Connect with us

INDIA

भारत में होगी असहनीय गर्मी, पटना-लखनऊ में सबसे अधिक सितम; इन 11 राज्यों में सताएगा पारा

Published

on

जलवायु खतरे को लेकर संयुक्त राष्ट्र के इंटरगवर्न्मेंटल पैनल ऑन क्लाईमेट चेंज (IPCC) की ताजा रिपोर्ट में चेताया गया है कि यदि कार्बन उत्सर्जन में कटौती नहीं हुई तो निकट भविष्य में गर्मी और उमस इंसान की सहनशीलता की सीमा को पार कर जाएगी। यह खतरा भारत समेत कई देशों पर है। रिपोर्ट सोमवार को जारी हुई।

clat

रिपोर्ट के चैप्टर 10 और पेज 57 पर कहा गया है कि भारत उन स्थानों में से एक है जो इन असहनीय परिस्थितियों का अनुभव करेगा।

Advertisement

रिपोर्ट में वेट बल्ब तापमान का जिक्र किया गया है जिसमें तापमान की गणना करते समय गर्मी और उमस को जोड़ा जाता है। एक इंसान के लिए 31 डिग्री सेल्सियस का वेट-बल्ब तापमान बेहद खतरनाक है। 35 डिग्री सेल्सियस में तो छांव में आराम कर रहे स्वस्थ वयस्क के लिए भी लगभग 6 घंटे से अधिक समय तक जीवित रहना मुश्किल हो जाएगा।

रिकॉर्ड तोड़ेगी गर्मी

Advertisement

रिपोर्ट के चैप्टर 10 और पेज 43 पर बताया गया है कि फिलहाल भारत में वेट बल्ब का तापमान शायद ही कभी 31° डिग्री से अधिक होता है। अभी यह अधिकतम 25-30° डिग्री रहता है। लेकिन उत्सर्जन में वर्तमान में किए वादों के मुताबिक कटौती की जाती है तब भी देश के उत्तरी एवं तटीय हिस्सों में यह 31 डिग्री तक पहुंच सकता है।

रिपोर्ट के अनुसार, अगर उत्सर्जन में ऐसी ही वृद्धि जारी रही, तो भारत के अधिकांश हिस्सों में वेट बल्ब तापमान 35 डिग्री सेल्सियस के खतरनाक स्तर तक पहुंच जाएगा।

Advertisement

लखनऊ और पटना में सबसे अधिक असर

हैरान करने वाली बात यह है कि रिपोर्ट में बताया गया है कि अगर उत्सर्जन में वृद्धि जारी रही तो लखनऊ और पटना 35 डिग्री सेल्सियस के वेट बल्ब तापमान तक पहुंच जाएंगे। इसके बाद भुवनेश्वर, चेन्नई, मुंबई, इंदौर और अहमदाबाद में वेट बल्ब तापमान 32-34 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान है।

Advertisement

असम, मेघालय, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब सबसे अधिक प्रभावित होंगे।

समुद्र स्तर में वृद्धि से कृषि और बुनियादी ढांचे को खतरा

Advertisement

रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर सरकारें अपने मौजूदा उत्सर्जन-कटौती के वादों को पूरा करती हैं तो इस सदी में वैश्विक स्तर पर समुद्र का स्तर 44-76 सेंटीमीटर तक बढ़ जाएगा। लेकिन तेजी से उत्सर्जन में कटौती के साथ, वृद्धि 28-55 सेमी तक सीमित की जा सकती है। जैसे-जैसे समुद्र स्तर बढ़ता है, खारे पानी की घुसपैठ के कारण अधिक भूमि जलमग्न हो जाएगी, नियमित रूप से बाढ़ आ जाएगी, और जमीन कृषि के लिए अनुपयुक्त हो जाएगी।

भारत के लिए समुद्र स्तर में वृद्धि और नदी की बाढ़ की आर्थिक लागत भी दुनिया में सबसे ज्यादा होगी। यदि उत्सर्जन में केवल उतनी ही तेजी से कटौती की जाती है जितना वर्तमान में वादा किया गया था तो प्रत्यक्ष क्षति का अनुमान 24 अरब डॉलर होगा। अधिक उत्सर्जन होने पर यह 36 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगा। अकेले मुंबई में समुद्र स्तर में वृद्धि से 2050 तक प्रतिवर्ष 162 अरब डॉलर के नुकसान की आशंका है।

