Connect with us

BIHAR

बिहार के विश्वविद्यालयों में स्नातक का पाठॺक्रम बदलेगा

Published

on

अगले सत्र से बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में स्नातक स्तर पर सीबीसीएस (च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम) लागू कर दिया जाएगा। इसके लिए प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके साथ ही बीआरए बिहार विश्वविद्यालय सहित सूबे के सभी विश्वविद्यालयों का सिलेबस बदल जाएगा।

राज्य की उच्च शिक्षा निदेशक प्रो. रेखा कुमारी ने बताया कि सूबे के विश्वविद्यालयों में नए सत्र में सीबीसीएस के तहत पढ़ाई कराई जाएगी। इसके लिए सिलेबस में भी बदलाव किया जाएगा। सिलेबस बदलने की जिम्मेदारी राजभवन की है। इसके लिए अनुरोध पत्र राजभवन को भेज दिया गया है। राजभवन अब कुलपतियों की कमेटी बनाकर सिलेबस बदलने का काम पूरा करेगा। नया सिलेबस नेट, बीपीएससी और यूपीएससी की परीक्षाओं को देखते हुए बनाया जाएगा। इसके बाद राजभवन की ओर से विश्वविद्यालयों को स्नातक का नया सिलेबस भेजा जाएगा। वहीं, राज्य के उच्च शिक्षा सलाहकार प्रो. एनके अग्रवाल ने बताया कि विश्वविद्यालयों को अपने यहां 10 से 20 प्रतिशत चीजों कों जोड़ने की छूट रहेगी। नए सिलेबस में कई चीजें हटेंगी तो कुछ नए अध्याय जुड़ेंगे। नए बनने वाले सिलेबस में स्थानीय सामग्री भी जोड़ी जाएंगी। मसलन, हिंदी में मुजफ्फरपुर की कवि अनामिका और मदन कश्यप जैसे साहित्यकार की रचनाएं शामिल होंगी तो इतिहास में यहां के स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में पढ़ाया जाएगा।

पूरे बिहार के एक ही सिलेबस प्रो. अग्रवाल ने बताया कि पूरे बिहार के विश्वविद्यलयों में अब एक ही सिलेबस रहेगा। यह सिलेबस पटना विवि के सिलेबस की तर्ज पर होगा। पटना विवि ने अपने यहां स्नातक में सीबीसीएस लागू कर दिया है। बताया कि वर्ष 2019 में भी स्नातक के लिए सिलेबस तैयार किया था जो अब भी राजभवन में लंबित है। नये सिलेबस में छह महीने के परीक्षा को देखते हुए सामग्री तैयार की जाएगी।

22 वर्ष पुराना है सिलेबस विश्वविद्यालयों में स्नातक का सिलेबस 22 वर्ष पुराना है। बीआरए बिहार विवि के हिंदी विभाग के अध्यक्ष प्रो. सतीश कुमार राय ने बताया कि पीजी का सिलेबस तीन बाद बदला गया, लेकिन स्नातक के सिलेबस में इतने वर्षों में कोई बदलाव नहीं हुआ। पीजी का सिलेबस वर्ष 2002, वर्ष 2012 और फिर 2018 में बदला गया था। पीजी में वर्ष 2018 में सीबीसीएस लागू किया गया था।

ramkrishna-motors-muzaffarpur

पूरे बिहार के विश्वविद्यालय में रहेगा एक ही सिलेबस

प्रो. अग्रवाल ने बताया कि पूरे बिहार के विश्वविद्यालयों में अब एक ही सिलेबस रहेगा। यह सिलेबस पटना विवि के सिलेबस की तर्ज पर होगा। पटना विवि ने अपने यहां स्नातक में सीबीसीएस लागू कर दिया है। बताया कि वर्ष 2019 में भी स्नातक के लिए सिलेबस तैयार किया था जो अब भी राजभवन में लंबित है। नये सिलेबस में छह महीने के परीक्षा को देखते हुए सामग्री तैयार की जाएगी।

