सरकारी बैंकों के विलय को RBI की मंजूरी, ये बैंक होगा देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक

Santosh Chaudhary

Published

on

नई दिल्ली. भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शनिवार को जानकारी दी है कि उसने 10 सरकारी बैंकों के विलय को मंजूरी दे दी है. ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पंजाब नेशनल बैंक, सिंडिकेट बैंक को केनरा बैं, आंध्र बैंक और कॉरपोरेशन बैंक को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया में और इलाहाबाद बैंक को इंडिनयन बैंक में विलय किया जाना है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, आगामी 1 अप्रैल 2020 को इन सभी बैंकों का विलय कर दिया जाएगा. विलय के बाद अब ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक के ग्राहक PNB ब्रांच में सेवाएं ले सकते हैं. इसी प्रक्रार सिंडिकेट बैंक ब्रांच और केनार बैंक ब्रांच के ग्राहक किसी एक ब्रांच में जाकर सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं. आंध्र बैंक और कॉरपोरेशन बैंक के ग्राहक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ब्रांच में जा सकते हैं. इलाहाबाद बैंक के ग्राहक इंडियन बैंक ब्रांच में सेवाओं के लिए जा सकते हैं.

देश में बचेंगे कुल 7 सरकारी बैंक

इस विलय प्रक्रिया के बाद देश में केवल 7 पब्लिक सेक्टर के बैंक रह जाएंगे. साल 2017 में देश में कुल 27 सरकारी बैंक थे. इस विलय के बाद देश को 7 बड़े पब्लिक सेक्टर बैंक मिलेंगे जो कि राष्ट्रीय स्तर के होंगे. इन सभी 7 बैंकों का कुल बिजनेन 8 लाख करोड़ रुपये से अधिक का होगा.

PNB होगा कि देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक

विलय के बाद पंजाब नेशनल बैंक देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक हो जाएगा. इस बैंक का कुल बिजनेस साइज करीब 17.94 लाख करोड़ रुपये का हो जाएगा. फिलहाल भारतीय स्टेट बैंक देश का सबसे बड़ा बैंक, जिसका कुल बिजनेस करीब 52 लाख करोड़ रुपये का है.

ये होंगे देश के सरकारी बैंक

इसके अलावा बैंक ऑफ बड़ौदा देश की तीसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक बनन जाएगा. इसके बाद केनरा बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इंडिया बैंक का नंबर होगा. अन्य सरकारी बैंकों में सेंट्रल बैंके ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूको बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र और पंजाब एंड सिंद बैंक का शामिल हैं.

Continue Reading

INDIA

कोरोना के खिलाफ जंग में अक्षय कुमार ने बढ़ाया मदद का हाथ, दान किए 25 करोड़ रुपए

Ravi Pratap

Published

on

कोरोना वायरस से उपजे संकट के हालात में बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय ने मदद का हाथ बढ़ाया है। कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में केंद्र सरकार ने ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र नागरिक सहायता एवं आपात स्थिति राहत कोष’ के ऐलान के तुरंत बाद अभिनेता अक्षय कुमार ने 25 करोड़ रुपये दान देने की घोषणा की। अक्षय कुमार ने कहा कि मैंने अपनी बचत से पीएम मोदी के PM-CARES फंड में 25 करोड़ रुपये का योगदान करने की प्रतिज्ञा की है। बता दें कि कोरोना के खिलाफ जंग में किसी अभिनेता द्वारा अभी तक इतनी बड़ी रकम राहत कोष में नहीं दी गई है।

अक्षय कुमार ने पीएम मोदी के ट्वीट को रिट्वीट कर लिखा, ‘यह वह समय है जब हम सबके जीवन का सवाल है और हमें कुछ करने की जरूरत है हम जो भी कर सकें। मैं अपनी बचत से 25 करोड़ रुपये का योगदान पीएम राहत कोष में देने की प्रतिज्ञा करता हूं। आओ जीवन बचाएं। जान है तो जहान है।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जैसे ही ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र नागरिक सहायता एवं आपात स्थिति राहत कोष’ के गठन की घोषणा की, उसके तुरंत बाद ही अक्षय कुमार ने दान का ऐलान कर दिया। पीएम मोदी ने कहा कि स्वस्थ भारत बनाने में मदद करेगा।

