Connect with us

JHARKHAND

दो साल बाद देवघर में फिर से लगेगा विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला

Published

on

देवघर. दो साल के लंबे अंतराल के बाद झारखंड के देवघर में इस बार फिर से सावन मेला लगेगा. बाबा नगरी देवघर में इस बार श्रद्धालु भगवान शंकर का दर्शन और जलाभिषेक कर सकेंगे. श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर देवघर समाहरणालय में समीक्षात्मक बैठक की गई. इस बैठक की अध्यक्षता देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री ने की. बैठक के बाद देवघर डीसी ने कहा कि श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर यह बैठक की गई थी. सभी विभागों को दिए गए कार्यों की आज समीक्षा की गई और समय रहते सभी कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

डीसी ने बताया कि देवघर मंदिर सहित विभिन्न स्थलों का जायजा भी लिया गया है और आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए हैं. देवघर बाबा मंदिर में शीघ्र दर्शन की नई व्यवस्था लागू की जाएगी वही कांवरिया पथ की तैयारियां भी शुरू कर दी गई है. दूसरी तरफ कांवरिया पथ में बने होल्डिंग पॉइंट में श्रद्धालुओं को रोका जाएगा. इसके अलावा देवघर बाबा मंदिर के समीप क्यू कांप्लेक्स में भी तीन कमरों में बैरिकेटिंग की गई है.

Advertisement

nps-builders

देवघर डीसी ने कहा कि सभी तैयारियां युद्धस्तर पर चल रही हैं. इस बार श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ेगी इसके लिए विभिन्न जगह पर होल्डिंग पॉइंट बनाए जा रहे हैं. इसके अलावा देवघर नगर निगम और पेयजल स्वच्छता विभाग को पानी की समुचित व्यवस्था करने और निगम को समुचित सफाई की व्यवस्था करने का निर्देश जारी किया गया है जिसमें स्वयंसेवी संस्थाओं की भी मदद ली जाएगी. डीसी ने कहा कि सभी विभागों के टेंडर हो चुके हैं और सभी के कार्य सुनिश्चित कर इन्हें फील्ड में भी भेज दिया गया है. समय रहते सभी कार्य निष्पादित कर दिए जाएंगे.

गौरतलब है कि 13 जुलाई से श्रावणी मेला की शुरुआत हो रही है. कोरोना महामारी के कारण 2 साल के अंतराल के बाद श्रावणी मेला का आयोजन हो रहा है, ऐसे में श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफा होने की उम्मीद जताई जा रही है. बैठक में देवघर एसपी, एसडीओ, डीडीसी सहित सभी विभागों के अभियंता और पदाधिकारी मौजूद रहे.

Advertisement

Source : News18

Genius-Classes

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

JHARKHAND

श्रवणी मेला से पहले देवघर में कोरोना की रफ्तार ने बढ़ाई चिंता, 61 एक्टिव केस के साथ झारखंड में दूसरे नंबर पर बाबाधाम

Published

on

देवघर में 14 जुलाई से शुरू हो रहे विश्वप्रसिद्ध राजकीय श्रवणी मेले से पहले कोविड संक्रमण की रफ्तार भी बढ़ती जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, कोविड के 61 एक्टिव मामलों के साथ बाबाधाम, राजधानी रांची के बाद दूसरे पायदान पर पहुंच गया है। अगर कोविड की रफ्तार पर ब्रेक नहीं लगा तो, आने वाले महीनों में स्थिति भयावह हो सकती है। हालांकि, इस बीच जिला प्रशासन की तरफ से लगातार जिले के तमाम इलाकों में टेस्टिंग और ट्रेसिंग कराए जा रही है।

दूसरी तरफ जिले के एक बड़े निजी स्कूल से संक्रमण के तीन नए मामले सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है। राज्य सरकार की तरफ से कोविड संक्रमण को लेकर जारी ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक, रांची में सबसे अधिक 118 कोविड के एक्टिव मामले दर्ज किए गए जबकि, देवघर 61 एक्टिव मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। देवघर में श्रवणी मेले की शुरुआत होने में अब महज 15 दिन शेष रह गए हैं ऐसे में जिस रफ्तार से कोरोना अपना पांव पसार रहा है वह बेहद चिंताजनक हैं।

Advertisement

निजी स्कूल में पाए गए 2 पॉजिटिव, मचा हड़कंप

मंगलवार को देवघर में कोरोना संक्रमण के 11 नए मामले डिटेक्ट किये गए जिनमें 3 शहर के एक बड़े निजी स्कूल से सामने आए। स्कूल से संक्रमण की खबर मिलते ही स्वास्थ्य विभाग फौरन हरकत में आ गया और स्कूल के 108 लोगों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की गई। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, एंटीजन किट से कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के दौरान 2 अन्य लोग भी संक्रमित पाए गए। इसके बाद विद्यालय प्रबंधन को ज़रूरी एहतियात बरतने के साथ ही सैनेटाइजर छिड़काव करने को कहा है। इसके अलावा पॉजिटिव पाए गए लोगों को भी घर मे रहने, मास्क पहनने और सोशल डिस्टनसिंग का पालन करने की हिदायत दी गई है।

