Connect with us

MUZAFFARPUR

नकली नोट के इनामी धंधेबाज को मुजफ्फरपुर पुलिस ने दबोचा

Published

on

एनआईए की ओर से दो लाख रुपये के इनामी वांछित घोषित नकली नोट के धंधेबाज सुधीर कुशवाहा को मुजफ्फरपुर में पुलिस ने दबोच लिया है। उसके पास से नकली नोट व अन्य प्रतिबंधित सामग्रियां भी मिली हैं। वह पाकिस्तान में छपी करोड़ों रुपये की नकली भारतीय मुद्रा नेपाल के रास्ते भारत के अलग-अलग शहरों में भेजने का नेटवर्क चला रहा था। 2016 में हुई नोटबंदी के बाद इस पर करोड़ों रुपये के नकली नोट भारत में खपाने का आरोप है। नकली नोटों का सरगना इमरान तेलगी से भी इसके पुराने संबंध हैं। बीते पांच साल से सुधीर नेपाल में नाम बदलकर रह रहा था। पूर्वी चम्पारण के घोड़ासाहन के हरपुर मोहल्ला निवासी सुधीर कुशवाहा ने नेपाल की नागरिकता भी ले ली थी। वह नेपाल में कोयले का बड़ा कारोबार खड़ा कर लिया था। गुरुवार को एसएसपी जयंतकांत ने उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की।

Thumbnail image

पुलिस के अनुसार नेपाल से सुधीर के मोतिहारी स्थित घोड़ासाहन पहुंचने की सूचना मिली। पुलिस उसे पकड़ने के लिए घोड़ासाहन स्थित उसके घर पर पहुंचती उससे कुछ देर पहले ही निकल गया। उसके फरार होने का अलर्ट सभी जिलों को दिया गया था। सुधीर को दबोचने के लिए मोतीपुर में घेराबंदी की गई, लेकिन, वह पुलिस घेराबंदी तोड़कर भाग निकला। पीछा कर के पुलिस ने उसे दबोचा।

Advertisement

एसएसपी जयंतकांत ने बताया कि नेपाल नंबर की गाड़ी दिखने के बाद उसे जांच के लिए रोकने की कोशिश की गई तो पुलिस को चकमा देकर सुधीर भागने लगा। इसके बाद इसे खदेड़कर पकड़ा गया है। उन्होंने बताया कि सुधीर कुशवाहा देश स्तर पर नकली नोट के मामलों में वांटेड है। उस पर एनआईए ने दो लाख रुपये का इनाम रखा था, इनाम की राशि लगातार बढ़ाई जा रही थी।

Genius-Classes

पहली बार 2015 में हुआ था गिरफ्तार : सुधीर कुशवाहा को मोतिहारी पुलिस ने नकली नोट व अन्य आपराधिक मामले में 2015 में पहली बार गिरफ्तार किया था। तब वह फर्जी कागजात के सहारे जमानत पर बाहर निकल गया था। दूसरी बार एनआईए ने 2016 में उसे पकड़ा। जमानत मिलने के बाद 2017 से सुधीर नेपाल में रहने लगा। एसएसपी ने बताया कि उसके प्रत्यर्पण के लिए नेपाल सरकार तैयार नहीं हो रही थी। एनआईए उससे मुजफ्फरपुर में ही पूछताछ कर रही है।

Advertisement

उत्तर बिहार में फैल रहा जाली नोट के सौदागरों का नेटवर्क

उत्तर बिहार में जाली नोट के धंधेबाजों का नेटवर्क तेजी से बढ़ रहा है। मधुबनी से मुजफ्फरपुर होकर रक्सौल तक जाली नोट स्थानीय स्तर पर छापने तक का धंधा शुरू हो गया है। उत्तर बिहार में जाली नोट का नेटवर्क नेपाल से ही जुड़ा है। नेपाल में एक दर्जन से अधिक नकली नोट के सौदागर चिह्नित हैं। उन्हें पुलिस टीम पकड़ पाने में कामयाब नहीं हो पा रही है।