नंबर की जगह ग्रेड और क्रेडिट मिलेगा

च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीबीसीएस) में छात्रों को नंबर की जगह ग्रेड और क्रेडिट दिया जाता है। छात्र अपने हिसाब से विषयों का चयन करते हैं। मसलन, हिंदी का विद्यार्थी अगर विज्ञान का विषय भी पढ़ना चाहे हैं तो वे इसका चयन का कक्षा कर सकते हैं। छात्र को उसके अटेंडेंस और क्रेडिट अंक मिलेंगे।

Source : Hindustan

nps-builders

Genius-Classes

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

मुजफ्फरपुर : पति ने अपनी पत्नी के अकाउंट से उड़ाए 2.5 लाख रुपए, हुआ गिरफ्तार

Published

on

By

मुजफ्फरपुर के बैरिया से एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई हैं। अक्सर पत्नी के बारे में सुना जाता हैं कि वह अपने पति के जेब से पैसे चुराती हैं लेकिन बैरिया से को मामला सामने आया हैं वह उल्टा हैं। बैरिया पठानटोली मोहल्ला निवासी सुनीता देवी के पति ने अपनी पत्नी के ही खाते से 2.5 लाख रुपये लूट लिए।

साइबर फ्रॉड में अहियापुर पुलिस ने उसके पति आशीष रंजन को गिरफ्तार कर लिया है। आशीष ने पत्नी के बैंक खाते का फर्जी ढंग से मोबाइल पर यूपीआई अकाउंट बनाया था।यूपीआई से मोहल्ले के सीएसपी संचालक के खाते पर पत्नी के खाते से रुपये भेजकर आशीष ने निकासी की थी।

सुनीता को इस मामले की जानकारी नहीं थी।उसने इस बाबत जब अपने पति से पूछा तो पति ने पैसे निकालने से इंकार कर दिया था। उसके बाद सुनीता ने इस मामले में अहियापुर थाने में साइबर फ्रॉड की एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने जब इस मामले की तहकीकात की तो दोषी उसका पति निकला। सुनीता ने पुलिस को बताया कि उसके ससुर सेल टैक्स विभाग से रिटायर हुए थें तो उन्होंने ही उसे 2.5 लाख रुपए दिए थें। जिसे उसने अपने बैंक अकाउंट में डाल रखा था।

nps-builders

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

बिहार के लिए ऐतिहासिक क्षण, बुद्ध की भूमि में उतरी गंगा की धार

Published

on

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को राजगीर अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर से 4,475 करोड़ से निर्मित गंगाजल आपूर्ति योजना की शुरुआत की। इसके साथ ही राजगीर के हर घर में गंगाजल पहुंच गया। इसके पहले घोड़ाकटोरा व मोतनाजे में बने जलाशय व वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का मुआयना किया। इसी दौरान मीडिया से बातचीत में मुख्यमंत्री ने कहा कि राजगीर, गया, बोधगया व नवादा में योजना सफल रही, तो शीघ्र ही पटना सहित राज्य के कुछ और शहरों में भी ‘हर घर गंगा जल’ योजना लागू की जाएगी। पटना में इस योजना को कार्यरूप देने में काफी कम वक्त के साथ ही पैसे भी कम लगेंगे। वहां के लोगों को भी बारहों मास योजना का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘हमने’ राजगीर समेत सूबे में काफी कुछ बना दिया, अब ‘आपलोग’ इसे जोगाइये (संभालिये)।

