Connect with us

WORLD

बाढ़ से मची तबाही पर पीएम मोदी ने जताई चिंता तो पाकिस्तानी पीएम बोले- इंशाअल्लाह…

Published

on

पाकिस्तान में बाढ़ से इस वक्त हाहाकार मचा हुआ है. हालात इस कदर बिगड़ गए हैं सरकार को राहत कार्य के लिए सेना की मदद लेने का फैसला किया है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान की स्थिति पर चिंता जताई थी जिसके बाद अब पाकिस्तान के पीएम शहबाज शरीफ ने बुधवार को अपने भारतीय समकक्ष नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है.भारी बारिश के कारण आई भीषण बाढ़ से पूरे पाकिस्तान में व्यापक तबाही हुई है और 1,100 से अधिक लोग मारे गए हैं जबकि 3.3 करोड़ लोगों को विस्थापित होना पड़ा है.

शहबाज शरीफ ने ट्वीट किया, मैं भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बाढ़ के कारण हुए मानवीय और भौतिक नुकसान पर शोक जताने के लिए धन्यवाद देता हूं. अपने विशिष्ट गुणों के साथ पाकिस्तान के लोग, इंशाअल्लाह, इस प्राकृतिक आपदा के प्रतिकूल प्रभावों को दूर करेंगे और अपने जीवन और समुदायों का पुनर्निर्माण करेंगे.

Advertisement

Advertisement

Advertisement

प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को कहा था कि वह पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही को देखकर दुखी हैं. उन्होंने पड़ोसी देश में जल्द से जल्द सामान्य स्थिति बहाल होने की उम्मीद जताई थी.

मोदी ने ट्वीट किया था, ”पाकिस्तान में बाढ़ से हुई तबाही को देखकर दुख हुआ. हम पीड़ितों, घायलों और इस प्राकृतिक आपदा से प्रभावित सभी लोगों के परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं और जल्द ही सामान्य स्थिति बहाल होने की उम्मीद करते हैं.”

Advertisement

Advertisement

अमेरिका ने किया तीन करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने का ऐलान

वहीं दूसरी ओर अमेरिका ने बाढ़ ग्रस्त पाकिस्तान को तीन करोड़ डॉलर की मानवीय सहायता देने की मंगलवार को घोषणा की थी. अमेरिका के विदेश एंथनी ब्लिंकन ने कहा, हम इस मुश्किल घड़ी में पाकिस्तान के साथ खड़े हैं.

Advertisement

Advertisement

उन्होंने कहा, पाकिस्तान के भयानक बाढ़ की चपेट में आने के कारण अमेरिका यूएसएआईडी के जरिए भोजन, सुरक्षित पेयजल और आश्रय जैसी महत्वपूर्ण मानवीय सहायता के लिए तीन करोड़ डॉलर प्रदान कर रहा है.

विदेश मंत्रालय के प्रधान उप प्रवक्ता वेदांत पटेल ने पत्रकारों को बताया कि बाढ़ से अनुमानित 3.3 करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं और 1,100 से अधिक लोगों की जान गई है, जबकि 1,600 से अधिक लोग घायल हैं.

Advertisement

पटेल ने बताया कि यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) के साझेदार इस कोष का इस्तेमाल भोजन, पोषण, सुरक्षित पेयजल, बेहतर स्वच्छता, आश्रय सहायता आदि जरूरी मदद मुहैया कराने के लिए करेंगे. पाकिस्तान हाल के इतिहास में सर्वाधिक भीषण बाढ़ का सामना कर रहा है.

