Connect with us

BIHAR

कु’ख्यात अ’पराधी चुन्नू ठाकुर के ए’नकाउंटर की अफवाह

Published

on

वैशाली के सदर थाना क्षेत्र में मुजफ्फरपुर के एक कु’ख्यात अ’पराधी के रिश्तेदारी वाले गांव जमालपुर के चंवर में गुरुवार की देर रात भारी गोली बारी की खबर के बाद हड़कंप मच गया। देर रात हरकत में आई कई थानों की पुलिस चंवर इलाके की गश्ती में जुट गई, देर रात तक पुलिस की कई टीमें जमालपुर चंवर और आसपास के इलाकों को खंगालने में जुटी रही। मुजफ्फरपुर में भी इसको लेकर देर रात तक सनसनी फैली रही। जिले के पुलिस महकमे में भी हड़कंप मचा रहा।

chunnu-thakur

बताया जाता है कि सोशल मीडिया पर गुरुवार की देर शाम एक अफवाह फैली थी कि मुजफ्फरपुर के एक कुख्यात का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया है। इसमें जगह बेलकुंडा बताया गया था। एक घंटे बाद गोलीबारी की जगह जमालपुर होने की अफवाह उड़ी। जमालपुर वैशाली के सदर थाना क्षेत्र का इलाका है और एक कुख्यता बदमाश की रिश्तेदारी इसी गांव में है। इसके बाद पुलिस और अन्य गोपनीय शाखा के पदाधिकारी हरकत में आए। पुलिस ने इस मामले की पड़ताल शुरू। कोई भी अफसर इस संबंध में कुछ भी बताने से कतरा रहा था।

पुलिस की कई टीमों को जमालपुर चंवर और आसपास के अन्य इलाकों में लगाया गया। देर रात तक पुलिस इन इलाकों को खंगालती रही। सदर थानाध्यक्ष रोहन कुमार ने इस संबंध में बताया कि गोलीबारी की अफवाह उड़ी थी। ऐहतियातन पूरे इलाके को खंगालने के लिए कई टीमें जांच कर रही हैं। वहीं मुजफ्फरपुर के भी कई थानों में इसको लेकर चर्चा होती रही।

Input : Hindustan

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

बिहार: हत्या का सबूत खोजने के लिए DGP गुप्तेश्वर पांडे ने लगा दी खनुआ नदी में छलांग, की लाइव क्राइम रिपोर्टिंग

Published

on

पटना: बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय अपने अनोखे अंदाज से हमेशा चर्चा में रहते हैं. वे कभी अचानक राजधानी पटना स्थित पुलिस मुख्यालय से सैकड़ों किलोमीटर दूर किसी जिले के थाने में पहुंच जाते हैं. वहां पुलिस के काम-काज का पूरा ब्योरा लेते हैं, थोड़ी क्लास लेते हैं फिर उनके साथ फोटो भी खिंचाते हैं तो कभी अभिभावक के अंदाज में पुलिस जवानों से बात करते नजर आते हैं. तो कभी भोजपुरिया अंदाज में लोगों से कोरोना से लड़ाई की अपील करते दिखते हैं. अब डीजीपी साहब का एक नया अंदाज गोपालगंज में सामने आया है.

गोपालगंज के चर्चित रोहित हत्याकांड की तफ्तीश करने पहुंचे डीजीपी ने अपने अंदाज में जांच की. घटनास्थल पर पहुंचे डीजीपी ने अपनी वर्दी उतारी और जान की परवाह किये बिना खनुआ नदी में कूद पड़ें. करीब 40 मिनट तक पानी में रहकर हत्या की जांच की. सबूत इक्कठा किये और मृतक के परिजनों से पूछताछ की. इस पूरे जांच के दौरान मीडिया को अलग रखा गया. बल्कि जांच के समय सिर्फ परिजन मौजूद थे. वहीं गोपालगंज मुख्यालय में पहुंचने के बाद पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से जानकारी ली. डीजीपी की जांच के बाद एसपी ने कटेया के थानेदार अश्विनी कुमार तिवारी को निलंबित कर दिया है.

चर्चा का विषय बना लाइव क्राइम रिपोर्टिंग का वीडियो

लाइव क्राइम रिपोर्टिंग का वीडियो अब चर्चा का विषय बन गया है. वीडियो में गुप्तेश्वर पांडे बकायदा नदी में तैरते नज़र आ रहे हैं. डीजीपी उन लोगों से भी बात कर रहे हैं जिनपर हत्या का आरोप लगा है औऱ वह जमानत पर हैं. उस डॉक्टर से भी बात कर रहे हैं जिन्होंने रोहित के शव का पोस्टमार्टम किया था. करीब 40 मिनट के इस वीडियो में उस अफवाह की भी तहकीकात करते हुए दिख रहे हैं जिसमें इस मौत को साम्प्रदायिक माहौल बनाने की कोशिश की गई.