एएसआई वाले नहीं सुनते सोमवार से गया व बोधगया तो कुछ माह बाद नवादा के भी सभी घरों में गंगाजी की धार बहने लगेगी। सीएम बोले, राजगीर में बहुत काम हुआ। बस एक काम बाकी है। वह है जरासंध के अखाड़ा को बेहतर बनाना। एएसआई (भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण) वाले मेरी बात ही नहीं मानते। और, वह उन्हीं के कार्यक्षेत्र में आता है। ऐसे में हमने नई तरकीब सोची है। जरासंध अखाड़ा के बगल में बिहार सरकार अपने खर्च पर उनका स्मारक बनवाएगी। इसके लिए सीएम के सचिव अनुपम कुमार व विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह रूपरेखा तैयार करेंगे। सीएम ने कहा कि राजगीर में नये-नये काम होने के कारण प्राचीन काल से विश्व पटल पर अपनी पहचान रखने वाला इस शहर को लोग नये तरीके से समझने लगे हैं।

2009 जलसंकट दूर करने का विचार आया हमने वर्ष 2009 के राजगीर प्रवास के दौरान सभी चीजों को बारीकी से समझा। इसी क्रम में यह भी मन में कौंध रहा था कि आखिर जलसंकट से गुजरने वाले राजगीर के साथ ही गया, बोधगया व नवादा को किस तरह से स्थायी विकास किया जाये। आखिरकार, यह इन स्थलों में गंगाजी लाने की ठानी। लेकिन, पहली बार जिस विभाग (पीएचईडी) को यह काम सौंपा, उसने इसके महत्व को नहीं समझा। यह योजना ठंडे बस्ते में चली गयी। लेकिन, मेरा मन कौतूहल में था। इसी दौरान हमने कई विभागों के साथ ही सर्वदलीय बैठक बुलाकर इसपर सहमति ली।

गया की कैबिनेट बैठक में फैसला आठ घंटे की मैराथन बैठक के बाद एलाइनमेंट के लिए विशेषज्ञों की टीम के साथ हमने कई दफा इस क्षेत्र का भ्रमण किया। दिसंबर 2019 में गया में हुई कैबिनेट में इसे पारित किया गया। जल संसाधन विभाग ने समय पर काम पूरा करके देश को बाढ़ व सुखाड़ प्रबंधन में नई दिशा दिखा दी है।

Source : Hindustan

nps-builders

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

Genius-Classes

Continue Reading

BIHAR

बिहार: मोबाइल टावर ही उठा ले गए चोर, घटना से पुलिस भी अचंभित

Published

on

By

PATNA : बिहार में आए दिन चोरी की घटना होती रहती हैं। यहां के चोरों के लिए लोहे के पुल, रेल इंजन सब चुराना आसान हो गया हैं। अब सुनने में आ रहा हैं कि पटना के गर्दनीबाग इलाके में मोबाइल टावर चोरी हो गया है। चोर तीन दिन में मोबाइल टावर खोल कर ले गए। ध्यातव्य हैं कि पटना के गर्दनीबाग इलाके में जीटीपीएल कंपनी का टावर लगा हुआ है। कुछ लोग कंपनी के अधिकारी बनकर आए और टावर चुरा कर ले गए।इस घटना को सुनकर पटना भी हैरान है।इसे लेकर गर्दनीबाग थाने में केस दर्ज करा दिया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार चोर आकर टावर खोल रहा था तो उन्हे लगा कि टावर के अधिकारी इसे खोल रहे हैं। लेकिन बाद में पता चला कि वो लोग चोर थे। चोरों की संख्या 10 से अधिक बताई जा रही हैं।

लोगों के अनुसार चोरों ने जमीन मालिक ललन सिंह को बेवकूफ बनाया और घटना को अंजाम दिया। चोरों ने मालिक से कहा कि हमें घाटा हो रहा है। कंपनी बंद होने वाली हैं इसलिए आपको किराया नहीं दे सकते। मालिक को भी लगा कि उनकी जमीन खाली हो जाएगी तो उन्होंने टावर ले जाने दिया। जिसके बाद चोरों ने तीन दिन के अंदर पूरा टावर गैस कटर से काटा और लोहा पिकअप से ढो कर ले गए। इधर टावर कंपनी ने गर्दानीबाग थाने में लिखित शिकायत दर्ज करा दी हैं।