Advertisement

मधुबनी पुलिस ने 19 जनवरी को भैरव स्थान में लौकाही के प्रेम कुमार कामति को 13 लाख के नकली नोट के साथ पकड़ा था। साथ ही नकली नोट छापने की प्रिंटर मशीन व सादे कागज की खेप भी पकड़ी थी। इसमें फुलपरास, रुद्रपुर और लौकही इलाके के पांच धंधेबाज अबतक फरार चल रहे हैं। इससे पहले मोतीपुर में मुजफ्फरपुर पुलिस ने नकली नोट की दो बार बड़ी खेप पकड़ी थी। मोतीपुर के तत्कालीन थानेदार अनिल कुमार ने इसमें सात लोगों को गिरफ्तार किया था। इसमें सारण से लेकर मोतिहारी और सीतामढ़ी तक के धंधेबाज चिह्नित हुए थे। छह फरार आरोपितों की अबतक गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

इसी साल मुजफ्फरपुर डीआरआई की टीम ने पाकिस्तान में छापे गये नकली नोट की खेप रक्सौल में जब्त की थी। इसमें शामिल चार बड़े धंधेबाज नेपाल में छिपे हैं जिनकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। इधर, आईजी पंकज कुमार सिन्हा ने कहा कितिरहुत रेंज में नकली नोट के सभी मामलों की समीक्षा की जा रही है। फरार आरोपितों की गिरफ्तारी व कुर्की-जब्ती के लिए अभियान चलाने का निर्देश चारों जिलों के पुलिस अधीक्षकों को दिया गया है।

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

नगर थानेदार ने दो माह नेपाल में रहकर की रेकी

नकली नोट के धंधेबाज सुधीर के ठिकाने की जानकारी होने के बाद पुलिस ने उसे नेपाल से उठाने की कोशिश भी की। एक बार उसे नेपाल में दबोच भी लिया गया था लेकिन नेपाल पुलिस ने उसे बॉर्डर से पहले ही मुक्त करा लिया। एसएसपी ने बताया कि नगर थानेदार अनिल कुमार दो माह तक नेपाल में रहकर उसकी रेकी की थी। खुद एसएसपी भी काठमंडू तक पहुंच गये।

Advertisement

nps-builders

उत्तर बिहार के कई जिलों में दर्ज हैं  मामले 

मोतीपुर, सारण, मधुबनी और सीतामढ़ी में हाल में हुई नकली नोटों की जब्ती मामले में भी उसे पुलिस तलाश रही थी। इसके अलावा डीआरआई ने कुछ दिनों पहले रक्सौल में नकली नोट की बड़ी खेप पकड़ी थी। सारे नोट पाकिस्तान में छपे थे। इस मामले में भी सुधीर की तलाश चल रही थी।

Advertisement

Source : Hindustan

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

MUZAFFARPUR

रक्षाबंधन के अवसर पर प्रशांत होंडा ने महिला ग्राहकों को किया सम्मानित

Published

on

लेनिन चौक स्थित होंडा टू व्हीलर्स के अधिकृत विक्रेता प्रशांत होंडा ने रक्षाबंधन के अवसर पर आज मेंहदी कैम्पेन का आयोजन किया।

प्रशांत होंडा द्वारा अयोजित इस आयोजन में महिला ग्राहकों को आमंत्रित कर उनके स्कूटर का फ्री सर्विस एवं चेकअप किया गया। तथा उनके हाथों में मेंहदी लगी एवं उपहार देकर सम्मानित किया गया।

Advertisement

इस कार्यक्रम में करीब 40 महिलाओं ने भाग लिया था। वहीं इस मौके पर प्रशांत होंडा के बिक्री प्रबंधक अनिल कुमार वर्मा, दिनेश ठाकुर,सिमरन,शिल्पा,साक्षी इत्यादि का सहयोग काफी सराहनीय रहा।

