Connect with us

BIHAR

मुजफ्फरपुर में मेगा फूड पार्क के बाद अब सर्जिकल और फार्मा पार्क

Published

on

मोतीपुर में देश के सबसे बड़े फूड पार्क के बाद जिले में सर्जिकल और फार्मा पार्क को मंजूरी मिल गई है। बेला औद्योगिक क्षेत्र स्थित इंडियन ड्रग्स एंड फार्मास्यूटिकल लिमिटेड (आईडीपीएल) की जमीन पर सर्जिकल व फार्मा पार्क खुलेगा। इसके लिए उद्योग विभाग से मंजूरी मिल गई है। पार्क के लिए बिहार औद्योगिक क्षेत्र विकास प्राधिकार (बियाडा) ने केंद्रीय परिवार कल्याण व स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़े संस्थानों से संपर्क किया है। मंत्रालय व केंद्रीय संस्थाओं से मंजूरी के बाद बियाडा बेला औद्योगिक क्षेत्र स्थित आईडीपीएल परिसर में सर्जिकल व फार्मा पार्क खुल सकेगा।

chhotulal-royal-taste

इन मेडिकल सामानों का होगा उत्पादन

Advertisement

सर्जिकल व फार्मा पार्क में फैक्ट्रियां खुलने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। पार्क के लिए बियाडा ने आईडीपीएल की 25 एकड़ जमीन को चिह्नित किया है। इस पार्क में मास्क, पीपीई किट, ऑक्सीजन, ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर, सूई, कॉटन, ग्लव्स, टेस्ट किट, पैथलॉजी व सर्जरी के कार्य में उपयोग आने वाले सामान व दवाओं का उत्पादन हो सकेगा। निजी कंपनियों द्वारा पार्क में फैक्ट्री खोली जायेगी। बियाडा की प्रोजेक्ट क्लीयरेंस कमेटी की अनुशंसा पर सर्जिकल व फार्मा पार्क में फैक्ट्री लगेगी। बियाडा के कार्यकारी निदेशक एसके सिन्हा ने बताया कि बेला औद्योगिक क्षेत्र में सर्जिकल व फार्मा पार्क स्थापित करने के लिए तैयारी चल रही है।

1996 से बंद है आईडीपीएल

Advertisement

पूर्व केंद्रीय मंत्री स्थानीय सांसद रहे जार्ज फर्नांडिस की पहल पर 1977 में बेला में इंडियन ड्रग्स एंड फार्मास्यूटिकल्स लिमिटेड (आईडीपीएल) की स्थापना हुई थी। वर्ष 1994 में इसका नाम बिहार ड्रग्स औद्योगिक केमिकल लिमिटेड रखा गया। शुरुआती दौर में नियासिन जैसी विटामिन बी-3 कंपोजीशन, एसिटिक एसिड और दवाओं के लिए कच्ची सामग्री तैयार होती थी। कई नामी दवा कंपनियां यहां से कच्चा माल खरीदती थीं। अप्रैल 1996 में आईडीपीएल बंद हो गया। फिलहाल यहां पर सात साल से एसएसबी का कैंप चल रहा है।

clat

देश का सबसे बड़ा फूड पार्क बन रहा मुजफ्फरपुर में

Advertisement

मुजफ्फरपुर के मोतीपुर ब्लॉक में केंद्र सरकार की तरफ से एक मेगा फूड पार्क को मंजूरी मिल चुकी है। इस बड़ी सौगात का ऐलान उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने स्नेह मिलन एवं उद्योग संवाद कार्यक्रम में किया। मंत्री ने कहा कि बिहार के मुजफ्फरपुर में देश का सबसे बड़ा फूड पार्क बनेगा।

prashnat-automobiles-pvt-ltd

बता दें कि, गुरुवार को उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन के कार्यकाल का एक साल पूरा हो गया। पिछले वर्ष यानी 10 फरवरी 2021 को उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली थी। उन्होंने इस अवसर पर स्नेह मिलन एवं उद्योग संवाद कार्यक्रम आयोजित किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि एक साल पहले PM नरेंद्र मोदी ने उन्हें बुलाया। पीएम मोदी ने कहा कि “जाओ शाहनवाज बिहार जाओ, वहां उद्योग लगाओ।