Source : TV9

Advertisement

nps-builders

Genius-Classes

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WORLD

अमिताभ बच्चन के जबरा फैन, न्यू जर्सी में भारतीय फैमिली ने अपने घर में लगाया बिग बी का स्टैच्यू

Published

on

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन की हिंदुस्तान में तगड़ी फैन फॉलोइंग है। भारत के बाहर भी लोग उन्हें लोग उन्हें काफी प्यार करते हैं। यूएसए की एक फैमिली अमिताभ बच्चन को इतना मानती है कि उनका स्टैच्यू अपने घर के बाहर लगवाया है। अमिताभ बच्चन की इस मूर्ति को देखने काफी भीड़ जुटी। उन्होंने इसकी तस्वीरें ट्वीट की हैं। इस परिवार ने अमिताभ बच्चन के नाम की वेबसाइट बना रखी है। इसमें उनके ट्वीट्स, खबरें, पोस्ट वगैरह डालते हैं। इस परिवार के लिए बिग बी किसी आराध्य से कम नहीं हैं।

चर्चा में है सेठ फैमिली

Advertisement

अमिताभ बच्चन को यूं ही बॉलीवुड का शंहशाह नहीं कहा जाता। उनकी जरा सी तबीयत बिगड़ने पर दुआओं के लिए हजारों हाथ उठते हैं और हवन-पूजन शुरू हो जाता है। उनके घर के बाहर रविवार को भारी मात्रा में भीड़ उनकी एक झलक के लिए जुटती रही है। अब यूएसए की एक फैमिली चर्चा में है। इस परिवार ने अमिताभ बच्चन को भगवान का दर्जा दे रखा है। उन्होंने शनिवार को अपने नए घर के बाहर अमिताभ बच्चन की मूर्ति स्थापित करवाई। गोपी शेठ नाम से बने अकाउंट पर तस्वीरें शेयर करके बताया गया कि उद्घाटन में कई लोगों ने हिस्सा लिया था।

बिग बी की जमकर की तारीफ

Advertisement

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, यह रिंकू और गोपी सेठ का घर है। यहां 600 से ज्यादा लोग उद्घाटन समारोह में इकट्ठे हुए थे। गोपी सेठ ने बताया कि अमिताभ बच्चन उनके और उनकी पत्नी के लिए भगवान से कम नहीं हैं। उन्होंने कहा, वह सिर्फ रील लाइफ ही नहीं बल्कि रियल लाइफ में भी हमें इंस्पायर करते हैं। वह बेहद जमीन से जुड़े हैं। वह अफने फैन्स का खयाल रखते हैं। वह बहुत से दूसरे स्टार्स की तरह नहीं हैं।

Source : Hindustan

Advertisement

Continue Reading

WORLD

ट्वीट करने की वजह से युवती को दी गई 34 साल कैद की सजा

Published

on

सऊदी अरब की सलमा अल-शेहबाब को 34 साल कारावास की सजा सुनाई गई है. यह सजा पूरी होने के बाद सलमा को 34 साल के ट्रैवल-बैन का भी सामना करना पड़ेगा.

सलमा अल-शेहबाब ने अपने ट्विटर अकाउंट से सऊदी महिलाओं के अधिकारों को लेकर कई ट्वीट-रीट्वीट किए थे. सलमा ने जेल में बंद एक्टिविस्‍ट Loujain al-Hathloul समेत कई अन्‍य महिला कार्यकर्ताओं की रिहाई की वकालत की थी.

Advertisement

डेली मेल के मुताबिक, सऊदी सरकार ने उन पर आरोप लगाया कि ट्विटर के माध्‍यम से सलमा लोगों के बीच अशांति पैदा करना चाहती थी, उनके ट्वीट से राष्‍ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा हुआ था. सऊदी टेरररिज्‍म कोर्ट ने उन्‍हें 34 साल जेल की सजा सुनाई.

nps-builders

सलमा के दो बच्‍चे हैं. इनमें एक की उम्र 4 साल और दूसरे की 6 साल है. पहले उनको 6 साल की सजा सुनाई गई थी. लेकिन सोमवार को उनकी सजा सऊदी टेरर‍िज्‍म कोर्ट ने बढ़ाकर 34 साल कर दी. एक बार सलमा की यह सजा पूरी हो जाएगी, इसके बाद 34 साल का ट्रैवल-बैन भी लागू किया जाएगा.