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

मुजफ्फरपुर डीएम का फेक वाट्सएप अकाउंट बना बीडीओ-सीओ से मांगे रुपए ; एफआईआर दर्ज

Published

on

साइबर फ्राॅड गैंग ने डीएम प्रणव कुमार के नाम पर फर्जी वाट्सएप अकाउंट बना प्रशासनिक अधिकारी व आमलोगों से चैटिंग कर ठगी कर रहा है। बंदरा के प्रखंड विकास अधिकारी व कुढ़नी-कांटी के अंचल अधिकारी से रुपए मांगे गए हैं। इसका खुलासा हाेने पर जिला गोपनीय प्रशाखा के विशेष कार्य पदाधिकारी ने मंगलवार काे टाउन थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस महकमे में भी हड़कंप मच गया।

प्राथमिकी में कहा गया है कि जिलाधिकारी प्रणव कुमार के फोटो का फर्जी इस्तेमाल कर दो अलग-अलग मोबाइल नंबर से फर्जी अकाउंट बनाए गए हैं। उन नंबराें से जिले के प्रशासनिक अधिकारियों व आमलोगों से चैट किया जा रहा है। चैटिंग के क्रम में अमेजन गिफ्ट कार्ड के माध्यम से राशि की मांग की जा रही है। नगर थाने की पुलिस को प्राथमिकी के लिए फर्जी वाट्सएप अकाउंट से बीडीओ-सीओ से की गई चैटिंग का स्क्रीन शॉट भी दिया गया है।

Advertisement

थानेदार ने कहा- साइबर एक्सपर्ट के माध्यम से कराई जाएगी मामले की जांच

साइबर फ्रॉड हुआ तो सबसे पहले ये करें

Advertisement

1. 1930 पर फोन कर तत्काल शिकायत दर्ज कराएं

2. cybercrime.gov.in पर कागजात के साथ शिकायत करें

Advertisement

3. इसके बाद संबंधित थाने में और बैंक में मामले की लिखित शिकायत करें

विशेष कार्य अधिकारी ने थाने को दी मामले की सूचना

Advertisement

जिला गोपनीय प्रशाखा के विशेष कार्य अधिकारी कुमार अभिषेक ने मामले की नगर थाने में लिखित शिकायत की। उसी के आधार पर इसकी प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें मैसेज भेजे जानेवाले दोनाें मोबाइल नंबराें 91239:::772 और 76785::6507 के धारक को आरोपित बनाया गया है। पुलिस दर्ज प्राथमिकी के आधार पर दोनों शातिरों के सत्यापन में जुट गई है।

जिला सर्विलांस टीम दोनों मोबाइल नंबर का सीडीआर व कैप निकाल कर आरोपिताें की गिरफ्तारी में जुट गई है। दोनों में से एक नंबर को ट्रू कॉलर पर चेक करने पर राजेश कुमार बताता है। इधर, टाउन थानेदार अनिल कुमार ने बताया कि साइबर एक्सपर्ट के माध्यम से शातिर की पहचान की जा रही है। जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

Advertisement

Source : Dainik Bhaskar

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

BIHAR

मुजफ्फरपुर जिले में दाखिल-खारिज के 47,482 मामले लंबित, डीएम ने जताई नाराजगी

Published

on

मुजफ्फरपुर के 16 अंचलों में 47 हजार 482 मामले ई-म्यूटेशन (दाखिल-खारिज) के लंबित है। इसमें 21 दिनों के अंदर के 35 हजार 798 और 63 दिनों के अंदर वाले 3430 मामले लंबित हैं। इसमें सबसे अधिक मुशहरी अंचल में 7500 मामले लंबित पड़े हैं। सबसे कम मुरौल में मात्र 250 आवेदन लंबित है। पूरे मामले में विभाग द्वारा 31 जुलाई तक का विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर मुख्यालय को भेजा गया है। जबकि ई-म्यूटेशन को लेकर सरकार का सख्त आदेश है कि इसे समय सीमा के अंदर निपटारा करें। अन्यथा संबंधित कर्मचारी व अंचलाधिकारी पर कार्रवाई की जाएगी।

