Connect with us

INDIA

एक भारतीय जिसने दक्षिण अफ्रीका में बदल दिया पेमेंट का तरीका, डिजिटल पेमेंट की राह कर दी आसान

Published

on

दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में इन दिनों लोगों की ऑनलाइन पेमेंट और व्यवसाय से जुड़ी दिक्कतें दूर हो रही हैं. पूरे अफ्रीकी प्रायद्वीप में डिजिटल पेमेंट बेहद सरल हो चुकी है. इसके पीछे जो संस्थान काम कर रहा है उसका नाम है पीच पेमेंट. जो अब डिजिटिल पेमेंट के मामले में दक्षिण अफ्रीका से बाहर भी पैर पसार रहा है. खास बात यह है कि इस पीच पेमेंट के विचार के पीछे दिल्ली के एक व्यवसायी परिवार के सदस्य राहुल जैन हैं.

राहुल जैन जिसने दक्षिण अफ्रीका में बदल दिया पेमेंट का तरीका (TOI)

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक, राहुल जैन ने सेंट कोलंबिया स्कूल से अपना एमबीए किया और इसी दौरान वह जब इंटर्नशिप के लिए दक्षिण अफ्रीका गए, वहां उन्हें जर्मन साथी एंड्रियास डेमलिटनर मिले. दोनों अपनी डिग्री लेने के बाद भी एक दूसरे के संपर्क में रहे. जब राहुल जैन बोस्टन में थे तभी नवंबर 2011 में एंड्रियास ने उन्हें बुलाया और अफ्रीका में डिजिटल पेमेंट व्यवसाय में जुड़ने का प्रस्ताव दिया. इस तरह पीच पेमेंट का सफर शुरू हुआ.

Advertisement

व्यावसायिक परिवार से हैं राहुल

दरअसल, व्यवसाय राहुल के खून में है, उनके पिता और माता के परिवार की पीढ़ियां शुरू से ही व्यवसाय से जुड़ी रही हैं और वह शुरू से ही खुद का कुछ करना चाहते थे. इसलिए जैसे ही उन्हें पीच पेमेंट का प्रस्ताव मिला उन्होंनें इसे तुरंत स्वीकार कर लिया.
आज पीच पेमेंट्स पूरे अफ्रीका में व्यापार को बढ़ाने के मामले में एक ठोस आधार बन कर उभरा है, जो वेबसाइट, ऐप, फोन, ईमेल और एसएमएस के साथ-साथ दूसरे डिजिटल चैनलों के जरिये किसी उत्पाद या सर्विस उपलब्ध कराने वाले किसी भी व्यापार को ऑनलाइन भुगतान की सुविधा प्रदान करवाता है.

Advertisement

nps-builders

कोविड के दौर ने बदल दिया बिजनेस

टुडे पीच पेमेंट्स – जो वेबसाइटों, ऐप, फोन, ईमेल और एसएमएस सहित डिजिटल चैनल के माध्यम से उत्पाद या सेवा बेचने वाले किसी भी उद्यम को ऑनलाइन भुगतान समाधान प्रदान करता है – ने पूरे अफ्रीका में व्यापार स्केलिंग के साथ एक ठोस आधार बनाया है. जैन कहते हैं, “हम वर्तमान में दक्षिण अफ्रीका, केन्या और मॉरीशस में सक्रिय हैं और इस साल के अंत तक अफ्रीका के दो और देशों में विस्तार करेंगे. हम अफ्रीका के अग्रणी भुगतान मंच का निर्माण करने जा रहे हैं.” महामारी ने डिजिटल कॉमर्स के प्रति उपभोक्ता व्यवहार में एक मौलिक बदलाव देखा है और यह व्यवसाय के लिए बेहद फायदेमंद रहा है. फिलहाल दक्षिण अफ्रीका, केन्या और मॉरीशस में सक्रिय पीच पेमेंट दो और देशों में अपनी सेवाएं देने जा रहा है. जैन का कहना है कि महामारी के चलते लोगों का भुगतान का तरीका बदला है और इसने लोगों को डिजिटल पेमेंट की और आकर्षित किया है, जिससे इससे जुड़े व्यवसाय को काफी फायदा पहुंचा है.

