Connect with us

BIHAR

SBI में बंपर बहाली: PO के 2000 पदों पर होगी भर्ती, कब करें आवेदन यहां जानें

Published

on

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) से प्रोबेशनरी ऑफिसर (पीओ) के लिए तैयारी कर रखी है तो आपके लिए अच्‍छी खबर। एसबीआई ने पीओ के 2000 पदों पर भर्ती करेगा। इसके लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी कर दी गई है। स्नातक पास उम्मीदवार जिनकी आयु 1 अप्रैल, 2019 के अनुसार न्यूनतम 21 एवं अधिकतम 30 वर्ष है वे आयोग की वेबसाइट www.sbi. co.in पर लॉग इन कर इन पदों के लिए 22 अप्रैल तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन शुल्क के रूप में सामान्य/ओबीसी को 750 रुपये एवं एससी/एसटी को 125 रुपये का ऑनलाइन भुगतान करना होगा।

तीन चरणों में होगी परीक्षा

पीओ की परीक्षा तीन चरणों में आयोजित होगी। प्रथम चरण प्रारंभिक, द्वितीय चरण मुख्य तथा तृतीय चरण साक्षात्कार का होगा। चरण-1 के तहत 100 अंकों की एक ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा होगी। इसमें 100 बहुविकल्पीय एवं वस्तुनिष्ठ किस्म के प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें रीजनिंग एबिलिटी से 35 अंकों के 35 प्रश्न, इंग्लिश लैंग्वेज से 30 अंकों के 30 प्रश्न, क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड से 35 अंकों के 35 प्रश्न होंगे। इन्हें हल करने के लिए 60 मिनट का समय निर्धारित है। साथ ही, सभी खंडों को 20-20 मिनटों में ही हल करना होगा। यह परीक्षा केवल क्वालिफाइंग प्रकृति की होगी।

चरण-2 के तहत 250 अंकों की मुख्‍य परीक्षा

चरण-2 के तहत 250 अंकों की मुख्य परीक्षा दो खंडों (वस्तुनिष्ठ एवं वर्णनात्मक) में होगी। वस्तुनिष्ठ परीक्षा के तहत 200 अंकों के 155 प्रश्न पूछे जाएंगे। इसमें रीजनिंग एवं कंप्यूटर एप्टीट्यूड से 60 अंकों के 45 प्रश्न, डाटा एनालिसिस एंड इंटरप्रिटेशन से 60 अंकों के 35 प्रश्न, जनरल/ इकोनॉमी/ बैंकिंग अवेयरनेस से 40 अंकों के लिए 40 प्रश्न तथा इंग्लिश लैंग्वेज से 40 अंकों के 35 प्रश्न पूछे जाएंगे। प्रश्नों को हल करने के लिए 3 घंटे का समय निर्धारित है।

सभी खंडों के लिए अलग-अलग समय सीमा

साथ ही, सभी खंडों के लिए अलग- अलग समय सीमा भी निर्धारित है। इसमें रीजनिंग एबिलिटी एवं कंप्यूटर एप्टिट्यूड के लिए 60 मिनट, डीए एंड आइ के लिए 45 मिनट,  जनरल/इकोनॉमी/बैंकिंग अवेयरनेस के लिए 35 मिनट तथा इंग्लिश लैंग्वेज के लिए 40 मिनट का समय निर्धारित है। परीक्षा बहुविकल्पीय व वस्तुनिष्ठ किस्म की होगी। इसमें नकारात्मक अंक का भी प्रावधान है। वर्णनात्मक परीक्षा में इंग्लिश लैंग्वेज (लेटर राइटिंग एवं एस्से) से 50 अंकों के प्रश्न पूछे जाएंगे। इसके लिए 30 मिनट का समय निर्धारित होगा। साथ ही तृतीय चरण के अंतर्गत 20 अंक की ग्रुप एक्सरसाइज एवं 30 अंक का इंटरव्यू होगा।

यहां होगी परीक्षा

परीक्षा में सम्मिलित होने के लिए सामान्य/ईडब्ल्यूएसको 04 जबकि आरक्षित वर्गों को 7 अवसर मिलेंगे। राज्यभर में प्रारंभिक परीक्षा पटना, आरा, भागलपुर, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, बिहारशरीफ, सिवान, गया, समस्तीपुर, औरंगाबाद तथा पूर्णिया जबकि मुख्य परीक्षा पटना एवं आरा में आयोजित होगी।