nps-builders

RAMKRISHNA-MOTORS-IN-MUZAFFARPUR-CHAKIA-RAXUAL-MARUTI-

Genius-Classes

Continue Reading
BIHAR1 hour ago

मुजफ्फरपुर : पति ने अपनी पत्नी के अकाउंट से उड़ाए 2.5 लाख रुपए, हुआ गिरफ्तार

BIHAR4 hours ago

बिहार के लिए ऐतिहासिक क्षण, बुद्ध की भूमि में उतरी गंगा की धार

BIHAR20 hours ago

बिहार: मोबाइल टावर ही उठा ले गए चोर, घटना से पुलिस भी अचंभित

BIHAR23 hours ago

मुजफ्फरपुर एसएसपी जयंत कांत को मद्द निषेध में शानदार कार्य के लिए मिला पुरस्कार

BIHAR24 hours ago

वैशाली : एक्स गर्लफ्रेंड के याद में मंडप से फरार हुआ दुल्हा, लड़के के चचेरे भाई से करवा दी शादी

BIHAR1 day ago

बिहार: गोरखपुर-सिलीगुड़ी एक्सप्रेस–वे के लिए जल्द शुरू होगा भूमि अधिग्रहण, तैयारियां पूरी

BIHAR1 day ago

आईपीएस विकास वैभव की चोरी हुई पिस्तौल व गोली बरामद, घर से ही मिला चोरी हुआ सामान

BIHAR2 days ago

दुल्हन को देखते ही शादी का मंडप छोड़कर भागा दूल्हा, बाराती बने बंधक; फिर…

BOLLYWOOD2 days ago

दिग्गज अभिनेता विक्रम गोखले का निधन, कई दिनों से अस्पताल में थे भर्ती

BIHAR2 days ago

सोनपुर मेले में अनामिका को कविता पाठ से रोका, ADM बोले-‘सरकार का बहुत प्रेशर है’

TRENDING3 weeks ago

प्यार की खातिर टीचर मीरा बनी आरव, जेंडर बदल कर स्कूल स्टूडेंट कल्पना से रचाई शादी

MUZAFFARPUR3 weeks ago

इंतजार की घड़ी खत्म: 12 साल पहले बना सिटी पार्क 15 नवंबर से पब्लिक के लिए खुलेगा

TRENDING3 weeks ago

गेयर बदलने के स्टाइल पर हो गई फिदा, करोड़पति महिला ने ड्राइवर से ही रचा ली शादी

INDIA2 weeks ago

गर्लफ्रेंड शादी करना चाहती थी, प्रेमी ने उसके 35 टुकड़े किए, कई दिन फ्रिज में रखा

SPORTS2 weeks ago

खुशखबरी! टी20 वर्ल्ड कप में हार के बाद भारतीय टीम में फिर होगी धोनी की वापसी

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सोनपुर मेला के लिए रेलवे की तैयारी पूरी,मुजफ्फरपुर से चलेगी 4 जोड़ी स्पेशल ट्रेन

ENTERTAINMENT2 weeks ago

‘कसौटी जिंदगी की’ एक्टर सिद्धांत वीर सूर्यवंशी का जिम में वर्कआउट करते वक्त निधन

MUZAFFARPUR3 weeks ago

सोनपुर मेले में भारी भीड़ को देखते हुए आज और कल मुजफ्फरपुर से चलेगी स्पेशल ट्रेनें

OMG3 weeks ago

पाकिस्तानी एक्ट्रेस सेहर शिनवारी का जिम्बाब्वे को ऑफर, इंडिया को हराया तो तुमसे करूंगी शादी

BIHAR2 weeks ago

भोजपुरी एक्ट्र्रेस अक्षरा सिंह की बढ़ीं मुश्किलें, पटना के घर पर पुलिस ने चिपकाया इश्तेहार

Trending