Advertisement

कोर्ट ने जब सलमा को सजा सुनाई तो उनके ट्वीट और सोशल मीडिया एक्टिविटी के बारे में भी बात की गई. सलमा ने जेल में बंद महिला कार्यकर्ताओं की रिहाई की मांग की थी, इनमें Loujain al-Hathloul प्रमुख हैं.

किन ट्वीट पर मचा बवाल

Advertisement

सलमा ने एक्टिविस्‍ट Loujain al-Hathloul की बहन लिना के ट्वीट को री-ट्वीट किया था. इस ट्वीट में लिना ने अपनी बहन Loujain al-Hathloul की रिहाई की मांग की थी. वहीं सलमा ने सऊदी से असहमति रखने वाले उन कार्यकर्ताओं के ट्वीट भी री-ट्वीट किए जो निर्वासन की जिंदगी बिता रहे हैं.

जनवरी 2021 में हुई थी गिरफ्तारी

Advertisement

सलमा की गिरफ्तारी जनवरी 2021 में सऊदी अरब में हुई थी, तब वह छुट्टियां मनाने के लिए आई हुई थीं. वह ब्रिटेन में रह रही थीं और यूनिवर्सिटी ऑफ लीड्स से पीएचडी कर रही थीं. सलमा शिया मुस्लिम हैं.

इस मामले में डॉ बेथने अल हैदरी का बयान भी सामने आया है. वह अमेरिका में ‘ह्यूमन राइट्स आर्गनाईजेशन’ में सऊदी केस मैनेजर हैं. डॉ अल हैदरी ने कहा सऊदी दुनिया के सामने डींगे मार रहा है कि वहां महिलाओं के हितों के लिए काम हो रहे हैं, महिलाओं की स्थिति सुधर रही है, कानूनी सुधार हो रहे हैं. लेकिन, जिस तरह सलमा को सजा सुनाई गई है, उससे एक बात स्‍पष्‍ट है कि वहां दिन-ब-दिन हालात खराब हो रहे हैं.

Advertisement

Source : Aaj Tak

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading

WORLD

रूस से भारत के तेल खरीदने पर यूक्रेन के विदेश मंत्री की तीखी टिप्पणी, कहा- तेल की हर बूंद में हमारा खून मिला है

Published

on

रूस से तेल खरीदने को लेकर यूक्रेन ने भारत पर अपनी भड़ास निकाली है। यूक्रेन का कहना है कि रूस से कच्चा तेल खरीदकर भारत यूक्रेन का खून खरीद रहा है। बता दें कि यूक्रेन पर रूस ने 24 फरवरी को हमला किया था। उसके बाद अमेरिका और यूरोपीय देशों ने रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। लेकिन भारत ने पश्चिमी देशों की आलोचना के बावजूद रूस से तेल खरीदना जारी रखा। भारत ने यूक्रेन युद्ध के बाद तेल आयात बढ़ाया है और उसके साथ व्यापार भी जारी रखा है।

nps-builders

इस मुद्दे पर यूक्रेन के विदेश मंत्री दिमित्रो कुलेबा ने बुधवार को कहा कि यूक्रेन को भारत से “अधिक व्यावहारिक समर्थन” की उम्मीद है। एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, कुलेबा ने तर्क दिया कि यूक्रेन भारत का एक विश्वसनीय भागीदार रहा है, लेकिन रूस से कच्चा तेल खरीदकर, भारत असल में यूक्रेनी खून खरीद रहा है। भारत को लेकर यूक्रेन की ये सख्त टिप्पणियां ऐसे समय में आई हैं जब विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने हाल ही में कहा था कि तेल एवं गैस की ‘‘अनुचित रूप से अधिक’’ कीमतों के बीच सरकार का अपने लोगों के प्रति “नैतिक दायित्व” है।