Advertisement

खाद्य व पानी की कमी के साथ जीना पड़ेगा

अगर तापमान में वृद्धि जारी रहती है तो फसल उत्पादन में तेजी से कमी आएगी। रिपोर्ट के चैप्टर 5 के पेज 14-15 पर इन बातों का उल्लेख है कि जलवायु परिवर्तन और बढ़ती मांग का मतलब है कि भारत में लगभग 40 फीसदी लोग 2050 तक पानी की कमी के साथ जियेंगे, जबकि अभी यह 33 फीसदी है।

Advertisement

भारत के कुछ हिस्सों में चावल का उत्पादन 30 और मक्के का 70 फीसदी गिर सकता है और अगर उत्सर्जन में कटौती की जाती है तो यह आंकड़ा 10 फीसदी हो जाएगा। निरंतर जलवायु परिवर्तन से भारत में मछली उत्पादन में भी गिरावट आएगी।

भारत कहीं और होने वाली घटनाओं से होगा प्रभावित

Advertisement

भारत अपनी सीमा के भीतर होने वाले जलवायु परिवर्तन के असर से प्रभावित होगा। वहीं, अन्य जगहों पर होने वाले परिवर्तनों के परिणामों से भी यह बहुत प्रभावित होगा। दरअसल, जलवायु परिवर्तन अंतरराष्ट्रीय आपूर्ति श्रृंखलाओं, बाजारों, वित्त और व्यापार को प्रभावित करेगा।

Source : Hindustan

Advertisement

chhotulal-royal-taste

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

INDIA

लड़की प्रेमी के साथ भागी तो गलती मां-बाप की ; रामपुर के SP बोले- मेरा बस चले तो मैं लड़की के माता-पिता को भी जेल भेज दूं

Published

on

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के एसपी अशोक कुमार शुक्ला ने लड़कियों के घर से चले जाने पर विवादित बयान दिया है। एक संगोष्ठी में भाषण के दौरान एसपी ने कहा कि “अगर किसी की लड़की घर से जाती है तो उसमें गलती माता-पिता की है। मेरा बस चले तो मैं उसके माता-पिता को भी जेल भेज दूं।” अब इस बयान का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है।

रामपुर जिले के एसपी अशोक कुमार शुक्ला मंगलवार (28 जून) को एक संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे, तभी उन्होंने यह बात कही। रामपुर पुलिस द्वारा आयोजित इस सद्भावना संगोष्ठी में पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार शुक्ला ने पहले तो जनता को सद्भावना, प्रेम, भाईचारे का पाठ पढ़ाया। फिर सद्भावना संगोष्ठी के दौरान उन्होंने महिला विरोधी बयान दे डाला।

Advertisement

Genius-Classes

एसपी अशोक कुमार शुक्ला ने कहा कि, अभी एक बड़ा तमाशा हुआ सिविल लाइन में..कोई मुस्लिम लड़की थी, किसी हिंदू लड़की के साथ जा रही थी या कोई हिंदू लड़की थी, किसी मुस्लिम लड़के के साथ जा रही थी..आप लोग देखिये समाज-परिवार में क्या हो रहा है।

यह बात खत्म ही हुई थी कि एसपी बोल बैठे कि “मैं तो उस मां-बाप को जेल भेजना चाहूंगा जो यह शिकायत लेकर आते हैं कि मेरी लड़की चली गई है।” एसपी यहीं नहीं रुके उन्होंने ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों को भी नसीहत दे दी। उन्होंने कहा कि- लोग कहते हैं कि हमारी लड़की घर से चली गई है। अरे आपने पैदा करके छोड़ दिया है, किसके भरोसे छोड़ दिया है भई।

Advertisement

इसी भाषण के दौरान एसपी शुक्ला में यह भी कहा कि “अगर अच्छा लगे तो यह भी सुन लीजिए कि- एक दो बच्चे बहुत हैं। जिनकी अच्छे से परवरिश कर सको।” 28 जून को रामपुर में पुलिस के द्वारा आयोजित इस सद्भावना संगोष्ठी में उन्होंने यह भी कहा कि अगर कोई पुलिसकर्मी आप से बड़ा है तो उसे मान सम्मान दीजिए और पुलिसकर्मियों से कोई व्यक्ति बड़ा है तो उसे मान सम्मान देना पड़ेगा। हालांकि, एसपी के इस बयान के बाद वीडियो वायरल है, जिस पर लोग अलग-अलग प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

पत्र जारी कर SP ने अपने बयान पर कहा, मेरे बयान का मतलब यह है कि हम अभिभावक के रूप में अपने बच्चों के संस्कार को प्राथमिकता के आधार पर मजबूत करें।

वहीं अपने बयान पर SP अशोक कुमार शुक्ला ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। SP ने कहा, “मेरी ऐसी कोई मंशा नहीं थी, न मैं ऐसा कर सकता हूं, न ही कोई और कर सकता है। मैं हमेशा ऐसे पीड़ित को अपना परिवार समझते हुए उसकी पूरी वैधानिक और प्रशासनिक मदद करता हूं और करता रहूंगा”।