परीक्षा की खास बातें

रजिस्ट्रेशन कराने की अंतिम तिथि : 22 अप्रैल

प्रारंभिक परीक्षा के लिए कॉल लेटर डाउनलोड करने की तिथि : 3 मई से

ऑनलाइन प्रारंभिक परीक्षा की तिथि : 8, 9, 15 तथा 16 जून

प्रारंभिक परीक्षा का रिजल्ट जारी : जुलाई का प्रथम सप्ताह

मुख्य परीक्षा के लिए कॉल लेटर डाउनलोड करने की तिथि : जुलाई के दूसरे सप्ताह से

ऑनलाइन मुख्य परीक्षा की तिथि : 20 जुलाई

मुख्य परीक्षा का रिजल्ट जारी : अगस्त के तीसरे सप्ताह में

साक्षात्कार का एडमिट कार्ड जारी : अगस्त के चौथे सप्ताह में

साक्षात्कार की तिथि : सितंबर

अंतिम परिणाम : अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में

वेबसाइट : www.sbi.co.in

Input : Dainik Jagran

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

MUZAFFARPUR

कोरोना काल से पहले मुजफ्फरपुर में बीते निधि सिंह के वो दिन

Published

on

कहा गए वो दिन

कहा गए वो दिन
वो दिन भी क्या दिन थे।

सुबह माता श्री कि मार से बिस्तर छोड़ते और
घर से छूटते हिं एल.एस. कॉलेज के फील्ड की तरफ दौड़ते थे…

लौटते वक़्त छाता चौक का लिट्टी बड़ा बुलाता था और
वही काठहीपुल का जलेबी भी कहाँ पीछे रह पाता था…

“मम्मी आई न ख़बऊ…मन नई खे” बोलकर नाश्ता तो टाल दिया करते थे और
जब पिताजी आँखें बड़ी करते तो उस नाश्ते को भी लिट्टी से भेंट करवा दिया करते थे…

स्कूल के लिए तैयार होते और दो चोटी बनाते थे और
नो काजल नो मेकअप का फंडा अपनाते थे…

स्कूल से घर लौटना सीधा कहाँ हो पाता था
उस भरी दोपहरी में भारत जलपान का डोसा बड़ा याद आता था…

घर पहुँचते तो मम्मी के खाने की खुशबू बुलाती थी और शाम होते ही
मंडली ग्रैंड मॉल के सीढियो पर जम जाती थी…

शाही लीची स्टेशन रोड के मैदान में उतर चुका है ये कोई खबरी बता जाता था और
उसके बाद तो दोस्त दोस्त कहाँ रहता असली कंपटीटर बन जाता था…

लीची लेकर जब घर पहुँचते तो सबके चेहरे पर खुशी पाते थें और
मम्मी के कहने पर दो चार पड़ोसियो को भी दे आते थे…

फिर थक कर रात को सो जाया करते थे और
वापस सुबह माता जी के मार से बिस्तर छोर दिया करते थे…

कहा गए वो दिन
वो दिन भी क्या दिन थे

इस महामारी के दौर में हम सब का जीवन थम सा गया है
जिस चीज की कद्र नहीं थी वही सारि चीजें अब बहुत प्यारी हो गयी है
आइये हम सारे मुज़फ़्फ़रपुर वासी मिलकर इसका सामना करें

अगर आपको ये मेरा प्रयास अच्छा लगा हो तोह प्रोत्साहन दे और अगर कहीं गलती दिखी हो तो पहले ही माफी चाहती हुँ 🙏🌸

Continue Reading

BIHAR

भारतीय रेलवे के लिए गर्व का पल, सबसे शक्तिशाली स्वदेशी AC इंजन का हुआ ट्रायल

Published

on

भारतीय रेलवे (Indian railways) ने एक अच्छी खबर दी है. भारतीय रेलवे ने स्वदेशी कारखाने से सबसे शक्तिशाली एसी इलेक्ट्रिक इंजन बनाकर निकाला है. इस इंजन का निर्माण बिहार के मधेपुरा रेल कारखाने में हुआ है. देश के सबसे शक्तिशाली रेल इंजन के ट्रायल के दौरान इसकी झलकियां मिली है.