दरअसल गोपालगंज के कटेया थाने के बेलही डीह गांव में 15 साल के रोहित जायसवाल की मौत 28 मार्च 2020 को हो गयी थी. 29 मार्च को लड़के की डेडबॉडी पकहां के पास खनुआ नदी में मिली थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई की है. लेकिन बाद में धार्मिक स्थल के निर्माण में बलि देने की अफवाह उड़ा दी गयी. जिसकी जांच का जिम्मा सीआईडी को सौंपा गया था.

इसके पहले सारण रेंज के DIG विजय कुमार वर्मा समेत सभी आला अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की जांच कर चुके हैं. डीआइजी ने भी धार्मिक स्थल से जोड़कर हत्या करने की बात को अफवाह बतायी. इसके बाद स्वयं डीजीपी घटनास्थल पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की गहन जांच की. हालांकि इस हत्याकांड में डीजीपी ने मीडिया के सामने कुछ भी बोलने से इंकार किया. डीआइजी के मुताबिक इस मामले में 6 लोग नामज़द हैं. गिरफ्तार हुए 5 लड़कों में से 4 नाबालिग हैं. उन्हें कोर्ट से बेल मिल गई है. छठा फ़रार चल रहा है.

मृतक रोहित की मां ने बताया कि पकहां घाट पर पिता के साथ पकौड़ी बेचता था. वही एक लड़का था जो हमलोगों के साथ हाथ बटाता था. अब प्रशासन बोल रहा कि घर छोड़कर चले जाओ. इसलिए हमलोग अपना यह घर छोड़कर यूपी आ गए. यूपी की सरकार ने हम लोगों को खाने के लिए और रहने के लिए जगह दिया है.

धार्मिक स्थल पर बलि देने की बात से रोहित की मां ने इंकार किया. उसने कहा कि यह हमें पता नहीं है. लेकिन इतना पता है कि मेरे लड़के को मारा गया है.

हत्या को धार्मिक स्थल से जोड़कर सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की गयी

डीआइजी विजय कुमार वर्मा ने साफ कर दिया कि हत्या को धार्मिक स्थल से जोड़कर सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की गयी. सोशल मीडिया पर अफवाह फैलायी गयी. कटेया थाने में इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज की गयी और अफवाह फैलानेवालों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी हो रही है.

इसी हत्याकांड में कटेया थानेदार अश्विनी कुमार का भी एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें मृतक रोहित के परिजनों के साथ थानेदार के द्वारा गाली-गलौज करने की जा रही है. इस मामले में डीआइजी ने कहा कि एसपी मनोज कुमार तिवारी इसकी जांच कर रहे हैं. जांच रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी. फिलहाल थानेदार को सस्पेंड कर दिया गया है.

डीजीपी ने कहा है कि इस घटना में कोई और चश्मदीद गवाह अब तक नहीं मिला है और साक्ष्य रोहित की मौत डूबने के कारण होने का इशारा करते हैं लेकिन इस मामले में जांच जारी रहेगी. उन्होंने लोगों से पुलिस की मदद साक्ष्य जुटाने में करने की अपील की है. साथ ही उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से यह साबित करने की भी कोशिश की है कि इलाके में किसी तरह का सामजिक तनाव नहीं है.

Input : ABP Live

Continue Reading

BIHAR

AS संजय कुमार के जाने के बाद कोरोना अपडेट भी चला गया,बिहार के लोग पूछ रहे सवाल- क्या बैठ गया स्वास्थ्य विभाग?

Published

on

नीतीश सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव रहे संजय कुमार का ट्रांसफर कर दिया है।उन्हें अब पर्यटन विभाग का प्रधान सचिव के पद पर पदस्थापित किया गया है।कोरोना संकट के बीच संजय कुमार को स्थानांतरित किए जाने के बाद कई तरह के सवाल खड़े हो गए हैं।बिहार में इस पर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। आईएएस संजय कुमार के जाने के बाद करीब 20 घंटों से कोरोना का अपडेट नहीं मिल रहा।

संजय कुमार के जाने के बाद अपडेट भी चला गया

स्वास्थ्य प्रधान सचिव संजय कुमार के स्थानांतरण के बाद  सबसे बड़ी बात यह कि,अब स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोरोना का कोई अपडेट नहीं मिल रहा। बुधवार को जब सरकार ने संजय को स्वास्थ्य प्रधान सचिव के पद से स्थानांतरित किया है उसके बाद स्वास्थ्य विभाग की तरफ से कोई अपडेट जारी नहीं किया गया।बुधवार शाम को राज्य स्वास्थ्य समिति की तरफ से हर दिन शाम में जारी किया जाने वाला अपडेट हीं सिर्फ जारी की गई है।

