Connect with us

BIHAR

BSEB : इंटर की तरह मैट्रिक से भी अच्छी रिजल्ट की उम्मीद

Santosh Chaudhary

Published

on

बिहार इंटरमिडिएट का रिजल्ट 30 मार्च को घोषित हुआ था. पिछले साल के मुकाबले इस बार इंटर का रिजल्ट काफी अच्छा आया है. इस बार करीब 79.76 फीसदी इंटर का रिजल्ट आया है. बिहार बोर्ड इंटर रिजल्ट 2019 अच्छा आने के बाद ऐसी उम्मीद है कि बिहार बोर्ड मैट्रिक रिजल्ट (Bihar Board Matric Result 2019) भी बेहतर आएगा.

30 अप्रैल को घोषित हुए बिहार बोर्ड इंटर रिजल्ट में पिछले साल के मुकाबले पास प्रतिशत और फर्स्ट डिविजन से पास उम्मीदवारों की तादाद में भारी इजाफा हुआ है. जहां 2018 में इंटर में 52.95 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए थे जबकि इस बार (2019) 79.76 फीसदी रिजल्ट रहा है. बिहार बोर्ड मैट्रिक 2018 की परीक्षा में कुल 68.89 प्रतिशत विद्यार्थी पास हुए थे. इस बार रिजल्ट का आंकड़ा इससे ऊपर जा सकता है.

बताया जा रहा है कि Bihar school examination board (BSEB) 10वीं मैट्रिक का रिजल्ट एक सप्ताह के भीतर जारी कर सकता है. इंटर रिजल्ट की घोषणा के समय बिहार बोर्ड ने कहा था कि मैट्रिक के नतीजे भी एक सप्ताह के भीतर जारी कर दिए जाएंगे. 10वीं की परीक्षा 28 फरवरी को समाप्त हुई थी. बोर्ड सूत्रों के मुताबिक रिजल्ट अगले कुछ दिनों में जारी हो जाएगा. बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि चीजों को अंतिम रूप दिया जा रहा है, हमें उम्मीद है कि रिजल्ट एक सप्ताह में जारी कर दिया जाएगा.

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा 15 अप्रैल तक मैट्रिक का रिजल्ट जारी किया जा सकता है. इसके लिए बोर्ड ने तैयारी काफी जोर-शोर से शुरू कर दी है. इंटर के रिजल्ट जारी करने के बाद बोर्ड का अगला टारगेट अब मैट्रिक का रिजल्ट है. इसके लिए बोर्ड ने टॉपरों का साक्षात्कार लेना शुरू कर दिया है. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर का कहना है कि अप्रैल के प्रथम सप्ताह में मैट्रिक के रिजल्ट की तिथि घोषित की जाएगी. उसके एक सप्ताह बाद रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा. इस बार बिहार बोर्ड की मैट्रिक परीक्षा में 16 लाख 60 हजार परीक्षार्थी शामिल हुए थे.

इंटर परीक्षा से वंचित छात्रों को ये स्पेशल मौका

उन्होंने यह भी कहा कि 12वीं का रिजल्ट बेहतर आने से 10वीं का रिजल्ट भी बेहतर आने की उम्मीद बढ़ गई है. कुछ दिन इंतजार करें, सब कुछ सामने आ जाएगा. अगर रिजल्ट पहले जारी कर दिया जाता है तो ऐसी स्थिति में स्टूडेंट्स के पास करियर ऑप्शन चुनने के लिए काफी समय होता है. ऑप्शन भी ज्यादा होते हैं. राज्य के भीतर भी उन्हें बेहतर विकल्प मिलेंगे.

बिहार बोर्ड (बीएसईबी) इंटरमीडिएट 2019 की परीक्षा में एक या दो विषयों में फेल परीक्षार्थियों की कंपार्टमेंटल परीक्षा अप्रैल माह में आयोजित होगी. इसमें शामिल होने वाले परीक्षार्थी 5 से 10 अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इंटर परीक्षा से वंचित छात्रों को विशेष परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा. कंपार्टमेंटल परीक्षा के साथ ही विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी. इस परीक्षा के भी 5 अप्रैल से फॉर्म भराया जाएगा. कंपार्टमेंट सह विशेष परीक्षा के लिए फॉर्म 5 अप्रैल से 10 अप्रैल के बीच भरा जा सकता है. छात्र www.bsebinteredu.in पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

Input : Live Cities

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MUZAFFARPUR

कटरा कांड मामले में पुलिस के लिए सिरदर्द बना मुख्य आरोपी, अबतक नहीं हो सकी गिरफ्तारी

Deepak Kumar

Published

on

मुजफ्फरपुर।ज़िले के कटरा थाना क्षेत्र के दरगाह गांव में जहरीली शराब पीने से हुई मौत मामले में पुलिस के लिए दोनों शराब माफियायों की गिरफ्तारी सिरदर्द बना हुआ है।इधर केस के आईओ सर्किल इंस्पेक्टर नवीन कुमार को बना दिया गया है।

liquor ban in bihar poisonous alcohol death in muzaffarpur after gopalganj  in bihar cpiml leader target cm nitish kumar for muzaffarpur sharab kand  upl | Liquor Ban In Bihar: गोपालगंज के बाद

जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। फिलहाल दोनों शराब माफिया प्रमोद दास और मुकेश सिंह पुलिस के पकड़ से बाहर हैं। दोनों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए चुनौती साबित हो गई है।

सर्किल इंस्पेक्टर नवीन कुमार ने बताया कि इस केस के मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी हैं। जल्द से जल्द दोनों ही पुलिस के गिरफ्त में होंगे।इसके लिए कुर्की की भी कारवाई होंगी।इनकी गिरफ्तारी के बाद शराब माफियायों के सिंडीकेट का खुलासा हो पाएगा। बहुत बातें सामने आएंगे।

बता दें कि कटरा के दरगाह गांव में जहरीली शराब पीने से हुई मौत मामले में अब राजनीतिक सरगर्मियां तेज़ हो गई है। विभिन्न पार्टी के नेताओं का दौड़ शुरू हो गया है।

Continue Reading

BIHAR

IT हार्डवेयर सेक्टर में पीएलआई स्कीम को मोदी कैबिनेट की मंजूरी, पौने दो लाख नए रोजगार की उम्मीद

Muzaffarpur Now

Published

on

इस स्कीम का फ़ायदा लैपटॉप, टैबलेट्स, ऑल इन वन टेबल कम्प्यूटर और सर्वर बनाने वाली कम्पनियों को मिलेगा. स्कीम को 2025 तक के लिए मंज़ूरी दी गई है और इसमें क़रीब 7,350 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है.

हार्डवेयर सेक्टर में पीएलआई यानि Productivity Linked Incentive स्कीम को मंज़ूरी दे दी. टेलिकॉम और मोबाइल सेक्टर के बाद आईटी हार्डवेयर तीसरा ऐसा क्षेत्र है जिसमें पीएलआई स्कीम को मंज़ूरी मिली है.

इस स्कीम का फ़ायदा लैपटॉप, टैबलेट्स, ऑल इन वन टेबल कम्प्यूटर और सर्वर बनाने वाली कम्पनियों को मिलेगा. स्कीम को 2025 तक के लिए मंज़ूरी दी गई है और इसमें क़रीब 7,350 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है.

पीएलआई स्कीम का फ़ायदा उन कम्पनियों को मिलेगा जो भारत में ही अपना माल बनाएंगी. दूसरे शब्दों में ये कहा जा सकता है कि भारत में ही उत्पादन करने वाली कम्पनियों को ही इस स्कीम का लाभ मिल सकेगा. स्कीम के तहत कम्पनियों को टैक्स में छूट जैसी सुविधाएं दी जाएंगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में मंज़ूर हुए इस स्कीम से 5 सरकार के इस स्कीम से 5 बड़ी विदेशी और 10 बड़ी देशी कम्पनियों को फ़ायदा होने का अनुमान लगाया गया है. साथ ही , इस स्कीम से मोदी सरकार को नए रोज़गार के अवसर पैदा होने की भी उम्मीद है. आईटी और टेलीकॉम मंत्री रविशंकर प्रसाद के मुताबिक़ स्किम से 1,80,000 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर रोज़गार मिलने की संभावना है.

Source : ABP News

Continue Reading

BIHAR

जनसंख्या वृद्धि पर AIMIM विधायक के बिगड़े बोल, कहा-‘ये मर्दानगी का काम जिसमें दम है वो बढ़ाए’

Muzaffarpur Now

Published

on

क्या पुरुष की मर्दानगी देश के विकास और राज्य के विकास से ज्यादा बड़ा मुद्दा है. आप सोच रहे होंगे कि हम ये अजीब सा सवाल क्यों पूछ रहे हैं तो जरा आपको ये समझने के लिए बिहार की राजधानी पटना लेकर चलते हैं. यहां इन दिनों विधानसभा में प्रजनन दर (Fertility Rate) के मुद्दे पर हुई चर्चा के बाद सियासी घमासान छिड़ गया है.

‘एक धर्म के लोग बढ़ा रहे आबादी’

दरअसल, पूरा हंगामा बीजेपी विधायक हरिभूषण ठाकुर के बयान से बढ़ा है और मुद्दा धर्म को बनाया जा रहा है. सत्ताधारी बीजेपी के विधायक हरिभूषण ठाकुर ने कहा कि एक धर्म विशेष के लोग आबादी बढ़ा रहे हैं. बीजेपी विधायक के इस बयान के बाद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी AIMIM के विधायक अख्तरुल ईमान (Akhtarul Iman) नाराज हो गए और विवादित बयान दे डाला. उन्होंने कहा कि ‘जनसंख्या वृद्धि तो मर्दानगी का काम है जिसमें दम है वो बढ़ाए.’

