Connect with us

BIHAR

‘बिहार-यूपी से हो जाएगा एनडीए का सफाया, खाता तक नहीं खुलने देगी जनता’

Published

on

बिहार में आरोप – प्रत्यारोपों का दौर जारी है. पार्टियां एक दूसरे के ऊपर बयानबाजी कर रही हैं. इसी कड़ी में भाकपा माले की भी गरज सुनाई दे रही है. भाकपा माले के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने अपनी पार्टी का चुनाव घोषणा पत्र जारी कर दिया. इस दौरान कहा कि लोग लोकसभा चुनाव में बिहार में एनडीए का खाता नहीं खुलने देंगे.

पटना में अपनी पार्टी का चुनावी घोषणा पत्र जारी करते हुए भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि आज के दौर के भ्रष्टाचार, आतंकवाद व अपराध के सबसे बड़े ठेकेदार तथाकथित चौकीदार हैं. दीपांकर भट्टाचार्य ने दावा किया कि इस चुनाव में लोग गुजरात में भाजपा की सीटें पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में आधे से कम कर देंगे.

जबकि, उत्तरप्रदेश, बिहार और झारखंड में इसका सफाया हो जायेगा. भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि इस चुनाव में कालेधन का पूरा इस्तेमाल हो रहा है. उन्होंने कहा कि आज भ्रष्टाचार का संदर्भ केवल चारा घोटाला तक सीमित नहीं है. आतंक का संदर्भ शहाबुद्दीन से जुड़ा मात्र नहीं है.

भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि आज भ्रष्टाचार, आतंकवाद, अपराध के मायने बदल गये हैं और इसके सबसे बड़े ठेकेदार हमारे तथाकथित चौकीदार साहब हैं. इसलिए इसके खिलाफ हमें जमकर लड़ना होगा. भाकपा माले के कार्यालय सचिव कुमार परवेज ने कहा कि उनकी पार्टी देश में कुल 22 स्थानों पर अपना उम्मीदवार उतारेगी.

उन्होंने कहा कि बिहार के आरा, सीवान, जहानाबाद व काराकाट में भाकपा माले मजबूती से लड़ेगी और बेगूसराय में भाकपा एवं उजियारपुर में माकपा उम्मीदवार का समर्थन करेगी. घोषणापत्र में भ्रष्टाचार को रोकने एवं भ्रष्टाचारियों को सजा दिलाने की नीति लाने का प्रमुख वादा किया गया है.

Input : Live Cities

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

BIHAR

बिहार के युवा आज ट्विटर पर ट्रेंड कराएंगे #आत्मनिर्भर_बिहार आप भी बने भागीदार

Published

on

कोरोना संकट के कारण दूसरे- दूसरे राज्यों से बिहार वापस लौट आने वाले मजदूरों की संख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है. जब ये संकट खत्म होगा तो भी यह मान लीजिये कि इनमें से आधे से अधिक तो वापस जायेंगे नहीं और इसके बाद सरकार और समाज के सामने सबसे बड़ी चुनौती आएगी इनको रोजगार से जोड़ने की. अगर जोड़ न पाये तो ये संकट कल को अपराध उद्योग का रूप ले लेगा.

बिहार प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जी को “प्रवासी भारतीय एप” बनाकर इस संकट के निवारण का प्रयास शुरू करना चाहिये , इस एप के माध्यम से आने वाले प्रवासियों के हुनर से संबंधित डेटा संग्रहित किया जा सकता हैं ताकि भविष्य में उन्हें किसी न किसी रोजगार से जोड़ा जा सके.

मगर दुर्भाग्य से बिहार में अभी तक ऐसी कोई कोशिश शुरू नहीं हुई है और कुल मिलाकर भीषण संकट सामने खड़ा है.

ऐसे में बिहार के लोग क्या कर सकते हैं?

प्रश्न है क्या बिहार आत्मनिर्भर बन सकता है?

