Connect with us

BIHAR

गजब: बिहार के मैंगो मैन ने एक ही पेड़ में उगा डाले 10 तरह के आम

Published

on

आशीष रंजन, भागलपुर. फलों का राजा आम है और गर्मी के मौसम में आम का स्वाद खास बना देता है. देश मे यूं तो आम की कई प्रजाति पायी जाती हैं और क्षेत्र के हिसाब से आम की अलग-अलग प्रजाति अपने में अनोखे स्वाद को अपने में समेटे हुए हैं. सामान्यतया एक पेड़ से एक ही प्रजाति के आम का स्वाद मिलता है, लेकिन एक पेड़ से दस या दस से अधिक प्रजाति के आम का स्वाद मिल जाय तो फिर इसे क्या कहना. भागलपुर के तिलकपुर गांव के रहने वाले मैंगोमैन अशोक कुमार चौधरी ने इसको चरितार्थ कर दिखाया.

bihar, mango man, ashok chaudhary, grafting technique, mango, a tree, developed, more than 10 species, bhagalpur news, bihar news updates, बिहार, मैंगो मैन, अशोक चौधरी, ग्राफ्टिंग तकनीक, आम, एक पेड़, विकसित की, 10 से अधिक प्रजातियां, भागलपुर न्यूज, बिहार न्यूज अपडेट

खेती-किसानी में ग्राफ्टिंग तकनीक का इस्तेमाल कर अशोक कुमार चौधरी ने एक ही पेड़ पर दस से अधिक अलग-अलग वेराइटी के आम उगाये हैं. उन्होंने वैज्ञानिक तरीके से ग्राफ्टिंग तकनीक का सहारा लेते हुए आम की एक खास पौध विकसित की है, जिसमें 10 तरह के आम लगे हुए हैं. अशोक चौधरी की गिनती राज्य के प्रगतिशील किसानों में की जाती है. भागलपुर से GI टैग वाले विश्वप्रसिद्ध जर्दालू आम, जो राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत देश-विदेश के कई VVIP को भेजे जाते हैं. वे आम अशोक चौधरी के बागानों के आम शामिल होते हैं.

ग्राफ्टिंग पद्धति से एक पेड़ पर उगाएं दस से अधिक प्रजाति के आम

अशोक चौधरी के पास 10 एकड़ का अपना एक बागान भी है, जहां उन्होंने बागवानी में कई सारे प्रयोग किए हैं. ग्राफ्टिंग तकनीकी उन्हीं प्रयोगों का हिस्सा है. उन्होंने बताया कि उनके बागान में सभी छोटे आम के पेड़ क्रॉस पद्धति या ग्राफ्टिंग पद्धति से तैयार किये हुए हैं. उन्होंने कहा कि क्रॉस पद्धति में अलग-अलग किस्म के जर्दालू, दशहरी, मालदा, बिज्जू, लंगड़ा और कलमी सहित अन्य किस्म के आम के पौधे लगाये जाते हैं. जब ये पौधे करीब 2 फीट से बड़े हो जाते हैं तो उनकी कलम काट कर दूसरे पेड़ की कलम से जोड़ दी जाती है. इसके बाद इस कलम के जोड़ को कपड़े से बांध दिया जाता है, जो करीब 20 से 25 दिन में अच्छे से चिपक कर जुड़ जाती है. अशोक चौधरी ने बताया कि इस तरह 8 से 10 किस्म की आम की पौध तैयार हो जाती है.