Advertisement

जैन बताते हैं, “जो लोग पहले ऑनलाइन खरीददारी से हिचकते थे, वो भी लॉकडाउन की वजह से ऐसा करने के लिए मजबूर हो गए हैं. हालांकि, इसके ज़रिए ग्राहक डिजिटल कॉमर्स और इससे जुड़ी सुविधाओं का महत्व समझने लगे हैं जिससे उनके जीवन पर प्रभाव पड़ रहा है. डिजिटल कॉमर्स पर लोगों के भरोसे ने बहुत कुछ बदल दिया है. इसका ये भी अर्थ है कि इसकी वजह से कई उद्योग और क्षेत्र बंद पड़ गए हैं, जबकि कई स्टार्ट अप्स के लिए ये सुनहरा मौका साबित हो रहा है.” जो व्यापार पहले सिर्फ ई-कॉमर्स की तरफ देखथे थे, अब देखते ही देखते वो ऑनलाइन आ गए हैं.

chhotulal-royal-taste

कठिन था अफ्रीका में बिजनेस शुरू करना

Advertisement

आश्चर्य की बात नहीं है कि पीच पेमेंट्स में 2020 में नए अकाउंट्स की तादाद बहुत ज़्यादा बढ़ी है. जैन याद करते हैं कि नए देश में नया व्यवसाय शुरू करने में उन्हें निजी स्तर पर कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा था. वह कहते हैं, “मेरा कोई नेटवर्क नहीं था. दक्षिण अफ्रीका में पहले बैंक को हमारे साथ काम करने के लिए मनाने के लिए हमें एक साल लग गया. वहां फंडिंग को लेकर सोच भी काफी अलग है. अफ्रीका वो जगह नहीं थी जहां वेंचर कैपिटल में रुचि बहुत ज़्यादा थी. लेकिन, पिछले दो साल में हालात बदले हैं. आज अफ्रीका में नई कंपनियां पैर पसार रही हैं और लगातार 10 करोड़ डॉलर से ऊपर का फंड उठा रहे हैं. 2014 में तो 10 लाख डॉलर भी उठा पाना मुश्किल था.

Source : News18

Advertisement

clat

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

INDIA

वीवो के ऑफिस में ईडी के छापे से भड़का चीन, कहा-कंपनियों का भरोसा टूटेगा

Published

on

बीजिंग. चीन की मोबाइल बनाने वाली कंपनी वीवो (VIVO) पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) की छापेमारी के बाद चीन का जवाब आया है. चीन ने कहा कि उसे उम्मीद है कि भारत की जांच एजेंसी कानून का पालन करते हुए पूरी कार्रवाई करेगी. दिल्ली स्थित चीनी दूतावास ने बुधवार 6 जुलाई को एक बयान जारी किया. इससे पहले 5 जुलाई को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने VIVO और इसके डीलर से जुड़ी 44 साइट पर छापेमारी की थी. यह छापेमारी मनी लॉन्ड्रिंग कानून (PMLA) के उल्लंघन पर की गई थी.

Genius-Classes

चीनी दूतावास के प्रवक्ता वांग शाओजियान ने कहा कि उम्मीद है कि VIVO इंडिया के खिलाफ जांच कानूनी दायरे में होगी. दूतावास ने अपने बयान में कहा कि हम इस मुद्दे को करीब से देख रहे हैं. बयान के मुताबिक, चीनी सरकार ने चीन की कंपनियों को हमेशा कहा है कि वे विदेशों में कानून और नियमों का पालन करें. चीनी सरकार कंपनियों के अधिकार और हित की सुरक्षा के लिए हमेशा उनके साथ खड़ी होती है.

Advertisement

बयान में आगे कहा गया है कि भारत की ओर से चीनी कंपनियों पर लगातार जांच से कंपनियों का बिजनेस प्रभावित होता है. दूतावास ने कहा, “इससे ना सिर्फ कंपनियों की साख खराब होती है बल्कि भारत में बिजनेस का माहौल भी बिगड़ता है. इससे चीन सहित दूसरे देशों की कंपनियों का भारत में निवेश करने और ऑपरेट करने का भरोसा भी टूटता है.”

दूतावास ने अपने बयान में चीन और भारत के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग के फायदे की चर्चा की. चीनी दूतावास ने कहा, “2021 में चीन और भारत के बीच 100 बिलियन डॉलर का ऐतिहासिक द्विपक्षीय व्यापार हुआ. यह बताता है कि दोनों देशों के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग की बड़ी क्षमता है. चीन चाहता है कि कानून और नियमों का पालन करते हुए जांच हो. और भारत चीनी कंपनियों को बिना भेदभाव वाला बिजनेस माहौल उपलब्ध कराए.”

Advertisement

डायरेक्टर्स देश छोड़कर निकले

उधर, VIVO इंडिया के डायरेक्टर्स जेंगशेन वू, झांग जी देश छोड़कर जा चुके हैं. समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से ये जानकारी दी है. जानकारी के मुताबिक आयकर विभाग के साथ-साथ कॉरपोरेट मंत्रालय की भी कंपनी पर नजर है.

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

कहां-कहां पड़ा था छापा?