गंगा, कमलाऔर गंडक की उपजाऊ जमीन पर विस्तृत बिहार आज न तो कृषि में कुछ विशिष्ट कर पाया है, न पशुपालन की अपार संभावना होते हुए भी इस क्षेत्र में कुछ कर पाया है, न ही वहां मतस्य पालन में कुछ हो रहा है और न ही कठोर वर्ण-व्यवस्था का अनुपालन करते हुए भी अपने किसी परम्परागत व्यवसाय को पुनः जीवित करने को तैयार ये राज्य तैयार है. उद्योग-धंधे तो अपहरण उद्योग के बाद बंद हुए वो बंद ही हैं.

कुछ मित्रों ने मुझसे कहा कि वो लोग इस समस्या के समाधान के दिशा में कुछ सार्थक करना चाह रहे हैं और इसी प्रयास के तहत इन्होने कल यानि रविवार 24 मई को दोपहर 12 से 3 के बीच ट्वीटर पर एक कैम्पेन चलाने का निर्णय लिया है हैशटैग #आत्मनिर्भर_बिहार के नाम से.

बिहार से जुड़े लोग अथवा बिहार से प्रेम करने वाले लोग “आत्मनिर्भर बिहार” की दिशा में की गई अपील के तहत कल के इस अभियान का हिस्सा बन सकतें हैं. आपका सहयोग बिहार से पलायन की समस्या के निदान का एक जरिया बन जाए तो आपके योगदान के लिए बिहार और बिहारवासी आपके हमेशा कृतज्ञ रहेंगे.

दिनांक : 24.05.2020

समय : 12 से 3 बजे दिन में

दिन : रविवार

हैशटैग : #आत्मनिर्भर_बिहार

Continue Reading

MUZAFFARPUR

BJP सांसद ने की वन नेशन वन एजुकेशन की मांग, बोले- बंद किये जाएं देश में चल रहे मदरसे

Published

on

मुजफ्फरपुर. मुजफ्फरपुर के सांसद और भाजपा नेता अजय निषाद ने अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मगुरुओं को टारगेट किया है. सांसद अजय निषाद ने कहा है कि अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मगुरु बच्चों के कोमल मन और हृदय में कट्टरपंथ की भावना भर देते हैं और फिर अपने हिसाब से उनका इस्तेमाल करते हैं. आमतौर पर मदरसा में शिक्षा ग्रहण करने वाले ऐसे लोग कम पढ़े लिखे होने के कारण इन धर्मगुरुओं की बात पर चलते हैं. भाजपा नेता ने कहा कि मदरसे से पढ़कर निकलने वाले लोग हिंदू -मुस्लिम की तर्ज पर लड़ाई करने में पर आमदा होते हैं. सांसद ने मदरसा द्वारा दी जा रही शिक्षा को तत्काल बंद करने की वकालत की है.

मदरसा की शिक्षा बंद होनी चाहिए

मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने कहा है कि मदरसा द्वारा दी जा रही धर्म के आधार पर शिक्षा समाज को गलत दिशा में ले जा रही है. सांसद ने बिहार सरकार से तत्काल इस मामले में हस्तक्षेप करने की मांग की है और मदरसा शिक्षा को दी जा रही करोड़ों की सहायता को तत्काल बंद करने की मांग की है. सांसद ने कहा कि सभी को पढ़ना लिखना और कानून समझना जरूरी है. इसके लिए सभी धर्म के लोगों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने की व्यवस्था होनी चाहिए.

वन नेशन वन एजुकेशन

सांसद अजय निषाद ने कहा कि देश पहले हैं फिर हम सभी हैं. इसके लिए आवश्यक है कि वन नेशन वन एजुकेशन के फार्मूले को लागू किया जाए. इसके लिए वो सरकार से भी मांग कर रहे हैं और आने वाले संसद सत्र में इस बात को लेकर अपनी बात सदन के सामने भी रखेंगे ताकि देश में एक समान शिक्षा प्रणाली हो और सभी को शिक्षित होने का अधिकार प्राप्त हो. एक समान शिक्षा मिलने से समाज के सभी वर्गों का समान रूप से विकास संभव हो सकेगा जिससे देश में प्रगति और खुशहाली आ सकेगी. सांसद ने धर्म के आधार पर दी जाने वाली शिक्षा पर रोक की मांग भी की.