गजब: एक ही पेड़ में उगा डाले 10 तरह के आम, बिहार के मैंगो मैन ने बताया- कैसे किया ये कमाल

डेढ़-दो साल में ही फल देने लगते हैं पेड़

मैंगोमैन अशोक चौधरी ने कहा कि बागवानी के शौकीनों के लिए यह प्रयोग बहुत नया नहीं है, जिस तरह गुलाब, गेंदा वगैरह फूलों के पौधों को कलम करते हैं, उसी तरह इसमें भी करते हैं. खासकर शहर के ​लिए यह तकनीक बड़े काम की है. छत पर बड़े गमले में भी पेड़ लगाकर फलों का मजा लिया जा सकता है. उन्होंने बताया कि इस तरह के पेड़ डेढ़ से दो साल के बाद फल देने लगते हैं. शहर में जमीन की कमी होती है. ऐसे में यदि घर के आगे क्यारी के लायक थोड़ी सी भी जमीन है, तो वहां पेड़ लगाया जा सकता है. ग्राफ्टिंग पद्धति के जरिये यह कम जगह में उगने वाला पौधा है. इससे एक ही आम के पेड़ में कई किस्म के आम उगाए जा सकते हैं और मजे से उन आमों का स्वाद लिया जा सकता है.

खेती-बागवानी का गुर सिखाते हैं मैंगोमैन

अशोक चौधरी ने बताया कि केवल पांच से आठ फीट के पेड़ पर दस अलग-अलग किस्म के ढेरों आम लगे हुए हैं। वे लोगों को खेती-बागवानी की तकनीक सिखाते हैं. इलाके का भी किसान उनसे जो भी जानकारी लेने पहुंचता है, वे उन्हें खेती और बागवानी के गुर सिखाते हैं. वे दूसरों को रोजगार भी मुहैया करा रहे हैं.

Source : News18

BIHAR

त्योहारों पर आना है बिहार, तो लानी होगी 72 घंटे पूर्व की RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट

Published

on

बिहार सरकार ने आगामी त्योहारों को देखते हुए बड़ा निर्णय लिया है. दुर्गा पूजा (दशहरा), दीपावली और छठ पर्व पर देश भर से बड़ी संख्या में बिहार आने वाले लोगों को अपने साथ 72 घंटे पहले कराई RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट लानी होगी. दरअसल देश के कई राज्यों में एक बार फिर कोरोना संक्रमण तेजी से सिर उठा रहा है. साथ ही कोरोना के डेल्टा प्लस वेरीअंट का खतरा भी सामने आ रहा है. इसलिए सरकार ने निर्णय लिया है कि जिन राज्यों में कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले और डेल्टा प्लस वेरीअंट सामने आ रहे हैं वहां से बिहार आने वालों को अपने साथ 72 घंटे पहले कराई RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट लानी होगी.

सरकार ने यह निर्णय उन लोगों के लिए लिया है जो हवाई जहाज, ट्रेन, बस या अन्य वाहनों से राज्य में प्रवेश करेंगे, उन सभी को अपने साथ 72 घंटे पहले का RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट साथ रखना होगा. यदि वो ऐसा नहीं करते हैं तो उनकी जांच बिहार की सीमा में प्रवेश करने पर हवाई अड्डे और रेलवे स्टेशन पर की जाएगी. ऐसे सभी लोग जो बिहार आएंगे और उनके पास RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट नहीं होगी तो उनका रैपिड एंटीजन टेस्ट (RAT) किया जाएगा.

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में नीतीश सरकार ने यह निर्णय लिया है. सरकार का मानना है कि त्योहारों के दौरान लाखों की संख्या में अन्य राज्यों से लोग बिहार आते हैं इसलिए 26 सितंबर से लेकर 15 नवंबर तक यह नियम बिहार में लागू रहेगा.

Source : News18

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर- एन. सी.सी कैडेट्स को दिया गया सेना में शामिल होने का गुरुमंत्र

Published

on

सेना भर्ती कार्यालय के निदेशक सेना मेडल कर्नल बॉबी जयसरोटिया ने शनिवार को एनसीसी कैडेट्स को सेना में शामिल होने का टिप्स दिया।

एलएस कॉलेज के ऑडोटोरियम में उन्होंने 32- बिहार बटालियन से सम्बंधित 300 से अधिक एनसीसी कैडेट्स को संबोधित करते हुए कहा कि सेना में शामिल होने के लिए एनसीसी कोडेट्स के पास सुनहरा अवसर होता है। सेना के सभी विंग में एनसीसी सर्टिफिकेट धारी को विशेष छूट मिलता है।