लॉकडाउन पर अक्षय कुमार ने क्या कहा था

इससे पहले बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार ने कहा था कि कोरोना वायरस की कड़ी को तोड़ने के लिए पूरे देश में किए गए लॉकडाउन की इस घड़ी में जो अपने घर में रहेगा, वही सुपरस्टार होगा। अक्षय ने व्यापार विशेषज्ञ जोगिंदर टुटेजा के एक ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए यह बात कही। दरअसल, जोगिंदर ने किसी एक वीडियो को ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने इस बारे में बात की कि किस तरह से टाइगर श्रॉफ ‘रैंबो’, ‘हीरोपंती 2’ और ‘बागी 4’ जैसी अपनी

इस पर अक्षय ने कहा, ‘जोगिंदर तुम्हारी इस बात से मैं पूरी तरह से सहमत हूं कि टाइगर श्रॉफ आने वाले समय में धमाल मचाने वाले हैं, लेकिन इस वक्त एकमात्र वही व्यक्ति सुपरस्टार होगा, जो अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए घर में रहेगा। मैं हर एक से सुपरस्टार बनने की अपील करता हूं।’

Continue Reading
INDIA8 hours ago

BCCI ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दिए 51 करोड़ रुपये

INDIA8 hours ago

10 सरकारी बैंकों के विलय को RBI की मंजूरी, ये बैंक होगा देश का दूसरा सबसे बड़ा बैंक

BIHAR9 hours ago

विदेशों से बिहार लौटे यात्रियों की RMRI में 29 मार्च से होगी जांच

BIHAR9 hours ago

मुजफ्फरपुर में निराश्रय और दूसरे राज्यों के फंसे लोगों के लिए आपदा प्रबंधन ने की विशेष व्यवस्था

MUZAFFARPUR9 hours ago

वीडियो : कोरोना से जंग में, संदिग्ध मरीजों की जाँच के लिये, एक मुखिया का प्रशासन से गुहार

BIHAR9 hours ago

सभी प्रखंडस्तरीय पदाधिकारी अपना आवासन प्रखण्ड मुख्यालय में ही रहे :डीएम

INDIA10 hours ago

कोरोना के खिलाफ जंग में अक्षय कुमार ने बढ़ाया मदद का हाथ, दान किए 25 करोड़ रुपए

INDIA10 hours ago

टाटा ट्रस्ट्स के 500 करोड़ रुपये के अलावा टाटा संस ने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए दिए अतिरिक्त 1000 करोड़ रुपये

INDIA11 hours ago

ऋषि कपूर की अपील- सरकार शाम को खोले शराब की दुकान, लॉकडाउन में दूर होगा स्ट्रेस

INDIA11 hours ago

कोरोना वायसस से लड़ने के लिए रतन टाटा ने 500 करोड़ रुपये की सहायता की घोषणा की

BIHAR1 day ago

स्पाइसजेट का सरकार को प्रस्ताव, दिल्ली-मुंबई से बिहार के मजदूरों को ‘घर’ पहुंचाने के लिए हम तैयार

cheating-on-first-day-of-haryana-board-exam
INDIA3 weeks ago

बिहार तो बेवजह बदनाम है… हरियाणा बोर्ड परीक्षा में शिखर पर नकल

INDIA6 days ago

PM मोदी को पटना के बेटे ने दिए 100 करोड़ रुपये, कहा – और देंगे, थाली भी बजाई

INDIA2 days ago

पूरी हुई जनता की डिमांड, कल से दोबारा देख सकेंगे रामानंद सागर की ‘रामायण’

BIHAR2 weeks ago

जूली को लाने सात समंदर पार पहुंचे लवगुरु मटुकनाथ, बोले- जल्द ही होंगे साथ

BIHAR2 weeks ago

बिहार में 81 एक्सप्रेस और 32 पैसेंजर ट्रेनें दो सप्ताह के लिए रद्द, देखें लिस्ट

BIHAR4 weeks ago

बड़ी खुशखबरी: बिहार में घरेलू गैस की अब नहीं होगी किल्लत, बांका में नया प्लांट शुरू

BIHAR4 days ago

अब नहीं सचेत हुए बिहार वाले तो, अपनों की लाशें उठाने को रहें तैयार

INDIA3 weeks ago

आज होगी देश की सबसे महंगी शादी, 500 पंडित पढ़ेंगे मंत्र

BIHAR4 days ago

लॉकडाउन के बाद पैदल जयपुर से बिहार के लिए निकले 14 मजदूर, भूखे-प्यासे तीन दिन में जयपुर से आगरा पहुंचे

Trending