समीक्षा बैठक में लंबित संख्या पर नाराजगी जताते हुए जिलाधिकारी प्रणव कुमार ने कर्मचारियों व सभी सीओ को चेतावनी दी थी। इसके बावजूद दाखिल-खारिज के निष्पादन को लेकर तेजी नहीं लाई जा रही है। बता दें कि सरकार के सख्त आदेश के बाद भी दाखिल-खारिज मामले में अंचलाधिकारी व कर्मचारी शिथिलता बरतते है। जबकि पूरी प्रक्रिया आनलाइन है। बावजूद आनलाइन आवेदन करने के बाद भी दाखिल-खारिज के लिए लोगों को परेशान किया जाता है। शिकायत के बाद भी प्रशासन के स्तर से कार्रवाई नहीं हो पाती है। नतीजा अंचलों में जमे कर्मी मनमानी तरीके से काम करते हैं।

Advertisement

Source : Dainik Jagran

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Continue Reading
MUZAFFARPUR1 hour ago

रक्षाबंधन के अवसर पर प्रशांत होंडा ने महिला ग्राहकों को किया सम्मानित

BIHAR3 hours ago

डिप्टी सीएम बनते ही तेजस्वी ने किया बड़ा ऐलान, बिहार में एक महीने में मिलेंगी बंपर सरकारी नौकरियां

INDIA3 hours ago

शक्तिमान फेम मुकेश खन्‍ना के विवादास्‍पद बोल, दिल्‍ली महिला आयोग ने एफआईआर के लिए भेजा नोटिस

BIHAR4 hours ago

बिहार सियासी एपिसोड के बीच सोशल मीडिया पर छाई लालू-नीतीश की पुरानी तस्वीर

BIHAR6 hours ago

बेतिया में मंदिर के पुजारी की निर्मम हत्या, सिर काटकर मां काली को चढ़ाया

BIHAR6 hours ago

बिहार में दूसरी बार ‘तेजस्वी भव:’, क्रिकेट की पिच से सियासत के सफ़र तक लालू के ‘लाल’ का कमाल

BIHAR7 hours ago

चचा-भतीजा राजी भाड़ में जाएं …नेहा का बिहार में का बा सीजन-टू लॉन्‍च

BIHAR7 hours ago

मुजफ्फरपुर डीएम का फेक वाट्सएप अकाउंट बना बीडीओ-सीओ से मांगे रुपए ; एफआईआर दर्ज

BIHAR8 hours ago

बिहार में नीतीश की 8वीं पारी शुरू, सीएम पद की ली शपथ, तेजस्वी की भी हुई ताजपोशी

INDIA8 hours ago

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की जिम करते हुए बिगड़ी तबियत, अस्पताल में भर्ती

BIHAR4 weeks ago

बिहार दारोगा रिजल्ट : छोटी सी दुकान चलाने वाले सख्स की दो बेटियाँ एक साथ बनी दारोगा

job-alert
BIHAR2 weeks ago

बिहार: मैट्रिक व इंटर पास महिलाएं हो जाएं तैयार, जल्द होगी 30 हजार कोऑर्डिनेटर की बहाली

INDIA4 weeks ago

प्यार के आगे धर्म की दीवार टूटी, हिंदू लड़के से मुस्लिम लड़की ने मंदिर में की शादी

BIHAR3 weeks ago

बिहार में तेल कंपनियों ने जारी की पेट्रोल-डीजल की नई दरें

BIHAR7 days ago

बीपीएससी 66वीं रिजल्ट : वैशाली के सुधीर बने टॉपर ; टॉप 10 में मुजफ्फरपुर के आयुष भी शामिल

BIHAR4 days ago

एक साल में चार नौकरी, फिर शादी के 30वें दिन ही BPSC क्लियर कर गई बहू

BUSINESS6 days ago

पैसों की जरूरत हो तो लोन की जगह लें ये सुविधा; होगा बड़ा फायदा

BIHAR4 days ago

ग्राहक बन रेड लाइट एरिया में पहुंची पुलिस, मिली कॉलेज की लड़किया

BIHAR3 weeks ago

बिहार : अब शिकायत करें, 3 से 30 दिनों के भीतर सड़क की मरम्मत हाेगी

INDIA1 week ago

बुढ़ापे का सहारा है यह योजना, हर दिन लगाएं बस 50 रुपये और जुटाएं ₹35 लाख फंड

Trending