Advertisement

Source : Hindustan

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

BIHAR

बिहार : बेटी के अंतरजातीय विवाह से नाराज पूर्व विधायक ने दी थी हत्या की सुपारी

Published

on

बेटी के अंतरजातीय विवाह से नाखुश सारण जिले के मढ़ौरा से पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा ने उसकी हत्या की साजिश रच डाली। बेटी को मौत के घाट उतारने की सुपारी (ठेका) पूर्व विधायक ने बिहटा के सिकंदरपुर के रहने वाले कांट्रैक्ट किलर अभिषेक सिंह उर्फ छोटे सरकार को दी थी। हालांकि छोटे सरकार इस वारदात को अंजाम देने में विफल रहा।

एसएसपी डॉ. मानवजीत सिंह ढिल्लों की विशेष टीम ने कांट्रैक्ट किलर छोटे सरकार व उसके भाई राहुल को न्यू बाइपास से गिरफ्तार किया, जबकि पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा व उनके गुर्गे ज्ञानेश्वर शर्मा को सारण से पकड़ा है। अपराधियों के पास से एक पिस्टल, एक कट्टा, एक मैग्जीन, नौ गोलियां, एक बाइक और घटना के समय पहना गया कपड़ा बरामद किया है।

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

दोहरे हत्याकांड में शामिल था अभिषेक: एसएसपी ने बताया कि अभिषेक ने बीते 31 मई को पत्रकारनगर के काली मंदिर रोड में अरवल से भाजपा के पूर्व विधायक चितरंजन शर्मा के दो भाइयों की गोली मारकर हत्या की थी। वह पांडव गिरोह के सरगना संजय सिंह का खासमखास था। अभिषेक ने संजय के इशारे पर पूर्व विधायक के सगे चाचा अभिराम शर्मा व भतीजे दिनेश शर्मा की जहानाबाद व मसौढ़ी में गोली मारकर हत्या की थी। उस पर दो दर्जन हत्या के मामले दर्ज हैं। वर्ष 2015 से जरायम की दुनिया में सक्रिय अभिषेक पहली बार पुलिस के हत्थे चढ़ा है।

nps-builders

जेपी-गंगा पथ से लौट रही थी, तभी शूटर आये : पूर्व विधायक की बेटी पति के साथ एक जुलाई की रात जेपी-गंगा पथ की सैर कर लौट रही थी। इसी बीच जैसे ही वह बोरिंग कैनाल रोड पहुंची, पीछे से बाइक सवार दो शूटरों ने ओवरटेक कर उसकी गाड़ी रोक दी।

Advertisement

पिस्टल में गोली फंस गयी: अपराधी ने पूर्व विधायक की बेटी पर गोली चलायी, पर वह पिस्टल में फंस गई। मिसफायर होता देख उसके पति सह मोबाइल दुकान के मालिक ने तेजी से गाड़ी आगे बढ़ा दी। रास्ते में गश्ती गाड़ी को दोनों ने इसकी सूचना दी।

‘तुम्हारे बाप ने तुम्हारे लिये खैरात भेजा है’

Advertisement

गाड़ी रोकने के बाद बाइक के पीछे बैठा शूटर महिला की गाड़ी के पास आया। उसने कहा – ‘नौबतपुर जाने का रास्ता किधर है’। पता पूछने की बात सुनकर जब महिला ने गाड़ी का शीशा खोला तो शूटर ने कहा- ‘तुम विधायक की बेटी हो न’। इस पर महिला ने कहा- हां। तुम्हें इससे क्या मतलब। इतना सुनने के बाद शूटर ने एकाएक पिस्टल निकाली और कहा- ‘तुम्हारे बाप ने तुम्हारे लिये खैरात भेजा है’। फिर शूटर ने महिला पर गोली चला दी।