Advertisement

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Continue Reading

INDIA

कन्हैया लाल के अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़; लगे ‘अमर रहे’ के नारे

Published

on

उदयपुर में नूपूर शर्मा के समर्थन की वजह से कत्ल किए गए कन्हैयालाल का शव बुधवार को करीब 11 बजे घर पहुंचा। एमबी अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के बाद शव को परिजनों के हवाले किया गया। कड़ी सुरक्षा के बीच कन्हैया का शव घर पहुंचा तो वहां बड़ी संख्या में लोग जुट गए। लोगों ने पुलिस के खिलाफ भी आक्रोश जाहिर किया। दोषियों को फांसी की सजा देने की मांग की गई।

कन्हैया के घर पर चीख-पुकार मची हुई है। परिजन और रिश्तेदारों का रो-रोकर बुरा हाल है। कन्हैया के बेटे को रोते देख वहां मौजूद सभी लोगों की आंखें नम हो गईं। घर के बाहर बड़ी संख्या में शहरवासी जुट गए। कहीं पैर रखने की जगह नहीं। चीख-पुकार के बीच भीड़ ने नारेबाजी शुरू कर दी। सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए आसपास बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात रखा गया है।

Advertisement

Genius-Classes

अंतिम यात्रा में हजारों लोग

मोक्षरथ पर शव यात्रा गोवर्धन विलास से रवाना हुई। अशोक नगर श्मशान में अंतिम संस्कार होगा। शव यात्रा में हजारों की संख्या लोग शामिल हैं। पैदल के अलावा बहुत से लोग बाइक और दूसरी वाहनों में सवार हैं। शहर विधायक और नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया भी मोर्चरी गए थे और परिजनों से मिले हैं। उन्होंने अपने बयान में कहा कि सोशल मीडिया पर टिप्पणी से यह विवाद शुरू हुआ था। धमकियां मिल रही थी, फिर पुलिस ने कार्रवाई क्यों नहीं की। यह पुलिस का फेल्योर है।

Advertisement

Source : Hindustan

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

nps-builders

Advertisement
Continue Reading

INDIA

उदयपुर: नूपुर शर्मा के समर्थन में 8 साल के बेटे ने किया था पोस्ट, पिता की दिनदहाड़े गला रेतकर हत्या, दोनों आरोपी अरेस्ट

Published

on

राजस्थान के उदयपुर शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र के मालदास स्ट्रीट में दो लोगों ने एक युवक की दिनदहाड़े गला रेतकर हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि मृतक युवक के 8 साल के बेटे ने नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया में पोस्ट कर दिया था. इससे गुस्साए आरोपियों ने उसके पिता की बेरहमी से हत्या कर दी. इस मामले में पुलिस ने दोनों आरोपी मोहम्मद रियाज और गोस मोहम्मद को राजसमंद के भीम इलाके से अरेस्ट कर लिया है. घटना की जांच के लिए SIT का गठन किया गया है, जिसमें एसओजी एडीजी अशोक राठौड़, एटीएस आईजी प्रफुल्ल कुमार व एक एसपी और एडिशनल एसपी शामिल होंगे.

दिल दहला देने वाली इस वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई. इंटरनेट बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. अगले 24 घंटे इंटरनेट बंद रहेगा. सूचना पर धानमंडी और घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना का जायजा लिया. पुलिस ने शव को एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिया. इस घटना की कई राजनेताओं ने कड़ी निंदा की है.

Advertisement

स्थानीय लोगों का भड़का गुस्सा, दुकानें बंद

जानकारी के अनुसार, मृतक कन्हैयालाल के आठ साल के बेटे ने मोबाइल से नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दी थी. इसके बाद कुछ लोग नाराज हो गए और दो आरोपियों ने युवक की धारदार हथियार से बेरहमी से हत्या कर दी. इस घटना के बाद हिंदू संगठन में आक्रोश है. युवक की हत्या दो मुस्लिम आरोपियों ने तलवार से गला रेतकर की है.

Advertisement

इस मामले में आरोपियों ने वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी भी ली है. लोगों का कहना है कि हत्यारों को फांसी होनी चाहिए, ताकि ऐसा कृत्य दोबारा न हो. युवक का सिर काटकर की गई हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने घटना के बाद मालदास गली क्षेत्र में दुकानों को बंद कर दिया है.