उन्होंने गर्ल्स कैडेट्स को महिला मिलिट्री फोर्स में भर्ती होने की प्रक्रिया से अवगत कराया। कर्नल जसरोटिया ने कहा कि सेना में शामिल होकर देश की सेवा करने का अगर आप सभी के अंदर जनून है, तो अपनी काबिलियत पर भरोसा रखें। किसी तरह के बिचौलियों के चक्कर मे न पड़े। आपकी काबिलियत ही सेना में चयन का रास्ता खोलेंगी।एनसीसी कैम्प का अनुशासन आपको सेना में भर्ती होने में मदद करेगी।कार्यक्रम के अंत में उन्होंने कैडेट्स के सवालों का भी जवाब दिया।

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

biology-by-tarun-sir

Continue Reading

MUZAFFARPUR

मुजफ्फरपुर में सार्वजनिक स्थानों पर तम्बाकू सेवन करने वालों को पकड़े जाने पर भरना होगा जुर्माना

Published

on

मुजफ्फरपुर : जिले में तम्बाकू नियंत्रण हेतु जिला पदाधिकारी द्वारा गठित त्रिस्तरीय छापामार दस्ते को तम्बाकू नियंत्रण के गुर सिखाने के लिए राज्य सरकार की तकनीकी सहयोगी संस्थान सोशियो इकोनॉमिक एंड एजुकेशनल डेवलपमेंट सोसाइटी (सीड्स) और जिला तम्बाकू नियंत्रण कोषांग के संयुक्त तत्वावधान में आज उप विकास आयुक्त श्री आषुतोष ‌ द्विवेदी की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार मे उन्मुखीकरण सह प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की गई।

उप विकास आयुक्त ने बताया कि तम्बाकू के दुष्परिणामों से बच्चों और अवयस्कों को बचाना बहुत आवश्यक है। उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि स्कूलों में इस कार्यक्रम का संचालन किया जाय। उन्होंने सभी संबंधित पदाधिकारियों को अपने अपने कार्यक्षेत्रों में कोटपा 2003 के विभिन्न धराओं का अनुपालन सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उप विकास आयुक्त ने तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के नोडल पदाधिकारी डॉ0 शिवशंकर को निर्देश दिया कि कोटपा की घारा 4 के अनुपालन हेतु इसके बोर्ड का दिवार लेखन करवाया जाय । शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज के दायरे से अविलंब दुकान हटवाने का निर्देश दिया गया।

सीड्स के कार्यपालक निदेशक श्री दीपक मिश्रा ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से तम्बाकू नियंत्रण के कानून कोटपा 2003 के प्रावधानो एवं चलानींग प्रक्रिया की विस्तृत जानकारी दी। श्री मिश्रा ने बिहार के विभिन्न जिलों में अब तक किये गए गतिविधियों की जानकारी दी।

विदित हो कि विश्व स्वास्थ्य संघठन और भारत सरकार द्वारा प्रकाशित GATS 2 के सर्वे में बिहार में तम्बाकू सेवन करने वालों में काफी हद तक कमी आई है, यह आंकड़ा 53.5% से घट कर 25.9% हो गया है।

कार्यक्रम के आरंभ में तम्बाकू नियंत्रण के जिला नोडल अधिकारी डॉक्टर शिव शंकर ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया और जिले में अब तक किए गए गतिविधियों के बारे में बताया। अंत में जिला कार्यक्रम प्रबंधक प्रमोद कुमार वर्मा ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

biology-by-tarun-sir

उक्त कार्यशाला में डीपीआरओ कमल‌ सिंह, सीड्स के कार्यक्रम पदाधिकारी सुनील कुमार चौधरी, मनोज कुमार झा, डी पी एम वी पी वमां, एनसीडी सेल के जिला वित्तीय सह लाजिस्टिक सहलाकर प्रिंस कुमार, सदर अस्पताल के अधीक्षक, जिला तम्बाकू नियंत्रण कोषांग के नोडल पदाधिकारी सहित सभी छापामार दस्ता के सदस्यों एवं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं थाना प्रभारियों ने हिस्सा लिया।