पिता के खिलाफ दर्ज करवायी एफआईआर

Advertisement

पूर्व विधायक की बेटी एसके पुरी थाने पहुंची। जहां उसने पिता के खिलाफ केस दर्ज कराया। पहले उसकी बात पर पुलिस को भरोसा नहीं हुआ लेकिन तहकीकात के दौरान आरोप सही पाये गये। इसके बाद पुलिस ने विधायक को गिरफ्तार किया, उसके बाद कांट्रैक्ट किलर दबोचे गए।

पुलिस अभिषेक सिंह उर्फ छोटे सरकार को पकड़ने के लिये पिछले एक महीने से प्रयास कर रही थी। हमारी टीम को सूचना थी कि वह किसी घटना को अंजाम देने वाला है। पत्रकारनगर में पूर्व विधायक के सहोदर भाइयों की हत्या मामले में पुलिस उसे रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। हमारी टीम पांडव गिरोह के सरगना संजय सिंह की तलाश में जुटी हुई है। वहीं बेटी की हत्या की सुपारी देने के मामले में पूर्व विधायक सुरेंद्र शर्मा, छोटे सरकार सहित चार को जेल भेजा जा रहा है। – डॉ. मानवजीत सिंह ढिल्लों, एसएसपी पटना

Advertisement

Source : Hindustan

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

बिहार के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह का निधन, पटना में ली अंतिम सांस

Published

on

इस वक्त की बड़ी खबर बिहार की राजधानी पटना से आ रही है जहां बिहार सरकार के पूर्व मंत्री और प्रदेश के कद्दावर नेता नरेंद्र सिंह का निधन हो गया है. नरेंद्र सिंह का निधन इलाज के दौरान पटना के एक निजी नर्सिंग होम में हुआ है. वो बीते कई दिनों से बीमार चल रहे थे.

नरेंद्र सिंह के निधन से पूरे प्रदेश में शोक की लहर है. पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह के पुत्र सुमीत कुमार सिंह बिहार सरकार में मंत्री हैं. उनके निधन की खबर से पैतृक जिले जमुई में भी शोक की लहर दौड़ गई. नरेंद्र सिंह लीवर की बीमारी से पीड़ित थे और काफी दिनों से पटना के एक निजी अस्पताल में इलाजरत थे.

Advertisement

उनके निधन से कुछ दिन पहले ही बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी अस्पताल जाकर मुलाकात की थी और कुशलक्षेम जाना था. नरेंद्र सिंह बिहार में कई विभागों में मंत्री पद संभाल चुके थे और प्रदेश सहित राजपूत बिरादरी की राजनीति में उनका विशेष प्रभाव था.

Source: News18

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

आधी रात को दिव्यांग के घर पहुंचे DM, दरवाजा खटखटा कर पूछा- पेंशन मिलता है या नहीं

Published

on

बिहार के रोहतास जिले के डीएम धर्मेंद्र कुमार इन दिनों अपने काम को लेकर लगातार चर्चा में हैं. बात चाहे नल जल योजना की हकीकत जानने के लिए टंकी पर चढ़ने की या फिर रात्रि दौरे की डीएम साहब लगातार चर्चा में हैं. डीएम सप्ताह में एक दिन में किसी न किसी गांव में रात बिता रहे हैं. ऐसे में वो देर रात तक गांव में घूमते रहते हैं. गांव के चौपाल पर बैठकर लोगों की समस्याएं सुनते हैं और सबसे बड़ी बात है कि इस दौरान उनके साथ जिला के तमाम आला अधिकारी भी मौजूद रहते हैं, जिस कारण विभिन्न समस्याओं का मौके पर ही निराकरण हो जाता है.