Advertisement

Advertisement

17 जून को वीडियो बनाकर सिर कलम करने की कही थी बात

हत्या के आरोपी रियाज मोहम्मद ने 17 जून को ही वीडियो बनाया था और दावा किया था कि सिर कलम करने के बाद वह वीडियो शेयर करेगा. सूत्रों के मुताबिक, रियाज भीलवाड़ा के आसींद इलाके का बताया जा रहा है. दूसरे आरोपी का नाम गौस मोहम्मद है. दोनों उदयपुर के खांजीपीर इलाके के रहते थे.

Advertisement

Genius-Classes

शहर के इन इलाकों में लगाया गया कर्फ्यू

इस बीच उदयपुर में हुई दिल दहला देने वाली वारदात के बाद जिला प्रशासन ने धानमंडी, घंटाघर, हाथीपोल, अंबामाता, सूरजपोल, भूपालपुरा और सवीना पुलिस थाना क्षेत्रों में आवागमन बंद कर कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है. यह आगामी आदेश तक प्रभावी रहेगा. पुलिस महानिदेशक पुलिस ए एल लाठर ने बताया कि कि कानून-व्यवस्था बिगाड़ने की कोशिश करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. किसी भी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा. करीब 30 आरपीएस और 5 आरएसी की कंपनी तैनात कर दी गई है. आम लोगों से संयम बरतने की अपील की गई है. पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है. अपने-अपने इलाकों में पुलिस को गश्त बढ़ाने के निर्देश जारी किए गए हैं.

Advertisement

सीएम गहलोत ने की शांति की अपील

इस घटना को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि उदयपुर में युवक की जघन्य हत्या की भर्त्सना करता हूं. इस घटना में शामिल सभी अपराधियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी. पुलिस अपराध की पूरी तह तक जाएगी. मैं सभी पक्षों से शांति बनाए रखने की अपील करता हूं. ऐसे जघन्य अपराध में लिप्त हर व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी.

Advertisement

भाजपा ने गहलोत सरकार पर साधा निशाना

भाजपा नेता राज्यवर्धन सिंह राठौर ने ट्वीट कर कहा कि उदयपुर की इस नृशंस घटना की जिम्मेदार गहलोत सरकार है, क्योंकि इस सरकार ने करौली दंगे के मुख्य दंगाई को खुला छोड़ा. टोंक में मौलाना ने हिंदुओं की गर्दन उतारने की धमकी दी, कोई कार्रवाई नहीं हुई. यह हत्यारा भी वीडियो बनाकर नरसंहार की धमकी देता रहा, पर सरकार चुप्पी साधे रही.

Advertisement

भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट कर कहा कि उदयपुर में दो मुस्लिमों ने हिंदू दुकानदार कन्हैया लाल की उसकी दुकान के अंदर हत्या कर दी. उन्होंने एक वीडियो जारी कर इसकी जिम्मेदारी भी ली है. हथियार दिखाकर पीएम मोदी को भी धमकी दी है. सीएम अशोक गहलोत ने हालांकि इस मामले की जांच का वादा किया है. वहीं, बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने कहा है कि कन्हैया लाल जी को श्रद्धांजलि और आतंक के विनाश के लिए 29 जून शाम 5 बजे नई दिल्ली के जंतर मंतर पर संकल्प मार्च निकाला जाएगा.

Advertisement

Advertisement

इस मामले में वसुंधरा राजे ने ट्वीट कर कहा कि एक निर्दोष युवक की दिनदहाड़े निर्मम हत्या से स्पष्ट हो गया है कि राज्य सरकार की शह के कारण अपराधियों के हौसले बुलंद हैं और प्रदेश में सांप्रदायिक उन्माद व हिंसा की स्थिति उत्पन्न हो गई है. अपराधी इतने बैखोफ हैं कि उन्होंने प्रधानमंत्री को लेकर हिंसक बयान दिया है. घटना में लिप्त सभी अपराधियों की तुरंत गिरफ्तारी हो और कड़ी सजा मिले. इस घटना के पीछे जिन लोगों का हाथ है, उन्हें भी राज्य सरकार बेनकाब कर गिरफ्तार करे.