Advertisement

Genius-Classes

देवघर में 14 जुलाई से श्रवणी मेला की शुरुआत होने जा रही है। यह मेला 12 अगस्त तक चलेगा। विश्व के सबसे लंबे दिन तक चलने वाले इस आध्यात्मिक मेले में इस साल करीब 30 लाख लोगों के आने की संभावना है। ऐसे में राजकीय मेला का दर्जा प्राप्त इस मेले के सफल संचालन को लेकर राज्य सरकार से लेकर जिला प्रशासन तक अलर्ट मोड़ पर है और सभी विभागों को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं ताकि, कोविड की बढ़ती रफ्तार के बीच आयोजित हो रहे श्रवणी मेले में संक्रमण को रोका जा सके।

Source: NBT

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Continue Reading

JHARKHAND

धोनी के फार्म हाउस में आया नया मेहमान, साक्षी के दिल के है बेहद करीब

Published

on

रांची. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी खास अंदाज और शौक के लिए दुनिया भर में जाने जाते हैं. उनके खास अंदाज के कई लोग दीवाने भी हैं. महेंद्र सिंह धोनी अक्सर अपने फार्म हाउस में अपनी पत्नी के साथ-साथ अलग प्रकार की सब्जी, फसल आदि उगाते दिख जाते हैं. दरअसल धोनी क्रिकेट के बाद किसानी और गोपालन के साथ-साथ माही घोड़े और कुत्तों को पालने के भी बेहद शौकीन रहे हैं.

nps-builders

लेकिन, जानवरों को लेकर अपनी दीवानगी में माही ने कुछ ऐसा कर दिखाया है कि उनके फैंस बेहद रोमांचित हैं. धोनी के फार्म हाउस में इन दिनों दो बेहद खूबसूरत बकरे नजर आ रहे हैं. सफेद रंग के इन दो बकरों को धौनी ने करीब एक साल पहले गुजरात से लाया था. लेकिन, इन्हें फार्म हाउस के बजाय कहीं और रखा गया था.

Advertisement

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sakshi Singh (@sakshisingh_r)

Advertisement

दोनों बकरों के बेहद करीब हैं साक्षी धोनी

Advertisement

अब साक्षी धोनी ने इन दोनों बकरों की तस्वीर अपने इंस्टाग्राम पर शेयर की है. सूत्रों के अनुसार यह दोनों बकरे माही ने करीब एक साल पहले साक्षी धोनी को गिफ्ट किए थे. साक्षी धोनी इन दोनों बकरों के साथ बेहद करीब से जुड़ी हैं और इनका खास ख्याल रखती हैं. मिली जानकारी के मुताबिक इन दोनों बकरों के लिए खाना साक्षी धोनी के सिमलिया स्थित आवास से फार्म हाउस पहुंचता है. ‌इसके अलावा इन दोनों बकरों के लिए खाना मुंबई से भी मंगाया जाता है. फिलहाल दोनों बकरे फार्म हाउस की नरम नरम खास और पौष्टिक भोजन खाने के बाद बेहद सेहतमंद नजर आ रहे हैं.

सपरिवार फार्म हाउस पहुंचे थे महेंद्र सिंह धोनी

Advertisement

बता दें, आईपीएल के बाद धौनी लंबे समय से अपनी पत्नी साक्षी धोनी और बेटी जीवा के साथ रांची में ही क्वालिटी टाइम गुजार रहे हैं. ‌मिली जानकारी के मुताबिक धौनी हर दो-तीन दिन पर अपने सिमालिया स्थित आवास से सैंबो स्थित फार्म हाउस जाते रहते हैं. पिछले शनिवार को धौनी सपरिवार फार्म हाउस पहुंचे थे. इस दौरान साक्षी धोनी ने दोनों बकरों के संबंध में वहां के स्टाफ से जानकारी ली थी. बताया जा रहा है कि इन दोनों बकरों का खास ख्याल रखने के लिए दो लोगों को इसकी जिम्मेदारी दी गयी है, जो हर वक्त उनके खाने-पीने से लेकर दूसरी जरूरतों का ध्यान रखते हैं.