Advertisement

यूक्रेनी विदेश मंत्री ने कहा, “जब भारत [डिस्काउंट पर] रूस से कच्चा तेल खरीदता है, तो उसे यह समझना होगा कि इस डिस्काउंट की भरपाई कहीं और से नहीं बल्कि यूक्रेन के खून से होगी। भारत को मिलने वाले रूसी कच्चे तेल के हर बैरल में यूक्रेन का लहू मिला है। हम भारत के लिए मित्रवत रहे हैं। मैंने भारतीय छात्रों को निकालने में समर्थन किया था। हमें भारत से यूक्रेन को और अधिक व्यावहारिक समर्थन की उम्मीद थी।” उन्होंने भारत और यूक्रेन को दो ऐसे लोकतंत्रों के रूप में बताया जिनमें आवश्यक समानताएं हैं और “दो लोकतंत्रों को एक-दूसरे के साथ खड़ा होना है”।

भारत ने रूस से तेल खरीदने के अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया: जयशंकर

Advertisement

इससे पहले विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा था कि रूस से तेल खरीदने के भारत के फैसले की अमेरिका और दुनिया के अन्य देश भले ही सराहना नहीं करें, लेकिन उन्होंने इसे स्वीकार कर लिया है कि नई दिल्ली ने अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया। उन्होंने कहा कि भारत ने इसके साथ ही उन्हें यह एहसास कराया कि तेल एवं गैस की ‘‘अनुचित रूप से अधिक’’ कीमतों के बीच सरकार का अपने लोगों के प्रति “नैतिक दायित्व” है। जयशंकर भारत-थाईलैंड संयुक्त आयोग की नौवीं बैठक में भाग लेने के लिए मंगलवार को यहां पहुंचे और उन्होंने एक समारोह में भारतीय समुदाय के सदस्यों से मुलाकात की।

जयशंकर ने भारतीय समुदाय के साथ मुलाकात के दौरान यूक्रेन एवं रूस के मध्य जारी युद्ध के बीच, रूस से कम दाम पर तेल खरीदने के भारत के फैसले का बचाव किया और कहा कि भारत के कई आपूर्तिकर्ताओं ने अब यूरोप को आपूर्ति करना शुरू कर दिया है, जो रूस से कम तेल खरीद रहा है। उन्होंने कहा कि तेल की कीमत ‘‘अनुचित रूप से अधिक’’ हैं और यही हाल गैस की कीमत का है। उन्होंने कहा कि एशिया के कई पारंपरिक आपूर्तिकर्ता अब यूरोप को आपूर्ति कर रहे हैं, क्योंकि यूरोप रूस से कम तेल खरीद रहा है।

Advertisement

जयशंकर ने कहा, ‘‘हम अपने हितों को लेकर बहुत खुले एवं ईमानदार रहे हैं। मेरे देश में प्रति व्यक्ति आय दो हजार डॉलर है। वे लोग ऊर्जा की अत्यधिक कीमत को वहन नहीं कर सकते।’’ उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित करना सरकार का ‘‘दायित्व’’ एवं ‘‘नैतिक कर्तव्य’’ है कि भारत के हित सर्वोपरि हों।

रूस से तेल खरीदने के कारण अमेरिका के साथ भारत के संबंधों पर पड़ने वाले असर के बारे में पूछे जाने पर जयशंकर ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि न केवल अमेरिका बल्कि अमेरिका समेत सभी जानते हैं कि हमारी क्या स्थिति है और वे इस बारे में अब आगे बढ़ चुके हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब आप खुलकर और ईमानदारी से अपनी बात रखते हैं, तो लोग उसे स्वीकार कर लेते हैं।’’

Advertisement

भारत ने पश्चिमी देशों की आलोचना के बावजूद रूस से यूक्रेन युद्ध के बाद तेल आयात बढ़ाया है और उसके साथ व्यापार जारी रखा है। भारत सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने जून में कहा था कि रूस से भारत द्वारा कच्चे तेल के आयात में अप्रैल से 50 गुना से ज्यादा की वृद्धि हुई है।