ईडी ने 5 जुलाई को उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश सहित दक्षिण भारत के राज्यों में छापेमारी की थी. सीबीआई इस मामले में पहले से जांच कर रही है. ये छापेमारी करोड़ों की टैक्स चोरी के खुफिया इनपुट के आधार पर की गई है. VIVO और उससे जुड़ी कुछ कंपनियों पर आरोप है कि इन्होंने सरकार को अपनी कुल कमाई से काफी कम राजस्व दिखाया.

Advertisement

वहीं, चीनी दूतावास के प्रवक्ता वांग जिआओजियान ने कहा, चीन को उम्मीद है कि भारतीय पक्ष कानून का पालन करते हुए जांच करेगा और और प्रभावी रूप से निष्पक्षता प्रदान करेगा. साथ ही चीनी कंपनियों के लिए भारत में निवेश और संचालन के लिए न्यायसंगत और गैर-भेदभावपूर्ण कारोबारी माहौल तैयार करेगा. (एजेंसी इनपुट के साथ)

Source : News18

Advertisement

nps-builders

Continue Reading

INDIA

किसान के झोपड़ी में 2 बल्ब, बिजली बिल एक लाख रुपये का

Published

on

महाराष्ट्र के चंद्रपुर से में बिजली विभाग ने गरीब किसान को एक महीने का बिजली का बिल 1 लाख 380 रुपये का भेज दिया, जिसे देखकर किसान के होश उड़ गए. किसान एक छोटी सी झोपड़ी में रहता है उसके पास ना तो कूलर है, ना पंखा, ना फ्रिज और ना ही टीवी है. महज 2 बल्ब हैं, जो दिन में बंद रहते हैं. फिर भी उसके पास लाखों रुपये का बिल आ गया.

Genius-Classes

परेशान किसान आनन-फानन में सीधे बिजली विभाग के दफ्तर पहुंचा और अधिकारियों से इस मामले की सूचना दी. अधिकारियों ने बिजली बिल कम करते हुए 44 हजार 290 रुपये का भुगतान करने का फरमान सुना दिया. किसान का कहना है कि इतना बिल किस हिसाब से दिया गया उसे यह नहीं बताया गया. जबकि, वो एक छोटी सी झोपड़ी में रहता है.किसान के मुताबिक, उसने सिर्फ 20 यूनिट ही बिजली इस्तेमाल की है. ऐसे में बिल भला 1 लाख 380 रुपये कैसे आ सकता है. इस पर बिजली विभाग का कोई भी अधिकारी इस मामले में बात करने को तैयार नहीं है.

Advertisement

पीड़िता किसान के भतीजे कंतु कोटनाके ने बताया कि उसके बड़े पिताजी के यहा एक महीने का बिजली का बिल 1 लाख 380 रुपये आया है. घर में ना फ्रिज है, ना पंखा है ना ही कोई इलेक्ट्रिक समान है. घर मे सिर्फ दो या तीन बल्ब हैं. वो एक गरीब किसान हैं. इतना बिल कहा से भरेंगे, मेरे बड़े पिताजी परेशान है.

Source: Aaj Tak

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Continue Reading

INDIA

महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड में मनाया बर्थडे, पत्नी साक्षी और ऋषभ पंत भी रहे साथ

Published

on

भारतीय टीम को अपनी कप्तानी में दो वर्ल्ड कप जिताने वाले महेंद्र सिंह धोनी गुरुवार (7 जुलाई) को 41 साल के हो गए हैं. इस बर्थडे का जश्न भी इंग्लैंड में कुछ खास अंदाज में ही मनाया गया. धोनी ने मंद मुस्कान के साथ चमकीले अंदाज में केक काटा.

Genius-Classes

दरअसल, धोनी और साक्षी की शादी की सालगिरह भी 4 जुलाई को ही थी. दोनों की शादी को 12 साल हो गए हैं. ऐसे में यह कपल छुट्टियों पर इंग्लैंड पहुंचा. यहीं दोनों ने मैरिज एनिवर्सरी भी मनाई और अब धोनी का बर्थडे भी सेलेब्रेट किया.

Advertisement

साक्षी ने खुद धोनी का वीडियो शेयर किया

धोनी के इस बर्थडे के जश्न का वीडियो और फोटोज खुद साक्षी ने ही इंस्टाग्राम पर शेयर किए. इस फोटो में आपको टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर बैटर ऋषभ पंत भी नजर आ रहे हैं. पंत इस समय टीम इंडिया के साथ इंग्लैंड दौरे पर हैं, जहां एक टेस्ट मैच हो चुका है. अब तीन टी20 और तीन वनडे मैचों की सीरीज खेली जानी है.