किसी को भी कानून अपने हाथों में लेने का हक नहीं: ओवैसी

Advertisement

वहीं आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि ‘ये दरिन्दे हैं, इनको फांसी दो. राजस्थान सरकार जागो. AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भी इस घटना की कड़ी निंदा की है. उन्होंने ट्वीट किया, उदयपर में हुई क्रूर हत्या निंदनीय है. ऐसी हत्या को कोई डिफेंड नहीं कर सकता. हमारी पार्टी का स्टैंड यही है कि किसी को भी कानून को अपने हाथों में लेने का हक नहीं है. हमने हमेशा हिंसा का विरोध किया है. हमारी सरकार से मांग है कि वो मुजरिमों के खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लें.

umanag-utsav-banquet-hall-in-muzaffarpur-bihar

कब क्या हुआ, जानिए पूरा घटनाक्रम

Advertisement

18 जून को सोशल मीडिया पर पोस्ट 10 दिन पहले यानी 18 जून को डाला गया था. 18 जून को ही मृतक कन्हैयालाल के मोबाइल पर Whatsapp स्टेट्स डाला था. यह पोस्ट डालने के बाद से उन्हें धमकियां मिल रही थीं. 28 जून की दोपहर 3 से 3:30 बजे के बीच आरोपी युवक टेलर कन्हैयालाल की दुकान पर आए. उन्होंने पहले बातचीत में उलझाया. इसके बाद बोले कि कपड़े का नाप देना है.

आरोपियों की नाप लेने के समय जैसे ही कन्हैयालाल पलटे, पीछे से आरोपियों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया. मृतक कन्हैयालाल की मौके पर ही मौत गई. कन्हैयालाल की मौत के बाद नाराज लोग सड़क पर उतर आए. घटना के बाद धानमंडी और घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवाया. उदयपुर में तनाव का माहौल होने की वजह से 24 घंटे के लिए इंटरनेट बंद कर दिया गया.

Advertisement

Source : Aaj Tak

nps-builders

Advertisement
Continue Reading
BIHAR1 hour ago

बिहार विधानसभा में राजद फिर बनी सबसे बड़ी पार्टी, भाजपा दूसरे तो जदयू तीसरे नंबर पर

BOLLYWOOD1 hour ago

सिंगर लकी अली ने धर्म के नाम कन्हैयालाल की हत्या की आलोचना की कहां – मानवता की हत्या मिले इंसाफ

INDIA2 hours ago

लड़की प्रेमी के साथ भागी तो गलती मां-बाप की ; रामपुर के SP बोले- मेरा बस चले तो मैं लड़की के माता-पिता को भी जेल भेज दूं

BIHAR2 hours ago

असदुद्दीन ओवैसी की AIMIM के 5 में से चार विधायक आरजेडी में हुए शामिल

BIHAR3 hours ago

बिहार में टूटी असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी, पांच में से चार विधायक RJD में होंगे शामिल

BIHAR3 hours ago

जज्बे को सलाम: दोनों हाथ नहीं, फिर भी नहीं मानी हार, पैर से दिया BA का एग्जाम, IAS बनने का सपना

BIHAR5 hours ago

हाजीपुर : रेप में विफल होने वाले मामा ने दोस्त के साथ की थी भांजी की हत्या, आजीवन कारावास की सजा

INDIA5 hours ago

कन्हैया लाल के अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़; लगे ‘अमर रहे’ के नारे

SMART-CITY-MUZAFFARP
BIHAR6 hours ago

देश के 100 स्मार्ट शहरों की रैंकिंग में पटना फिर से फिसड्डी ; पटना से आगे निकला मुजफ्फरपुर

BIHAR6 hours ago

बिहार संपर्क क्रांति समेत चार ट्रेनों के रूट डायवर्ट

BIHAR4 weeks ago

यूपीएससी में बजा बिहार का डंका, मधेपुरा की अंकिता सेकेंड टॉपर

TECH1 week ago

अब केवल 19 रुपये में महीने भर एक्टिव रहेगा सिम

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर की बेटी ने यूपीएससी में 122वां रैंक लाकर किया गौरवान्वित

BIHAR3 weeks ago

गांधी सेतु का दूसरा लेन लोगों के लिए खुला, अब फर्राटा भर सकेंगे वाहन, नहीं लगेगा लंबा जाम

BIHAR3 days ago

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद से मदद मांगना बिहार के बीमार शिक्षक को पड़ा महंगा

MUZAFFARPUR4 weeks ago

मुजफ्फरपुर के लाल का यूपीएससी में जलवा, मीनापुर के अभिनव, विशाल ने लहराया परचम

BIHAR3 weeks ago

समस्तीपुर के आलोक कुमार चौधरी बने एसबीआई के एमडी, मुजफ्फरपुर से भी कनेक्शन

BIHAR2 weeks ago

बिहार : पिता की मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

JOBS3 weeks ago

IBPS ने निकाली बंपर बहाली; क्लर्क, PO समेत अन्य पदों पर निकली वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू

BIHAR7 days ago

बिहार का थानेदार नेपाल में गिरफ्तार; एसपी बोले- इंस्पेक्टर छुट्टी लेकर गया था

Trending