इसी क्रम में धर्मेंद्र कुमार कोचस के चिलबिला गांव में रात्रि दौरा के क्रम में पहुंचे और देर रात एक घर का दरवाजा खटखटाया. गृह स्वामी ने जब पूछा कि आप कौन हैं ? तो उन्होंने अपना परिचय देते हुए कहा कि मेरा नाम धर्मेंद्र कुमार है. मैं आपके जिले का सबसे बड़ा सेवक हूं अर्थात जिले का डीएम हूं और आपकी समस्याएं जानने आपके घर आया हूं. घर के अंदर चौकी पर लेटे दिव्यांग प्रभु सिंह को देखकर डीएम ने पूछा कि क्या इन्हें सामाजिक सुरक्षा के तहत दिव्यांगता के लिए नियमित पेंशन मिल रहा है? जब ग्रामीण से पेंशन मिलने की बात बताई गई, तब डीएम संतुष्ट हुए. जिले में यह चर्चा का विषय बना हुआ है.

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

पिछले 3 हफ्तों से रोहतास के जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार सप्ताह में एक दिन पूरे लाव लश्कर के साथ किसी न किसी गांव में पहुंच जाते हैं और पूरी रात गांव में ही बिताते हैं. यह कहे कि लगभग 20 घंटे वे किसी एक गांव में रुकते हैं. इस दौरान घर-घर जाकर लोगों की समस्याओं से रूबरू होते हैं. खासकर पेयजल, स्वास्थ्य और खाद्यान्न से संबंधित शिकायतों को लेकर वे काफी गंभीर दिख रहे हैं. बड़ी बात है कि इस दौरान विभिन्न योजनाओं से वंचित लाभुकों को त्वरित लाभ भी दिया जा रहा है. जिससे ग्रामीण भी उत्साहित होते हैं और विभिन्न समस्याओं का मौके पर ही निराकरण हो जा रहा है.

Source: News18

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Continue Reading
INDIA31 mins ago

कर्नाटक की सिनी शेट्टी ने जीता मिस इंडिया का खिताब

BIHAR39 mins ago

बिहार : बेटी के अंतरजातीय विवाह से नाराज पूर्व विधायक ने दी थी हत्या की सुपारी

BIHAR1 hour ago

बिहार के पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह का निधन, पटना में ली अंतिम सांस

BIHAR3 hours ago

आधी रात को दिव्यांग के घर पहुंचे DM, दरवाजा खटखटा कर पूछा- पेंशन मिलता है या नहीं

VIRAL3 hours ago

`हीरो तू मेरा हीरो है` पर वर्दी पहनकर रील बनानी पड़ गई भारी, तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड

BIHAR3 hours ago

बिहार ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, 99 घंटे में 38 किलोमीटर सड़क निर्माण का दावा

MUZAFFARPUR4 hours ago

मुजफ्फरपुर शहर पांच फीडर के 30 मोहल्ले में चार घंटे तक बंद रहेगी बिजली

BIHAR4 hours ago

उत्तर बिहार के दो जिलों में भारी बारिश और ठनका का अलर्ट, पटना समेत अन्य इलाकों में भी गिरेगा पानी

BIHAR5 hours ago

बिहार में धीरे-धीरे खतरनाक हो रहा कोरोना, रविवार को 78 नए मामले, एक मौत

BIHAR12 hours ago

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव सीढ़ियों से गिरे, कंधे की हड्डी में हुआ फ्रैक्चर, 2 महीने बेड रेस्ट की सलाह

TECH2 weeks ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

BIHAR5 days ago

विधवा बहू की ससुरालवालों ने कराई दूसरी शादी, पिता बन कर ससुर ने किया कन्यादान

BIHAR1 week ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

BIHAR4 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

MUZAFFARPUR4 days ago

मुजफ्फरपुर: पुलिस चौकी के पास सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, अड्डे से आती थी रोने की आवाज

BIHAR3 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

BIHAR3 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

JOBS4 weeks ago

IBPS ने निकाली बंपर बहाली; क्लर्क, PO समेत अन्य पदों पर निकली वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू

BIHAR2 weeks ago

बिहार का थानेदार नेपाल में गिरफ्तार; एसपी बोले- इंस्पेक्टर छुट्टी लेकर गया था

BIHAR5 days ago

बिहार संपर्क क्रांति समेत चार ट्रेनों के रूट डायवर्ट

Trending