‘आबादी बढ़ाना मर्दानगी का काम है’

विधायक ने कहा, ‘आबादी बढ़ाना मर्दानगी का काम है, जिसमें दम है वो बढ़ाए, आबादी कभी नुकसान नहीं करती,’ ईमान ने कहा, ‘हिंदुस्तान बहुत बड़ा मुल्क है, यहां सबको जीने की आजादी है. कुछ लोग फिरकापरस्त हैं जो माहौल को खराब करना चाहते हैं, लेकिन यह सम्भव नहीं है.’

Bihar: जनसंख्या वृद्धि पर AIMIM MLA के बिगड़े बोल, कहा-'ये मर्दानगी का काम जिसमें दम है वो बढ़ाए'

ओवैसी ने भी पहले दिया था विवादित बयान

बता दें कि अख्तरुल ईमान ही नहीं उनकी पार्टी के सुप्रीमो और AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी भी कुछ साल पहले ऐसा ही विवादित बयान दे चुके हैं. जिस पर खूब सियासी विवाद हुआ था. उस वक्त ओवैसी ने औरंगाबाद के एक पान वाले का जिक्र किया था और कहा था कि कोहिनूर पान बच्चे पैदा करने में मददगार होता है.

PM ने बढ़ती आबादी को बताया था देश के लिए संकट

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने दो साल पहले लाल किले की प्राचीर से जनसंख्या विस्फोट का मुद्दा उठाया था. तब प्रधानमंत्री मोदी ने बढ़ती आबादी को देश के लिए संकट बताया था.

Source : Zee News

Continue Reading
INDIA1 hour ago

OTT और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स के लिए सरकार ने गाइडलाइंस जारी की

WORLD1 hour ago

कोरोना वैक्सीन के इंजेक्शन से अब घबराने की जरूरत नहीं, कोविड-19 टैबलेट पर रिसर्च शुरू

MUZAFFARPUR1 hour ago

कटरा कांड मामले में पुलिस के लिए सिरदर्द बना मुख्य आरोपी, अबतक नहीं हो सकी गिरफ्तारी

INDIA3 hours ago

नहले पे दहला- बंगाल में मुफ्त मिलेगा तृणमूल के अंडा-चावल के जवाब में भाजपा का मछली-चावल

BIHAR3 hours ago

IT हार्डवेयर सेक्टर में पीएलआई स्कीम को मोदी कैबिनेट की मंजूरी, पौने दो लाख नए रोजगार की उम्मीद

BIHAR4 hours ago

जनसंख्या वृद्धि पर AIMIM विधायक के बिगड़े बोल, कहा-‘ये मर्दानगी का काम जिसमें दम है वो बढ़ाए’

BIHAR5 hours ago

पत्नी-बच्चे को लेने ससुराल गया युवक, परिवारवालों ने बांध कर की धुनाई, लड़की की करा दी दूसरी शादी

BIHAR5 hours ago

तीन साल में बिहार में 220 किमी छोटी लाइन का होगा आमान परिवर्तन

BIHAR5 hours ago

स्‍टेट बैंक ने लांच किया नया योनो एप, अब स्‍मार्टफोन ही बनेगा पीओएस डिवाइस

BIHAR6 hours ago

घरेलू रसोई गैस सिलेंडर के दाम एक महीने में तीसरे बार बढ़े, कॉमर्शियल की कीमत हुई कम

MUZAFFARPUR4 weeks ago

सरकारी जमीन पर कब्जा : मुजफ्फरपुर में नहर को बंदकर उसकी जमीन पर बना दिया पक्का मकान

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर के गायघाट का युवक उत्तराखंड के चमोली त्रासदी में लापता

BIHAR2 weeks ago

हजार रुपये बकाया होगा तो भी बिजली कटेगी, बकाएदारों पर बड़ी कार्रवाई शुरू

BIHAR4 weeks ago

सुविधाओं में बदलाव : आय, जाति व आवास प्रमाण पत्र राजस्व कर्मचारी जारी करेंगे

MUZAFFARPUR2 weeks ago

मुजफ्फरपुर में मिला सात फीट का अजगर, भेजा जाएगा पटना चिडिय़ाघर

TRENDING4 weeks ago

ईमानदारी की पेश की नयी मिसाल, ऑटोड्राइवर ने लौटाए सवारी के 20 लाख के सोने के गहने

INDIA2 weeks ago

50-200 रुपए के नकली नोट फैले हैं मार्केट में, RBI ने किया अलर्ट

HEALTH4 weeks ago

कभी खाया है लाल केला? स्वाद ही नहीं सेहत के लिए है लाजवाब

BIHAR1 week ago

21 से 27 मार्च तक बिहार में क्रिकेट का महाकुंभ, दिखेंगे जयसूर्या, आरपी सिंह जैसे स्टार

INDIA2 weeks ago

16 करोड़ रुपए का इंजेक्शन… ताकि बच सके यह बच्ची: PM मोदी ने माफ किया ₹6.5 करोड़ का टैक्स

Trending