बुधवार को संजय कुमार के स्थानांतरण के बाद भी बिहार में कई कोरोना के मरीज मिले हैं।लेकिन विभाग की तरफ से कोई जानकारी नहीं दी गई।बुधवार को कोरोना से एक मरीज की मौत भी हुई उसकी जानकारी भी शेयर नहीं किया गया।हर दिन सुबह 10 बजे का अपडेट जो 11 बजे स्वास्थ्य प्रधान सचिव जारी करते थे।वह भी जारी नहीं की गई है।इस तरह कोरोना को लेकर पूरा कंफ्यूजन पैदा हो गया है।

बिहार के लोग सोशल मीडिया पर सवाल पूछ रहे हैं कि क्या कोरोना अपडेट को लगातार पब्लिक डोमेन में लाकर संजय कुमार ने गलती कर दी?अब उके जाने के बाद भी स्वास्थ्य महकमे को तो जानकारी सार्वजनिक करनी चाहिए थी।लेकिन ऐसा हो क्यों नहीं रहा?बिहार के लोग यह भई कहने लगे कि संजय कुमार के जाने के बाद कोरोना अपडेट भी चला गया।

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा अटैक

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने ट्विट कर बिना नाम लिए हीं सरकार पर अटैक किया है ।तेज प्रताप यादव का सीधा इशारा स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे की तरफ था।  उन्हें अपने ट्वीट में लिखा है कि सच्चे और झूठे का स्कोर मैच नहीं कर रहा था, इसलिए तो साहब ने बीच मैच में ही कैप्टन चेंज कर दिया।  इसके बाद तेज प्रताप ने आगे लिखा है कि अमंगल तो थे ही बेईमान भी निकले।

Input : News4Nation

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर पुलिस को मिली सफलता, भारी मात्रा में शराब के साथ 4 गिरफ्तार

Published

on

बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू है. इसके बावजूद तस्कर शराब की तस्करी में जुटे हैं. वे पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम को चुनौती देते हुए तस्करी की घटना को अंजाम दे रहे हैं.

ऐसा ही मामला मुजफ्फरपुर में सामने आया है. जहाँ पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. गुरुवार को सदर थाना इलाके के माधवपुर में पुलिस ने 44 कार्टून विदेशी शराब बरामद किया है.

इसके साथ ही शराब के चार तस्करों को भी गिरफ्तार किया है. इस घटना में प्रयुक्त ऑटो और एक बाइक को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

इस मामले की जानकारी टाउन डीएसपी की ओर से दी गयी.

Input : News4Nation

Continue Reading
INDIA3 hours ago

वेब सीरीज ‘पाताल लोक’ को लेकर मुश्किल में फंसी अनुष्का शर्मा, मिला लीगल नोटिस

INDIA3 hours ago

3 साल से भटक रहा था 70 साल का बुजुर्ग, लॉकडाउन ने लौटी याददाश्त और मिल गया परिवार

INDIA3 hours ago

दूल्हा-दुल्हन को नहीं रोक पाईं राज्य की ‘सरहदें’, बॉर्डर पर ही पढ़ा गया निकाह

INDIA3 hours ago

Lockdown 4.0: Swiggy ने रांची में शुरू की शराब की होम डिलीवरी

BIHAR3 hours ago

बिहार: हत्या का सबूत खोजने के लिए DGP गुप्तेश्वर पांडे ने लगा दी खनुआ नदी में छलांग, की लाइव क्राइम रिपोर्टिंग

BIHAR3 hours ago

AS संजय कुमार के जाने के बाद कोरोना अपडेट भी चला गया,बिहार के लोग पूछ रहे सवाल- क्या बैठ गया स्वास्थ्य विभाग?

MUZAFFARPUR3 hours ago

मुजफ्फरपुर पुलिस को मिली सफलता, भारी मात्रा में शराब के साथ 4 गिरफ्तार

INDIA3 hours ago

फ्लाइट्स का किराया हुआ तय, 3 महीने तक बस फिक्स किराया ही ले पाएंगी एयरलाइंस, जानिए कितने का होगा टिकट

BIHAR3 hours ago

प्रशासन की बदहाली आई सामने, गया के क्वारेंटाइन सेंटर में 5 साल के बच्चे की सांप काटने से मौत

INDIA3 hours ago

सुपर साइक्लोन ‘अम्फान’ से बंगाल में 72 लोगों की मौत, PM मोदी ने दिया मदद का भरोसा

BIHAR1 week ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA3 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD2 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR3 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

BIHAR4 weeks ago

बिहार सरकार का बड़ा फैसला, 9 दिनों के अंदर बनेगा नया राशन कार्ड, ये होगी प्रक्रिया

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

Trending