Advertisement

धोनी ने दोनों हाथों से काटा केक

साक्षी ने जो वीडियो शेयर किया है, उसमें धोनी चमकीली जैकेट पहने नजर आ रहे हैं. हर तरफ लाइटिंग दिख रही है. धोनी के लिए शानदार केक तैयार रखा दिखाई दे रहा है. धोनी पहले मोमबत्ती बुझाते हैं और उसके बाद दोनों हाथों से चाकू पकड़कर केक काटते दिखाई दे रहे हैं. इस दौरान वीडियो में बैकग्राउंड में इंग्लिश म्यूजिक भी बज रहा है.

Advertisement

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sakshi Singh (@sakshisingh_r)

Advertisement

धोनी ने पिछला मैच IPL में खेला था

Advertisement

बता दें कि धोनी ने 15 अगस्त 2020 को इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया. धोनी ने टीम इंडिया के लिए 2019 वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल खेला था. हालांकि माही अब भी IPL में खेल रहे हैं. वो अभी चेन्नई टीम के कप्तान भी हैं. धोनी ने आखिरी मैच आईपीएल में ही इसी सीजन में खेला था. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पिछले मैच में धोनी ने 26 रन बनाए थे. यह मैच उनकी टीम हार गई थी.

भारत के सबसे सफल कप्तान हैं माही

Advertisement

वो भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान रहे, जिन्होंने अपनी लीडरशिप में देश को तीन ICC टूर्मामेंट जिताए हैं. धोनी की कप्तानी में सबसे पहले 2007 टी20 वर्ल्ड कप, 2011 में वनडे वर्ल्ड कप और उसके बाद 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जीती थी. वर्ल्ड में धोनी अकेले कप्तान हैं, जिन्होंने यह तीनों टूर्नामेंट जीते हैं.

Source : Aaj Tak

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Continue Reading
INDIA14 mins ago

वीवो के ऑफिस में ईडी के छापे से भड़का चीन, कहा-कंपनियों का भरोसा टूटेगा

INDIA2 hours ago

किसान के झोपड़ी में 2 बल्ब, बिजली बिल एक लाख रुपये का

INDIA2 hours ago

महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड में मनाया बर्थडे, पत्नी साक्षी और ऋषभ पंत भी रहे साथ

INDIA2 hours ago

काली विवाद के बीच अब लीना मणिमेकलई का एक और नया ट्वीट, ‘शिव-पार्वती’ को सिगरेट पीते हुए दिखाया

MUZAFFARPUR4 hours ago

गरीबनाथ मंदिर से अघोरिया बाजार तक हटाया अतिक्रमण

BIHAR4 hours ago

बिहार: दुल्हन बनी प्रेमिका की मांग में प्रेमी ने भर दिया सिंदूर, घरवाले ने पकड़कर जमकर पीटा

BIHAR5 hours ago

बिहार में फिर डराने लगा कोरोना, पटना में 7 डॉक्टर समेत 136 नए संक्रमित मिले; राज्यभर में 309 नए मरीजों की पहचान हुई

BIHAR6 hours ago

लालू यादव इलाज के लिए पटना से दिल्ली पहुंचे, हेमंत सोरेन ने शेयर की एयरपोर्ट पर मुलाकात की तस्वीर

MUZAFFARPUR6 hours ago

फिल्म ‘नफीसा’ बताएगी मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम की सच्चाई, वर्ष के अंत में होगी मुजफ्फरपुर में शूटिंग

MUZAFFARPUR7 hours ago

कांवरियों के बाबा गरीबनाथ मंदिर तक पहुंचने के लिए प्रशासन का रूट चार्ट तैयार

INDIA3 days ago

IAS अतहर की होने वाली वाइफ हैं इतनी स्टाइलिश, फैशन के मामले में हीरोइनों को भी देती हैं मात!

MUZAFFARPUR1 day ago

मुजफ्फरपुर : पढ़ाने को विद्यार्थी नहीं हैं, लौटा रहा हूं तीन साल की तनख्वाह

TECH2 weeks ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

BIHAR2 days ago

पटना की अनोखी शादी: जिस घर में 13 साल पहले नौकरानी बन आई वहीं से दुल्हन बन विदा हुई गुड़िया

BIHAR1 week ago

विधवा बहू की ससुरालवालों ने कराई दूसरी शादी, पिता बन कर ससुर ने किया कन्यादान

BIHAR2 weeks ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

BIHAR4 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

MUZAFFARPUR1 week ago

मुजफ्फरपुर: पुलिस चौकी के पास सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, अड्डे से आती थी रोने की आवाज

BIHAR4 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

BIHAR3 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

Trending