हेलो! मुजफ्फरपुर नाउ के साथ यूट्यूब पर जुड़े, कोई टैक्स नहीं चुकाना पड़ेगा 😊 लिंक 👏

Continue Reading
WORLD9 hours ago

UNGA में पीएम मोदी ने पाकिस्तान और चीन को लताड़ा

BIHAR11 hours ago

त्योहारों पर आना है बिहार, तो लानी होगी 72 घंटे पूर्व की RT-PCR नेगेटिव जांच रिपोर्ट

VIRAL12 hours ago

गुस्से में बॉयफ्रेंड के सिर पर लड़की ने दे मारा मोबाइल फोन, बेहोश होकर गिरा, मौत

MUZAFFARPUR13 hours ago

मुजफ्फरपुर- एन. सी.सी कैडेट्स को दिया गया सेना में शामिल होने का गुरुमंत्र

MUZAFFARPUR14 hours ago

मुजफ्फरपुर में सार्वजनिक स्थानों पर तम्बाकू सेवन करने वालों को पकड़े जाने पर भरना होगा जुर्माना

BIHAR14 hours ago

वीडियो: भोजपुरी रैपर ने दी ‘बादशाह-हनी सिंह’ को टक्कर, मनिहारी गाने में यूं लगाया तड़का

INDIA15 hours ago

दुष्कर्म मामले में लोजपा सांसद प्रिंस राज को मिली अग्रिम जमानत

BIHAR16 hours ago

वीडियो: हमारे देश की अफसर बिटिया स्नेहा दुबे ने पाकिस्तान को दिया मुंहतोड़ जवाब

BIHAR18 hours ago

पंचायत चुनाव: इन चार जिलों में महिलाओं ने पुरुषों को पछाड़ा, ओवरऑल वोटिंग में यह जिला रहा टॉप

BIHAR18 hours ago

जिम ट्रेनर गोलीकांड: सिर्फ विक्रम से नहीं था खुशबू सिंह का याराना, मिहिर पर भी आया था दिल, पटना SSP का खुलासा

INDIA3 weeks ago

सिद्धार्थ शुक्ला पंचतत्व में विलीन, कांपते हाथों से मां ने दी जिगर के टुकड़े को मुखाग्नि

BIHAR6 days ago

बिहार: कागजों में करोड़पति बने 2 लड़कों का अभिनेता सोनू सूद कनेक्शन!

BIHAR24 hours ago

बिहार: पिता की थी छोटी सी खैनी की दुकान, ट्यूशन पढ़ा करते थे पढ़ाई, अब UPSC में पाई दूसरी बार सफलता

MUZAFFARPUR5 days ago

मुजफ्फरपुर : पति की हत्या कर शव केमिकल से गला रही थी पत्नी, चार दिन बाद हो गया ब्लास्ट

BIHAR1 week ago

बिहार : भांजी पर आया मामा का दिल, पत्नी और बेटे को छोड़कर हुआ फरार, दो सालों से चल रहा था प्रेम प्रसंग

BIHAR4 days ago

बिहार के सभी घरों में नजर आएंगे स्मार्ट प्रीपेड मीटर

INDIA2 weeks ago

अगर इन 3 बैंकों में है आपका भी अकाउंट तो 1 अक्टूबर से नहीं चलेगी पुरानी चेकबुक

INDIA2 weeks ago

रिवॉल्वर लेकर वीडियो बनाने वाली लेडी कांस्टेबल को विभाग को देने होंगे 1.82 लाख रुपए

INDIA1 day ago

यू ही नहीं बिहार को कहा जाता आई.ए.एस फैक्ट्री कटिहार का शुभम बना UPSC टॉपर

TRENDING4 weeks ago

शादी के 3 महीने बाद महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पति पहुंचा कोर्ट

Trending