Source : News18

Advertisement

Genius-Classes

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Continue Reading

JHARKHAND

आगे-आगे आरोपी पीछे-पीछे पूर्णिया पुलिस, चोर-चोर की आवाज लगाकर फिल्मी स्टाइल में गिरफ्तारी

Published

on

गिरिडीह. गिरिडीह शहर के निखर होटल में खाना खा रहे एक युवक ने अचानक भागना शुरू कर दिया. इस युवक के पीछे पुलिस भी दौड़ पड़ी. बिहार के पूर्णिया के कस्बा थाने की पुलिस खदेड़ कर उसे दबोचने का प्रयास किया. लेकिन युवक तेज गति से निखर होटल से भागते हुए मकतपुर रोड की एक गली में घुस गया. इस दौरान कस्बा थाने के एसआइ नवदीप और जवान उसे चोर-चोर कह कर खदेड़ कर दबोचने का प्रयास करने लगे. तब स्थानीय लोगों के सहयोग से युवक को पकड़ा गया. उसे निखर होटल पहुंचाया गया. कुछ देर बाद पूर्णिया पुलिस की टीम वहां से निकल गयी.

घटना की जानकारी गिरिडीह नगर थाना पुलिस को भी नहीं मिल पायी. घटना के दौरान आसपास के लोगों की भीड़ लग गयी. भीड़ को देखते हुए ही निखर होटल के प्रबंधक ने गेट बंद करा दिया. पूर्णिया पुलिस की महिला एसआइ ने बताया कि आरोपी साकेत कुमार बिहार के नवादा जिले का रहने वाला है. उसने बीते सप्ताह पूर्णिया की एक नवविवाहिता को प्रेमजाल में फंसाया और उसे लेकर भाग गया. उसे रामगढ़ के रजरप्पा ले आया.

Advertisement

आरोपी युवक साकेत नवविवाहिता को रजरप्पा में अपने दोस्त के घर पर रखा था. उधर, पूर्णिया के कस्बा थाने में नवविवाहिता के पिता ने अपहरण का केस दर्ज कराया. इसके बाद कस्बा थाने की पुलिस मामले की जांच में जुटी और आरोपी युवक साकेत का मोबाइल नंबर ट्रेस करते हुए दोनों को तलाशते हुए रजरप्पा पहुंच गयी. पुलिस शनिवार को आरोपी युवक और नवविवाहिता को साथ लेकर पूर्णिया लौट रही थी. इसी क्रम में गिरिडीह के कचहरी रोड स्थित निखर होटल में रुक कर खाना खाया. जहां युवक ने पुलिस के चंगुल से भागने की कोशिश की. आरोपी युवक और युवती का पहचान फेसबुक के माध्यम से हुई थी.

Source : News18

Advertisement

nps-builders

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Continue Reading
INDIA3 mins ago

1 जुलाई से नहीं लागू हो रहे नए श्रम कानून, करना होगा और इंतजार

BIHAR1 hour ago

पटना सिविल कोर्ट में ब्लास्ट, अगमकुआं थाना के दारोगा जख्मी

JOBS2 hours ago

सिंगल यूज प्‍लास्टिक बैन होने से न हों परेशान, कागज से जुड़ा कारोबार कराएगा मोटी कमाई

BIHAR3 hours ago

मोदी नगर और नीतीश नगर पर बोली राबड़ी देवी, सांसदों को आदर्श गांव बनाने की मिली थी जिम्मेदारी..उसका क्या हुआ?

TECH3 hours ago

आ गई दुनिया की पहली सोलर चार्जिंग लेंस वाली ये धाकड़ स्मार्टवॉच

INDIA4 hours ago

पैगंबर पर टिप्पणी के लिए नूपुर शर्मा को टीवी पर पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए: सुप्रीम कोर्ट

INDIA5 hours ago

बाबा बर्फानी की जयकार के बीच अमरनाथ यात्रा शुरू

BIHAR7 hours ago

आरजेडी ने देवेंद्र को बताया देश का पहला अग्निवीर

MUZAFFARPUR7 hours ago

मुजफ्फरपुर : सर्वे के बहाने दिनदहाड़े घर में घुसकर 5 लाख के गहने लूटे

INDIA9 hours ago

20 रुपये की चाय पर रेलवे ने वसूला 50 रुपये का सर्विस चार्ज, भड़का ट्रेन यात्री

TECH1 week ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

BIHAR2 days ago

विधवा बहू की ससुरालवालों ने कराई दूसरी शादी, पिता बन कर ससुर ने किया कन्यादान

BIHAR5 days ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

BIHAR3 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

BIHAR3 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

MUZAFFARPUR1 day ago

मुजफ्फरपुर: पुलिस चौकी के पास सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, अड्डे से आती थी रोने की आवाज

BIHAR2 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

JOBS3 weeks ago

IBPS ने निकाली बंपर बहाली; क्लर्क, PO समेत अन्य पदों पर निकली वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू

BIHAR1 week ago

बिहार का थानेदार नेपाल में गिरफ्तार; एसपी बोले- इंस्पेक्टर छुट्टी लेकर गया था

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर समेत पूरे बिहार में सेना की अग्निपथ स्कीम का विरोध, सड़क जाम व ट्रेनों पर पथराव

Trending