Connect with us

BIHAR

हाजीपुर: अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए मरीज की बेटी के साथ लिए सात फेरे

Published

on

हाजीपुर में एक अनोखी शादी हुई. दुल्हन थी हाजीपुर के सरकारी अस्पताल में इलाज करवाने वाली एक महिला मरीज की बेटी और दूल्हा बना अस्पताल में उसकी मां की सेवा करने वाला कर्मचारी. दसअसल महिला मरीज की अंतिम इच्छा थी कि उसका दामाद अस्पताल में उसकी सेवा करने वाला जैसा हो. अपने मरीज की अंतिम इच्छा सुनते ही स्वास्थ्यकर्मी इस बात के लिए तैयार हो गया. बेटी की शादी के अगले दिन ही दुनिया छोड़ चली गई.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

पूरा मामला:

Advertisement

18 अप्रैल को बिद्दूपुर के ककरहट्टा की रहने वाली मानिका देवी एक हादसे में गंभीर रूप से जल गई थी. उन्हें इलाज के लिए हाजीपुर के सरकारी सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. उनके साथ उनकी बेटी प्रीति अस्पताल में रहकर उनकी देखभाल कर रही थी. सदर अस्पताल में तैनात स्वास्थकर्मी मनिंदर कुमार सिंह मनिका देवी के इलाज में सेवा दे रहा था. मनविंदर के जिम्मे ड्रेसिंग, जाँच और दवा देने की जिम्मेदारी थी.

मां ने जताई चिंता:

Advertisement

प्रीति की मां की हालत गंभीर थी. इसी बीच बीमार मनिका देवी ने तीमारदारी में जुड़े मनिंदर से अपनी बेटी प्रीति कि शादी की चिंता जताई.मनिंदर से बेटी प्रीति का हाथ थामने की गुजारिश की. अपने मरीज की खराब हालत और उसकी अंतिम इच्छा देख मनिंदर ने भी बिना सोचे शादी की हामी भर दी.

इलाज के दौरान ही शादी की तैयारी हुई

Advertisement

इलाज के दौरान ही शादी की तैयारी हुई और अस्पताल के साथी स्वास्थकर्मी और नर्स बाराती बने. मनिंदर और प्रीती की शादी धूमधाम से हुई. झटपट हुई इस शादी को देखकर अंदाजा लगाना बेहद मुश्किल है कि ये शादी महज 15 दिनों के तीमारदार और स्वास्थकर्मी के इलाज के दौरान बने रिश्ते की शादी थी. इस पूरी कहानी का अंतिम पड़ाव भावुक कर देने वाला रहा. बेटी का कन्यादान करने के बाद मनिका देवी की तबियत बिगड़ने लगी और शादी के दो दिन बाद वो दुनिया को अलविदा कहकर चली गईं. हर तरफ शादी की चर्चा है.

Source : Aaj Tak

Advertisement

nps-builders

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

BIHAR

पूर्व मध्य रेल के 12 स्टेशन बनेंगे विश्वस्तरीय, गया के विकास के लिए टेंडर जारी

Published

on

स्टेशन पुनर्विकास परियोजना के तहत विश्वस्तरीय स्टेशन के रूप में विकसित करने हेतु पूर्व मध्य रेल के कुल 12 स्टेशनों का विकास होगा। पूर्व मध्य रेल के दानापुर मंडल के राजेन्द्रनगर एवं बक्सर, सोनपुर मंडल के मुजफ्फरपुर, बेगुसराय एवं बरौनी, समस्तीपुर मंडल के दरभंगा, सीतामढ़ी, बापूधाम मोतीहारीय पं. दीन दयाल उपाध्याय मंडल के गया एवं पं.दीन दयाल उपाध्याय जं तथा धनबाद मंडल के धनबाद एवं सिंगरौली स्टेशन को विकसित किया जाएगा। इन स्टेशनों के पुनर्विकास हेतु प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी है। गया के विकास के लिए टेंडर भी जारी कर दिया गया है।

पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने बताया कि धार्मिक एवं पर्यटन दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण गया स्टेशन को विश्वस्तरीय स्टेशन बनाने के लिए अंतिम रूपरेखा तैयार हो जाने के बाद निविदा जारी कर दिया गया है। गया स्टेशन का पुनर्विकास कार्य लगभग 300 करोड़ रूपए की अनुमानित लागत से पूरा किया जाएगा तथा इसे वर्ष 2024 के अंत तक पूरा करने का लक्ष्य है। गया स्टेशन पर यात्रियों को एयरपोर्ट जैसी विश्वस्तरीय सुविधाएं प्राप्त होंगी। उन्होंने कहा कि पुनर्विकास के बाद गया स्टेशन उन्नत यात्री सुविधाओं के साथ तकनीक, स्थानीय संस्कृति और समृद्ध विरासत का आकर्षक मेल बनेगा। पुनर्विकास के उपरांत गया स्टेशन पर यात्रियों को सेवा प्रदान करने की क्षमता तीन गुणा बढ़ जायेगी। इससे पर्यटकों की संख्या में वृद्धि के साथ-साथ अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार का सृजन का लाभ स्थानीय लोगों को मिलेगा।