मधेपुरा में तैयार किए गए इस रेल इंजन का ट्रायल पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर हुआ. स्टेशन पर इंजन के साथ 118 मालगाड़ी के डिब्बों को जोड़ा गया और फिर ट्रायल शुरू हुआ. पहले ट्रायल में इस इंजन ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से झारखंड के बरवाडीह तक की 276 किलोमीटर की दूरी को तय किया. 12 हजार हॉर्स पावर के इलेक्ट्रिक इंजन का मालगाड़ी के डिब्बों के साथ ये पहला ट्रायल था. इसे भारत का सबसे शक्तिशाली इलेक्ट्रिक इंजन माना जा रहा है.

सबसे शक्तिशाली स्वदेशी AC इंजन का ...

इस इंजन के पहले ट्रायल के बाद भारतीय रेलवे ने कहा कि ये उनके लिए गर्व का पल था. रेलवे की ओर से कहा गया है कि मधेपुरा स्थित इलेक्ट्रिक रेल इंजन कारखाना में तैयार हाई पावर अत्याधुनिक विद्युत इंजन का ऑपरेशन नियम के अनुसार शुरू हो चुका है. रेलवे के अनुसार ये इंजन 120 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से सफर करने में सक्षम है.

इस इंजन का निर्माण करने के साथ ही भारत दुनिया के सबसे ज्यादा हॉर्स पावर के इंजन बनाने वाले क्लब में शामिल हो गया है. सबसे ज्यादा हॉर्स वाले इंजन का निर्माण करने वाले दुनिया के देशों में भारत छठे स्थान पर है.

भारतीय रेलवे के लिए गर्व का पल, सबसे ...

इस रेल इंजन को तैयार करने में 19 हजार करोड़ की लागत आई है. देश की सबसे आधुनिक रेल विद्युत इंजन कारखाने में पहले 5 इंजन को फ्रांस से लाया गया था, जिसे यहां एसेंबल किया गया. 2017 अक्टूबर में मधेपुरा फैक्ट्री में इसका प्रोडक्शन शुरू हुआ था. इससे पहले 2019 में मधेपुरा में तैयार पहले रेल इंजन का ट्रायल सहारनपुर में किया जा चुका है.

भारतीय रेलवे के अनुसार ये पूरा प्रोजेक्ट मेक इन इंडिया प्रोग्राम के तहत बनाया गया है. इसके तहर बिहार के मधेपुरा में हर साल 120 इंजनों के निर्माण की क्षमता वाले कारखाने के साथ टाउनशिप भी स्थापित की गई है. भारत में इस तरह के स्वदेशी इंजन का निर्माण होने से देश में मालगाड़ियों की गति बढ़ेगी और दुनिया में भारत का नाम ऊंचा होगा. पहले से कहीं ज्‍यादा तेज, सुरक्षित और भारी मालगाड़ियों की आवाजाही सुनिश्चित होने से यातायात में भीड़-भाड़ कम होगी. (फोटो साभारः ट्विटर/पीयूष गोयल)

Continue Reading

BIHAR

वट सावित्री पूजा आज, सुहागिनें करेंगी पति की दीर्घायु की कामना

Published

on

आज शुक्रवार को वट सावित्री पूजा मनायी जायेगी. लॉकडाउन होने के बावजूद महिलाओं ने इसकी तैयारी कर ली है और पूरी आस्था व निष्ठा के साथ व्रत करते हुए पति की दीर्घायु की कामना करेंगी. इसको लेकर गुरुवार को बाजारों में खरीदारी करने के लिए महिलाओं की भीड़ अधिक दिखी. पंखा से लेकर पूजा सामग्रियों की दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ पूरे दिन लगी रही. मान्यता के अनुसार विवाहित स्त्रियां अपने पति की दीर्घायु और सुखद वैवाहिक जीवन के लिए व्रत करती हैं. वट सावित्री व्रत विशेष रूप से सौभाग्य प्राप्ति के लिए बड़ा व्रत माना जाता है. ये ज्येष्ठ कृष्ण अमावस्या को मनाया जाता है. इस दिन महिलाएं सोलह शृंगार करके पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखती हैं और बरगद की पूजा करती हैं. हालांकि लॉकडाउन की वजह से पारंपरिक तरीके से बरगद के पेड़ की पूजा कुछ प्रभावित हो सकती है लेकिन खास असर नहीं पड़ेगा. इस व्रत में नियमों का विशेष ख्याल रखना पड़ता है.