मई में सऊदी अरब को पीछे छोड़कर रूस भारत को कच्चे तेल का दूसरा सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता बन गया था। इराक भारत को तेल का सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता है। यूक्रेन युद्ध के बाद रूसी कच्चा तेल बेहद कम कीमत पर उपलब्ध था। भारतीय तेल कंपनियों ने मई में रूस से 2.5 करोड़ बैरल तेल का आयात किया।

Advertisement

Source : Hindustan

Genius-Classes

Advertisement
Continue Reading
BIHAR1 hour ago

नर्स और गार्ड की सूझबूझ से बची नवजात की जान, DM ने नाम रखा ‘दुर्गा’

BIHAR3 hours ago

शादीशुदा गर्लफ्रेंड से मिलने पहुंचा आर्मी जवान तो गांव वालों ने करा दी शादी, सुबह छोड़कर हुआ फरार

BIHAR6 hours ago

बिहार में दबोचा गया मुकेश अंबानी के परिवार को धमकी देने का आरोपी शख्स, मुंबई में होगी पूछताछ

BIHAR10 hours ago

बिहार के लाल संजय मिश्रा ने कभी ढाबे में बनाया था खाना, आज दर्शकों के हैं चहेते सितारे

INDIA11 hours ago

जलपाईगुड़ी: शांत नदी में अचानक आया सैलाब, मूर्ति विसर्जन के लिए उतरे लोगों पर टूटा मौत का कहर

BIHAR11 hours ago

नगर निकाय चुनाव के बहाने रिजर्वेशन पर राजनीतिक रार, भाजपा-जदयू में ठन गई

BIHAR12 hours ago

अपनी जिंदादिली से लोगों को मौत के मुंह से बचाने वाला चेतन कदम अब नहीं रहा

INDIA24 hours ago

रावण का जलता पुतला लोगों की भीड़ पर गिरा, कई हुए घायल

BIHAR1 day ago

बिहार : दहेज की बलि बेदी पर फिर चढ़ी एक बेटी, नवविवाहिता की गला दबाकर किया निर्मम हत्या

BIHAR1 day ago

पटना के गांधी मैदान में 2 साल बाद रावण वध समारोह, नीतीश-तेजस्वी रहेंगे मौजूद

TRENDING1 week ago

लिप्स्टिक-परफ्यूम ने बना दी जोड़ी! 60 साल के शख्स को दिल दे बैठी 20 साल की लड़की

INDIA1 week ago

युवक के पेट से निकलीं 62 चम्‍मचें, दो घंटे तक चला ऑपरेशन, आईसीयू में भर्ती

DHARM1 week ago

शारदीय नवरात्रि में जपें दुर्गा सप्तशती के ये प्रभावशाली मंत्र, मिलेगा धन, सौभाग्य और सफलता

BIHAR5 days ago

रात को गर्लफ्रेंड से मिलने पहुंचा प्रेमी, लोगों ने पकड़कर दोनों की शादी करा दी

INDIA5 days ago

8वीं की छात्रा से 8 लोगों ने किया गैंगरप, ब्लैकमेल करके ऐंठे 50 हजार, फिर वायरल कर दिया रेप का वीडियो

INDIA2 weeks ago

यूपी : निकाह में आए बारातियों का लड़की वालों ने चेक किया आधार कार्ड, कारण जानकर पेट पकड़कर हंसेंगे

BIHAR2 weeks ago

बिहार के लड़के ने जीता एक करोड़ रुपये, इंडिया-ऑस्ट्रेलिया मैच में ड्रीम इलेवन ऐप पर लगाए थे पैसे

INDIA1 week ago

मुफ्त राशन की स्कीम तीन महीने के लिए फिर बढ़ी, केंद्रीय कर्मचारियों को भी दिवाली गिफ्ट

MUZAFFARPUR5 days ago

एमएलसी दिनेश सिंह की बेटी कोमल सिंह को हत्या की धमकी

BIHAR1 week ago

सोनिया गांधी ने लालू यादव-नीतीश कुमार को बतायी औकात, मात्र 20 मिनट में निपटाया : मोदी

Trending