Advertisement

Genius-Classes

स्टेशनों पर इस तरह की होंगी सुविधाएं-

योजना के तहत स्टेशन को विश्वस्तरीय रूप देते हुए स्टेशनों को ग्रीन बिल्डिंग का रूप दिया जाएगा, जहां वेंटिलेशन आदि की पर्याप्त व्यवस्था होगी। स्टेशन पर एक्सेस कंट्रोल गेट एवं प्रत्येक प्लेटफार्म पर एस्केलेटर एवं लिफ्ट लगाए जाएंगे, ताकि एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आने-जाने में यात्रियों को सुविधा हो। यात्रियों को प्रदान की जाने वाली आवश्यक सुविधाओं में खान-पान, वॉशरूम, पीने का पानी, एटीएम, इंटरनेट आदि शामिल होंगे । इससे आम यात्रियों के साथ वरिष्ठ नागरिक विशेष रूप से लाभान्वित होंगे। विश्वस्तरीय स्टेशन के रूप में पुनर्विकास के उपरांत गया स्टेशन पर रेल यात्रियों के स्टेशन पर आगमन एवं प्रस्थान के लिए अलग-अलग व्यवस्था के तहत आगमन भवन एवं प्रस्थान भवन का निर्माण एवं तीर्थयात्रियों के लिए अलग भवन का निर्माण किया जायेगा। स्टेशन के प्रवेश और निकास द्वार अलग अलग होंगे। वर्तमान की तुलना में मुख्य स्टेशन भवन के लिए 2.35 गुणा अधिक जगह तथा पार्किंग एरिया के लिए 4.9 गुणा अधिक जगह उपलब्ध होंगे। इसके साथ ही प्रतीक्षालय के लिए अतिरिक्त 6400 वर्गमीटर कॉनकोर्स एरिया, स्टेशन पर कुल 23 लिफ्ट एवं 11 एस्केलेटर की सुविधा, मौजूदा 3100 वर्गमीटर प्लेटफार्म क्षेत्र और एफओबी का उन्नयन, अतिरिक्त टिकटिंग सुविधा, दिव्यांग अनुकूल सुविधाएं, ग्रीन ऊर्जा हेतु स्टेशन भवन पर सौर पैनल का प्रावधान, रेन वाटर हार्बेस्टिंग का प्रावधान, वाटर रिसाइक्लिंग प्लांट, ठोस अपशिष्ट प्रबंधन एवं अग्निशमन आदि की व्यवस्था होगी।

Advertisement

Source : Hindustan

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

बिहार विधानसभा में राजद फिर बनी सबसे बड़ी पार्टी, भाजपा दूसरे तो जदयू तीसरे नंबर पर

Published

on

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के चार विधायकों के पाला बदलते ही बिहार में राजद अब सबसे बड़ी पार्टी फिर से बन गई है. अब आरजेडी के विधानसभा में 80 विधायक हो गए हैं. बीजेपी 77 विधायकों के साथ दूसरे नंबर की पार्टी हो गई है. कुछ महीने पहले ही वीआईपी के तीन विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद बीजेपी जो सबसे बड़ी पार्टी बन गई थी, मगर वह अब फिर दूसरे नंबर की पार्टी हो गई है.

बिहार विधानसभा में विधायकों की संख्या के लिहाज से अब आरजेडी के पास 80, भाजपा के 77, जदयू के 45, कांग्रेस के 19, लेफ्ट के 16, हम के 4, AIMIM के 1 और निर्दलीय विधायकों की संख्या 1 है. बता दें कि बिहार में एक बार फिर से बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. बुधवार को अचानक ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के पांच में से चार विधायक राजद में शामिल हो गये.

Advertisement

Genius-Classes

ओवैसी के विधायकों की राजद में एंट्री इतनी गुपचुप तरीके से थी कि किसी को पता भी नहीं चला. नेता प्रतिपक्ष ओवैसी की पार्टी के चार विधायकों को लेकर विधानसभा अध्य़क्ष विजय सिन्हा के कमरे में पहुंचे और उसके बाद खुद ही सभी के राजद में शामिल होने की पुष्टि की

तीन महीने के दौरान बिहार में ये दूसरा मौका है जब बिहार में किसी पार्टी के विधायक टूटकर किसी दूसरे दल में जा मिले हों. इससे पहले इसी साल मार्च के महीने में मुकेश सहनी की पार्टी में भी ऐसी ही टूट हुई थी. बिहार सरकार में मंत्री और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी के सभ विधायकों ने उनका साथ छोड़ दिया था और बीजेपी का दामन थाम लिया.