बिहार की शिक्षा व्यवस्था फेल

भाजपा नेता ने यह भी कहा कि बिहार में मौजूदा शिक्षा प्रणाली चौपट हो गई है. स्कूल में बच्चों को गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई नहीं कराई जा रही है. केंद्र सरकार के जवाहर नवोदय विद्यालय और सेंट्रल स्कूल का उदाहरण देते हुए सांसद ने बताया कि इन स्कूलों की शिक्षा कई गुना बेहतर है जिसमें बच्चों को संस्कार के साथ हैं उन्हें सही तरीके से शिक्षित भी किया जाता है लेकिन आज बिहार की शिक्षा-व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो गई है जिसे ठीक करने की आवश्यकता है ताकि बच्चों के भविष्य को उज्जवल किया जा सके.

मदरसा में पढ़ने वाले बनाते हैं टायर का पंचर

पिछले दिनों भाजपा नेता और मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने इस तरह का एक और बयान दिया था जिसमें उन्होंने कहा था कि मदरसा में पढ़ने वाले बच्चों की शिक्षा का स्तर काफी कमजोर होता है और मदरसे से पढ़कर निकलने वाले बच्चे साइकिल और मोटरसाइकिल और दूसरी गाड़ियों के टायर का पंचर बनाने योग्य बन पाते हैं. इस बयान के बाद मुजफ्फरपुर में उनके खिलाफ कोर्ट में परिवाद भी दर्ज कराया गया है और दूसरी राजनीतिक दल के नेताओं ने उनके बयान की निंदा भी की थी लेकिन आज भी सांसद अजय निषाद अल्पसंख्यक समाज की भलाई के लिए मदरसा शिक्षा की जगह आधुनिक तरीके से दी जाने वाली शिक्षा को अल्पसंख्यक समाज के साथ ही देश के भविष्य के लिए आवश्यक बताने वाले बयान पर कायम हैं.

Input : News18

Continue Reading

BIHAR

बिहार: इस Quarantine center से बर्तन, बेंच और कुर्सी लेकर सड़क पर निकल आए लोग, हंगामा और रोड जाम

Published

on

हाजीपुर. वैशाली जिला के लालगंज में शनिवार को एबीएस कॉलेज में बने क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine center) की कुव्यवस्था से नाराज प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) ने जमकर हंगामा किया है. हद तो तब हो गई जब क्वारंटाइन सेंटर के सभी प्रवासी मजदूर बाहर निकल कर सड़क पर आ गए और रोड जाम कर दिया. मजदूरों ने खाने का बर्तन और बेंच, कुर्सी रखकर सड़क जाम कर दिया और म प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वहीं प्रशासन मूकदर्शक बना रहा. प्रशासन का कोई भी नुमाइंदा घंटों मौके पर नहीं पहुंचा.

प्रवासी मजदूरों का कहना है कि एबीएस कॉलेज क्वारंटाइन सेंटर में भारी कुव्यवस्था का आलम है, लेकिन प्रशासन की ओर से सुध लेने के बदले शिकायत करने पर गाली गलौच की जा रही है. तरह-तरह से धमकाया भी जा रहा है, जिससे तंग आकर उन्हें सड़क पर उतरना पड़ा है.

प्रवासी मजदूरों का कहना है कि इसी क्वारंटाइन सेंटर से कोरोना मरीज मिल चुका है बावजूद इसके इसकी साफ-सफाई नहीं की जा रही है. क्वारंटाइन सेंटर परिसर में गाय का एक बच्चा कई दिनों से मरा पड़ा है, जिसके दुर्गंध से प्रवासी मजदूर काफी परेशान हैं. वहीं प्रवासी मजदूरों को घटिया खाना परोसा जा रहा है, जिसके चलते नाराज प्रवासी मजदूरों ने हंगामा किया.