वट सावित्री पूजा आज, सुहागिनें करेंगी पति की दीर्घायु की कामना

क्यों मनाया जाता है वट सावित्री व्रत

पौराणिक कथा के अनुसार, इस दिन ही सावित्री ने अपने दृढ़ संकल्प और श्रद्धा से यमराज द्वारा अपने मृत पति सत्यवान के प्राण वापस पाये थे. महिलाएं भी इसी संकल्प के साथ अपने पति की आयु और प्राण रक्षा के लिए व्रत रखकर पूरे विधि विधान से पूजा करती हैं. इस व्रत को लेकर महिलाओं में खासा उत्साह रहता है. आखिर उत्साह हो भी तो क्यों नहीं, अपने सुहाग की रक्षा व लंबी उम्र के लिए जो यह व्रत होता है.लॉकडाउन में कैसे करें पूजाइस दिन वट (बरगद) के पूजन का विशेष महत्व होता है. मान्यता है कि ब्रह्मा, विष्णु, महेश और सावित्री भी वट वृक्ष में ही रहते हैं.

Pic by Rajiv Ranjan

लंबी आयु, शक्ति और धार्मिक महत्व को ध्यान रखकर इस वृक्ष की पूजा की जाती है लेकिन इस बार यह पूजा अपने घरों में ही रहकर करने की मजबूरी है. हालांकि इसके बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं पेड़ की पूजा विधिवत करेंगी.बाबा सिद्धनाथ मंदिर में नहीं होगी पूजाजम्होर थाना के उत्तर बाबा सिद्धनाथ मंदिर के प्रांगण में स्थित वटवृक्ष की पूजा-अर्चना इस बार नहीं होगी. कोरोना महामारी व लॉकडाउन के कारण पूजा प्रभावित रहेगी. हालांकि वटवृक्ष के समीप बैठने की व्यवस्था समेत अन्य सुविधाएं उपलब्ध करायी गयी है. लेकिन इस बार लॉकडाउन के कारण धार्मिक स्थलों पर पूजा अर्चना करने पर रोक लगायी गयी है. इस कारण वटवृक्ष के पास भी पूजा अर्चना नहीं होगी. कोरोना की रोकथाम के लिए यह आवश्यक भी है कि सभी लोग अधिक से अधिक घरों में रहें और सुरक्षित रहें.

Input : Prabhat Khabar

Continue Reading
MUZAFFARPUR2 hours ago

कोरोना काल से पहले मुजफ्फरपुर में बीते निधि सिंह के वो दिन

BIHAR2 hours ago

भारतीय रेलवे के लिए गर्व का पल, सबसे शक्तिशाली स्वदेशी AC इंजन का हुआ ट्रायल

SPORTS2 hours ago

क्रिकेट को दोबारा खड़ा करने के लिए सौरव गांगुली को ICC अध्यक्ष बनाया जाए- ग्रीम स्मिथ

BIHAR2 hours ago

वट सावित्री पूजा आज, सुहागिनें करेंगी पति की दीर्घायु की कामना

INDIA2 hours ago

प्रशांत किशोर को मिला मध्य प्रदेश में कांग्रेस की फिर से सरकार बनवाने का ठेका, MP में 24 विधानसभा क्षेत्रों में होने हैं उपचुनाव

BIHAR2 hours ago

बिहार के जर्दालू आम व शाही लीची की होगी होम डिलीवरी, वह भी बिल्‍कुल फ्री… जानें क्‍या है शर्त…

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर : तीन और लोगों ने जीती कोरोना से जंग, आज होंगे विदा

INDIA3 hours ago

खुशियों पर ग्रहण : बैंड-बाजा न बराती, अब घर से ही करनी होगी शादी

BIHAR3 hours ago

बिहार में 31 तक नहीं चलेंगी बसें, आदेश जारी

BIHAR14 hours ago

नाबालिग प्रेमी संग दिल्ली से आई युवती, तीन दिन क्वारंटाइन सेंटर में रही, फिर रचाई शादी

BIHAR1 week ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA3 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD2 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR4 weeks ago

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, 9 दिनों के अंदर बनेगा नया राशन कार्ड, ये होगी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

Trending