Advertisement

Source: News18

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM के 5 में से चार विधायक आरजेडी में हुए शामिल

Published

on

बिहार में AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी को बड़ा झटका लगा है। उनकी पार्टी के पांच में से चार विधायक आरजेडी में शामिल हो गए हैं। एआईएमआईएम प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान को छोड़कर अन्य चारों विधायकों ने पार्टी छोड़ दी। सभी विधायक बुधवार को आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के साथ विधानसभा स्पीकर से मिलने पहुंचे।

आरजेडी ने बिहार में ओवैसी की पार्टी में बड़ी टूट की है। तेजस्वी यादव बुधवार शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बारे में पूरी जानकारी देंगे। बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव में ओवैसी की AIMIM से 5 विधायक जीतकर विधानसभा पहुंचे थे। इनमें से चार विधायकों ने अब पार्टी का दामन छोड़ दिया है। इनमें शाहनवाज, मोहम्मद अनजर नईमी, मोहम्मद इजहार असफी और सैयद रुकनुद्दीन का नाम शामिल है।

Advertisement

Genius-Classes

बिहार में सबसे बड़ी पार्टी बनी आरजेडी

ओवैसी की पार्टी से चार विधायकों के आने के बाद आरजेडी बिहार विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है। पार्टी के अब कुल 80 विधायक हो गए हैं। बीजेपी दूसरे नंबर पर पहुंच गई है, जिसके विधायकों की संख्या 78 है।

Advertisement

बताया जा रहा है कि तेजस्वी यादव लंबे समय से एआईएमआईएम का आरजेडी में विलय करना चाहते थे। वे लगातार ओवैसी की पार्टी के विधायकों के संपर्क में थे। हालांकि, AIMIM प्रदेश अध्यक्ष अख्तरुल ईमान से विलय की बात नहीं बन पाई। मगर तेजस्वी पांच में से चार विधायकों को अपने दल में शामिल करने में सफल रहे।

Source: Live Hindustan

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Continue Reading
BIHAR30 seconds ago

पूर्व मध्य रेल के 12 स्टेशन बनेंगे विश्वस्तरीय, गया के विकास के लिए टेंडर जारी

BIHAR3 hours ago

बिहार विधानसभा में राजद फिर बनी सबसे बड़ी पार्टी, भाजपा दूसरे तो जदयू तीसरे नंबर पर

BOLLYWOOD3 hours ago

सिंगर लकी अली ने धर्म के नाम कन्हैयालाल की हत्या की आलोचना की कहां – मानवता की हत्या मिले इंसाफ

INDIA4 hours ago

लड़की प्रेमी के साथ भागी तो गलती मां-बाप की ; रामपुर के SP बोले- मेरा बस चले तो मैं लड़की के माता-पिता को भी जेल भेज दूं

BIHAR4 hours ago

असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM के 5 में से चार विधायक आरजेडी में हुए शामिल

BIHAR5 hours ago

बिहार में टूटी असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी, पांच में से चार विधायक RJD में होंगे शामिल

BIHAR5 hours ago

जज्बे को सलाम: दोनों हाथ नहीं, फिर भी नहीं मानी हार, पैर से दिया BA का एग्जाम, IAS बनने का सपना

BIHAR6 hours ago

हाजीपुर : रेप में विफल होने वाले मामा ने दोस्त के साथ की थी भांजी की हत्या, आजीवन कारावास की सजा

INDIA7 hours ago

कन्हैया लाल के अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़; लगे ‘अमर रहे’ के नारे

SMART-CITY-MUZAFFARP
BIHAR7 hours ago

देश के 100 स्मार्ट शहरों की रैंकिंग में पटना फिर से फिसड्डी ; पटना से आगे निकला मुजफ्फरपुर

BIHAR4 weeks ago

यूपीएससी में बजा बिहार का डंका, मधेपुरा की अंकिता सेकेंड टॉपर

TECH1 week ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर की बेटी ने यूपीएससी में 122वां रैंक लाकर किया गौरवान्वित

BIHAR3 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

BIHAR3 days ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के लाल का यूपीएससी में जलवा, मीनापुर के अभिनव, विशाल ने लहराया परचम

BIHAR3 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

BIHAR2 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

JOBS3 weeks ago

IBPS ने निकाली बंपर बहाली; क्लर्क, PO समेत अन्य पदों पर निकली वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू

BIHAR7 days ago

बिहार का थानेदार नेपाल में गिरफ्तार; एसपी बोले- इंस्पेक्टर छुट्टी लेकर गया था

Trending