प्रवासी मजदूरों ने घटिया खाना का नमूना दिखाते मजदूरों का कहना है कि जो खाना दिया जा रहा है वह खाने लायक नहीं है. शिकायत करने पर गाली गलौज की जा रही है. प्रवासी मजदूरों का यहां तक कहना है कि यदि प्रशासन कोई व्यवस्था नहीं कर पा रहा है तो उन्हें लिखकर क्वारंटाइन सेंटर से घर जाने की अनुमति दें.

गौरतलब है कि प्रवासी मजदूरों को गांववाले और घरवाले भी नहीं आने दे रहे हैं. वहीं क्वारंटाइन सेंटरों में उनकी हालत बद से बदतर हो रही है, लेकिन प्रशासन अभी तक लापरवाह बना हुआ है . स्थानीय राजद देता राजीव कुमार ने सरकार पर हमला बोला उन्होंने कहा कि क्वारंटाइन सेंटरों पर तमाम तरह की अव्यवस्था है, लेकिन सरकार और प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है.

Continue Reading
INDIA24 seconds ago

महाराष्ट्र में फिर एक साधु की बेरहमी से हत्या, जांच में जुटी पुलिस

BIHAR9 mins ago

बिहार के युवा आज ट्विटर पर ट्रेंड कराएंगे #आत्मनिर्भर_बिहार आप भी बने भागीदार

INDIA1 hour ago

मेघालय के विधायक का बेतुका बयान, गर्भपात और समलैंगिक शादी के चलते लोग कोरोना के हो रहे हैं शिकार

MUZAFFARPUR2 hours ago

BJP सांसद ने की वन नेशन वन एजुकेशन की मांग, बोले- बंद किये जाएं देश में चल रहे मदरसे

BIHAR6 hours ago

बिहार: इस Quarantine center से बर्तन, बेंच और कुर्सी लेकर सड़क पर निकल आए लोग, हंगामा और रोड जाम

BIHAR6 hours ago

पिता को गुरुग्राम से साइकिल पर बैठा दरभंगा पहुंची थी ज्योति, अब मिलेगा अबोध देवी बाल प्रतिभा पुरस्कार

INDIA15 hours ago

लॉकडाउन में खाना बांट रहे युवक को भीख मांग रही लड़की से हुआ प्यार, फिर रचाई शादी

MUZAFFARPUR15 hours ago

क्वारंटाइन सेंटर में खाना मांगने पर CO ने दी FIR की धमकी, सड़क पर उतरे प्रवासी मजदूर

INDIA15 hours ago

देश में आज नहीं दिखा चांद, सोमवार को मनाई जाएगी ईद

HEALTH16 hours ago

Health Benefits Of Eggs: संडे हो या मंडे, पोषण से भरपूर हैं अंडे, जानें ये हैं इसके फायदे

BIHAR1 week ago

जानिए- बिहार के एक मजदूर ने ऐसा क्या कहा कि दिल्ली के अफसर की आंखों में आ गए आंसू

INDIA4 weeks ago

क्या 4 मई से शुरू होगा ट्रेनों का संचालन? जानें रेलवे की आगे की रणनीति

INDIA3 weeks ago

लॉकडाउन में राशन खरीदने निकला बेटा दुल्हन लेकर लौटा, भड़की मां पहुंची थाने

BIHAR3 weeks ago

ऋषि कपूर ने उठाए थे नीतीश सरकार के फैसले पर सवाल, कहा था- कभी नहीं जाऊंगा बिहार

WORLD3 weeks ago

इंडोनेशिया में घर के साथ पत्नी मुफ्त, एड ऑनलाइन हुआ वायरल

BIHAR4 weeks ago

IIT से पढ़ाई, डॉन की गिरफ्तारी, अब बिहार के IPS बने यूट्यूब गुरु

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर : पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी ; 36 घंटे के अंदर बैंक लूट कांड का किया खुलासा

BIHAR4 weeks ago

मौसम विभाग ने साइक्लोन सर्किल का जारी किया अलर्ट, इन जिलों में आंधी-तूफान के साथ बारिश की संभावना

BIHAR3 weeks ago

बिहार के किस जिले में आज से क्या-क्या होगा शुरू, देंखे-पूरी लिस्ट

INDIA3 weeks ago

Lockdown Part 3- 17 मई तक जानिए क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

Trending